ब्रा वाली दुकान
06-09-2017, 01:01 PM,
#41
RE: ब्रा वाली दुकान
मलीहा को संकोच करता देखकर मैंने कहा राफिया तुम्हारी आपी ही उठ जाएँगी या मुझे जाकर हाथ पकड़ कर उठाना होगा उन्हें। मेरी बात सुनकर राफिया बोली आप दोनों का आपस का मामला है मुझे तंग मत करो मुझे समोसा खाने दें आराम से। राफिया की बात सुनकर मेरी एकदम से हंसी निकल गई जबकि मेरी बात सुनकर मलीहा अपनी जगह खड़ी हो चुकी थी कि कहीं मैं वास्तव उसका हाथ पकड़कर उसे उठाने के लिए न आ जाऊ मलीहा काउन्टर के पास आई तो मैंने समोसों की एक प्लेट उसके सामने कर दी और सॉस की प्लेट भी उसके आयेज कर दी राफिया ने अपनी प्लेट से चम्मच उठाकर वह भी मलीहा की थाली में रखते हुए कहा चलें शुरू हो जाएँ , दोनों मिलकर खालें इसी चम्मच से मुझे तो हाथों से खाना अच्छा लगता है। मैंने कहा नहीं मैं तो नहीं खाउन्गा मैंने अभी रोटी खाई है मेरी बात सुनकर राफिया बोली वह तो आपने अकेले खाई है न, अब जरा बाजी के साथ भी थोड़ा खा देख लें शायद कुछ अपना अपना सा लगे। मलीहा उसकी बात सुन कर हल्का सा मुस्कुराई और बोली आप उसकी बातों का बुरा न मानें उसको तो बकवास करने की आदत है। मैंने कहा शुक्र है आप भी कुछ बोलीं वैसे आपकी बहन बकवास नहीं कर रही बल्कि उसने बहुत पते की बात की है। आज मैं भी तो देखूँ कि अपनी मंगेतर के साथ खाते हुए कैसा स्वाद आता है। 

मेरी बात पूरी होने तक मलीहा एक चम्मच अपने मुंह में डाल चुकी थी तब मैं भी दूसरी चम्मच से समोसा तोड़ने लगा मगर फिर खुद ही वह चम्मच राफिया को वापस कर दिया और कहा राफिया मैंने सुना है कि एक ही चम्मच से खाने से प्यार भी बढ़ता है। राफिया के मुंह में समोसा था वह ऐसे ही समोसा खाते खाते बोली बढ़ती होगी, मुझे क्या पता मैं तो अभी बच्ची हूँ। उसकी बात सुनकर मैं हंस पड़ा और कहा नहीं तुम इतनी भी बच्ची नहीं। जबकि मेरा प्यार बढ़ने वाली बात सुनकर मलीहा ने अपना हाथ बढ़ाकर चम्मच मेरी ओर कर दिया था कि मैं भी इसी चम्मच से समोसा खा सकूँ जिससे मलीहा ने खाया था। मैंने वह चम्मच पकड़ा और थोड़ा सा समोसा अपने मुंह में डाल चम्मच वापस मलीहा को पकड़ा दिया और कहा वाह। । । इस चम्मच से तो समोसा भी मीठा मीठा लग रहा है। मेरी बात सुनकर मलीहा और राफिया दोनों ही मुस्कुराने लगीं। में पीछे होकर बैठ गया ताकि मलीहा आराम से खा सके उसने मुझे फिर से चम्मच पकड़ाया मगर मैंने यह कह कर मना कर दिया कि नहीं बिल्कुल जगह नहीं, आप पहले बताकर आतीं तो मैं आपके लिए कुछ अच्छा भी मंगवा लेता और हम तीनों मिलकर खाते, मगर आपके आने से पहले ही खाना खाया था अब अधिक गुंजाइश नहीं है मेरे पेट में

समोसे खाने के बाद राफिया और मलीहा दोनों ही गहने देखने लग गई और मैं बहुत शौक के साथ उन्हें दिखाता रहा। मैं जानता था कि उन्होंने लेना कुछ नहीं बस ऐसे ही समय बिताने की खातिर ज्वैलरी देख रही हैं। क्योंकि अभी मलीहा और मैं इतने फ्री नहीं हुए थे कि लम्बी लम्बी बातें कर सकते हों यह तो हमारी पहली मुलाकात थी। ज्वैलरी देखने के दौरान मलीहा एक दो बार अंडर गारमेंट की ओर भी नजर उठाकर देखती मगर फिर तुरंत ही फिर से गहने देखने में व्यस्त हो जाती। जब दोनों जी भर कर ज्वैलरी देख चुकीं तो राफिया ने मलीहा से कहा आपे चलें अब ??? मैंने कहा अरे इतनी जल्दी ??? राफिया ने कहा जीजा जी आपी के आने की खुशी में आपको समय का पता ही नहीं चला हमें आए घंटे से ऊपर का समय हो चुका है। मैंने दीवार घड़ी की ओर नज़र डाली तो वाकई 4 बजकर 15 मिनट हो रहे थे। उनको आए हुए 2 घंटे बीत चुके थे। और मेरी दुकान अब तक बंद थी जबकि इस समय तक दुकान खोल लेता था। 

मलीहा ने भी कहा हां चलो चलते हैं। राफिया सोफे से अपना सामान लेने के लिए बढ़ी तो मैंने मलीहा का हाथ पकड़ कर उसे अपने पास रोक लिया और बहुत प्यार से उसकी तरफ देखते हुए कहा मलीहा आप पहली बार मुझसे मिली हो, मेरे पास यहाँ कोई बहुत कीमती चीज तो नहीं लेकिन मैं आपको एक छोटा सा उपहार देना चाहता हूँ अगर आपको आपत्ति न हो तो। मैंने महसूस किया कि मेरे हाथ में मलीहा हाथ कांप रहा था। शर्म की वजह से उसे समझ नहीं आ रही थी कि वह क्या करे। मुझे इस तरह उसका कांपता हाथ देखकर उस पर बहुत प्यार आया, मैंने हौले से उसके हाथ दबाया और धीरे से कहा आपका हाथ किसी गैर के हाथ में नहीं जो तुम इतना डर रही हैं, अब तो आप मेरी और मैं आपका हूँ। मेरी बात सुनकर मलीहा का हाथ तो नहीं रुका, वह लगातार कांपता ही रहा मगर उसके गालों पर लाली और होठों पर एक मुस्कान जरूर आई। इतनी देर में राफिया अपना सामान उठाकर वापस पहुंची तो मुझे ऐसा मलीहा हाथ पकड़ा देखकर बोली, ओ हो .... यहाँ तो रोमांस चल रहा है ऐसे ही कबाब में हड्डी बन गई। राफिया बात सुनकर मलीहा ने अपना हाथ छुड़ाना चाहा मगर मैंने नहीं छोड़ा और कहा बस एक मिनट ... यह कर कि मैं ऐसे ही वापस मुड़ा और आभूषणों में से एक अंगूठी निकाली जिसे पहले राफिया और मलीहा बहुत देर तक देखती रही थीं। 
-
Reply
06-09-2017, 01:01 PM,
#42
RE: ब्रा वाली दुकान
मैं समझ गया था कि मलीहा को यह अंगूठी पसंद आई है। मैंने वह अंगूठी उठाई और मलीहा का हाथ छोड़ दिया, फिर उसको अंगूठी दिखाते हुए बोला, अब मैं आपको सोने के गहने तो नहीं पहना सकता, लेकिन मुझे लगता है कि यह आपको अच्छी लगी है, आप बुरा न माने तो क्या मैं आपको इसे पहना सकता हूँ। मलीहा बोली अरे नहीं उसकी क्या जरूरत है, आप रहने दें, आपकी अम्मी ने मुझे सोने की रिंग ही पहनाई है आपकी ओर से। मलीहा की बात सुनकर राफिया बोली अरे वाह, जरूरत क्यों नहीं, वह वास्तव में सोने की हो, मगर वह तो आंटी ने पहनाई थी, और जीजा जी स्वयं अपने हाथों से, प्यार से, बड़े चाव से अपनी मंगेतर को पहनाना चाह रहे हैं, तो उसकी वैल्यू तो खुद ही सोने की रिंग से बढ़ गई नहीं। राफिया की बात सुनकर मैंने राफिया से कहा, तुम्हें बड़ा पता है प्यार के बारे में, अभी तो तुम कह रही थी कि तुम बच्ची हो। यह सुनकर राफिया हंसी और बोली वो तो मैं हूँ। फिर मैंने फिर मलीहा को सवालिया नज़रों से देखा तो उसने अपना बायां हाथ मेरे सामने कर दिया, मैंने उसका हाथ प्यार से पकड़ा और उसकी तीसरी उंगली में अंगूठी पहना दी और फिर उसको कुछ देर देखने के बाद उसका हाथ छोड़ दिया।

मलीहा ने भी कुछ देर तक अपनी उंगली में अंगूठी को देखा तो मुझे धन्यवाद करने लगी। मैंने कहा अरे धन्यवाद कैसा, यह तो मैंने अपनी पहली बैठक की खुशी में आपको दी है। राफिया बोली हां बस समझो आपी आपको मुंह दिखाई मिली है। यह सुनकर मैंने और मलीहा दोनों ने एकदम से हैरान होकर राफिया को देखा और वह भी थोड़ी शर्मिंदा होकर अपने मुंह पर हाथ रख कर खड़ी हो गई। मलीहा ने उसको धीरे से डांटा और बोली शर्म करो राफिया। और फिर मेरी तरफ देखते हुए बोली अच्छा अब हम चलते हैं बहुत देर हो रही है। मैंने कहा ठीक है मगर अपना नंबर देती जाएं तो आप से थोड़ी फोन गपशप हो जाएगी, फिर तो पता नहीं कि आप कब अपना दर्शन देंगी मलीहा ने कहा, मेरे पास कोई मोबाइल नहीं, यह तो मामा का मोबाइल है। आपका नंबर मेरे पास है, मैं आपको खुद ही कॉल कर लूंगी उचित समय देखकर। मैंने कहा चलें यह भी ठीक है, लेकिन कॉल के बजाय एसएमएस करें कॉल में खुद कर लूँगा। मलीहा ने कहा ठीक है, मैंने एक बार फिर मलीहा की तरफ हाथ बढ़ाया और कहा चलें फिर रात को उम्मीद है बात होगी। मलीहा ने भी अपना हाथ बढ़ा कर मेरा हाथ थामा और बोली ठीक है मैं कोशिश करूंगी रात 11 बजे के बाद आपको एसएमएस कर दूं। उसके बाद मलीहा और राफिया दोनों ही चली गईं मगर काफी देर तक मलीहा के विचारों में ही खोया रहा, बहुत मासूम और सुंदर लड़की थी।

राफिया तो मुझे पहले ही पसंद थी और मेरी इच्छा भी थी उससे दोस्ती करने की, और यह इच्छा पूरी भी हुई तो इस तरह कि एक तो राफिया साली बनने के बाद वैसे ही खुल गई थी मेरे साथ जितना पहले वह चुप रहती थी अब इतना ही बोलती थी, जबकि इसी की हमशक्ल मलीहा से मेरी सगाई हो गई। दोनों बहनें एक जैसी ही सुंदर थीं बस थोड़ा ही अंतर था आकार का और मलीहा के होंठों के ऊपर एक छोटा सा तिल। रात ग्यारह बजे मुझे उसी नंबर से मैसेज आया जिससे दोपहर में कॉल आई थी, मैसेज में लिखा था 5 मिनट बाद मुझे फोन करें। मैंने 5 मिनट के बाद कॉल की तो आगे मलीहा की सुंदर आवाज सुनाई दी। हम दोनों के बीच बातों का सिलसिला शुरू हो गया, दोनों एकदोसरे को अधिक नहीं जानते थे इसलिए पहली रात 2 से 3 घंटे बात तो की मगर केवल एक दूसरे के बारे में जानकारी ही लेते रहे, किस को क्या पसंद है, क्या बात बुरी लगती है, सगाई क्या होती हैं, पसंदीदा मूवीज़, अभिनेता, अभिनेत्री, फिल्म, संगीत, शेर-ओ-शायरी से शौक, कपड़ों में पसंद नापसंद, बस इसी तरह की बातें होती रहीं और कब रात के 2 बज गए पता ही नहीं लगा। तभी मलीहा मुझे कहा अच्छा अब आप सोजाएँ सुबह आपने दुकान पर भी जाना होगा। मलीहा की बात सुन कर मुझे होश आया और मैंने मलीहा को गुड बाय कह कर फोन बंद कर दिया और उसी के सपने देखता हुआ सो गया

काफी दिन बीत गए और कोई विशेष घटना नही हुई, न तो सलमा आंटी की कोई खबर थी और न ही लैला मेडम दुबारा दुकान पर आई शाज़िया और नीलोफर का भी कोई चक्कर नहीं लगा। फिर एक दिन एक युवा जोड़ा मेरी दुकान में आया अपनी उम्र के हिसाब से लड़की 20 साल की लग रही थी, जबकि लड़के की उम्र 22 के करीब होगी। लड़की कुछ जरूरत से ज्यादा ही स्मार्ट थी। यूं कह लें कि एकल पसली लड़की थी। उसकी कमर 26 के लगभग थी। उसने चेहरे पर चादर से ले रखा था। उसका नाम फराह था जबकि उसके साथ का लड़का सूरत से पढ़ा लिखा और अच्छे परिवार का मालूम हो रहा था उसका नाम वक़ास था। वक़ास ने मुझे कहा कि उसे कुछ ब्रा दिखाऊ में। मैंने पूछा किस आकार का दिखाऊ, वक़ास ने फराह से पूछा क्या आकार है? फराह ने हल्की आवाज में वक़ास को बताया कि उसका आकार 32 है। मुझे यह बात कुछ अजीब सी लगी, अगर यह जीवन साथी थे तो वक़ास को फराह का आकार पता होना चाहिए था मगर ऐसा नहीं था। बहरहाल मैं ने 32 आकार का ब्रा दिखाया और फराह से कहा कि साथ ही ट्राई रूम है आप देख लें कि सही है आपके या नहीं। ट्राई रूम का सुनकर वक़ास ने कहा यह तो अच्छी बात है, ऐसे में ये भी देख सकते हैं कि कौन सा अधिक अच्छा लगेगा। मैंने कहा जी जरूर ब्रा तो हमेशा अपनी पसंद और फिटिंग के अनुसार ही लेना चाहिए। वक़ास ने 3, 4 ब्रा और निकलवाई और कहा यह एक ही बार हम ट्राई कर लेते हैं तो उनमें से जो पसंद करेंगे वह हम आपको बता देंगे। 
-
Reply
06-09-2017, 01:01 PM,
#43
RE: ब्रा वाली दुकान
मैंने कहा ठीक है आप तसल्ली से चेक कर लें। उसके बाद फराह और वक़ास दोनों ही ट्राई रूम की तरफ बढ़े। जहां मैं बैठता था वहां से ट्राई रूम नज़र नहीं आता था वह थोड़ा आगे जाकर था। दोनों को ट्राई रूम में गए हुए जब 15 मिनट से ऊपर हो चुके तो मुझे शक हुआ कि अंदर ब्रा चेकिंग नहीं हो रहा बल्कि कोई और ही काम हो रहा है। इसी जिज्ञासा मे मैंने ट्राई रूम का कैमरा ऑन करके अपनी स्क्रीन ऑन कीजैसे ही स्क्रीन चालू हुई अंदर का दृश्य कुछ अजीब ही था। फराह ने अपनी कमीज और ब्रा उतार दिया था और उसके छोटे 32 आकार के मम्मे स्पष्ट नजर आ रहे थे। जबकि वह फर्श पर घुटनों के बल बैठी थी और वक़ास के 6 इंच लंड को अपने हाथ में लेकर मसल रही थी। वक़ास का चेहरा ऊपर की ओर था और आँखें बंद थीं। फिर फराह ने वक़ास के 6 इंच लंड को अपने हाथ में पकड़ कर उसकी टोपी को अपने मुँह के पास किया और उस पर अपने सुंदर होंठ रख दिए। और फिर धीरे धीरे फराह ने वक़ास के लंड अपने मुंह में ले लिया। वैसे तो मैं अपनी दुकान में सलमा आंटी और शाज़िया को चोद चुका था मगर कोई मेरी दुकान में लड़की चुदाई करे या सेक्स करे यह मुझे कभी भी गँवारा नही था। 
[Image: 02-031817-bra-mtl-pushups.jpg]
इसलिए मैं अपनी जगह से उठा और ट्राई रूम के पास जाकर गुर्राती हुई आवाज में कहा और बेग़ैरतो यह क्या बेगैरती रहे हो, निकलो उधर से वरना बुलाता हूँ मैं अब पुलिस को। यह कह कर मैंने ट्राई रूम के दरवाजे के ऊपर से ही हाथ ले जाकर अंदर की कुंडी खोल दी और दरवाजा भी खोल दिया। मेरी आवाज सुन कर दोनो ही हक्का-बक्का रह गए थे और जैसे ही मैंने दरवाजा खोला, वक़ास अपना लंड पकड़ कर फिर से अपनी पेंट में डाल चुका था और ज़िप बंद कर रहा था। मैंने उसकी गर्दन पर एक जोरदार थप्पड़ रसीद किया और उसे पकड़ने की कोशिश की मगर पुलिस का नाम सुनकर वो तुरंत बाहर निकला और अपनी गर्दन मुझ से छुड़वा कर तुरंत ही दुकान से बाहर निकल गया, मैं उसके पीछे भागा मगर वह शायद भागने में मुझसे ज्यादा तेज था। मैन भी उसके पीछे दुकान से बाहर जाना उचित नहीं समझा और दुकान का दरवाजा जोकि हर समय बंद होता है उसको बंद कर दिया।

[Image: ava-BRA.jpg]


उसके बाद मैं सीधा ट्राई रूम में गया जहां फराह अपना ब्रा पहन चुकी थी और उसके चेहरे पर हवाइयां उड़ी हुई थीं। मुझे अपने सामने देखकर उसने अपने दोनों हाथ अपने सीने के साथ लगा लिए और ट्राई रूम की पिछली दीवार के साथ लगकर खड़ी गई और सिर झुका कर रोने लगी। वह हल्की आवाज में कह रही थी प्लीज़ मुझे जाने दो। मैंने भी गुर्राती आवाज में कहा तुम्हें मेरी ही दुकान मिली थी यह सब बेग़ैरतियाँ करने के लिए। वह मुँह से कुछ न बोली बस खड़ी रोती रही। मैंने इसे हाथ से पकड़ा और ट्राई रूम से बाहर खींच कर अपने काउन्टर के पास ले आया। उसका बदन बिल्कुल गोरा था और पूरे बदन पर कोई निशान नहीं था, बिल्कुल साफ और खूबसूरत बदन था उसका। उसने नीचे सलवार पहन रखी थी, जबकि ऊपर उसने सिर्फ ब्रा ही पहना था कमीज पहनने से पहले ही में ट्राई रूम में पहुंच गया था। मैंने उससे कहा मुझे सच सच बता दो यह लड़का कौन था वरना मैं तुम्हें पुलिस के हवाले कर दूंगा तो जो तुम्हारा हश्र होगा तुम्हें अच्छी तरह मालूम है। उसने रोते हुए हल्की सी आवाज में कुछ कहा जो मुझे कुछ समझ नहीं आया। मैं उसे झंझोड़ कर कहा ये रोने धोने का नाटक बंद करो और जल्दी बताओ मुझे वरना करता हूँ में अब पुलिस को फोन। उसने जल्दी-जल्दी अपने आँसू साफ किए और बोली नहीं प्लीज़ पुलिस को फोन न करना में बर्बाद हो जाउन्गी वह तो मीडिया में भी खबर दे देते हैं। मैंने कहा इसीलिए तुझे कह रहा हूँ सच सच बता यह लड़का तेरा पति था या कोई दोस्त है।
[Image: maxresdefault.jpg]
लड़की ने सिर झुकाकर कहा, मैं पहले कमीज पहन लूँ ??? मैंने उससे कहा चुपचाप यहीं खड़ी रह जो पूछ रहा हूँ इसका उत्तर दे। उसने कपकपाती हुई आवाज में कहा, वो मेरा प्रेमी है मैंने पूछा देख ली अपने प्रेमी की बहादुरी तुझे यूं नंगी हालत में छोड़कर अपनी जान बचाकर भाग निकला साला डरपोक। मेरी बात पर फराह चुप खड़ी रही वह केवल अपने शरीर को अपने बाजुओं से छिपाने की कोशिश कर रही थी। फिर मैंने पूछा कि कहां रहती हो तुम ?? तो फराह ने बताया कि वह घंटाघर के पास ही रहती है और यहां महिला कॉलेज में पढ़ती है। और आज वक़ास की जिद पर वह उसके साथ यहाँ आई थी वह फराह के लिए ब्रा खरीदना चाह रहा था। मगर ट्राई रूम में जाकर उसको न जाने क्या हुआ कि उसने फराह की कमीज और ब्रा उतरवा दिए और अपना लंड पेंट से निकालकर उसको चूसने का बोला। बकौल फराह के फराह ने उसे मना भी किया कि यह जगह सही नहीं कहीं और कर लेंगे मगर वक़ास सिर पर सवार था उसने कहा कि नहीं वह यहीं उसका लंड चूसे। फिर मैंने वक़ास के बारे में जानकारी ली तो फराह ने बताया कि वह काफी समय से उसके कॉलेज के बाहर मोटरसाइकिल पर आकर खड़ा होता था और घर तक उसके रिक्शा के पीछे पीछे आता था। फिर एक दिन वक़ास ने फराह की तरफ एक कागज फेंका जिसमे उसने इज़हारे प्यार किया था और अपना फोन नंबर भी दिया था। फराह ने इस नंबर पर फोन करके वक़ास को झाड़ पिलाई मगर वक़ास ने पीछा न छोड़ा। फिर धीरे धीरे फराह को वक़ास अच्छा लगने लगा तो फराह ने उससे दोस्ती कर ली और अक्सर वे कॉलेज से छुट्टी मार कॉलेज टाइम के दौरान वक़ास के साथ उसकी बाइक पर चली जाती, 
[Image: earlier-sakshi-raise-eyebrows-decided-lock.jpg]

कभी आयस्क्रीम पार्लर में और कभी किसी दुकान पर पर्दा गिराकर दोनों चूमा चाटी करते और वक़ास उसके मम्मे भी दबाता जिसका फराह को बहुत मज़ा आता। धीरे धीरे यह सिलसिला बढ़ता गया और एक दिन वक़ास फराह को अपने घर ले गया और वहां उसने पहली बार फराह की योनी की सील तोड़ी और उसको चोदने के बाद उससे शादी का वादा किया। आज भी वक़ास फराह को अपनी पसंद का ब्रा पहना कर उसे अपने घर लेजा कर चोदना चाहता था मगर उससे रहा नहीं गया और उसने यहीं ट्राई रूम में ही अपना लंड बाहर निकाल लिया और पकड़ा गया। पकड़े जाने के बाद वह खुद दुम दबाकर भाग गया और फराह को वहीं मेरी दया पर छोड़ गया। पूरी कहानी सुनने के बाद मैंने फराह को कहा क्या यह करेगा तेरे से शादी? जो तुझे ऐसे अकेला छोड़ के भाग गया। अब फराह ने गुस्से और नफरत के मिश्रित भाव से कहा मेरी जूती भी अब उससे शादी नहीं करती। मुझे क्या पता था कि यह ऐसा निकलेगा। मेरा विचार था वह मुझे प्यार करता है। फिर फराह ने कहा अब मैं जाऊं प्लीज़ ??? [Image: our_diet_and_lovemaking~~element203.jpg]
-
Reply
06-09-2017, 01:01 PM,
#44
RE: ब्रा वाली दुकान
मैंने फराह को मुस्कुरा कर देखा और कहा ऐसे कैसे जाऊ तुम्हारा यह नंगा बदन देखकर मेरा भी तो अपना लंड खड़ा हो गया है अब उसको तो आराम पहुँचाओ फराह की आँखें आश्चर्य के मारे फटी की फटी रह गईं और वह बोली नहीं मैं ऐसा नहीं करूंगी, प्लीज़ मुझे जाने दो। मैंने अपनी सलवार का नाड़ा खोल कर लंड बाहर निकाल लिया जो अपने जोबन पर था और मैने फराह से कहा ऐसा तो करना ही होगा तुम्हें। फराह ने मेरे लंड पर नज़र डाली तो एक पल के लिए तो वह स्तब्ध हो गई, उसने इतना लम्बा और मोटा लंड पहले नहीं देखा था, मगर फिर वह बोली कि मेरे पास मत आना वरना शोर मचा दूंगी। मैंने कहा तुम्हें जितना शोर मचाना है मचाओ, आपने ट्राई रूम में जो हरकत की है उसकी वीडियो रिकॉर्डिंग मेरे पास मौजूद है, जब यहां भीड़ हो जाएगी तो उन्हें वह वीडियो दिखाऊंगा जो हरकत तुम अंदर कर रही थी, तो सब मिलकर तुम्हारी दुर्गति भी बनाएंगे और पुलिस को बुलाया तो तुम्हें पुलिस के हवाले भी करेंगे। फिर थानेदार, हवलदार, पुलिस, सब बारी तुम्हारी चूत के मजे लेंगे। इसलिए भलाई इसी में है कि मेरे साथ सहयोग करो, तुम्हें भी मज़ा दूंगा और मैंने भी काफी दिन से किसी लड़की को नहीं चोदा तो मेरे लोड़े को भी आराम मिलेगा।

[Image: love-making-29-1472449451.jpg]
फराह अब पूरी चुप थी, उसे यकीन था कि मेरे पास उसकी वीडियो रिकॉर्डिंग है क्योंकि वह समझ गई थी कि ट्राई रूम में कैमरा लगा हुआ है तभी तो मैंने उनकी हरकतें देखकर दरवाजा खोल दिया था, मगर वह यह नहीं जानती थी कि मैं इस कैमरे से रिकॉर्डिंग सुरक्षित नहीं करता बल्कि वह केवल लाइव वीडियो प्रदर्शित करता है। अगर वह शोर मचा देती तो मेरी हालत बुरी हो जानी थी, लेकिन मेरा तीर सही निशाने पर जाकर लगा और वो सुनिश्चित करते हुए कि उसकी रिकॉर्डिंग मेरे पास सुरक्षित है वो मेरे साथ सहयोग करने के लिए मजबूर थी। फराह ने बेबसी से मेरी ओर देखा और फिर मेरे लंड को देखने लगी। फिर बोली में सिर्फ यह चुसूँ , और जब आप फ्री हो जाओगे तो मुझे तुम यहाँ से जाने देना होगा। मैंने कहा साली तो चूसना तो शुरू, फिर देखते हैं मैं कब फारिघ् होता हूँ। मेरी बात सुनकर फराह ने बुरा सा मुँह बनाया और फिर मेरे लंड की तरफ बढ़ी, मगर वह उसे हाथ में पकड़े हुए डर रही थी। फिर उसने हिम्मत करके मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया। उसके हाथ बहुत नरम और मुलायम थे, उनका स्पर्श अपने लंड पर पाते ही बहुत आनंद मिला मुझे।[Image: post-jul9.jpg] वह बड़े आराम से मेरे लंड पर हाथ फेर रही थी और उसे बहुत ध्यान से देख रही थी। मैंने उससे पूछा कैसा लगा तुझे मेरा लंड ??? उसने मेरी तरफ देखा और बोली यह तो बहुत बड़ा है। मैंने कहा हां तेरे इस यार की लुल्ली से तो बहुत बड़ा है, ( अगर यह मिल जाए मुझे तो एक बार इसकी गाण्ड ज़रूर मारूँगा अपने इस मज़बूत लंड से ) फिर मैंने फराह से कहा चल अब इसे मुँह में डाल कर मज़ा दे मुझे। फराह ने न चाहते हुए भी अपने दोनों होंठ मेरे लंड की टोपी पर रख दिए और उनको पहले गोल गोल घुमाने लगी। फिर उसने अपना मुँह खोला और जीभ बाहर निकाल कर मेरे लंड पर फेरने लगी। कुछ देर अपनी ज़ुबान मेरे लंड पर फेरने के बाद उसने मेरे लंड को अपने दोनों हाथों से पकड़ लिया और लंड को मुंह में डाल कर अपना मुँह आगे पीछे करने लगी जिससे मेरा लंड उसके मुंह में जाता और उसके अंदर जीभ से रगड़ खाता हुआ वापस बाहर आ जाता । वह अब थोड़ा तेजी के साथ मेरे लंड के चौपे लगा रही थी और साथ ही साथ अपने दोनों हाथों को गोल गोल घुमा कर मुझे मज़ा दे रही थी। वह चौपे लगाने में इतनी ज़्यादा विशेषज्ञ नहीं थी मगर फिर भी मुझे उसके चौपों से मज़ा आ रहा था। 
[Image: 7-Things-You-Should-Never-Do-Before-Making-Love.jpg]

कुछ देर अपने लंड के चौपे लगवाने के बाद मैंने उसके मुंह से अपना लंड पकड़ा और खुद सोफे पर बैठ कर उसे कहा कि वह मेरी गोद में बैठे, उसने गोद में बैठने से इनकार किया और ऐसे ही खड़ी रही तो मैंने उसे हाथ से पकड़ कर खींचा और अपनी गोद में गिरा लिया। गोद में गिराने के बाद मैंने उसे सीधा करके बिठाया और उसका ब्रा एक ही झटके में उतार दिया। ब्रा उतार कर मैंने उसके 32 आकार के छोटे बूब्स को अपने हाथ में पकड़ कर दबाया तो उसकी एक सिसकी निकली। मैंने फिर तुरंत ही उसकी कमर में हाथ डाला और उसके मम्मे अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिए। उसने पहले तो मुझे इस काम से रोका और मेरी गोद से निकलने की कोशिश की मगर मैंने जब उसे न निकलने दिया और उसके मम्मे चूसने शुरू किए तो उसे भी धीरे धीरे मज़ा आने लगा और थोड़ी ही देर के बाद मेरी दुकान उसकी सिसकियों से गूंज रही थी। अब तो वो अपनी गाण्ड को मेरे लंड पर रखकर बैठी थी और थोड़ा आगे पीछे हो कर मेरे लंड के भी मजे ले रही थी। मम्मे चूसने के साथ साथ मैंने उसके छोटे गुलाबी निपल्स भी अपनी जीभ से रगड़ना शुरू कर दिया था जिससे उसे बहुत मज़ा आ रहा था और वो मेरी कमर पर अपना हाथ जोर से फेर रही थी, बल्कि अपने नाखून फेर रही थी मेरी कमर पर जिसका मुझे भी मज़ा आ रहा था। कभी मैं उसका एक मम्मा अपने मुँह में लेकर उसका निप्पल चूसता तो कभी दूसरा मम्मा मुँह में लेकर उसका निप्पल चूसना शुरू कर देता जब मैंने खूब जी भर कर उसके निपल्स चूसने लिए और मम्मे दबा लिए तो मैंने उसे सलवार उतारने को कहा। फराह अब खुद भी अच्छी खासी गर्म हो चुकी थी और उसकी चूत में आग लगी हुई थी इसलिए उसने खुद ही अपनी सलवार उतार दी और वापस मेरी गोद में आकर अपने होंठ मेरे होंठों पर रख कर उन्हें चूसने लगी। नीचे से मेरा लंड जब उसकी चिकनी चूत पर लगा तो मुझे इसमें खासा गीला पन लगा। [Image: bollywood-sizzling-hot-love-making-scene-336-12x9.jpg]
-
Reply
06-09-2017, 01:02 PM,
#45
RE: ब्रा वाली दुकान
मैं समझ गया कि लोहा गरम है बस चोट मारने की जरूरत है। फराह लगातार मुझे चुंबन कर रही थी, मैंने उसे थोड़ा सा ऊपर उठाया और उसकी चूत पर अपने लंड की टोपी को सेट करके एक जोरदार झटका ऊपर की ओर लगाया और फराह के कंधे पकड़ कर नीचे अपने लंड की ओर दबाया तो फ्रीहह अपने वजन पर नीचे आई। इस एक ही झटके में मेरा पूरा लंड फराह की चूत में उतर गया था, और उसकी चीख दुकान से बाहर तक जाती अगर मैं लंड घुसाने से पहले उसके होठों पर अपने होंठ रख कर जोर से दबा नहीं लेता। जब पूरा लंड उसकी चूत में गया तो वो एकदम रुक गई, उसके चेहरे पर परेशानी के आसार काफी थे और वह हल्की हल्की चीखें अब भी मार रही थी। फिर उसने कहा प्लीज़ अपना लंड बाहर निकाल लो यह बहुत मोटा है, मैंने इतना मोटा और लंबा लंड कभी अपनी चूत में नहीं लिया। 
[Image: 18-1376807949-sherlyn-chopra-nude-for-22...d-pic3.jpg]
मैंने कहा वह तो आप ने कभी वक़ास का लंड भी नहीं लिया था, मगर जब पहली बार लिया तो मज़ा आया था न, इसी तरह मेरा लंड भी तुम्हें मजा देगा, पहले से कहीं अधिक मज़ा देगा बस शुरू में ही थोड़ी सी तकलीफ होगी। यह कह कर मैंने फराह की चूत में अपने लंड के धक्के मारने शुरू कर दिए। शुरू के कुछ घसों से फराह की दर्द भरी हल्की चीखें निकलती रहीं, फिर धीरे-धीरे दर्द की जगह मजे से भरपूर सिसकियों ने लेना शुरू कर दीं 5 मिनट चुदाई के बाद फराह की सिसकियों में बेतहाशा वृद्धि हो चुकी थी और मैं समझ गया था कि उसकी चूत पानी छोड़ने के करीब है, मैंने अपने लंड की पंप कार्रवाई को और भी तेज कर दिया और उसकी चूत में तेज तज़ धक्के मारना जारी रखे, साथ ही मैंने अपनी कमीज ऊपर सीने तक उठा ली थी और सलवार तो चौपे लगवाने के दौरान ही उतार चुका था अपनी। कुछ और धक्कों के बाद फराह का शरीर अकड़ना शुरू हो गया और उसकी चूत टाइट होती चली गई। फिर एकदम से उसकी चूत से गरम गरम लावा निकला जिसने मेरे पूरे लंड को जला कर रख दिया।
[Image: Charmi-Kaur-nude-hardcore-fucking-images.gif]
चूत का पानी निकलने के बाद कुछ देर फराह के शरीर को झटके लगते रहे उसके बाद उसके चेहरे पर मैंने खुशी के आसार देखे। मैंने उसको कहा मज़ा आया चुदाई में या नहीं ??? फराह बोली सच पूछो तो मेरी चुदाई तो हुई ही आज है, पहले सिर्फ वक़ास खुद ही मज़ा ले लेता था और बहुत जल्दी छूट जाता था, लेकिन आज मेरा पानी पहली बार निकला है। मैंने कहा चल फिर घोड़ी बन तेरा और अधिक पानी निकलवाऊ यह कह कर मैं सोफे से नीचे उतर आया और फराह को सोफे पर घोड़ी बनाकर खुद उसके पीछे चला गया। उसकी 32 साइज की गाण्ड काफी सुंदर और पारदर्शी थी। गाण्ड का छेद काफी तंग था जिससे मालूम हो रहा था कि उसने कभी गाण्ड नहीं मरवाई मगर मेरा उसकी गाण्ड मारने का फिलहाल कोई इरादा नहीं था, मैंने उसकी चूत में उंगली डाल कर उसको 2, 3 झटके दिए और जब फिर से चिकनाहट आना शुरू हो गई तो अपने लंड की टोपी को उसकी चूत में डाल दिया और फिर एक ही झटके में पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया। इस झटके मे फराह ने पूरी तरह से लंड को अपने अंदर ले लिया और बोली एक बार फिर बाहर निकाल कर उसी तरह अंदर डालो अपना यह जिन्न मैंने लंड फिर से बाहर निकाला और टोपी उसकी चूत में फिट कर पहले से अधिक जोरदार धक्का लगाया जिससे मेरा लंड जड़ तक उसकी चूत में उतर गया था। फिर फराह बोली- अब तेज तेज चोदना शुरू कर दो। फराह के कहने पर मैंने उसकी चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिए। मेरे शरीर और उसके चूतड़ों के मधुर मिलन से दुकान धुप्प धुप्प की आवाज़ों से गूँज रही थी जबकि इन्हीं धुप्प धुप्प की आवाजों में फराह आह ह ह ह .... आह ह ह ह .... आह ह ह ह ..... उफ़ एफ एफ एफ एफ। । । । । आह ह ह ह ह ... उम म म म .... ओह हु हु हु हु ..... आवाज भी दुकान के वातावरण को गर्म कर रही थीं। 5 मिनट में फराह को घोड़ी बना कर चोदता रहा मगर अबकी बार उसकी चूत के स्टेम पहले से अधिक था। उसके मम्मे हवा में झूल रहे थे जिन्हें मैंने हाथ से पकड़ रखा था। 
[Image: Chat-sex-with-girl-finished-her-cunt-fuck-always.jpg]
5 मिनट चुदाई के बाद मैंने फराह की चूत से अपना लंड बाहर निकाला और उसको सोफे पर बैठकर पैर खोलने के लिए कहा। फराह ने सोफे पर बैठकर पैर खोले तो मैंने उसको चूतड़ों से पकड़ कर नीचे की ओर खींचा जिससे फराह का सिर सोफे की तकनीक के बीच में आ गया और उसकी चूत मेरे लंड के बिल्कुल करीब हो गई। फिर मैंने एक घुटना सोफे पर रखा और दूसरे पैर नीचे ही रहने दिया और फिर अपना लंड एक ही झटके में फराह की नाजुक चूत में उतार दिया। फराह का पैर ऊपर उठा हुआ था और उसके घुटने उसके मम्मों के पास उसके पेट को छू रहे थे। मेरा लंड लगातार नीचे की ओर फराह की चूत चुदाई करने में व्यस्त था

[Image: nude-college-girl-ki-mast-chudai-image.jpg]
कुछ देर ऐसे ही चुदाई करने के बाद मैंने फराह को सोफे पर ही लिटा दिया और खुद उसके ऊपर आ गया और अपने धक्के जारी रखे। मेरे हर धक्के पर फराह एक नए मजे से परिचित हो रही थी। जबकि उसके मम्मे मैं मुँह में लिए चूस रहा था। कुछ देर तक उसके ऊपर लेट कर चोदता रहा तो एक बार फिर से उसकी चूत सिकुड़ना शुरू हो गई और मुझे अपने लंड की टोपी पर उसकी चूत की दीवारों की मलाई भी पहले से अधिक महसूस होने लगी। मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे मेरे लंड में एक बारीक दाना आंडो से होता हुआ लंड की नसों से होकर टोपी के छेद की ओर बढ़ रहा था। मैंने फराह को बताया कि मैं छूटने वाला हूँ तो उसने कहा मैंने गोली खाई हुई है अंदर ही छोड़ दो कोई समस्या नहीं। यह कहते ही मुझे अपने लंड पर फराह की चूत का पानी महसूस होने लगा वह एक बार फिर से पानी छोड़ चुकी थी। मैंने भी कुछ ज़ोर के झटके मारे और फिर फराह की चूत में ही अपना लावा उगलना शुरू कर दिया। जब सारा पानी में फराह चूत में निकाल चुका तो मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाल कर उसके मुँह की तरफ बढ़ा दिया जिसको वह बेझिझक शौक के साथ चूसना शुरू हो गई। उसने मेरे लंड पर लगा अपनी चूत और मेरे लंड के पानी के मिश्रण को अच्छी तरह चाट कर साफ कर दिया था। 
[Image: images?q=tbn:ANd9GcR2HJbQIND524OkYV3-Au2...RZuE7bhFG3]
-
Reply
06-09-2017, 01:02 PM,
#46
RE: ब्रा वाली दुकान
लंड साफ करवाने के बाद मैंने अपनी सलवार पहन ली जबकि फराह अब अपना ब्रा पहनने में व्यस्त थी। ब्रा पहनने के बाद उसने अपनी सलवार पहनी और फिर ट्राई रूम में जाकर अपनी कमीज पहनने लगी। मैं भी ट्राई रूम में चला गया वहाँ वह ब्रा वैसे ही पड़े थे जो वक़ास मेरे लेकर गया था ट्राई करवाने के लिए। मगर ब्रा ट्राई करने की बजाय वह अपना लंड बाहर निकाल कर खड़ा हो गया था। मैंने उनमें से एक अपनी पसंद का ब्रा फराह की ओर बढ़ाया और कहा यह मेरी ओर से गिफ्ट समझकर रख लो। फराह ने ब्रा देखा और बोली क्या फिर भी लंड लेने के लिए यहां आ सकती हूँ ??? 
[Image: desi-girl-doggy-style-sex.jpg]
मैंने कहा जब तुम्हारा मन करे मेरा लंड तुम्हें चोदने के लिए तैयार है। और वक़ास के लंड से भी चुदाई करवा कर देख लेना फिर से ज़्यादा मज़ा तुम्हें यहीं मिलेगा। मेरी बात सुनकर फराह ने कहा कि उस बहन चोद को तो अभी मुंह भी नहीं लगाउन्गी अब , लेकिन आप ने मेरी चुदाई करके बहुत मज़ा दिया है तुमसे चुदवाने जरूर आउन्गी यह कर फराह ने मेरा दिया हुआ ब्रा अपने शॉपिंग बैग में डाला और मेरे होठों पर एक प्यार भरा चुम्बन करने के बाद बाहर जाने लगी। मैं ने आगे बढ़कर दरवाजे का लॉक खोला और फराह मुझसे फिर मिलने का वादा कर वहां से चली गई

फराह जाने के बाद मैंने समय देखा तो 4 बजने ही वाले थे इसलिए मैंने फिर से दरवाज़ा बंद नहीं किया और खाना खाने में व्यस्त हो गया। अभी मैंने खाना खाकर खत्म ही किया था कि एक बार फिर एक जवान हसीना ने मेरी दुकान में प्रवेश किया। उसने बहुत ज्यादा मेकअप कर रखा था और सिर पर तो दूर की बात गले में भी दुपट्टा नाम की कोई चीज नहीं थी। नई शैली की सलवार कमीज में वह अच्छी लग रही थी और मेरी शातिर नज़रों ने तुरंत ही उसके मम्मों का आकार भांप लिया था। इस जवान हसीना के मम्मे 38 आकार के थे जो चलते हुए ब्रा होने के बावजूद उछल कूद कर रहे थे। इस हसीना के साथ एक व्यक्ति भी खड़ा था जिसकी बड़ी-बड़ी मूंछें थीं और उसका कद काठ भी मुझसे काफी निकला हुआ था। इस व्यक्ति पर नज़र पड़ी तो मैंने फिर से इस हसीना के मम्मों की ओर देखना उचित नही समझा क्योंकि फराह के साथ जो लड़का आया था वह तो मम्मी डैडी टाइप था जो मुझसे डर कर भाग गया, मगर अब जो भाई साहब आए थे उनसे कोई पंगा लेना अपने पांव पर कुल्हाड़ी मारने के बराबर था। भाई साहब मेरे पास आए और बोले हमें मेडम के लिए कुछ कपड़े बनवाने हैं शूटिंग के लिए, और हमें पता लगा है कि यहां तुम्हारे पास बहुत अच्छी गुणवत्ता का सामान होता है ??? मैंने कहा जी मगर किस प्रकार का समान इससे पहले कि यह भाई साहब कुछ कहते इसके साथ आने वाली मुह जबीन ने अपने होंठ खोले और बोली दरअसल में गानों की वीडियो शूट करवाती हूँ। जिसमें पंजाबी गाने और स्थानीय सराइकी गाने शामिल हैं। तो इन गानों में मुझे कुछ बॉलीवुड शैली के बोल्ड और सुंदर पोशाक चाहिए जो न्यू शैली में हों इस बात समझते हुए मैंने कहा यानी कि आपको नाइटी और शॉर्ट ड्रेस आदि चाहिए ??? तो हसीना ने कहा हां आप सही समझे, लेकिन मुझे अपने परिमाण के बिल्कुल अनुरूप चाहिए जिनकी फिटिंग बिल्कुल मेरी फिगर के अनुसार हो। तो वीडियो में देखने वालों के लिए अधिकतम मज़ा भी हो और उन्हें अधिकतम एक्सपोज़र भी मिले मेरा। 
[Image: 602_1369055218.jpg]
मैं समझ गया था कि इस हसीना को बी ग्रेड प्रकार के गानों में अश्लील वीडियो बनवाने होने और इन गानों में जिस तरह के कपड़े लड़कियाँ पहनती हैं वे बहुत बेहूदा और पुरानी शैली के होते हैं। उनमें मम्मे और गान्ड तो बड़ी स्पष्ट हो रही है मगर शैली सबका एक ही होता है तो मेडम को न्यू शैली चाहिए। मैंने कहा मेडम में आपका नाम जान सकता हूँ ??? इस महीने जबीन ने अपना नाम समीरा मलिक बतलाया तो मैंने कहा आप 2 मिनट बस सोफे पर बैठिए में अब आपको अच्छे ड्रेसीज दिखाता हूँ। मेरे कहने पर समीरा मलिक सोफे पर बैठ गई मगर वह भाई साहब मेरे सिर पर सवार थे। मैंने नीचे बैठ कर अपने कंप्यूटर की एलसीडी पर ऑन की और इस पर समीरा मलिक मुजरा लिखकर सर्च किया तो मुझे इन्हीं मेडम के कुछ सेक्सी गाने मिल गए। कोई गाना बारिश में फिल्माया गया था तो कोई बेड रूम में। मगर हर गाने में ड्रेस एक ही तरह का था, जो आधे मम्मे दिखते थे और टाइट पैंट में नितंब बहुत स्पष्ट होते थे या फिर पंजाबी शैली में लाचा होता था। अब मुझे विश्वास हो गया था कि यह समीरा मलिक साहिबा कोई धमाकेदार वीडियो बनवाना चाह रही हैं जो सामान्य तरीके से हटकर कुछ नया और सुंदर ड्रेस मे हो जिन्हें देखकर जनता वाह वाह कर उठे और अपने लंड को हाथ में पकड़ कर ठाह ठाह शुरू कर दे। फिर मैंने इस हसीना को विभिन्न प्रकार की नाइटी दिखाना शुरू कीं जिसमें वो अरबी ड्रेस भी था जो मैंने एक स्टेचू ऊपर लगा रखा था। समीरा देश को मेरे दिखाए हुए ड्रेस तो पसंद आए मगर वे उसकी पसंद के हिसाब से फिट नहीं थे। हर किसी में कोई थोड़ा बहुत फिटिंग का समस्या मौजूद था। 

समीरा मलिक ने कहा तुम्हारे ड्रेस तो अच्छे हैं और शैली भी न्यू हैं मगर मुझे फिटिंग वाले चाहिए जो मेरे शरीर फिट आएँ मैंने कहा कोई बात नहीं मेडम आपको आपकी फिटिंग के अनुसार आदेश पर तैयार करवा दूंगा मैं आप यह बताइए आपको कितने ड्रेसीज चाहिए। समीरा ने कहा यही कोई 15, 20। एक सीडी बनवानी है इसमें 6 से 7 गाने तो होंगे। और हर गाने में 2 से 3 ड्रेस यूज़ किया जाता है। मैंने कहा ठीक है अपना आकार दे में आपकी फिटिंग के अनुसार आदेश पर कराची से बनवा दूँगा मगर उसके पैसे थोड़े ज्यादा होंगे और एडवांस भी देना होगा। समीरा मलिक ने कहा उसकी चिंता तुम मत करो वह तुम्हें मिल जाएगा। बस आप ये ड्रेस बनवा दो। मैंने कहा ठीक है मेडम ड्रेस आपके बन जाएंगे आपतो बस मुझे अपनी माप आदि दे। यह कह कर में काउन्टर से बाहर निकल आया और समीरा मलिक को ट्राई रूम की तरफ आने को कहा। समीरा देश ट्राई रूम तक आई तो मैंने वहाँ से एक इंची टेप उठाई और उसे कहा कि आपको कोई आपत्ति तो नहीं अगर मैं आपकी नाप लूँ ??? समीरा मलिक ने कहा नहीं कोई समस्या नहीं तुम आराम से अपना काम करो मुझे बस अच्छी फिटिंग में चाहिए ड्रेस। मैंने एक कॉपी पेंसिल अपने साथ रख ली और उससे पूछा कि आप इन ड्रेसीज के साथ ब्रा और पैन्टी भी पहनेंगे या बस ड्रेस में ही होंगे? समीरा मलिक ने कहा हो सकता है किसी के साथ पहन लूँ और किसी के साथ न पहनू 
[Image: 601_1368517099.jpg]
मैंने कहा आपको एक बात कहूँ आप बुरा न माने तो ??? समीरा मलिक ने कहा, हां बोलो। मैंने उससे कहा अगर आपको अच्छी फिटिंग चाहिए तो वह इस तरह संभव नहीं, आपने जो शर्ट पहन रखी है इससे फिटिंग थोड़ी खराब हो सकती है। मेरी बात समझ समीर मलिक ने आश्चर्यजनक रूप से बिना कुछ कहे अपनी शर्ट के बटन खोले और तुरंत ही अपनी शर्ट उतार दी। नीचे उसने ब्लैक रंग का ब्रा पहन रखा था जो शायद समीरा मलिक के 38 मम्मों को संभाला हुआ था। शर्ट उतार कर समीरा मलिक बोली अब ठीक है या यह भी उतारना होगा ??? मैंने कहा नहीं नहीं उसकी जरूरत नहीं बस इतना काफी है। फिर मैंने समीरा देश के ब्रा का नाप लिया, उसके कप के आकार को मापा, उसके बाद उसके बूब्स से लेकर उसकी नाभि तक की माप ली, नाभि से उसके कूल्हों के ऊपर वाली हड्डी जो साइड से निकली होती है वहां तक माप ली। उसके कंधे, गर्दन, कमर और फिर उसके चूतड़ों तक की माप ली। चूतड़ों की माप लेते हुए उसने पूछा कि अपनी सलवार भी उतार दूँ या ऐसे ही ले लोगे

[Image: 609Af_1375463055.jpg]
-
Reply
06-09-2017, 01:02 PM,
#47
RE: ब्रा वाली दुकान
मैंने थोड़ा संकोच कर उसकी ओर देखा तो वह बोली शर्म नहीं मैंने अंडर वेअर पहन रखा है, यह कह कर उसने अपनी इलास्टिक वाली सलवार नीचे कर ली तो मैंने उसके चूतड़ों की और फिर उसकी जांघ की भी माप ली। ग़रज़ हर तरह से मैंने उसका शरीर टटोल लिया था। इस दौरान मेरा लोड़ा पूरा जोबन पर खड़ा था जब कि समीरा मलिक पूरी तरह संतुष्ट खड़ी थी न तो उसे किसी चीज़ की टेंशन थी और न ही उसके शरीर में कोई गर्मी महसूस हुई। शायद वह इन बातों की आदी थी इसलिए उसके लिए यह सामान्य बात होगी। सारी माप देने के बाद समीरा मलिक ने सलवार ऊपर की और कमीज पहन कर वापस काउन्टर पर आ गई। में भी काउन्टर पर आ गया, तो मैंने 5000 रुपये समीरा मलिक से एडवांस लिया और उसे एक रसीद बनाकर दे दी जिस पर समीरा मलिक का नंबर भी मौजूद था और उसके आर्डर का सारा विवरण भी था
[Image: s-l300.jpg]
समीरा मलिक के जाने के बाद मैंने कराची में मौजूद अपने सप्लायर को नोट की हुई माप भी भेज दी और उसे डिजाइन नंबर भी बता दिए और मुझे एक सप्ताह का समय मिल गया। मगर मैंने उसे कहा कि वह विशेष रूप से एक ड्रेस 2 दिन के भीतर दे ताकि वे समीरा मलिक जाँच करवा सके अगर कोई कमी बेशी रह गई हो माप में तो उसको बाकी ड्रेस में दूर कर लिया जाय सप्लायर ने मुझे आश्वासन करवा दी कि वह इस माप के अनुसार ड्रेस बेहतरीन तरीके से ही तैयार करेगा। और फिर वह अपने वादे के अनुसार 2 दिन में ही एक ड्रेस तैयार करके मुझे भिजवा दिया जो मुझे मुल्तान में तीसरे दिन मिला। ये ड्रेस मुझे दिन के 11 बजे टीसीएस के माध्यम मिला और पोशाक मिलते ही मैंने समीरा मलिक को फोन कर दिया कि वे आकर ड्रेस जाँच कर ले ताकि अगर कोई कमी बेशी हो तो वह बाकी ड्रेस मे दूर की जाए। समीरा मलिक ने कहा कि ठीक है वह अभी आ जाएगी कुछ ही देर में।
[Image: clovia-picture-3-pc-set-of-stretch-satin...-13782.jpg]

उसको फोन करने के बाद मैंने समीरा मलिक का ड्रेस उठाकर एक साइड में रख दिया और उसका इंतजार करने लगा। इस दौरान कुछ अधिक ग्राहक आए जिन्हें डील करता रहा और फिर थोड़े इंतजार के बाद समीरा मलिक भी पहुंच गई। उसने सलवार कमीज पहन रखी थी और आज भी उसकी कमीज काफी टाइट थी। जिससे उसके 38 साइज के मम्मे बाहर निकलने के लिए बेताब हो रहे थे। मैंने समीरा मलिक को थोड़ा इंतजार करने को कहा और पहले से मौजूद ग्राहकों को डील करने में लग गया।
[Image: product-hugerect-410430-142820-141761732...f39a55.jpg]
-
Reply
06-09-2017, 01:02 PM,
#48
RE: ब्रा वाली दुकान
समीरा मलिक साथ पड़े सोफे पर पैर पर पैर रखकर बैठी तो उसकी मोटी मोटी मांस से भरी जांघें मेरे लोड़े को खड़ा होने पर मजबूर करने लगीं। थोड़ी थोड़ी देर बाद उसकी सेक्सी जांघ को देखकर अपनी आँखों को ठंडा किया जब दुकान मे मौजूदा ग्राहक चली गईं तो इससे पहले कि कोई और ग्राहक दुकान में आता मैंने दुकान का दरवाजा लॉक कर दिया वैसे भी 2 बजने में महज 15 मिनट ही बाकी थे। दरवाजा बंद करने के बाद मैंने समीरा मलिक का हाल चाल पूछा और पानी भी पूछा मगर उसने कहा कि नहीं बस तुम मुझे ड्रेस दिखाओ जिसे कि मैं पहन कर देख सकूँ। मैं उसका ड्रेस उठाकर समीरा मलिक को दिया और उसे कहा कि ट्राई रूम में जाकर तुम पहन कर देख लो। समीरा मलिक ने वहीं बैठे बैठे अपना दुपट्टा उतार कर सोफे पर रख दिया। दुपट्टे का उतरना था कि मेरी नज़रें सीधी समीरा मलिक के सीने पर पड़ी जहां उसकी गहरी क्लीवेज़ बहुत ही सेक्सी दृश्य पेश कर रही थी,
[Image: 0.jpg]
उसके बाद वह सोफे से उठी तो थोड़ा आगे झुकी जिसकी वजह से उसके मम्मे वजन की वजह से आगे की ओर हुए और उसके मम्मे गहराई तक मुझे दिखे। इस दृश्य ने मेरे लंड का बुरा हाल कर दिया था और मेरा मन कर रहा था कि आज तो समीरा मलिक की चुदाई कर दूं। मगर फिर पहले वाले देवकाय भाई साहब की याद आ गई और मेरा सारा जोश वहीं समाप्त हो गया कि अगर समीरा मलिक ने अपने इस बॉडीगार्ड को बता दिया तो वह तो उल्टा मेरी ही गाण्ड मार देगा। 
[Image: 0.jpg]
खैर संक्षेप में कुछ ही देर के बाद मुझे ट्राई रूम से आवाज़ आई, समीरा मलिक ने मुझे आवाज़ दे रही थी। ट्रॉय रूम की तरफ गया तो समीरा मलिक वह ड्रेस पहन कर खड़ी थी मगर थोड़ी परेशान दिख रही थी। इस ड्रेस में एक छोटा सा ब्लाऊज़ था जो केवल मम्मों तक ही था, जैसे ही मम्मे समाप्त वैसे ही ब्लाऊज़ भी खत्म, ब्लाऊज़ से समीरा मलिक के बड़े बड़े मम्मे निमंत्रण का पूर्वावलोकन दे रहे थे, और यह ब्लाऊज़ कंधों से होता हुआ समीरा मलिक की आधी कमर पर समाप्त हो रहा था। लेकिन मुझे उसकी फिटिंग कुछ सही नहीं लग रही थी। नीचे एक छोटा लाचे की तरह स्कर्ट था जो समीरा मलिक के घुटनों तक था और साइड पर एक छोटा सा कट था जिससे समीरा मलिक की एक जांघ दिख रही थी। इस स्कर्ट टाइप लाचे की फिटिंग ठीक थी। मैंने समीरा से पूछा कि जी कहिए क्या हुआ? समीरा मलिक ने कहा कि इससे ब्लाऊज़ पिछली तरफ सेट नहीं हो रहा हुक बंद करने में प्रॉब्लम हो रही है। यह कह कर समीरा मलिक मेरी ओर अपनी कमर करके खड़ी हो गई और मुझे कहा कि उसकी हुक बंद करो। उसने मुंह दूसरी तरफ किया तो उसकी मोटी 36 गाण्ड देखकर मेरा लोड़ा स्वतः ही उसकी गाण्ड की तरफ बढ़ने लगा मगर फिर सलवार बँधा होने के कारण वहीं पर रुक गया। समीरा की गोरी कमर मक्खन मलाई की तरह सफेद और हर तरह के दाग से मुक्त थी मैंने उसका ब्लाऊज़ पकड़ कर पीछे से उसकी हुक बंद करने की कोशिश की तो काफी मुश्किल से हुक बंद करने में सफल हुआ। उसके बाद समीरा मलिक ने फिर मेरी ओर अपना चेहरा किया तो उसका ब्लाउज भी सही फिटिंग में नहीं था। उसके मम्मे काफी टाइट होकर फंस रहे थे यानी ब्लाऊज़ थोड़ा ज़्यादा ही फिट हो गया था। 
[Image: 0.jpg]
समीरा मलिक ने कहा कि यह तो ठीक नहीं है। इसमें यह हिलेंगे नहीं। में समीरा मलिक की बात तो समझ गया मगर अनजान बनकर कहा नहीं हिलेंगे ??? 

समीरा मलिक ने मेरी ओर देखा और कहा कभी तूने मुज़रा नहीं देखा क्या ??

मैंने कहा देखे हैं। तो समीरा ने कहा उसमें डांसर क्या हिलाता है बार बार जो तुम जैसे ठरकी लड़कों की राल टपकने लगती है ?? मैं उसकी बात पर दबे होंठ मुस्कुराया और कहा अच्छा यानी आप अपने इन .... मम ........ मम्मों की बात कर रही हैं कि यह नहीं हिलेंगे 
[Image: hqdefault.jpg]
उसने कहा हां ते होर की, इन्हा दी गल्ल ई कैथी ए। मैंने कहा हक़ीकत में आप ने ब्रा भी पहन रखा है जबकि यह ब्लाऊज़ बिना ब्रा के पहनने चाहिए। क्योंकि यह ब्रा जितने आकार का ही है केवल उसकी बनावट का अंतर है। आप को ब्रा उतार कर यह ब्लाऊज़ पहनना होगा तो यह ऐसे हिलेंगे कि रुकने का नाम नहीं लेंगे। 

मेरी बात सुनकर समीरा मलिक ने फिर से दूसरी ओर मुंह कर लिया और मुझे कहा कि मैं उसके ब्लाऊज़ के हुक खोल दूं। जैसे ही मैंने समीरा मलिक के ब्लाऊज़ के हुक खोले उसने बिना कुछ कहे अपना ब्लाऊज़ उतार दिया और मुझे पीछे हाथ कर मुझे ब्लाऊज़ पकड़ने को कहा। मैंने ब्लाऊज़ पकड़ लिया तो समीरा मलिक ने अपना हाथ पीछे कमर पर ले जा कर ब्रा की हुक खोलने की कोशिश की मगर उसमें भी उसे थोड़ी मुश्किल हुई तो मैं बिना पूछे आगे बढ़ा और उसके हाथ साइड पर कर खुद ही उसके ब्रा की हुक खोल दी। और फिर समीरा मलिक ने अपना ब्रा भी उतार दिया। अब उसने अपना एक हाथ अपने बूब्स पर रखा और थोड़ा मेरी ओर घूमकर मुझे अपना ब्रा पकड़ा दिया और मेरे हाथ से ब्लाऊज़ वापस पकड़ लिया और फिर दूसरी तरफ मुंह करके ब्लाऊज़ पहन लिया। समीरा मलिक ने ब्लाऊज़ पहना तो मैंने फिर से उसके ब्लाऊज़ के हुक बंद कर दिए जो अब की बार बहुत आराम के साथ बंद हो गये 
[Image: mqdefault.jpg]
अब समीरा मलिक ने मेरी ओर मुंह किया और अपने बूब्स पर हाथ रखकर उन्हें सेट करने लगी। फिर मेरी ओर देखकर खुश होती हुई बोली हां अब बिल्कुल ठीक है फिटिंग। मैंने उससे कहा कि आप सामने लगे शीशे में देख लो। मेरी बात सुनकर समीरा मलिक ने ट्राई रूम की ओर मुंह किया जिसका दरवाजा खुला था और सामने शीशा समीरा मलिक ने शीशे में अपने आपको देखा और अपने ब्लाऊज़ के नीचे से बूब्स पर हाथ रखकर उन्हें हिला हिला कर देखने लगी। फिर वह नीचे झुकी और अपना सीना हिलाकर अपने मम्मों को देखने लगी जो उसके इस नए ब्लाऊज़ में बिल्कुल ऐसे हिल रहे थे जैसे दूसरों में हिलते हैं। और उसने गाण्ड अपनी इस तरह बाहर निकाली थी कि मेरा दिल किया कि उसकी गाण्ड मारूं।

समीरा मलिक कुछ देर इसी तरह झुककर खड़ी रही इस अपने मम्मे हिला हिला कर देखती रही फिर उसी हालत में उसने मुझे कहा, अब मजा आया ना, अब सही हिल रहे हैं। तुम देखो सही है यह। मैंने समीरा मलिक के चूतड़ों पर हाथ मारते हुए कहा न केवल मम्मे सही हिल रहे हैं बल्कि पीछे से आपकी डगी भी क़यामत ढा रही है। मेरी बात सुनकर समीरा मलिक खिलखिला कर हंसने लगी और बोली बस हो गया न ठरकी शुरू।
[Image: x240-uIU.jpg]
मैंने कहा इसमें ठरकी वाली कौनसी बात है, आप खुद घूमकर देखो आपकी गाण्ड। । । । । ओह। । । । मेरा मतलब है आपकी एक साइड कितनी सेक्सी लग रही है। गाण्ड का शब्द सुनकर समीरा मलिक ने मुझे टेढ़ी नजरों से देखा और फिर साइड वाले शीशे को देखती हुई फिर से अपनी गाण्ड बाहर निकाली। और फिर बोली वाकई, यह ड्रेस तो क़यामत ढा देगा जो भी सीडी देखेगा प्रत्येक गीत पर एक बार तो जरूर अपनी मुठ मारेगा। मैंने समीरा मलिक को कहा मैंने तो अभी तक गाना नहीं देखा लेकिन मैं तो फिर भी एक बार मुठ जरूर मारूंगा आज। यह सुनकर समीरा मलिक हंसी और बोली मुझे पता है तुम ठरकी लोग और भी कुछ नहीं कर सकते। 

उसके बाद समीरा मलिक कुछ देर तक इसी ड्रेस में इधर उधर चल फिर कर ड्रेस जाँच करती रही, उसकी फिटिंग, सिलाई, और डिजाइन अच्छी तरह जाँच कर लेने के बाद समीरा मलिक ने अपना ब्लाऊज़ उतार दिया और ब्रा पहन कर वापस अपनी कमीज पहन ली और फिर ट्राई रूम में जाकर अपना स्कर्ट भी उतार दिया और कमीज पहन कर बाहर निकल आई जहां मैं अपना लंड हाथ में लिए उसे धीरे धीरे हिला रहा था। समीरा मलिक जैसे ही बाहर निकली मैंने जल्दी अपना हाथ अपने लंड हटा दिया कि कहीं उसे पता न चल जाए कि मैं अब अपना लंड पकड़कर बैठ गया हूँ। मगर समीरा मलिक की नजर पड़ गई थी और अब उसकी नज़र मेरी सलवार के उभार पर थी। उसने मुझे एक मुस्कान दी और बोली तुम्हारी तो बहुत बुरी हालत हो रही है। 
[Image: 903ea3fd6-1.jpg]
मैंने कहा अब आप जैसा सेक्स बॉम्ब सामने मौजूद हो और अपना दर्शन भी करवा दे तो हालत तो खराब होनी ही है। खैर फिर समीरा मलिक काउन्टर पर से बढ़ी और वहां जाकर सोफे पर बैठ गई और बोली प्यास लग रही है पानी पिला दो। मैंने उसे कोल्डड्रिंक का पूछा तो उसने कहा ठंडी सेवन अप मंगवा दे। मैंने फोन पर सेवन अप मंगवाई और खुद काउन्टर से बाहर समीरा मलिक के सामने खड़ा हो गया। मेरे लंड में अब तक सख्ती बाकी थी और सलवार के उभार से पता भी हो रही थी जबकि समीरा मलिक की नजरें भी थोड़ी थोड़ी देर के बाद मेरे लंड की ओर जा रही थी। फिर उसने मुझे कहा अब यह बैठेगा भी या नहीं ??? 

मैंने कहा जब तक आप सामने हो तब तक तो नहीं बैठेगा, और आपके जाने के बाद जब तक रात में घर जाकर उसका इलाज नहीं करता तब तक उसमें दर्द होता रहा रहेगा 

समीरा मलिक हंसने लगी मेरी बात सुन कर और फिर बोली बाकी जो औरतें आती हैं उनको देखकर भी यही हालत होती है तुम्हारी ??? 

मैंने कहा न तो कोई आप जैसी सेक्सी होती है और न ही उसके मम्मे यूं कमीज से दिखते जिन्हें देखकर यह खड़ा हो। मेरी बात सुनकर समीरा मलिक ने अपने सीने पर देखा जहां उसके बड़े बड़े मम्मे दुपट्टा न होने की वजह से दिख रहे थे। फिर समीरा मलिक ने अपना दुपट्टा उठा कर अपने गले में डाल लिया और अपने मम्मे भी कवर किए फिर बोली- अब तो बैठ जाएगा यह ??? 
[Image: images?q=tbn:ANd9GcTdz0DszZVi7mzmodhhAMy...3Bgwm9aPog]
मैंने कहा न जी, उसको तो पता है कि आपके दुपट्टे के नीचे इस समय उसकी पसंद की चीज मौजूद है तो भला वह कहां बैठेगा। लेकिन आप इसका कुछ इलाज कर जाएं तो शायद उसे आराम मिल जाए 

मेरी बात सुनकर समीरा मलिक के चेहरे पर कुछ बल पड़े और वह बोली मैंने तुम्हारे उपचार का ठेका थोड़ी ना ले रखा है। और वैसे भी फ्री में किसी का कोई काम नहीं करती। कि समीर मलिक ने आंख मारी तो मैं समझ गया वह क्या कहना चाह रही है। 

मैंने उससे पूछा कि अच्छा वैसे मेरी इतनी औकात तो है नहीं मगर वैसे यह तो बताओ एक रात का कितना लेती हो? इससे पहले कि समीरा मलिक कोई जवाब देती बाहर दरवाजे पर कोल्ड ड्रिंक वाला आ चुका था, मैंने दरवाजे का लॉक खोलकर बोतल पकड़ी और दरवाजा फिर से बंद कर दिया। बोतल समीरा मलिक को पकड़ाई तो वह एक ही घूंट में आधी बोतल पी गई। और फिर एक लम्बी सांस ली। और बोली आराम मिला, कॉफी प्यास लग रही थी।
[Image: 1280x720-HwL.jpg]
मैंने उससे कहा गर्मी भी तो बहुत है, और फिर आपके सेक्सी शरीर से तो गर्मी और भी बढ़ गई है। मेरी बात सुनकर वह हंसने लगी और बोली मेरी गर्मी तो नहीं बढ़ी तुम्हारी गर्मी ज़रूर बढ़ गई होगी मेरा बदन देखकर।

मैंने कहा अच्छा आपने बताया नहीं कि एक रात का कितना लेती हो ??? इस पर समीरा मलिक ने कुछ देर मुझे देखा फिर बोली छोड़ो तुम दे नहीं कर सकते मुझे। 

मैंने उससे कहा जी मुझे भी मालूम है, मगर फिर भी जानना चाहता हूँ अगर आप चाहें तो बता दें।
[Image: images?q=tbn:ANd9GcQj0dBC6YcNBwRz9VsVzdZ...jyvg61FgpA]
समीरा मलिक ने कहा कि एक रात के खाते में नहीं है बस एक राउंड की कीमत है। ज्यादातर वडेरा ही बुलाते हैं मुझे। जिन्होंने मेरा मुजरा देखना होता है उन्हें 2 घंटे का समय मिलता है जो आधा घंटे में उन्हें मुजरा दिखाती हूँ और फिर बाकी समय वह जैसे बिताना चाहता हो मेरे साथ। और इस दौरान वह जब भी फारिग हो जाएं तो मेरी छुट्टी और 2 घंटे में 10 हजार लेती हूँ। और अगर किसी ने मुजरा नहीं देखना हो तो उससे से 8 हजार लेती हूँ ज्यादातर 15 मिनट से 30 मिनट में ही फारिग हो जाते हैं और फिर किसी और के द्वारा बुकिंग हो तो उसकी तरफ चली जाती हूँ। मैंने कहा वाह, फिर तो खूब कमाई होती होगी इस तरह। जितनी जल्दी फारिग हो लोग उतनी ज्यादा कमाई। 
[Image: 1280x720-ebZ.png]
इस पर समीरा मलिक ने एक सेवन अप और लिया और फिर बोली हां इसी तरह है। मैंने कहा अधिकतम कितने लोगों के पास चली जाती हो? तो उसने बताया कि आज तक वह एक रात में अधिकतम 3 लोगों के पास गई है उनमें भी 2 को आधा घंटा अपना मुजरा दिखाया और फिर उन्होंने अधिक से अधिक 15 मिनट ही लगाए मेरे साथ और फारिग हो गए और एक के साथ केवल सेक्स करना था वह भी 20 मिनट में फ्री हो गया।
[Image: images?q=tbn:ANd9GcSAHaR642UkbEKL8VpFdGb...EqQvmfNIpf]
मैंने पूछा और फिर काम का कितना पैसा मिला? तो समीरा मलिक ने कहा बनता तो 28000 था मगर मैंने थोड़े ज्यादा ही निकलवा लिए तो 30000 मिला।
-
Reply
06-09-2017, 01:03 PM,
#49
RE: ब्रा वाली दुकान
मैंने कहा वाह .... लेकिन ध्यान रखना अगर किसी दिन मेरे जैसा कोई मिल गया तो वह सारी रात ही लगा देगा। फिर दर्द ज्यादा होगा और कमाई थोड़ी।

मेरी बात सुनकर समीरा मलिक ने कहा बहुत देखे हैं तुम जैसे दावेदार, 10 मिनट से अधिक नियंत्रण नहीं कर सकते तुम जैसे चिकने बच्चे।

मैंने समीरा को कहा शर्त लगाते है।

समीरा मलिक ने कहा अब अगर चाहते तो 2 मिनट में तुम्हें खाली करवा सकती हूँ अपने मुंह से।

समीरा मलिक की बात सुनकर मैंने कहा ठीक है शर्त लग गई तो। आप 2 मिनट छोड़, 5 मिनट से पहले मुझे खाली करवा दो। अगर 5 मिनट पहले आपने मेरे लंड को मुंह में लेकर खाली करवा दिया तो तुम्हारा एडवांस भी वापस और बाकी भी जो पैसे होंगे वे भी नहीं लूँगा। और अगर न करवा पाई 5 मिनट में खत्म तो बताओ क्या सज़ा होगी तुम्हारी?

मेरी बात सुनकर समीरा मलिक बोली क्यों अपने दुश्मन बनते हो? 20000 का नुकसान हो रहा है तुम्हारा। 

मैंने कहा मेरे हानि छोड़ो ये बताओ अगर खत्म नहीं करवा सकी तो क्या दोगी?

मेरी बात सुनकर समीरा मलिक बोली अपनी चूत भी दूंगी गाण्ड भी दूंगी, और इस काम के एक्स्ट्रा पैसे भी दूँगी। 

समीरा मलिक की बात सुनकर मैंने तुरंत अपनी कमीज ऊपर उठाई और अपनी सलवार का नाड़ा खोलने लगा।

समीरा मलिक घबरा कर बोली अरे ये क्या कर रहे हो ?? 

मैंने कहा क्यों डर गए हो क्या फ्री में चूत देने से ??? 
[Image: +87.jpg]
मेरी बात सुनकर समीरा मलिक बोली अगर कोई इतने स्टेम वाला हो तो उसे खुशी से अपनी चूत दूंगी मगर यहाँ तो साले ऐसे भी हैं जो चूत में लंड डालते ही छूट जाते हैं जो 15, 20 मिनट बिठा लेते हैं वह भी बीच में 10 बार रुकते हैं। मैं तो डर रही हूँ कि तुम शर्त हार जाओगे ?????

मैंने अपना नाड़ा खोलकर पाजामा नीचे गिरा दिया और अपना लंड हाथ में पकड़ कर लहराता हुआ समीरा मलिक के सामने जा खड़ा हुआ और कहा, लो अपने मुंह में मेरा लोड़ा, देखते हैं कौन जीतता है। 

समीरा मलिक ने मेरे लोड़े को देखा और आँखें फाड़ते हुए बोली यह तो बहुत बड़ा और मोटा है। तुम्हारा शरीर देखकर लगता नहीं कि तुम्हारे पास इतना अच्छा लंड होगा।

मैंने कहा आपने तो अभी से हार मान ली लगता है पहले कभी ऐसा लोड़ा नहीं देखा। इस पर समीरा मलिक बोली तुम अभी बच्चे हो, मुझे बस यह उम्मीद नहीं थी कि तुम्हारा लंड इतना लंबा होगा वरना मैंने इतने लंबे लंड देखे भी हैं और इसलिए भी है, लेकिन वह भी 20 मिनट से अधिक नहीं टिकते। यह कह कर समीरा मलिक ने मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और उसे ऊपर नीचे करके देखने लगी।
[Image: 9hmlcsRN.jpg]
फिर उसने अचानक बाहर देखा और बोली बाहर से नजर तो नहीं आता न अंदर ??? मैंने कहा चिंता मत करो अंदर लाइट बहुत कम है बाहर से अंदर दिखाई नहीं देगा तुम शांति से अपना काम करो और समय नोट करना चाहो तो कर सकती हो। समीरा मलिक ने कहा समय नोट करने की जरूरत नहीं, तुम्हारा चौपा लगाने से मुझे खुद ही समझ लग जाएगा कि तुम इसके लायक हो या नहीं कि मैं तुम्हे मुफ्त में अपनी चूत दूं। यह कह कर समीरा मलिक ने अपने मुंह में लार इकट्ठा किया और उसे मेरे लंड के टोपे पर फेंक कर अपने दोनों हाथों से थूक मेरे लंड के टोपे और शाफ्ट पर मसलने लगी। फिर उसने अपनी जीभ बाहर निकाली और मेरी टोपी के छेद पर ज़ुबान फेरने लगी जहां वीर्य का एक बड़ा ड्रॉप मौजूद था। इस बूँद को जीभ से चाटने के बाद समीरा मलिक ने एक बार जोर से मेरा लंड दबा कर उसकी कठोरता को चेक किया और फिर बोली लंड तो टाइट है तुम्हारा। यह कह कर समीरा मलिक ने मेरे लंड की शाफ्ट पर टोपी से लेकर जड़ तक अपनी ज़ुबान फेरी और एक हाथ से मेरे आंडो को धीरे धीरे मसलने लगी। थोड़ी देर तक ज़ुबान फिरी और गोटियाँ मसलने के बाद समीरा मलिक ने मेरे लंड को अपने दोनों हाथों से जोर से पकड़ कर उसकी मुठ मारनी शुरू कर दी। समीरा मलिक बहुत तेजी के साथ मेरे लंड की मुठ मार रही थी। और मुझे उसके हाथों से मुठ मरवाने का बहुत मज़ा आ रहा था। 
[Image: 001-desi-lady-prana-blowjob-images.jpg]
कुछ देर वह तेजी के साथ मेरे लंड की मुठ मारती रही इस दौरान वह कुछ पल के लिए रुक कर मेरी टोपी पर जीभ फेरकर उसको गीला करती और अपने एक हाथ से मसलती और उसके बाद फिर से दोनों हाथों से मेरी मुठ मारने लगती । कोई 2 से 3 मिनट तक समीरा मलिक इसी तरह तेजी के साथ मेरे लंड की मुठ मारती रही और फिर उसने मेरे लंड की टोपी में थूक का बड़ा सा गोला बनाकर फेंका और फिर से उसको मेरे पूरे लंड पर मसल दिया। उसके बाद समीरा मलिक ने अपना मुँह खोला और मेरे लंड की टोपी को अपने मुँह में ले लिया। लंड टोपी और शाफ्ट के चौराहे पर जो मास फूला हुआ होता है वहां तक समीरा मलिक ने मेरा लंड मुंह में लिया और उसे अपने होंठों से भींच कर अपने होंठ उस पर गोल गोल घुमाने लगी। टोपी के फूले हुए मास में समीरा मलिक होंठ घूम रहे थे, जबकि मेरी टोपी की नोक पर समीरा मलिक की ज़ुबान लगातार टकरा रही थी। उसका चौपा लगाने का यह तरीका मुझे बहुत पसंद आया। और मेरा लंड भी जोश में आकर फूलने लगा। अब समीरा मलिक को शुरू किए केवल 4 मिनट ही हुए थे और मुझे ऐसा लगने लगा कि बस अब कि अब मेरा पानी निकलने वाला है। यह विचार मन में आते ही मुझे अपने पैसों की चिंता में पड़ गई कि अगर मेरा वीर्य निकल गया तो शर्त के अनुसार पहले वाले पैसे भी वापस करने पड़ जाएंगे जो मिलने थे वे भी जाएंगे। यह विचार जैसे ही मन में आया मैं अपने मन में घरेलू स्थिति और राजनीति के बारे में सोचना शुरू कर दिया क्योंकि मैंने एक जगह पढ़ा था कि अगर आप अपनी टाइमिंग बढ़ाना चाहते हो तो सेक्स के दौरान सेक्स पर ध्यान देने की बजाय अपने मन को किसी दूसरी ओर लगा दो इस तरह थोड़ी सी टाइमिंग बढ़ जाती है, या फिर अपने ज़हन में उलटी गिनती गिनना शुरू कर दो तो भी मन सेक्स से हट जाता है और थोड़ा एक्स्ट्रा समय मिल जाता है। [Image: 000+%281%29.jpg]
-
Reply
06-09-2017, 01:03 PM,
#50
RE: ब्रा वाली दुकान
एक तो मैंने राजनीति के बारे में सोचना शुरू किया और दूसरी अच्छी बात यह हुई कि समीरा मलिक ने मेरी टोपी के आसपास अपने होठों का बनाया हुआ दबाव समाप्त कर दिया और मेरा लंड अपने मुंह से निकाल कर एक गहरी साँस ली। उसके इस गहरे सांस से मैं और मेरे मन को दूसरी ओर आकर्षित करने की वजह से जो मुझे अपने लंड में शुक्राणु एकत्र होते महसूस हो रहे थे वह खत्म हो गये . समीरा मलिक ने एक बार मेरी ओर देखा और बोली, वास्तव में तेरा स्टेम बाकी लोन्डो तो अधिक ही है, लगता है तुझे देनी ही पड़ेगी। यह कह कर उसने फिर से मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया मगर इस बार उसने खाली टोपी लेने के बजाय मेरा आधा लंड अपने मुँह में डाल लिया था और उसके चौपे लगा रही थी। अबकी बार वह पहले से ज्यादा उत्साह के साथ मेरे लंड के चौपे लगा रही थी और मुझे उसके मुंह की गर्मी और गीले पन से बहुत राहत मिल रही थी। उसने एक बार फिर से मेरा लंड मुंह से निकाला और बोली पहले कभी किसी ने तेरे लंड के चौपे ऐसे लगाए हैं ??? मैं उससे कहा चौपे तो कई लड़कियों ने लगाए हैं मगर ऐसा स्वाद किसी ने नहीं दिया। यह सुनकर समीरा मलिक ने फिर से मेरा लंड मुंह में ले लिया और उसके चौपे लगाने लग गई। अब की बार समीरा मलिक अपने हाथ से मेरा लंड भी मसल रही थी और दूसरे हाथ से मेरे आँड मसल रही थी और साथ ही अपने मुंह से मेरे चौपे भी लगा रही थी। उसको चौपे लगाते लगाते कोई 8 मिनट से ऊपर का समय बीत चुका था और अब मुझे विश्वास था कि समीरा मलिक मुझे अपनी चूत जरूर देगी। और अगर वह अपने वादे से मुकरती भी है तो कोई बात नहीं उसने शानदार मुठ मार कर और चौपे लगाकर मुझे बहुत मज़ा दिया था तो उसी में खुश हो जाउन्गा
[Image: 01.jpg]
फिर जब उसको चौपे लगाते लगाते 10 मिनट हो गए तो मुझे फिर से लगा कि अब मेरा लंड किसी भी समय वीर्य छोड़ सकता है, उस समय मेरी आह ह ह, आह ह ह आवाज निकलना शुरू हो गईं थीं जिससे समीरा मलिक समझ गई कि मैं वीर्य निकालने वाला हूँ।
[Image: 03o.jpg]
उसने एक दो और जोरदार चौपे लगाए और उसके बाद अपने मुंह से मेरा लंड निकाल कर उसका रुख दूसरी साइड पर मंजिल की ओर कर दिया और तेज तेज मुठ मारने लगी। उसने अपना बायां हाथ मेरे चूतड़ों पर रख लिया था और दाहिने हाथ से तेज तेज मुठ मार रही थी। तभी मेरे लंड ने फूलना शुरू किया और वीर्य की एक पतली धार मेरे आंडो से होती हुई टोपी की तरफ बढ़ना शुरू हुई, तब मेरी टोपी ने भी फूलना शुरू किया और फिर एकदम से मेरे मेरे लंड ने वीर्य की एक लंबी धार छोड़ी जो कम से कम एक मीटर दूर जाकर गिरी, और फिर एक के बाद एक धार निकलती रही और फर्श पर गिरती रही।[Image: 12h.jpg] इस दौरा समीरा मलिक एक पल के लिए भी नहीं रुकी और लगातार मेरे लंड हिला हिलाकर वीर्य की आखिरी बूंद तक मेरे लंड से निकलवा दी जब सारा वीर्य निकल गई और मैं गहरी गहरी सांस लेने लगा तो समीरा मलिक अपनी जगह से खड़ी हुई और मेरे होंठों पर होंठ रख कर उसने एक लंबी किसकी और बोली वाह , तेरा स्टेम वाकई इतना है कि तुझ से चुदाई करवाने में मज़ा आयेगा। यह सुनकर मैंने अपने हाथ समीरा मलिक के मम्मों पर रखे तो उसने कहा अभी नहीं जानेमन, अब मुझे देर हो रही है, लेकिन यह वादा रहा कि समीरा मलिक तुझे अपनी चूत भी देगी और गांड भी देगी । जो बिना रुके मुठ और चौपा 10 मिनट तक मरवा सकता है कोई शक नहीं कि वह सारी रात मेरी चुदाई भी कर सकता है। फिर उसने पूछा वैसे एक रात में कितने राउंड लगा सकते हो ??? मैंने कहा अभी तो एक रात में 2 राउंड ही लगाए हैं तीसरे राउंड का मौका नहीं दिया प्रेमिका ने वरना तीसरा राउंड भी लग जाता। समीरा मलिक ने कहा बस ठीक है, तुझे समीरा मलिक की चूत जरूर मिलेगी तेरा लंड तगड़ा है। यह कह कर उसने मुझे सलवार पहनने के लिए कहा। मुझे थोड़ी निराशा तो हुई क्योंकि जब समीरा मलिक ने मेरे होंठ चूमे तो मुझे लगा था कि अब यह मेरे से चुदाई कराएगी। मगर ऐसा नहीं हुआ। और फिर वह मुझसे वाकई चुदाई कराएगी या फिर महज यह एक बहाना था उसका भी कुछ पता नहीं था। उसने मुझे बाकी के ड्रेस समय पर तैयार करवाने के लिए कहा और फिर मिलने का वादा करके चली गई[Image: 3cv.jpg]
-
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
  चूतो का समुंदर sexstories 659 791,668 4 hours ago
Last Post: girdhart
Star Adult Kahani कैसे भड़की मेरे जिस्म की प्यास sexstories 171 13,004 6 hours ago
Last Post: sexstories
Star Desi Sex Kahani दिल दोस्ती और दारू sexstories 155 26,060 08-18-2019, 02:01 PM
Last Post: sexstories
Star Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम sexstories 46 64,387 08-16-2019, 11:19 AM
Last Post: sexstories
Star Hindi Porn Story जुली को मिल गई मूली sexstories 139 30,338 08-14-2019, 03:03 PM
Last Post: sexstories
Star Maa Bete ki Vasna मेरा बेटा मेरा यार sexstories 45 62,169 08-13-2019, 11:36 AM
Last Post: sexstories
Thumbs Up Incest Kahani माँ बेटी की मज़बूरी sexstories 15 22,813 08-13-2019, 11:23 AM
Last Post: sexstories
  Indian Porn Kahani वक्त ने बदले रिश्ते sexstories 225 98,559 08-12-2019, 01:27 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna तूने मेरे जाना,कभी नही जाना sexstories 30 44,910 08-08-2019, 03:51 PM
Last Post: Maazahmad54
Star Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई sexstories 44 42,393 08-08-2019, 02:05 PM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


Nude Hasin jahan sex baba picsKuwari Ladki gathan kaise chudwati hai xxx comअसीम सुख प्रेमालाप सेक्स कथाएंBautsy porn.comXxx hindi hiroin nangahua imgeSHREYA CUM BABAUsne mere pass gadi roki aur gadi pe bithaya hot hindi sex storeiskannada actress sexy fake sexybabaMumaith khan nude images 2019Tabu sex baba page 4sex story on angori bhabhi and ladoohindi sex khanai kutiya bni meri maa mosa kihindexxxbetanti ko nighti kapade me kaise pata ke peleमुसल मानी वियफ तगड़े मे बड़ी बडी़ चूचीdeepika padukone sex stories sexbaba.comindian 35 saal ke aunty ko choda fuck me ahhh fuck me chodo ahhh maaa chodmarathi bhabhi brra nikarvar sexbiwi bra penty wali dukan me randi banimaa ka khayal sex baba page 4मालिकी को नौकर ने चुदाईकीThand ka din tha bus me khach khach bhid meri pichhe kadak lund sexki kahanijaberdasti boobs dabaya or bite kiya storyjyoti tu mat chudna is lund seNiTBfxxxMummy ki gehri nabhi ki chudaiPakistani ourat ki chudwai ki kahaniBrapati ma chudie picturechoti bacchi ki chut sahlai sote huebahen ko saher bulaker choda incestdidi ki chudai tren mere samne pramsukhsharadha pussy kalli hai photoAR sex baba xossip nude picBest chudai indian randini vidiyo freemummy ki nipple chusi mummy ke hot kat ke khun nikala mere dost nefudime lad xxx bhiyf sekshiमोटा लंड sexbabadidi ke pass soya or choganind me bubs dabaye hindi sex storymaa bete ki anokhi rasamwww.sexy stores antarvasna waqat k hatho mazbur ladkiऔरत केसे पेगनेट हौती है porn sexमदरचोदी माँ रंडी की चोदाई कहानीमा चाची दिदी देहाती सेक्स कराईsex karne voli jagh me jakne hoto kya karebollywood porn beauty pooja hagede sexvideis.comjoyti sexy vieoxnxx.comselena gomez ki sex stories in hindi sexbabaxxx moti choot dekhi jhadu lgati hue videosavita bhabi ki barbadi balatkar storydidi ke adla badle chuadi xopissSexbaba.net Aishwarya Rai माँ की मुनिया चोद केर bhosda banaiMunmun duttta and babuji porn picsxxxbahansexstoryxnxx khde hokar mutnaledes seximagen kanada hddesi adult forumVerjin sex vidio.sri lankan.bahut hi Lamba landxxnxxvasavacomxxxxxx xxx बिडयो बहन गहरी मे था भाइ पिछवडा मे लड लगयाselena gomez ki sex stories in hindi sexbabaAntarvasna bimari me chudai karwai jabrdastiBarbadi.incestTv acatares xxx nude sexBaba.nettv actress shubhangi atre fucking hard picsNadan larki KO ice-cream ke bahane Lund chusaiबेटे ने ब्रा में वीर्य गिरायाSex story Bahen ka loda - part XXXXX - desi khani