Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
11-24-2017, 02:18 PM,
#21
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
बाहर अपनी बेटी की रंडी जैसे हरकत देखके गुलबदन को बुरा नही लगा। उसे इस बात की खुशी थी कि अब गुलनार अपने बाप से उसकी रंडीबाजी के बारे में कुछ नही बोल सकेगी। मस्ती से झूमते, और राज का लौड़ा सहलाके गुलबदन बोली- “उफफफफफ़ कितना मोटा और लंबा है जय का लौड़ा। आज मेरी बेटी, बहुत खुश होगी ऐसे बड़े लंड से चुदवाने में…”

तब गुलबदन की मुस्लिम चूत में और एक उंगली घुसाते राज बोला- “हाँ, क्यों नही खुश होगी तेरी रंडी बेटी गुलबदन… इधर तू हमारे लंड से खुश है और उधर तेरी बेटी जय के लंड से। आज तो हम मर्दो की ऐश है जो तुम जैसे टॉप क्लास माल आई हो हमसे चुदवाने…”

इधर पहले तो जय का लंड देख के गुलनार हैरान होके बोली- हाई अल्लाह, कितना बड़ा और मोटा है जय तेरा लंड…” फिर जय का लंड गुलनार चूसने लगी, उसकी टोपी चटके उससे पूरी तरह चूसने लगी।

गुलनार के मसमे दबाते उसका मुँह चोदते जय बोला- “पसंद आया तुझे मेरा लंड गुलनार… तेर, माँ को भी अच्छा लगेगा ना मेरा लौड़ा… बहनचोद, मजा आया तुम माँ-बेटी को एक साथ एक ही कमरे में चोदने में। उफफफ़ और मस्ती से चूस मेरा लौड़ा साली छिनाल…”

जय के लंड को हाथ में लेके उसे सहलाते गुलनार बोली- “माँ का मुझे क्या मालूम और वो कैसे दूसरा लंड लेगी, वो तो राज चाचा से चुदवाएगी ना… और तुम मुझे और माँ को रंडी क्यों कहते हो… एक तो हम तुमसे चुदवाते है और फिर ऐसा कहते हो हम माँ बेटी को…”

लंड गुलनार के फेस पे घुमाते, उसके निपल से खेलते जय बोला- “यार ताँगे में ही तुझे चोदने वाला था मै, लेकिन बहनचोद, तांगा भी चलाना था मुझे। तेरी माँ और राज के करनामे देखके लंड ऐसा टाईट हुआ था मेरा कि लग रहा था, टाँगा वही रोकके, तुझे नंगी करके, तेरी गांड मारु । तेरी माँ स्टेशन से ही राज से चुदवाने तैयार हुई थी तो अगर तुझे ताँगे में चोदता तो वो कुछ नही बोलती… गुलनार, जब तेरी माँ अपने पती को छोड़के एक कुली से चुदवाती है तो रंडी ही है ना… और तू भी देख कैसे खिड़की से तेरी माँ के बदन का राज से हो रहा खिलवाड़ देखके अपने मुस्लिम चूत सहला रही थी और अब हमारे सामने रस्ते पे नंगी हुई है इसलिए तुम माँ बेटी को मै रंडी कहता हूँ समझी…”

जय के लगातार मसलने और रगड़ने से गुलनार के बूब्स के निपल्स टाईट हो गये और उसकी चूत से मानो फाउनटेनस निकल रहे थे। जय का लौड़ा और मस्ती से चाटके, चूसके गुलनार उसकी गांड भी चाटने लगी। गुलनार की अदा पे खुश होके, उसका मुँह चोदते जय बोला- “गुलनार, तेरी छिनाल माँ ने स्टेशन पे राज का लंड देखा और उसको चुदवाने की इच्छा हुई इसलिए तेरी रंडी माँ रात भर के लिए राज के घर आई। तुझे मालूम तो है कि ताँगे में पीछे बैठके राज ने तेरी माँ को कमर तक नंगा किया और तेरी रंडी माँ उसका नंगा लंड मसल रही थी। और राज ने तेरी माँ से पूछके मुझे इशारा कीया की तेरी छिनाल माँ को कोई एतराज नही अगर मै तेरी जवानी को चोदू समझी गुलनार… इसलिए मै तुम माँ-बेटी को रंडी कहता हूँ।

तेरी माँ की चूत साली रंडी, खुद की चूत की आग मिटाने के लिये अपनी बेटी को तक चुदवाने हुइ तैयार हुई तेरी माँ और तू हरामी, देख कैसे रंडी जैसे रस्ते पे मेरी गांड तक चाट रही है मादरचोद। अब देख रात को पहले तेरी गांड कैसे मारता हूँ और बाद में तेरी मुस्लिम चूत चोद डालूँगा…”

जय की गोटियां और गांड चाटने के बाद, उसके लंड को मूठ मारते गुलनार बोली- “हाँ यह सब माँ की करतूत मुझे पता है जय। जब माँ बोली जाके टैक्सी ला, तभी मै समझी की राज चाचा पे उसका दिल आया है। सच जय, तेरा लंड भी राज चाचा जैसा ही है…” अपनी चूत को सहला-सहला के उसको वाइड करते, जय का लौड़ा चूसते-चूसते जरा नाटक करते गुलनार बोली- “जय, मुझे तुम मत चोदो। मैंने आज तक किसी से नही चुदवाया। और मैंने बताया ना, मै अपने पती के घर एकदम कुवाँरी बनके जाना चाहती हूँ…”

गुलनार को अपनी गोद मे बिठाके उसकी चूचियां मसलते, उसकी मुस्लिम चूत में उंगली डालते जय बोला- “हाँ मेरी रंडी मुस्लिम चूत, आज रात तुम माँ बेटी की ऐश है हमारे हिंदू लंड से गुलनार। पूरी रात तुझे और तेरी माँ को चोदते रहँगे हम। रही बात तुम्हारे कुवारेपन की, तो माँ चुदाने गया तेरा कुवारापन रंडी, तुझ जैसी गर्म आइटम को तो बचपन से ही लंड की आदत लगनी चाहीए ताकि शादी के बाद पती से ज्यादा गैर मर्द तुझे चोदके मजा ले सकते है। हाय साली क्या जवानी है तेरी, लगता है तेरी माँ को किसी ने बहुत चोद चोदके पैदा किया है रानी…” 
-  - 
Reply
11-24-2017, 02:18 PM,
#22
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
जय की बात पे जरा गुस्सा होके, छटपटाते, गुलनार उसकी पकड़ से छूटने की कोशिश करने लगी। कैसे भी करके जय की पकड़ से अपने आपको छुड़ाते गुलनार खड़ी हुई। सामने खड़ी नंगी कमसिन गुलनार को देखके, अपना लंड बेशर्मी से मसलते जय बोला- “अरे कहां जा रही हो रानी… रात को क्या नंगी जाएगी क्या रोड पे… साली रंडी फिर तो तुझे ना जाने कितने लंड चोदेंगे साली छिनाल। चल इधर आ रंडी की छिनाल बेटी और अपनी मुस्लिम चूत की सील हमारे लंड से तुड़वा ले। तेरी माँ ने भी शादी से पहले ना जाने कितने लंड लिए होंगे अपनी मुस्लिम चूत में, अब तू अपनी माँ के नक़्शे कदम पे चल और आके मुझसे चुदवा ले हरामी रांड़…”

जय की हरकते गुलनार को अच्छी लग रही थी और वो चुदवाने को भी तैयार थी, पर जयकी उसके और उसके माँ के बारे में की गये इतनी गंदी बात से गुस्सा होके, जय के सामने वैसी ही नंगी खड़ी रहते गुलनार बोली- “जय, खबरदार जो अब तूने मेरी माँ और हमारे बारे में कुछ बोला तो। मैंने बोला ना मुझे तुझसे नही चुदवाना तो नही चुदवाना…” 

गुलनार के पास खड़े होके उसके दोन मम्मे पकड़ के जोर से दबाके जय बोला- “अगर मैंने तेरी माँ को रांड़ बोला तो क्या उखाड़ेगी तू साली छीनाल… तूने देखा नही अंदर कैसे एक कुली से चुदवा रही है तेरी माँ… मुझसे नही चुदवाना तो चल भाग जा इधर से ऐसी नंगी ही रांड़…”

जय के हाथ से मम्मे ऐसे दबवाने से गुलनार को दर्द हुआ लेकिन मजा भी आया। असल में गुलनार यह सब नाटक कमरे में जाके, अपनी माँ का परदाफाश करके उसके सामने ही जय से चुदवाना चाहती थी।

जय का हाथ सीने से हटाके वो बोली- “मै क्यों रोड पे जाऊँगी… मै तो अंदर जा के माँ को बोल दूंगी कि तू उसके बारे में कैसी गंदी बात कर रहा है और मुझे कैसे नंगी करके, लंड चुसवाके अभी हम माँ बेटी को एक दूसरे के सामने चोदने की बात कर रहा है। चल साले, देख राज चाचा क्या हाल करेगा तेरा…”

गुलनार की नंगी कमर में हाथ डालते, उसे रु म के डोर के पास ले जाके जय बोला- “हाँ, ज रुर चलो अंदर, चल साली देख तेरा राज चाचा तेरी माँ की मुस्लिम चूत में लंड डालके कैसे मुझे डाँट देता है…”
डोर के पास जाके, गुलनार को पीछे से पकड़ते, उसकी गांड पे लंड रगड़ते जय ने दरवाजा बजाते कहा- “राज, यार दरवाजा खोलो, गुलनार को मेरी कुछ शिकायत करनी है उसकी माँ और तुझसे…”

डोर तो लॉक नही था और जय के हलके धक्के से डोर खुल गया। कमरे में आते ही गुलनार ने देखा की उसकी माँ नंगी लेटी राज का लंड अपने मुँह में लेकर चूस रही थी। गुलनार अपनी माँ को अब ऐसी देखके और गर्म हुई। वो अपनी माँ को देखने लगी, जो बिना रु के अपनी बेटी को देखते राज का लंड चूस रही थी। 

गुलनार की गांड पे लंड रगड़ते जय बोला- “देखा साली गुलनार, बहनचोद, तेरी माँ कैसे एक चार आने की रंडी बनके तुम्हारे सामने तुम्हारे राज चाचा का लंड चूसके तैयार कर रही है अपनी मुस्लिम चूत चुदवाने और तुझे बाहर बारिश में भेज दिया… अब तो तू मान गयी ना की तेरी माँ एक रंडी है…”

जय की आवाज से होश में आते, इनोसेंट एक्ट करते गुलनार बोली- “माँ यह क्या कर रही हो तुम… तुम्हारी वजह से मेरी जो हालत हुई है वो देखो…”

जैसे कुछ गलत हुआ ही नही ऐसा दिखाते, अपनी जवान बेटी के सामने वैसे ही नंगी बैठके, राज का लंड सहलाते गुलबदन बोली- “कैसी हालत गुलनार बेटी… और यह क्या, तुम्हारे कपड़े कहाँ है गुलनार… तू तो कपड़े पहन के बाहर सोने गये थी ना… ऐसी क्या गर्मी लगी की तू नंगी हुई है मेरी बेटी…”

अपनी माँ के रिएक्शन से गुलनार को जरा भी धक्का नही लगा। उसे यकिन हो गया कि उसकी माँ को सब पता है पर जरा नाटक करते गुलनार बोली- “माँ, मेरी यह हालत इस हरामजादे जय ने की है। इस हरामी ने हमारे कपड़े फाड़के, मुझे नंगी करके, हमारे साथ खेल रहा है। और तो और मुझे और तुझे एक साथ चोदने की बात भी कर रहा है। और माँ, तुम एक दो कौड़ी के कुली से अपनी हवस बुझा रही हो… इतनी हवस थी तो अब्बू के पास जल्द, आना चाहीए था ना इधर। तू अपनी प्यास बुझाने के चक्कर में मुझे भी जय के हाथ नंगी करवा दी। बोल ना माँ, क्या कहना है तुझे, क्यों मुझे इस नरक में डाल दिया…”
-  - 
Reply
11-24-2017, 02:18 PM,
#23
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
अपनी बेटी का रिएक्शन देखके गुलबदन को जरा धक्का लगा।जिस बेटी, को उसने कुछ टाइम पहले, बेशर्मी से जय का लंड चूसते देखा, उससे गालिया खाके अपना जिस्म मसलवाते देखा, वो अब ऐसा क्यों बोल रही थी अब अगर राज से उसे चुदवाना था, तो उसे गुलनार को भी जय से चुदवाने तैयार करना था।

कुछ सोचके, गुलबदन गुलनार के पास जाके, खड़ी होके उसके नंगे मम्मे पे हाथ फेरते बोली- “गुलनार, अरे यह, तो वक्त है जवानी का आनंद लेने का, फिर वो तुम्हारे अब्बू से हो या इस मस्त कुली से…” यह कहते पास आई राज का लंड पकड़ के गुलबदन आगे बोली- “और सच्ची बोल, क्या तुझे उस हरामी का तेरी चूत में उंगली करना अच्छा नही लगा… 

गुलनार की चूत में उंगली करके और चुचिया मसलते गुलबदन आगे बोली, उसका लंड अपनी चूत में लेके चुदाने की इच्छा नही हुई तेरी गुलनार, सच्ची बोलो…”

अपने माँ के ऐसी हमले का कोई जवाब नही था गुलनार के पास। गुलनार अब उसकी माँ और उन दो मर्दो के बीच नंगी थी। वो तीन लोग उसका जिस्म सहला रहे थे। गुलनार कुछ बोल नही रही थी, यह देखके गुलबदन ने उसका एक हाथ अपने मम्मे पे रखते, दूसरे हाथ में राज का लंड दिया और खुद गुलनार का मम्मा मसलते, और जय के लंड से खेलते बोली- “अरे गुलनार आज रात को हम माँ-बेटी, इन हिंदू मर्दो से अपने दिल की हवस पूरी करेंगे। और वैसे भी तूने भी तो चुदाई करवा ली है ना अपनी चूत की… 

मै क्या झूठ बोल रही हूँ… क्या तेरी इच्छा नही हुई कि कोई मर्द आके तुम्हारे बदन से भी वैसा खेले जैसा राज हमारे बदन से खेल रहा था और तू विंडो से देख रही थी। क्या तुझे नही लगता कि जय उसका यह लौड़ा तेरी चूत मे डालके तुझे वैसा ही चोदे जैसे घर पे तेरा वो यार चोदता है…”

गुलबदन की बात पे गुलनार को जोरो का धक्का लगा। गुलनार सोचने लगी कि उसने इतनी सीक्रेटली की गयी बात उसकी माँ को कैसे समझ आई… उसका चक्कर था एक से और गये एक साल से था पर उसने इस बात की भनक अपनी क्लॉजेस्ट सहेली तक को नही लगने दी, तो आज उसकी माँ को कैसे पता चला यह सब। हवस की गर्मी में राज का लंड सहलाते गुलनार बोली- “नही माँ यह झूठ है। तू झूठ बोल रही है या तुझे किसी ने झूठी खबर दी है। मेरा किसी के साथ कोई चक्कर नही। सोचने और करने में फर्क होता है, और तू मुझे कह रही है की मै चुदवा चुकी हूँ। मैंने ऐसा कुछ नही किया…” 

गुलनार की बात का कोई असर गुलबदन पे नही पड़ा, बल्कि उसने जय का लंड पकड़ के उसे गुलनार की गांड की तरफ खींचते कहा- “अरे गुलनार, देख वो जय का लौड़ा कैसे खड़ा है तुझे चोदने।के लिए गुलनार आज एक बात बताती हूँ यह आसिफ़ तेरा असली बाप नही है, तेरा बाप था हमारा ड्राइवर रोहीत। तू मेरी बेटी तो है लेकिन तुझे मेरी चूत चोद के जनम दिया रोहीत ने समझी… झूठ मत बोलो गुलनार… क्या तूने वो सामने वाल, बिल्डिंग के मेहरा साहब के नौकर रंगीला से नही चुदवाया है… क्या तू मौका मिलने पे उससे चुदवाने जाती नही उसके पास, या उसे नही बुलाती अपने पास… अरे झूठ है तो तू उसके साथ रात को अपने कमरे में क्या करती है गुलनार… गुलनार मुझे खुशी है की तेरी चूत का सील रंगीला जैसे एक तगड़े निचले मर्द ने तोड़ा, इससे तुझे भी मजा आया होगा ना…” यह कहते गुलबदन अपनी बेटी के मम्मे मसलते स्माइल करने लगी।
-  - 
Reply
11-24-2017, 02:18 PM,
#24
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
जय अब मस्ती से गुलनार की गांड पे लंड मसल रहा था। गुलनार उन तीनो को बिना रोके मस्ती करने दे रही थी उसके हाथ में राज का लंड था, उसे और प्यार से मसलते गुलनार बोली- “यह सब झूठ है माँ, मुझे बदनाम करने की साजिश है तेरी। और क्या बोली तू, अब्बू मेरे असली अब्बू नही है… मै एक ड्राइवर की बेटी हूँ… क्या मेरा बाप नामर्द था माँ… इसका मतलब तू पहले से यह सब ऐयाशी कर रही थी माँ…”

और ही बेशर्म होके गुलबदन ने गुलनार का एक निपल चूसते कहा- “नही गुलनार, तेरा बाप नामर्द नही है, उसका स्पर्म काउंट कम होने से वो मुझे प्रेग्नेंट नहीं कर सकता था। यह बात उसे पता नही थी और इसलिए तू मुझे शादी के 4 साल बाद हुई और वो भी रोहीत ने मेरा बलात्कार किया उसके वजह से समझी बेटी… कौन बदनाम कर रहा है तुझे… क्या मै तुझे बदनाम करुँगी गुलनार बेटी… गुलनार तू मेरा खून है और मै तुझ से झूठ नही बोलूँगी रोहीत तेरा असली बाप है। अब तू भी बोल तू रंगीला से चुदवाती है ना बेटी…”

राज आगे से गुलनार की चूत में उंगली कर रहा था और पीछे से जय उसकी गांड में लंड घुमा रहा था। दो हिंदू मर्दो का एक-एक हाथ गुलनार की एक-एक चूची मसल रहा था। गुलनार भी अब जोश में आके अपना बदन ढीला करती है 2-2 हिंदू मर्दो के हाथ से अपने जिस्म से खिलवाड़ करवाते बोली- “माँ तुम मुझे बदनाम कर रही है और मुझे बदनाम करके तुम इसकी आड़ में अपनी हवस मिटा रही हो…”

गुलनार का दूसरा निपल कीस करते गुलबदन बोली- “नही बेटी ऐसा कुछ नही है, अगर तुमको नही चाहीए तो मत चुदवा अपना बदन इस हरामी से…” यह कहते जय का लंड गुलनार की गांड से दूर करते गुलबदन आगे बोली - “लेकिन यह बता की मैंने कई बार रात में रंगीला को तुम्हारे कमरे से बाहर आते कैसे देखा… क्या वो इतने रात तुझे खाना पकाना सिखाने आता था क्या… क्या तुझे गोद में बिठाके, अपना लंड तेरी गांड में डालके और तुम्हारे सीने को मसलके, तेरे तरबूज दबाते रंगीला तुझे सब्जी बनाना सिखाने आता था क्या मेरी बेटी…”

अपने माँ से इतनी गंदी पर सच्ची बात सुनके गुलनार समझी की उसका राज खुल गया है और वोह बोली - “माँ तू सच कह रही है, मेरा और रंगीला का चक्कर चल रहा है और वो कई बार रात-रात भर हमारे कमरे में आया और मुझे पूरी रात चोदता है। तू और अब्बू जब अपने कमरे में जाते हो, तो पीछे के डोर से रंगीला को अंदर लेकर मै पूरी रात उससे चुदवाती हूँ और फिर सुबह 5:00 बजे रंगीला अपने घर से निकल जाता है…” यह कहते गुलनार, राज और जय से अपनी चूत और गांड उनके लंड से रगड़ने लगी और वो दोनो गुलनार की चूचियों से खेलने लगे।

गुलनार बड़ी मस्ती से अपना पूरा जिस्म उन दो मर्दो को देके डबल प्रेसिंग का मजा लेने लगी। गुलबदन अब क्यों पीछे रहती… गुलनार के मम्मे से जय का हाथ हटाते, गुलनार का निपल खूब चूसके और फिर निपल से खेलते गुलबदन बोली- “यह हुई ना बात। अरे बेटी मुझे खुशी है कि तुझे अपना यार इतने जल्दी मिल गया। गुलनार कई रात तुम्हारे कमरे से- "रोहीत आराम से चोदो मुझे दर्द होता है…" ऐसी आवाजे सुनके मैंने खुद अंदर आके रंगीला से चुदवाना चाहा लेकिन फिर सोचा की मै खुद अपनी बेटी के खेल को क्यों बिगाड़ूँ… मैंने 1-2 बार तुझे उससे चुदवाते देखा और रंगीला का लंड देखके ऐसा लगा की मै भी उसके नीचे जाके चुदवा लूँ पर इससे तू मुझसे नाराज होती इसलिए मै नही आई अंदर…”

गुलनार भी तो गुलबदन की ही बेटी थी। जब माँ इतनी रंडीगिरी कर सकती थी तो बेटी कैसे पीछे रहती… गुलनार भी नालायक होके गुलबदन के दोनो मम्मे सहलाके बोली- “ओह माँ, अगर तू आती हमारे कमरे में तब मुझे शर्म आई होती, लेकिन अब जाने के बाद हम दोनो रंगीला से चुदवा लेंगे एक ही कमरे में एक ही बिस्तर पे ओके…”

गुलनार का हाथ अपने मम्मे पे दबाते गुलबदन ने उससे फ्रेंच कीस करते कहा- “अगर ऐसी बात है तो बहुत मजा आएगा गुलनार, अब हम दोनो मिलके इन दोनों हिंदुओं से चुदवा लेंगे और घर जाने के बाद तू रोहीत को बोल कि तेरी माँ भी उससे चुदवाना चाहती है। अगर मै भी उससे चुदवाने लगूंगी तो फिर तुझे कोई टेंशन नहीं होगा मेरी सेक्सी 
-  - 
Reply
11-24-2017, 02:19 PM,
#25
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
जो निपल पैदा होने के बाद गुलनार ने चूसा था वोही निपल अब जवानी में, नंगी होके, इन दोनो पराए हिंदू मर्दो के सामने खूब अच्छे से चूसके गुलनार बोली - “ठीक है माँ, हम रिटर्न जाने के बाद मै जरुर तुझे रंगीला से चुदवाने दूंगी। लेकिन माँ, यह राज चाचा और जय के लंड देख ना कितने बडे और मोटे है… साली कोई रंडी भी डर जाये ऐसा लंड अपनी चूत या गांड में ले तो, है ना माँ…”

गुलनार को उन मर्दो से छुड़ाते, उसे अपने सीने से लगाते गुलबदन बोली- “अरे बेटी, तो क्या हम कोई रंडियो से कम है… अरे गुलनार, रंडी को भी ऐसा लौड़ा मिले तो अच्छा लगता है समझी बेटी… देख ना तेरी माँ होके तुझे इनसे चुदवाने को तैयार किया मैंने तो क्या मै रांड़ नहीं हूँ… और अपनी माँ को इस ताँगे वाले के साथ ऐयाशी करते देख तू गर्म हुई और रोड पे नंगी होके जय का लंड चूसने लगी तो क्या तू रंडी नही है…”

गुलनार ने जब हाँ में सिर हीलाया तो उसकी चूत पे हाथ घुमाते गुलबदन बोली- “अच्छा राज और जय अब तुम दोनो मुझे और गुलनार को एक साथ चोदो, राज तू मुझे चोद और जय तू गुलनार को, मेरी रंडी बेटी को चोद। मैंने रोहीत से गुलनार की चुदाई देखी तो है पर चुपके से, लेकिन आज इस तांगेवाले जय से अपनी रंडी बेटी को बड़ी मस्ती से चुदवाते देखूँगी जैसे मेरी बेटी अपनी रंडी माँ को इस कुली से चुदवाते देखेगी। आओ बेटी देखो कैसे मस्त लंड तैयार है हमारी चूत को चोदने के लिए…”

गुलबदन के ऐसा कहने के बाद, जय गुलनार को खींचके थोड़ी दूर ले गया और गुलनार को नीचे बिठाके अपना लंड उसके चहेरे पे घुमाना शुरु किया। गुलनार ने भी नीचे बैठके जय का मस्त लंड पहले पूरा चाटा और फिर उसका लंड चूसने लगी। इधर राज बेरहमी से गुलबदन के मम्मे दबा रहा था। जय का लंड चूसके गीला करने के बाद जय ने गुलनार को सुलाया, गुलनार की टांगे अपने कंधो पे ली। गुलनार ने जय का लौड़ा अपनी चूत पे रखा। 

जय ने झुकके गुलनार की कमर पकड़ी और अपना लौड़ा गुलनार की चूत में दबाने लगा। जैसे-जैसे जय का लौड़ा गुलनार की कमसिन मुस्लिम चूत में घुसने लगा, गुलनार को दर्द हुआ लेकिन जय अब कुछ नही समझ रहा था।

जैसे ही जय के लंड की टोपी गुलनार की चूत में घुस गयी उसने एक जोरदार धक्का मारके अपना लौड़ा गुलनार की चूत में घुसाया। इतना बड़ा लौड़ा अचानक चूत में घुसने से गुलनार को दर्द हुआ और वो चिल्लाने लगी पर न ही उसकी माँ उसे शांत करने आई और ना ही जय। जय ना गुलनार के चिल्लाने से रुका ना उसका पसीने से भरा हुआ दर्द से बेहाल हुआ चहेरे देखा। गुलनार को दबोचके अपना पूरा लौड़ा उसकी चूत में घुसाके, अंदर-बाहर करते जय अब गुलनार को चोदने लगा। अपनी बेटी की ऐसी हालत देखके और जय का वहशीपन देखके गुलबदन को दर्द हुआ।

गुलबदन गुलनार के पास जाके, गुलनार को चूमके और उसके निपल से खेलके उसको हौसला देने लगी। गुलनार के मम्मे 2 3 मिनट सहलाने और चूमने से जब उसे जरा आराम पड़ा है तो राज ने जय से कहा- “जय, यह छिनाल साली देख कैसे अपनी बेटी को चुदाई का सबक दे रही है। गुलबदन रंडी अब देख मेरा लौड़ा कैसे तुझे चोदने तैयार है…”

अब गुलनार को मस्ती से चुदवाते देख गुलबदन को अपनी गर्म चूत का अहसास हुआ और तब राज ने उसके पास आके उसको घूमके झुकाया। गुलबदन राज के चाहने पे कुतिया बनके झुकी और समझ गयी की राज उसकी गांड मारना चाहता है। झुकने के बाद, गुलबदन ने भी, एकदम एक सड़क छाप रंडी जैसे अपने हाथ से अपनी गांड खोली। गुलबदन की इस अदा पे खुश होके, राज ने उसकी गांड पे 2-3 थप्पड़ जड़ते अपना लंड गुलबदन की गांड पे रखा। कुतिया बनके अपने सामने झुकी रंडी गुलबदन की कमर पकड़ते और उसकी एक चूची दबाते राज ने आहीस्ता से अपना लंड गुलबदन की गांड में घुसने दिया। राज का तगड़ा लौड़ा अपनी गांड में घुसाके लेने में गुलबदन को बड़ा मजा आ रहा था। जब राज का पूरा लौड़ा उसकी गांड में घुसा तब राज ने गुलबदन के दोनो मम्मे पकड़ के उसकी गांड मारने लगा। गुलबदन भी अपनी गांड आगे पीछे करके राज से चुदवाने लगी। वो दोनो माँ बेटी उन दो मजदूरो से चुदवाने लगी।
-  - 
Reply
11-24-2017, 02:19 PM,
#26
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
अब गुलनार को मजा लगने लगा और वो भी अपनी कमर उठा उठाके जय से चुदवा रही थी। अपनी चूचियां खुद दबाते गुलनार जय से बोली - "जय और जोर से चोद अब मुझे। देख मेरी माँ कैसे राज चाचा के तगड़े लंड से अपनी गांड मस्ती से चुदवा रही है। मुझे भी हिंदू‹ के इतने बड़े लंड लेने के लिए तैयार करो तुम जय। और चोदो मुझे हमारे राजा…”

जय ने गुलनार के मम्मे जोर से दबाते कहा- “यार राज, आज तूने बहुत मस्त माल लाया है। यह दोनो रंडी माँ बेटी देख कैसे बेशर्म होके चुदवा रही है। यार मेरा तो यह छिनाल गुलनार पे इतना दिल आया है की मै चाहता हूँ की इसे हमारी रखैल बनाके यही रख लेंगे, क्यों तेरा क्या कहना है रंडी बेटी गुलनार की छिनाल माँ गुलबदन… तेरी छिनाल बेटी को मेरी रंडी बनाके रखूँ क्या इधर हमारे साथ…”

अपनी गांड राज के लंड पे और दबाते, बड़ी मस्ती से अपनी गांड चुदवाते गुलबदन बोली - “जय, अरे यार गुलनार को रंडी बनाके रखने की बात क्यों करता है… अब हम इस शहर में है 3 साल के लिए, तुम दोनो का जब जी चाहे हमें बुलाना या हमारे घर आना, हम माँ-बेटी हमेशा तुम दोनो हिंदुओं के लिए तैयार रहेंगे…”

गुलनार अपनी माँ को देख रही थी जो राज के बड़े लंड से अपनी गांड मरवा रही थी। गुलनार की चूत में भी गर्मी आई और वो नीचे से जय के लंड के धक्के का जवाब अपनी चूत उठाके, जय के लंड को मुस्लिम चूत में लेकर दे रही थी गुलबदन और गुलनार आज बहुत खुश थी क्योंकि अब उनके बीच की शर्म खतम हो गयी थी और अब आगे से यह दोनो एक दूसरे के लवर्स के साथ खुले आम चुदवा सकती थी। जो लौड़ा माँ को पटाएगा वो बेटी को भी चोद सकता था और जो लौड़ा बेटी ने पटाया वो माँ को भी चोदने वाला था अब से। कमरे में माँ-बेटी को चोदने का सिलसिला बड़ी मस्ती से चल रहा था।

माँ-बेटी बेशरम होके अपनी गांड और मुस्लिम चूत उन दो मर्दो से मरवा रही थी। अपनी गुलबदन रंडी की गांड को खूब मस्ती से मारते राज बोला- “गुलबदन, तेरी गांड मै बाद मे मारुंगा लेकिन अब मुझे तेरी बेटी कि गांड मारनी है। अब मुझे जय के साथ-साथ तेरी बेटी को चोदना है। तेरी कमसिन बेटी गुलनार की गांड का भोसड़ा बनाने के बाद हम दोनो तुम्हारे मस्त बदन का भोसड़ा बनायेंगे…” इतना कहते राज ने गुलबदन कि गांड से अपना लंड निकालके गुलनार के पास गया।

गुलबदन को पहले राज पे गुस्सा आया कि उसने गुलबदन की चुदाई अधूरी रखी, पर अब वो भी अपनी बेटी के एक साथ दूहरी चुदाई देखना चाहती थी। गुलनार राज की बात सुनके हैरान हुई कि एक तगड़ा लंड मुश्कील से उसने चूत मे लिया और अब दूसरा तगड़ा हिंदू लंड उसी वक्त उसकि गांड चोदना चाहता है। लेकिन गुलनार ऐसे मे कुछ कह भी नही सकि। तब जय ने गुलनार को अपनी बाहो मे लेके उसे अपने बदन पे लिया। अब जय के काले बदन पे लेटी गोरी-गोरी गुलनार की मुस्लिम चूत मे उसका लौड़ा था और अब पीछे उसकि खुलि गांड मे राज अपना हिंदू लौड़ा डालने को तैयार खड़ा था।

वैसे तो रंगीला ने गुलनार कि गांड मारी थी लेकिन गुलनार के कमसिन बदन ने आज तक एक साथ 2-2 लंड नही लिए थे। जय पे लेटी हुई अपनी नंगी बेटी कि गांड देखके गुलबदन उसके पास गयी और नीचे झुकके अपने हाथो से गुलनार कि गांड फैलाके, अपनी गांड को चोदके निकला हुआ राज का लौड़ा पकड़ के अपनी प्यारी बच्ची के गांड पे रख दी। गुलनार हैरान थी कि अब क्या होगा, लेकिन राज ने, आराम से अपना लंड आगे पीछे करते गुलनार कि गांड मे आहीस्ता आहीस्ता घुसाने लगा। गुलनार को एक साथ 2-2 तगड़े लंड अपनी चूत और गांड मे लेने मे तकलीफ होनेवाली थी, पर गुलनार ने हिम्मत नही हारी। जब धीरे-धीरे करते राज का पूरा लौड़ा गुलनार कि गांड मे घुसा, तब नीचे से जय और ऊपर से राज उसे चोदने लगे। अपनी बेटी की हो रही मस्त चुदाई देखके गुलबदन भी खुश हुई। नीचे बैठके, अपनी एक उंगली चूत मे डालके अपनी बेटी की चुदाई देख गुलबदन बड़ी खुशी से देखने लगी।

एक साथ 2-2 तगड़े लंड से अपनी चूत और गांड मरवाने मे गुलनार को दर्द हो रहा था। पर जो दर्द था उससे ज्यादा उसे मजा आ रहा था। दर्द कम होके अब मजा बढ़ रहा था। पागल जैसे जय को किस करके, गुलनार ने अपनी माँ के मम्मे मसलते कहा- “अया आ माँ मै तो 2-2 लंडो से चुदा रही हूँ आअहह माँ, उफफफफ़ मेरी तो जानणन निकल रही है हरामियो। पर चोदो और चोदो मुझे, अहह…” 
-  - 
Reply
11-24-2017, 02:19 PM,
#27
RE: Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती
अपनी बेटी की हो रही डबल चुदाई देखके गुलबदन को अच्छा लग रहा था। उससे पता था कि गुलनार कि चुदाई के बाद यह दोनो हरामी, मादरचोद हिंदू लंड उसके ऊपर एक साथ चढ़ने वाले थे और उसे भी बेरहमी से चोदने वाले थे। गुलनार को अपने मम्मे सहलाने दे के, गुलबदन ने उसके निपल से खेलते कहा- “हाँ गुलनार बड़ा मजा आ रहा है ना तुझे एक साथ दो दो हिंदू लंड अपने बदन मे डलवाने मे… अरे उसके बाद तू देख कैसे यह हरामी मुझे एक साथ चोद डालेगे मेरी बेटी…”

गुलनार ने एक हाथ नीचे डालके, जय का लंड फील करते कहा- “माँ आह आह हाँ बहुत मजा आ रहा है, ऐसी चुदाई मैने कभी सोची भी नही थी…”

गुलनार का निपल जरा जोर से मसलते गुलबदन बोली- “उफफफ़, गुलनार तेरी चूची भी मस्त है बेटी। इसलिए जय तेरी जवानी पे फिदा हुआ। राज और जय, हमारी बेटी के आशिको, और चोदो मेरी बेटी को, जैसा चाहे वैसा चोदो इस रंडी को…”

गुलबदन कि बात सुनके राज और जय खुश हो गये और गुलनार को मस्तीसे चोदने लगे। गुलनार “माँ आह एककक आह हन…” ऐसी बोलते जा रही थी।

जय नीचे था और गुलनार उसके ऊपर आके मुस्लिम चूत मे लंड ले रही थी और राज पीछे से गुलनार कि गांड फैला के उसका लंड गुलनार कि गांड मे डालके दोनो गुलनार को चोद रहे थे। 

राज गुलनार कि गांड जोर से चोदते बोला- “बोलो बेटी,अपने राज चाचा का लंड पसंद आया तुमको…”

गुलनार एकदम रंडी स्टाईल मे अपना सिर घुमाके राज के गाल का चुम्मा लेकर बोलि- “राज चाचा, जब मैने आपको खिड़कि से मेरी माँ से खेलते देखा तो सोच रही थी कि अगर यह राज चाचा का लौड़ा मुझे मिल जाई तो कितना मजा आएगा, और अब जब असल मे यह लंड मेरी गांड मे है तो मै बहुत खुश हूँ…”

इन दो मजदुरो से अपनी कमसिन बेटी कि हो रही चुदाई देखके गुलबदन से रहा नही गया और गुलबदन ने गुलनार के सामने खड़ी होके, गुलनार का सिर अपनी चूत पे दबाया। अपनी माँ से ऐसी हरकत कि उम्मीद नही थी और इसलिए ऐसा करने से गुलनार पहले तो घबराई, लेकिन फिर वो समझी कि उसकी रंडी माँ भी गर्म हुई थी अपनी बेटी को 2-2 मर्दो से चुदवाते देखके। और उसके पहले तो उसकि माँ की चुदाई आधे मे छोड़के राज उसे चोदने आया था।

अपनी माँ कि बात समझते गुलनार अब अपनी माँ की चूत चाटने लगी जिसे रोहीत ने चोदके उसको गुलबदन के पेट मे डाला था और जिसके 9 महीने बाद गुलनार पैदा हुई थी। इन माँ-बेटी की रंडीगिरी देखके राज, गुलनार कि गांड मारते मारते गुलबदन के मम्मे दबाने लगा और जय गुलनार की चूत चोदते उसकी रंडी माँ की गांड मे उंगली करने लगा। 

गुलनार लगातार अपनी माँ की चूत मे जीभ डालके, उसकी चूत के दाने को हलके से चबाते चूस रही थी। गुलबदन भी अपनी बेटी का मुँह अपनी चूत पे दबाके मजा ले रही थी और अपनी गांड मे जय से उंगली डलवा के ले रही थी।

वाह, क्या नजारा था वो… एक बेटी, कुली और तांगेवाले से अपनी चूत और गांड मरवा रही थी, उसकी माँ अपनी बेटी से अपनी चूत चाटवा रही थी और एक मर्द माँ कि चुचीयो के साथ खेलते बेटी कि गांड मार रहा था और दूसरा मर्द बेटी की चूत चोदते माँ की गांड मे उंगली कर रहा था। 

वो चारो चुदाई का पूरा-पूरा मजा ले रहे थे। 10-15 मिनट यह खेल चल रहा था। अपनी गुलनार रांड़ को खूब चोदने के बाद अब जय को लगा कि वो झड़ने वाला है तो उसने गुलनार को दबोच लिया। गुलनार भी समझ गयी कि जय अब झड़ने वाला था तो उसने भी अपनी चूत जय के लंड पे जोरो से रगड़ना शुरू किया। राज समझा कि जय झड़ने वाला था तो राज ने उसका लंड गुलनार कि गांड से निकालके, खड़े होके, अपनी गुलबदन छिनाल के बाल पकड़ के, उसे झुकाते, गुलबदन के खुले मुँह मे अपना लंड घुसा डाला।

जो लौड़ा पहले गुलबदन कि गांड और बाद मे उसकि बेटी की गांड चोदके निकला था वो अब गुलबदन के मुँह मे था। राज ने गुलबदन को ऐसा पकड़ा था कि गुलबदन राज का लंड चूसने के सिवा कुछ कर ही नहीं सकती थी। 

इतने मे जय ने गुलनार को घुमाके उसके नीचे लिया और अपना लंड जोर से गुलनार की चूत मे दबाके झड़ने लगा। जय गुलनार के मम्मे जोर से दबा दबाके उसके हिंदू लंड का पानी गुलबदन की कमसिन बेटी गुलनार की मुस्लिम चूत मे डालने लगा और तभी राज गुलबदन का मुँह चोदके गुलबदन के मुँह मे झड़ गया।

हवस की आग शांत हुई थी। वो चारो झड़ने के बाद एक दूसरे की बाहो मे नंगे पड़े रहे। वो रंडी माँ-बेटी उन दो हिंदुओं के सामने उनसे चुदवाकर बेशरम होके वैसे ही नंगी अपने-अपने यार की बाहो मे पड़ी थी। अभी तो पूरी रात बाकि थी।

!! समाप्त !! 
-  - 
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
  Free Sex Kahani काला इश्क़! kw8890 103 135,954 2 hours ago
Last Post: kw8890
Thumbs Up vasna story अंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवार sexstories 148 461,882 12-03-2019, 04:14 PM
Last Post: Didi ka chodu
  Sex kamukta मस्तानी ताई sexstories 23 121,013 12-01-2019, 04:50 PM
Last Post: hari5510
Star Incest Porn Kahani दीवानगी (इन्सेस्ट) sexstories 42 186,561 11-30-2019, 08:34 PM
Last Post: Didi ka chodu
Star Maa Bete ki Sex Kahani मिस्टर & मिसेस पटेल sexstories 102 46,779 11-29-2019, 01:02 PM
Last Post: sexstories
Star Adult kahani पाप पुण्य sexstories 207 613,076 11-24-2019, 05:09 PM
Last Post: Didi ka chodu
Lightbulb non veg kahani एक नया संसार sexstories 252 164,384 11-24-2019, 01:20 PM
Last Post: sexstories
Lightbulb Parivaar Mai Chudai अँधा प्यार या अंधी वासना sexstories 154 117,534 11-22-2019, 12:47 PM
Last Post: sexstories
Star Gandi Sex kahani भरोसे की कसौटी sexstories 54 114,014 11-21-2019, 11:48 PM
Last Post: Ram kumar
  Naukar Se Chudai नौकर से चुदाई sexstories 27 126,645 11-18-2019, 01:04 PM
Last Post: siddhesh



Users browsing this thread: 1 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


वेलमा कि नइ कहानिया नइ epsodeajagte.cudae.Ve putt!! Holi kr haye sex storyKuwari shali ka hard boobussचरमी केरचुदाई फोटोpisab.kaqate.nangi.chut.xnxx.hd.photomalkin fudhi fuck keraedar hindisexbaba chut ka payarall hindi bhabhiya full boobs mast fucks ah oh no jor se moviessee girls gudha photos different bad feeldesibees .com maa bni randi bhen bni randiमोटी गैर बलि भाबी अस्सdipshikha nagpal ki nangi chuchiya photobhai ne meri gad mari sexbaba kahanichaddi ma chudi pic khani katrinaThread-asin-nude-showing xxxphotosresmi churi ledis xxxwww fuckBaba ki नगीना xvideos.cmDesai girls chilai oohdesi boudi dudh khelam yml pornsexy chodo pelo lund raja sexbaba storiesआ आ दुखली गांडrandi sex2019hindiXxxxxxx Jis ladki ke sath Pehli Baar sex karte hain woh kaise sharmati hai uska video Bataye Hindibhabhi.ji.ghar.par.he.sex.babaNew hot chudai [email protected] story hindime 2019Park ma aunty k sath sex stnryxxxx sex bindi bf hd रैप पेल दिया पेट मे बचाdoctar na andar lajaka choda saxi vdieo hdsonakshi sex baba page 17HiNDI ME BOOR ME LAND DALKA BATKARTAxxxbfकाली चूदZopdi me bhahana ki chut mari xnxxmaa bete ki akelapan sex storyचुदक्कड़ अम्मी, रंडी खाला और नानी घर के सभी मरद से चुदवाती हैमेरा उबटन और मालिश चुदाई कहानीseksevidiohindiKamonmaad chudai kahani-xossipSexbaba sneha agrwalwwbf baccha Bagal Mein Soya Hua tab choda chodiSasur jii koo nayi bra panty pahankar dekhayitmkoc 2019sex storyxxx. hot. nmkin. dase. bhabiचोद दिए दादा जी ने गहरी नींद मेंPORN HINDI ANTARVASNA GANDE SE GANDE CHODA CHODI GALI KI KHANI PHOTO IMAGING MASTRAMNimrat kaur all nude photos on sexbaba.comshemale kamota land and female ka chuti chut xnx xnx xnxचुदासी फैमली sexbaba.netsaxy bf boobs pilakar karai chdadixxxbfpesabantarvasna ghodiya gao ki bhabhiya ahh storiesसौतेली माँ के पेटीकोट में घुसकर उसकी चुदाई कर डाली सेक्स कहानी हिन्दी मेंnewsexstory com hindi sex stories e0 a4 b8 e0 a4 be e0 a4 87 e0 a4 95 e0 a4 b2 e0 a4 95 e0 a5 80 e0salami chut fadePooja sharma www.sexbaba.comkammo aur uska beta hindi sex storynagi kr k papa prso gi desi khaniपापाजी चोद चदिxnxxporn movie kaise shout Hoti hainHoli mei behn ki gaand masli sex storyVarsad me nhati mhila ki photoNargis fakhri nude imega.com sex babaचाचा ने मेरी रण्डी मां को भगा भगा कर चोदा सेक्स स्टोरीrassi se band ker dasi pornhindi sexstories a wedding ceremony in a village Nargis baji k sath sexmaa chachi aur dadi ko moot pila ke choda gav meसेकसि विडियो ऐक लडके ने गधि को चोदा site:altermeeting.ruMaa ko seduce kiya dabba utarne ke bhane kichen me Chup chapchodana bur or ling video dekhawexxx jbar jote kompron video bus m hi chut me ladd dal diyaNude Nudhi Agrwal sex baba picsghar usha sudha prem chudai sexbabalund k leye parshan beautiful Indian ladies kishwar merchant Xxx photos.sexbabaNashe k haalt m bf n chodaमाँ बेटी कि चुत मे बेटे ने लँड घुसायgundo ne ki safar m chudai hindisonakshi sinha nudas nungi wallpaperanty ko apna rum me sex vedioMosi ki gaon me chudai sexbaba चूतर मुनियाँ लँडxnx chalu ind baba kahani dab in hindicar me utha kar jabrjusti ladko ne chkudai ki ladki ki rep xxxpati se lekar bete tak chudbai bhabhi tumhare nandoi chudakker roj chadh k choddte hainkiyara.advani.dudh.bur.nakd.fhoto.south acters sexbabaantarvasna fullnude sex story punjabe bhabhewww.rakul preet sing ne lund lagaya sex image xxx.comxxxxx.mmmmm.sexy.story.mami.na.dekhi.bhan.bhai.ki.chudai.hindiआदमी को उठाकर मुह मे लन्ड चुसती औरत xnxxAaahhh oohhh jiju fuck meWww verjin hindi shipek xxसावत्र मम्मी सेक्सी मराठी कथाRandi mom ka chudakar pariwar