Hindi Sex Story मासूम ननद
09-11-2018, 10:25 AM,
#11
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
पायल शरमा गई. में पायल के दिल में भी हल्की सी चिंगारी जलाना चाहती थी ताकि वो भी राज की तरफ थोड़ा ध्यान दे ऑर उसे भी अंदाज़ा हो सके कि उसका भाई उसकी तरफ देखता है. ऑर में अपने मक़सद में कामयाब भी हो गई थी. पायल को शरमाते देख कर में धीरे से मुस्कराई ऑर अपने बेडरूम की तरफ बढ़ ते हुए बोली, अच्छा भाई में तो अब चली अपने जानू के साथ एंजाय करने. मेरी बात पर पायल मुस्करा दी ऑर में अपने बेडरूम की तरफ बढ़ गई. 



अपने बेडरूम में आई तो राज पहले से ही लेट चुका हुआ था. में भी उसके साथ ही लेट गई. बेड पर लेटने के साथ ही राज ने मुझे अपनी तरफ खींच लिया ऑर अपनी बाहों में ले कर चूमने लगा. में भी सुबह से एक भाई की अपनी बहन के लिए हवस नाक नज़रें देख देख कर गरम हो रही थी इस लिए कोई भी रेज़िस्टेन्स नही की ऑर उसका साथ देने लगा. 




जैसे ही मैने उसके लंड पर हाथ रखा तो मुझे वो पहले से ही तैयार मिला, पता नही अभी तक उसके ज़हन में शायद अपनी बहन का बदन ही घूम रहा था जो वो आकड़ा हुआ था. में दिल ही दिल में मुस्कराई ऑर उसका पाजामा नीचे उतार कर उसका लंड बाहर निकाल लिया. ऑर उसे अपने बरमूडे के ऊपर से अपनी चूत पर रगड़ने लगी. राज ने मेरा बरमूडा भी उतारा ऑर फॉरन ही मेरे ऊपर को सरक कर अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया जो कि पहले से ही गीली हो गई थी. धीरे धीरे राज ने मुझे चोदना शुरू कर दिया. वो मेरे होंठो ऑर मेरे गालों को चूमते हुए अपना लंड मेरी चूत में अंदर बाहर कर रहा था ऑर में भी उसकी नंगी कमर पर हाथ फेरते हुए उसको सहला रही थी. 



अचानक ही में बहुत ही मस्त आवाज़ में बोली, यार तुम तो पायल का भी ख़याल नही करते हर वक़्त तुमको मुझे चोदने का ही ख़याल रहता है. मैने ये बात सिर्फ़ ऑर सिर्फ़ उसके दिमाग़ में उसकी सिस्टर का इमेज लाने के लिए कही थी. ऑर अजीब बात ये है कि हुआ भी ऐसा ही कि जैसे ही मैने पायल का नाम लिया तो राज की आँखे बंद हो गई ऑर उसके धक्कों की रफ़्तार में तेज़ी आ गई ऑर वो मेरे होंठो को अपने होंठो में ले कर चूसने लगा. में समझ गई कि इस वक़्त वो अपनी बहन का चेहरा ही अपनी आँखों के सामने देख रहा है. मैने भी उसे डिस्टर्ब करना मुनासिब नही समझा ऑर भी ज़ोर से उसे अपने साथ लिपटा लिया. 




अभी भी उसकी आँखे बंद थीं ऑर वो धना धन अपना लंड मेरी चूत में अंदर बाहर कर रहा था बल्कि शायद अपने ख़यालों में अपनी बहन की चूत चोद रहा था. थोड़ी देर बाद राज ने अपना वीर्य मेरी चूत में ही छोड़ा ऑर धीरे से मेरी बगल में ही ढह गया. उसकी आँखे अभी भी बंद थीं ऑर वो लंबे लंबे साँस ले रहा था. उस की ऐसी हालत पहले कभी नही हुई थी चुदाई के बाद. मैने भी उसकी तरफ करवट ली ऑर धीरे धीरे उसके सीने पर हाथ फेरते हुए मुस्कराने लगी. मेरा तीर ठीक निशाने पर लगा था ऑर मेरा हज़्बेंड अभी भी अपनी बहन के बारे में ही सोच रहा था.

अगले दिन राज ने ऑफीस से छुट्टी कर ली ऑर घर पर ही था. पायल कॉलेज के लिए तैयार हुई तो राज ने बाइक निकाली ऑर उसे कॉलेज छोड़ आया. उसके वापिस आने के बाद हम दोनो ने नाश्ता क्या ऑर कुछ देर के बाद में नहाने चली गई. राज वहीं टीवी लाउंज में ही टीवी देख रहा था. नहा कर मैने बाथरूम का टीवी लाउंज वाला डोर खोला ऑर राज से बोली, यार यहाँ टेबल पर जो कपड़े पड़े हैं धुले हुए उन में से मैरी ब्रस्सिएर तो उठा दो प्लीज़. 

राज: ओके डार्लिंग 


कह कर कपड़ों की तरफ बढ़ा ऑर उसे जाता हुआ देख कर में मुस्कराने लगी. क्योंकि सब कुछ मेरी स्कीम के मुताबिक़ ही हो रहा था. एक्चूली मैने राज ऑर पायल के जाने के बाद उस कपड़ों के ढेर में से अपनी ब्रस्सिएर निकाल ली थी ऑर अब वहाँ पर सिर्फ़ ऑर सिर्फ़ पायल की ही एक ब्रस्सिएर पड़ी हुई थी. वोही हुआ कि राज अपने कपड़ों के ढेर के पास गया ऑर उस में से कपड़े उलट पुलट करने लगा. उसे उस कपड़ों के ढेर में से सिर्फ़ एक ही काले रंग की ब्रस्सिएर मिली ओर वो उसे उठा कर मेरे पास ले आया. ऑर बोला, ये लो डार्लिंग.


मैने ब्रस्सिएर ली ऑर राज वापिस सोफे पर बैठ गया जा कर. जैसे ही वो वापिस गया तो मैने उसे दोबारा बुलाया,


में: अरे यार ये क्या है यार, ये तो तुम पायल की ब्रस्सिएर उठा लाए हो मेरी लाओ ना निकाल कर. तुमको पता नही चलता क्या कि ये कितनी छोटी है.


राज ने चौंक कर मेरी तरफ देखा ऑर मैने खुले डोर से उसकी बहन की ब्रस्सिएर उसके हाथ में पकड़ा दी. राज ने एक नज़र मेरे नंगे बूब्स पर डाली ओर मैने जान बूझ कर बाथरूम का दरवाज़ा थोड़ा बंद कर दिया ताकि वो मुझे ना देख सके लेकिन में चुप कर उसे देखने लगी कि वो क्या करता है. 



जैसे के मुझे उम्मीद थी, राज अपने हाथ में पकड़ी हुई अपनी बहन की ब्रस्सिएर को देखने लगा. उस ने वो ब्रा फैलाई ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसको फील करने लगा. मेरी नज़र उसके चेहरे पर पड़ी तो उसका चेहरा अजीब सा हो रहा था. वापिस कपड़ों की तरफ जाते हुए उस ने जो हरकत की उसे देख कर तो मेरी चूत ही गीली हो गई. राज ने अपनी बहन की ब्रस्सिएर को अपने चेहरे पर फेरा ऑर उसे स्मेल भी किया . हालाँकि धूलि हुई ब्रस्सिएर में से कहाँ उसकी बहन के जिस्म की खुसबू आनी थी. 



थोड़ी देर के बाद वो वापिस आया ऑर बाथरूम का अनलॉक्ड डोर खोल कर बोला, नही यार वहाँ पर कोई नही है दूसरी ब्रस्सिएर यही पड़ी हुई है. मैने कहा अच्छा ठीक है में आकर देख लेती हूँ. अभी भी उसके हाथ में पायल की ब्रा मौजूद थी. जिसे देख कर में मुस्कराई ऑर उसके हाथ से ले लिया. फिर में एक टवल अपने नंगे जिस्म पर लपेट बाथरूम से बाहर लाउंज में ही निकल आई. राज दोबारा से सोफे पर बैठ कर टीवी देख रहा था. मैने जैसे बेखायाली में वो पायल की ब्रस्सिएर दोबारा से उसके पास ही सोफे पर फैंक दी ऑर बोली, क्या है ना यार एक काम भी नही होता तुम से मेरा.ये कह कर में अपने बेडरूम में चली गई.



अपने कमरे से मैने दोबारा बाहर झाँक कर देखने लगी ऐसे कि राज मुझे ना देख पाए. मैने देखा कि राज ने एक दो बार बेडरूम की तरफ देख कर मेरी तरफ से तसल्ली की ऑर फिर अपने क़रीब ही सोफे पर पड़ी हुई अपनी ब्रस्सिएर को दोबारा से उठा लिया. जैसे ही उस ने उसे उठाया तो मेरे चेहरे पर मुस्कान फैल गई. 



राज ने दोबारा से अपनी बहन की ब्रस्सिएर उठा ली थी ऑर उसे पर आहिस्ता आहिस्ता हाथ फेरते हुए उसे फील कर रहा था जैसे कि उस में अपनी बहन के बूब्स को सोच रहा हो. में कुछ देर उसे अपनी बहन की ब्रस्सिएर से खेलते हुए देखती रही ऑर फिर मुस्करा कर अपनी अलमारी की तरफ बढ़ गई उसे ब्रा से एंजाय करते हुए छोड़ कर. मैने अपनी ब्रस्सिएर निकाल कर पहनी ऑर फिर नीचे से एक लेग्गी पहन ली लेकिन ब्रा के ऊपर टॉप नही पहना. ऑर फिर बाहर आ गई . जैसे ही मैने दरवाज़ा खोला तो फॉरन ही राज ने पायल की ब्रा फॉरन ही सोफे पर फैंक दी. में देख तो लिया था लेकिन शो ऐसे ही किया जैसे मैने कुछ भी ना देखा हो.फिर मैने कपड़ों में से पायल के कपड़े ऑर सोफे पर से उसकी ब्रस्सिएर उठाई ऑर उसकी अलमारी में रख आई. पहले तो राज थोड़ा सा घबराया था लेकिन जब उस ने देखा कि उसकी इस हरकत का मुझे कुछ भी पता नही चला तो वो काफ़ी रिलॅक्स हो गया था. में तो खुद भी उसे रीयलाइज़ करवा कर अपना काम ऑर मज़ा खराब नही करना चाहती थी ना ऑर उसे अपनी ही बहन की तरफ जाने का पूरा पूरा मौका देना चाहती थी.

2 दिन के बाद सुबह जब राज ऑफीस के लिए तैयार हो रहा था रूम में ही तो मैने उसे कहा,


में: राज प्लीज़ आज ऑफीस से आते हुए थोड़ी शॉपिंग तो करते आना.


राज: क्या मंगवाना है.


में: यार 3-4 सेट ब्रस्सिएर के ले आना लेटेस्ट ऑर खूबसूरत डिज़ाइन वाले. 


राज: ओके डार्लिंग लेता आउन्गा .


में: ओह हां याद आया, वो ना साइज़ तुम 34 ले कर आना.


राज: हैरान हो कर मेरी तरफ देखते हुए बोला, क्यों 34 क्यो, तुम्हारा साइज़ तो 36 है फिर छोटा नंबर क्यूँ मंगवा रही हो.



मैने उसके उतारे हुए कपड़े समेट ते हुए बड़े ही कॅषुयल अंदाज़ में कहा, वो 34 के साइज़ की ब्रस्सिएर्स पायल के लिए मँगवाई हैं ना. उसकी सब की सब पुरानी हैं ऑर पुराने डिजाइन की हैं. कुछ अच्छे डिज़ाइन ले आना. 


मैने इतने नॉर्मल अंदाज़ में कहा जैसे कि उस से बाज़ार से कोई सब्ज़ी या घर की कोई ऑर चीज़ मंगवा रही हूँ. लेकिन मेरी इस बात से राज साक़ित हो चुका था. उसे इसी हालत में छोड़ कर में मुस्कराती हुई कमरे से बाहर आ गई ऑर किचन में जा कर नाश्ता तैयार करने लगी. 


जब राज ऑर पायल भी नाश्ते के लिए आगये तो हम सब नाश्ता करने लगे. में नोट किया कि आज राज बड़ी ही अजीब नज़रों से पायल को देख रहा था.आज भी उसकी नज़रें बार बार उसके बूब्स पर जा रही थीं जैसे कि वो खुद भी अपनी बहन के बूब्स के साइज़ का अंदाज़ा करना चाह रहा हो. उसकी ये हालत देख कर में दिल ही दिल में मुस्करा रही थी. 


इतने दिनो में अब ये तब्दीली आ चुकी हुई थी कि पायल को भी कुछ कुछ फील होने लगा था कि उसके भाई की नज़रें उसके जिस्म के गिर्द घूमती रहती हैं लेकिन वो भी कुछ बुरा फील नही करती थी ऑर उसे नॅचुरल चीज़ ही समझती थी ऑर मैने कभी भी उसे बुरा मानते हुए या खुद को छुपाते हुए नही देखा था. 



हस्ब ए मामूल शाम को राज घर वापिस आया तो उसके हाथ में एक शॉपिंग बॅग था. जिसे उसके हाथ में देख कर ही मेरे चेहरे पर मुस्कान फैल गई लेकिन मैने अपनी मुस्कराहट राज से छुपा ली. अपने रूम में आकर राज ने मुझे वो शॉपिंग बॅग दिया ऑर बोला, ये ले आया हूँ जो तुम ने मँगवाया था देख लेना ऑर अगर कुछ चेंज वेंज करना हो तो भी करवा लाउन्गा. 



मैने भी बड़े ही कॅषुयल अंदाज़ में उस से बॅग लिया ऑर उसे कमरे में एक तरफ रख दिया ओके कह कर जैसे मुझे कोई ख़ास दिलचस्पी ना हो ऑर ये एक आम सी बात ही हो. लेकिन अंदर से में क्यूरियस थी कि देखूं कि राज ने अपनी बहन के लिए किस किस्म की ब्रास सेलेक्ट कर के ली है. 



नेक्स्ट डे पायल घर पर ही थी तो राज के जाने के बाद मैने वो शॉपिंग बॅग उठाया ऑर बाहर आ गई जहाँ पर पायल बैठी टीवी देख रही थी. मेरे हाथ में नया शॉपिंग बॅग देख कर खुश होते हुए बोली,

वाउ भाभी शॉपिंग कर के आई हो, कब गई थी आप ऑर क्या लाई हो दिखाओ मुझे भी.


में मुस्करा कर बोली, नही यार में तो नही गई थी कुछ चीज़ें तुम्हारे भैया से ही मँगवाई है ऑर वो भी तुम्हारे लिए. में अब पायल के पास ही बैठ चुकी थी ऑर उसका भी पूरा ध्यान अब मेरी तरफ ही था.



पायल : अरे भाभी मेरे लिए क्या मंगवा लिया है दिखाओ ना मुझे भी. 


मैने बॅग में से चारों बॉक्सस निकाल कर बाहर टेबल पर रख दिए हम दोनो के सामने. बॉक्सस पर ब्रा पहनी हुई मॉडेल्स की फोटोस थीं जिनको देखते ही पायल चौंक उठी. 


पायल : भाभी ये क्या है???


में: अरे यार तुम्हारे लिए कुछ नई ब्रा मँगवाई है मेरा तो चक्कर नही लग रहा था मार्केट में तो इस लिए तुम्हारे भैया को ही कहा था कि ला दो. आओ खोल कर देखते हैं कि कैसे डिज़ाइन्स लाए हैं तुम्हारे भैया अपनी बहना के लिए.

मेरी बात सुन कर पायल का चेहरा सुर्ख हो गया शरम से वो झेंपती हुई बोली, भाभी आप को भैया से मंगवाने की क्या ज़रूरत थी पता नही क्या सोचते होंगे वो मेरे बारे में. 


में मुस्कराई ऑर बोली अरे इस में ऐसी कॉन सी बात है मेरे लिए भी तो ले ही आते हैं ना वो खरीद कर तो तुम्हारे लिए ले आए तो कॉन सी ग़लत बात हो गई है यार. 



मैने सब पॅकेट्स खोले ऑर उन में से ब्रास निकाल कर देखने लगीं. उन में से 2 तो एमब्राय्डेड थीं बहुत ही खूबसूरत डिज़ाइन की कोस्ट्ली वाली. जिन में से एक ब्लॅक ऑर दूसरी स्किन कलर की थी. तीसरी ब्रस्सिएर नेट वाली थी जिस को पहन कर सब कुछ नज़र आता हो. फोर्थ वाली ब्रा हाफ कप थी जिसके स्ट्रॅप ट्रांसपेरेंट प्लास्टिक के थे. 



मैने एक एक ब्रा खोल कर पायल के हाथ में दी ऑर बोली, यार बहुत ही सेक्सी ब्रा लाए हैं तेरे भैया तुम्हारे लिए. पायल उन ब्रास को हाथों में ले कर देख भी रही थी ऑर शरम से लाल भी हो रही थी. 


में: अरे यार इस नेट वाली में तो तुम्हारे बूब्स बिल्कुल ही नंगे ही रह जाएँगे. मैने हँसते हुए कहा.



पायल शर्मा कर मुझे जवाब देते हुए बोली, भाभी आप के पास भी तो हैं ना नेट वाली ब्रास आप भी तो पहनती हो ना.


में फॉरन बोली, मेरी पहनी हुई नेट वाली ब्रा तो तुम्हारे भैया को दिखाने के लिए होती है तू ने भी क्या अपने भैया को दिखानी है पहन कर ये.


मेरी इस बात पर तो पायल उछल ही पड़ी ऑर बोली, भाभी कैसी बातें करती हो आप में क्यूँ दिखाउन्गी भैया को पहन कर. उसका चेहरा शरम से सुर्ख हो गया. 


में मुस्करा कर बोली वैसे ला कर तो उस ने तुमको इसी लिए दी है ना शायद देखना चाहते ही हों तुम्हारे भैया तुमको इस में. 


पायल बोली, भाभी आप बहुत खराब बातें करती हो क़सम से. 



में भी उसके साथ मिल कर हँसने लगी. फिर पायल वो बॅग ले कर अपने रूम में चली गई. मैने भी उसे कोई इसरार नही किया क़ि वो मुझे नई ब्रा पहन कर दिखाए. 



शाम की राज घर आया तो आज भी हमेशा की तरह उसकी नज़र अपनी बहन के बूब्स पर ही थी जैसे अब वो ये जान ना चाहता हो कि उस ने नई ब्रा पहनी है कि नही. मैने फील किया कि अपने भाई की नज़रों को फील कर के पायल भी थोड़ा शर्मा रही थी. ऑर में उन दोनो भाई बहन की कंडीशन को एंजाय कर रही थी.
Reply
09-11-2018, 10:25 AM,
#12
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
राज की अपनी बहन पर तान्क झाँक ऐसे ही चलती रहती थी. गर्मी का मौसम चल रहा था ऑर हम ने काफ़ी महीनो से ही एसी लगवाने के लिए पैसे इकट्ठे करना शुरू किए हुए थे अब जा कर हमारे पास इतने पैसे हुए थे कि हम एक एसी लगवा सकें तो फिर आख़िर कार हम ने अपने बेडरूम में एसी लगवा ही लिया. उस रोज़ हम लोग बहुत खुश थे आख़िर हम जैसे मिड्ल क्लास के लिए एसी का लग जाना भी एक बोहत बड़ी बात थी. रात को में ऑर राज अब एसी में सोने लगे. 




लेकिन जल्दी ही मुझे ऑर राज को पायल का ख़याल आया.


में: राज यार ये बात तो ठीक नही है कि हम लोग तो एसी चला कर सो जाते हैं ऑर उधर पायल गर्मी में ही सोती है. 


राज: हां कहती तो तुम ठीक हो लेकिन कैसे करें फिर अब??



हमारा कमरा इतना बड़ा नही था कि उस में कोई ऑर बेड लगाया जा सके ऑर ना ही उस में कोई भी ऑर सोफा वाघहैरा ही पड़ा हुआ था. काफ़ी सोच बिचार के बाद मेरे शैतानी दिमाग़ ने एक अनोखा आइडिया दिया जिस से मेरा काम भी आगे बढ़ ने के आसार थे.



में राज से बोली, राज एक बात हो सकती है कि हम पायल को अपने साथ ही बेड पर सुला लें.


राज चौंक कर बोला, लेकिन ये कैसे हो सकता है इस तरह तो हमारी प्राईवेसी ख़तम होगी यार ऑर कैसे हम उसे अपने बेड पर सुला सकते हैं.


में: यार कोई परेशानी नही हो गी बस में बीच में लेट जाया करूँ गी इस में कॉन सी कोई प्रॉब्लम है यार बस उसे आज इधर ही सोने का कह देते हैं. इस तरह गर्मी में उसको सुलाना तो ठीक नही है ना. 


राज मेरा फ़ैसला सुन कर खामोश हो गया ऑर कुछ सोचने लगा. शाम को खाने के वक़्त हम ने पायल को ये बता दिया उस ने बहुत इनकार किया लेकिन मैने उसकी कोई भी बात सुन ने से इनकार कर दिया.ऑर आख़िर पायल को मेरी बात मान नी ही पड़ी.



रात हुई तो में ऑर राज अपने रूम में आकर लेट गये. एसी चल रहा था ऑर कमरा कूल हो रहा था. थोड़ी देर तक पढ़ने के बाद पायल भी आ गई . मैने कमरे में जलता हुआ नाइट बल्ब भी बंद कर दिया ऑर कमरे में घुप अंधेरा था सिर्फ़ एसी के जगमगाते हुए नंबर्स की ही रोशनी हो रही थी कमरे में. पायल हमारे बेड के पास आई तो मैने थोड़ा सा ऑर राज की तरफ सरक कर पायल के लिए ऑर भी जगह बनाई ऑर वो झीजकते हुए मेरे साथ लेट गई. अब मेरी एक तरफ मेरा हज़्बेंड सो रहा था ऑर दूसरी तरफ उसकी सिस्टर. यानी में दोनो बहन भाई के बीच लेटी हुई थी. 



राज की आदत थी कि वो मेरे साथ चिपक कर मुझे अपनी बाहों में समेट कर सोता था. अब जब पायल कमरे में आई तो राज सो चुका हुआ था ऑर मेरी करवट दूसरी तरफ थी लेकिन वो पीछे से मुझसे चिपका हुआ था. जैसे ही पायल की नज़र हम दोनो पर इस हालत में पड़ी तो उसके चेहरे पर एक शर्मीली सी मुस्कराहट फैल गई. में भी उसकी तरफ देख कर मुस्कराई ओर उसे चुप कर के अपने पास लेटने का इशारा क्या . ओर वो खामोशी से मेरे साथ सीधी ही लेट गई.


मैने आहिस्ता से उसके कान में कहा, अरे यार कुछ फील ना करना तुम्हारे भैया की आदत है मेरे साथ ऐसे ही चिपक कर सोने की. बहुत चिपकू हैं तेरे भैया. मेरी बात सुन कर पायल भी मुस्कराने लगी. मैने अपनी बाज़ू उठाई ऑर पायल के पेट पर रख कर उसे एक झटके से थोड़ा ऑर अपने करीब खींच लिया. इस तरह वो मेरे साथ चिपक गई थी लेकिन साथ ही राज का हाथ भी उसके जिस्म से टच हो रहा था. राज तो सो रहा था लेकिन उसकी बहन को ज़रूर उसके हाथ का लांस अपनी कमर की साइड पर महसूस हो रहा था. जिस की वजह से वो थोड़ा सा अनकंफर्टबल हो रही थी लेकिन फिर भी आराम से लेटी रही क्योंकि मैने उसके जिस्म पर से अपना हाथ नही हटाया था. अब पोज़िशन ये थी कि राज मेरे साथ चिपका हुआ था ऑर में उसकी बहन के साथ चिपक कर सोने लगे थे. 



मैने आहिस्ता से दोबारा उसके कान के क़रीब अपने होंठ ले जा कर कहा, शरमा क्यूँ रही हो कल को तुम्हे भी तो ऐसे ही सोना है ना. पायल ने चौंक कर मेरी तरफ देखा तो मैने उसके गोरे गोरे गाल की एक पप्पी ली ऑर बोली, हां तो क्या तुम अपने हज़्बेंड के साथ चिपक कर नही सोया करो गी क्या . मेरी बात सुन कर पायल शरमा गई ऑर अपनी आँखे बंद कर लीं. एसी की ठंडी ठंडी हवा में कुछ ही देर में हम सब की आँख लग गई. मैने भी करवट ली ऑर अपने हज़्बेंड के साथ चिपक कर एक बाज़ू उसके ऊपर डाल कर सो गई. 




बहुत सुबह जब मेरी आँख खुली तो हमारी हालत ये थी कि में पायल की तरफ मुँह कर के लेटी हुई थी. मेर एक हाथ उसके सीने पर था, उसके बूब्स मेरे बाज़ू के नीचे थे. राज का बाज़ू मेरे ऊपर से हो कर मेरे बूब को थामे हुए था. उसकी एक टाँग मेरी टाँगो के ऊपर से गुज़र रही थी ऑर पायल की टाँग पर पहुँची हुई थी. इस हालत को देख कर में मुस्करा दी. दोनो बहन भाई अभी तक सोए हुए थे कमरे से बाहर हल्की हल्की रोशनी हो रही थी अभी लेकिन दिन नही चढ़ा था अभी. 




मेरी नींद टूट चुकी थी. मैने आहिस्ता से अपने हाथ को हरकत दी ऑर सोई हुई पायल का एक बूब अपने हाथ में ले लिया. उसे आहिस्ता से सहलाने लगी. पायल ने नीचे से ब्रा भी पहनी हुई थी उसका बूब बहुत ही सॉलिड लग रहा था. आहिस्ता आहिस्ता में उसे सहलाने ऑर दबाने लगी. उसके बूब को दबाना मुझे अच्छा लग रहा था. उसका खूबसूरत गोरा चिटा चेहरा मेरी आँखों के सामने ऑर मेरे होंठो के बहुत ही क़रीब था. में ज़्यादा देर खुद पर कंट्रोल ना कर सकी ऑर उसके चिकने गाल को एक किस कर लिया. 



मेरे जागने के साथ ही मेरे अंदर का शैतान भी जाग चुका था. मुझे एक शैतानी ख़याल आया ऑर साथ ही मेरी आँखे कमरे के उस अंधेरे में भी चमक उठीं. 



मैने एक नज़र पायल के चेहरे पर डाली वो सो रही थी राज के सोने का तो उसके ख़र्राटों से ही कन्फर्म हो रहा था. अब मैने अपने बूब्स पर लटक रहा राज का हाथ अपने हाथ में ले कर उठाया ऑर बहुत ही आहिस्ता से उसे पायल के बूब पर रख दिया. हाथ मैने राज का रखा था पायल के बूब पर लेकिन इस चीज़ के मज़े की वजह से सिसकारी मेरे मुँह से निकल गई,सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स



राज का हाथ पायल के बूब पर रखने के बाद मैने फॉरन ही पायल के चेहरे की तरफ देखा लेकिन वो बेख़बर सो रही थी. राज का हाथ भी अपनी बहन के बूब के ऊपर बिल्कुल साकित था. उस बेचारे को तो पता भी नही था कि उसके हाथ में उसके ख्वाबो की ताबीर मौजूद है. में धीरे से मुस्करा दी.



अब मैने अपना हाथ राज के हाथ के ऊपर रखा ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसके हाथ को पायल के बूब के ऊपर फेरने लगी. ज़्यादा देर तक ये खेल में ना खेल सकी क्योंकि एक बार फिर मेरी आँख लग गई. 




सुबह जब मेरी आँख खुली तो उस वक़्त राज ने दूसरी तरफ करवट ली हुई थी ऑर में उसकी कमर के साथ उसी की तरफ मुँह कर के उस से चिपक कर लेटी हुई थी ऑर मेरा बाज़ू उसके ऊपर था. पायल उठ कर जा चुकी हुई थी. में सीधी हो कर लेट गई ऑर रात जो कुछ हुआ उसके बारे में सोचने लगी. मेरे चेहरे पर हल्की सी मुस्कराहट फैली हुई थी. 



इतने में पायल ट्रे में चाय के तीन कप ले आई. उसे देख कर में मुस्कराई ऑर वो मेरे पास ही बेड पर लेट ते हुए बोली, भाभी आप तो बहुत ही बेशर्मी के साथ सोती हो भैया के साथ चिपक कर. सुबह भी चिपकी हुई थी आप उनके साथ.


मैने उसे आँख मारी ऑर बोली, सारी रात तो तेरा भाई मेरे साथ चिपका रहा है थोड़ी देर के लिए मैने चिपक लिया तो क्या हो गया यार. 


मेरी बात सुन कर वो हँसने लगी. फिर मैने राज को भी उठाया ऑर हम तीनों ने बेड टी ली ऑर गप शप भी करते रहे.


ऐसे ही इसी रुटीन में 3-4 दिन गुज़र गये. रात को पायल हमारे ही कमरे में हमारे बेड पर हमारे साथ सोने लगी. एक रात जब पायल लेटने के लिए आई तो हम दोनो भी अभी जाग ही रहे थे. तीनों लेट कर बातें करने लगे. थोड़ी ही देर गुज़री कि मैने करवट बदली ऑर राज की तरफ मुँह कर के लेट गई ऑर साथ ही उस के ऊपर अपना बाज़ू डालते हुए उसे हग कर लिया. राज आहिस्ता से बोला, यार पायल है तेरे पीछे लेटी हुई. लेकिन मैने उसका ख़याल किए बिना ही अपनी टाँग भी उसके ऊपर रखी ऑर मज़ीद उस से लिपट ते हुए बोली, कुछ नही होता, उसे क्या पता वो तो बच्ची है अभी.



मैने मूड कर पायल की तरफ देखा तो उसके चेहरे पर शर्मीली सी मुस्कराहट थी. कुछ देर के बाद मैने पायल की तरफ अपना मुँह किया ऑर उसे हग कर लिया ऑर बोली, सॉरी पायल डियर तुम ने माइंड तो नही किया ना. वो मुस्करा दी ऑर बोली, नही भाभी इट्स ओके.


मैने राज का भी हाथ खींचा ऑर अपने ऊपर रख लिया अब वो पीछे से मुझे हग किए हुए था ऑर मैने सीधी लेटी हुई पायल को हग किया हुआ था. राज का हाथ पायल के पेट को छू रहा था. मैने फील किया कि पायल को थोड़ा अनकंफर्टबल फील हो रहा है अपने भाई का हाथ. 


मुझे एक शरारत सूझी. मैने राज का हाथ पकड़ कर पायल के पेट पर रखा ऑर बोली, 

देखो राज पायल का पेट कितना स्मार्ट है ऑर मेरा पेट कितना मोटा हो गया है, देखो ज़रा इसे फील कर के. 


मेरी इस हरकत से दोनो बहन भाई ही चौंक पड़े लेकिन मैने राज को हाथ हटाने का मौका दिए बिना ही उसके हाथ को पायल के पेट पर फेरना शुरू कर दिया. पायल का चेहरा शरम से सुर्ख हो गया था. राज का भी मुझे पता था कि वो ऊपर से तो हेसिटेशन शो कर रहा है लेकिन अंदर से वो अपनी बहन के पेट को छूना ज़रूर चाहता है. लेकिन चन्द लम्हो के बाद मैने राज के हाथ पर से अपना हाथ हटाया तो फिर भी राज ने कुछ देर तक के लिए अपना हाथ पायल के पेट पर ही पड़ा रहने दिया. 



उसी रात को मेरी आधी रात को आँख खुली तो मुझे टाय्लेट जाने की ज़रूरत पड़ी. में अपनी जगह से उठी ऑर उन दोनो बहन भाई के बीच में से में निकली ऑर उठ कर वॉशरूम में चली गई. 


जब में वापिस आई तो अचानक ही मेरे ज़हन में एक ख़याल आया. मैने पायल को देखा तो वो गहरी नींद में थी. मैने आहिस्ता से उसे करवट दी तो वो घूम कर बेड पर मेरे वाली जगह पर आ गई अपने भाई राज के क़रीब. में मुस्कराई ऑर पायल को अपनी जगह पर कर के खुद उसकी वाली जगह पर लेट गई. अब मुझे सोना नही था बल्कि आगे जो होने वाला था उसका इंतजार करना था. 



थोड़ी देर के बाद वोही हुआ जो कि एक्सपेक्टेड था. राज ने करवट बदली ऑर पायल की तरफ मुँह कर लिया. लेकिन उसे नही पता था कि वहाँ पर में नही बल्कि उसकी अपनी बहन पायल लेटी हुई है. इस लिए उस ने अपनी नींद में ही रुटीन के मुताबिक़ ही अपना बाज़ू पायल के ऊपर डाला ऑर उसे हग करते हुए अपने क़रीब खींच लिया जैसे के वहाँ पर पायल नही बल्कि में हूँ. 



में धीरे से मुस्कराई ऑर पायल को थोड़ा ऑर आगे को पुश कर दिया. पायल के बूब्स राज के सीने के साथ चिपक गये थे. लेकिन अभी तक दोनो बहन भाई नींद में ही थे अगरचा दोनो एक दूसरी से चिपके हुए थे. मैने अपना हाथ पायल के ऊपर से आगे बढ़ाया ऑर राज की पाजामी के ऊपर से ही उसका लंड पकड़ कर आहिस्ता आहिस्ता सहलाने लगी. में राज के लंड को खड़ा करना चाहती थी. ऑर नींद में ही राज का लंड आहिस्ता आहिस्ता खड़ा होने लगा. जैसे ही राज का लंड खड़ा हुआ तो उस ने अपनी एक टाँग भी पायल की थाइस के ऊपर डाली ऑर अपना लंड उसकी थाइस के बीच घुसाते हुए उस से चिपक गया. में मुस्कराई ऑर अपना हाथ पीछे खींच लिया. मेरा काम काफ़ी हद तक हो चुका था. 



राज के इस तरह से पायल को अपने साथ चिपकाने ऑर दबाने की वजह से पायल की आँख खुल गई. जैसे ही वो थोड़ा सा कसमासाई तो मैने अपनी आँखे बंद कर लीं ऑर थोड़ी सी आँख खोल कर उसे देखने लगी. 


पायल ने जल्दी से करवट ली ऑर सीधी हो कर मेरी तरफ देखने लगी कि ये कैसे हुआ है कि वो मेरी जगह पर है. लेकिन में सोती हुई बन गई. वो हैरत से मेरी तरफ देख रही थी फिर उस ने आहिस्ता से अपने भाई का हाथ अपने जिस्म पर से उठाया ऑर पीछे कर दिया अब वो बिल्कुल सीधी लेटी हुई थी ऑर थोड़ी सी कन्फ्यूज़ लग रही थी. राज के ख़र्राटों की आवाज़ अभी भी आ रही थी. 


दोबारा थोड़ी देर में वोही हुआ जिस की राज को आदत पड़ी हुई थी. उस ने दुबारा अपना हाथ फैलाया ऑर पायल के सीने पर रख कर इस बार उसके छोटे से बूब को अपने हाथ में ले लिया. पायल ने घबरा कर पहले राज की तरफ देखा ऑर फिर मेरी तरफ लेकिन उसे तसल्ली हो गई कि हम दोनो ही सो रहे हैं ऑर किसी को भी होश नही है.
Reply
09-11-2018, 10:25 AM,
#13
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
पायल के बूब के ऊपर उसके भाई का हाथ था जिस ने मुट्ठी में अपनी सिस्टर की ब्रेस्ट को लिया हुआ था. पायल ने आहिस्ता से अपना हाथ अपने भाई के हाथ पर रखा ऑर उसे पीछे को हटाने लगी. एक लम्हे के लिए उसे भी अच्छा ही लगा था यौं अपने बूब्स पर किसी का टच लेकिन फिर उस ने अपने भाई का हाथ हटा दिया. 


लेकिन अभी एक मुसीबत ऑर भी तो थी ना. राज का आकड़ा हुआ लंड उसकी थाइस पर प्रेस हो रहा था. पायल थोड़ी सी मेरी तरफ सर्की ऑर मेरी तरफ करवट ले कर लेट गई. मुझे थोड़ी मायूसी हुई. अब पायल का रुख़ मेरी तरफ था उस ने अपना बाज़ू मेरे पेट पर रखा ऑर मुझे हग कर के लेट गई. लेकिन अगले ही लम्हे वो उछल ही पड़ी. में भी हैरान हुई ऑर फिर थोड़ा सा देखा तो राज अपनी नींद में अपनी टाँग पायल के हिप्स के ऊपर ला चुका हुआ था ऑर ज़ाहिर है कि उसका लंड पीछे से आकर कर पायल की गान्ड मेँघुस गया हुआ था जैसे कि वो मेरी गान्ड में पीछे से घुसा देता होता था. अभी भी उसे यही पता था कि वो अपनी बीवी के साथ ही है क्योंकि अगर उसे पता चल जाता कि ये में नही उसकी सिस्टर है तो वो ज़रूर पीछे हो चुका होता. 


मैने देखा की मेरे पेट के ऊपर रखा हुआ पायल का हाथ पीछे को गया तो मेरी चूत ही जैसे पानी छोड़ गई ज़ाहिर है कि पायल ने पीछे हाथ ले जा कर अपने भाई का लंड पीछे को करने की कोशिश की थी. लेकिन उसका हाथ काफ़ी देर तक वापिस नही आया था. शायद वो अपने भाई के लंड को फील कर रही थी. 


फिर उस ने अपना हाथ वापिस आगे किया ऑर मेरे पेट पर रख कर मुझे हिलाते हुए आवाज़ देने लगी, भाभी भाभी उठो ज़रा...

मैने जैसे नींद में आँखे खोली ऑर बोली, हां क्या मसला है इतनी रात को जाग रही हो. वो बोली, भाभी ये में आपकी जगह पर कैसे आ गई हूँ. मैने अब आँखे खोलीं ऑर बोली, अरे यार में बाथ रूम गई थी वापिस आई तो तुम मेरी जगह पर पहुँची हुई थी घूमती हुई तो में यही पर लेट गई तुम्हारी जगह पर. वो बोली, अच्छा भाबी चलो आप वापिस आओ अपनी जगह पर. मैने नींद में होने की आक्टिंग ही करते हुए दूसरी तरफ करवट ली ऑर बोली, सो जा यार क्यूँ मेरी भी नींद खराब कर रही हो. ऑर पायल बेबस हो कर वहीं लेटी रह गई लेकिन मेरे साथ ऑर भी चिपक गई ताकि उसके भाई से उसका फासला हो जाय. 



फिर मैने पायल को सीधी होते हुए फील किया . लेकिन अगले ही लम्हे मुझे अपनी कमर के पास राज का हाथ महसूस हुआ, मेरे चेहरे पर मुस्कराहट आ गई क्योंकि एक बार फिर से उसका हाथ अपनी बहन के बूब्स पर आचुका हुआ था.


थोड़ी ही देर में मुझे पायल की आवाज़ सुनाई दी,

भैया भैया उठो ज़रा ये में हूँ भाभी नही हैं. 

फिर मुझे राज की बौखलाई सी आवाज़ सुनाई दी, अरे तू यहाँ कैसे आ गई ऑर तेरी भाभी कहाँ है.. 

पायल आहिस्ता से बोली, भैया वो उधर चली गई हुई हैं.

फिर राज की आवाज़ आई, सॉरी पायल में समझा था कि डॉली है. साथ ही राज ने दूसरी तरफ करवट ली ऑर दोबारा से सोने लगा. लेकिन में जानती थी कि दोनो बहन भाई को काफ़ी देर तक नींद आने वाली नही थी. मुझे ये भी पता था कि अब कुछ ऑर नही हो गा इस लिए मैने भी अपनी आँखे मूंद ली ऑर सो गई. 



सुबह जब मेरी आँख खुली तो दोनो बहन भाई पहले ही उठ चुके थे. में भी उठ कर बाहर आई ऑर नाश्ता तैयार करने लगी. जब मैने नाश्ता टेबल पर लगाया ऑर दोनो बहन भाई को बुलाया तो मैने फील किया कि वो दोनो एक दूसरे से नज़रें नही मिला पा रहे थे. पायल के चेहरे पर शर्म की लाली थी उसकी नज़रें शरम से नीचे झुकी हुई थीं ऑर राज भी अपनी नज़रें चुरा रहा था ऑर शर्मिंदा शर्मिंदा लग रहा था. थोड़ी ही देर में वो दोनो घर से चले गये.

पता नही रास्ते में उनके बीच में क्या बातें हुई लेकिन जब दोपहर में वो दोनो वापिस घर आए तो भी मैने फील किया कि दोनो के चेहरों पर शर्मीली सी मुस्कराहट थी. पायल शरमा रही थी जबकि राज के चेहरे पर शरारती सी मुस्कराहट थी. खाने पर भी वो पायल को देखता रहा लेकिन पायल ने एक बार भी उस से नज़र नही मिलाई ऑर अपना सिर नीचे झुका कर अपना खाना खाती रही. उस में शायद हिम्मत नही थी कि वो अपने भाई से नज़रें मिलाए. दोपहर के खाने के बाद मैने दोनो को कहा कि आ जाओ अब कुछ देर के लिए एसी चला कर रेस्ट कर लेते हैं. में ऑर राज दोनो अपने कमरे में जा कर लेट गये. मैने गर्मी की वजह से उस वक़्त राज का ही एक बरमूडा पहना हुआ था जो कि मेरे नीस तक था लेकिन काफ़ी लूज था मुझे. राज भी इसी ड्रेस में था ऊपर उस ने एक बनियान पहनी हुई थी . जब कि मैने एक टी शर्ट पहनी हुई थी. जब हम दोनो कमरे में अकेले थे तो अपनी आदत के मुताबिक़ राज ने मुझे घसीट कर अपने साथ चिपका लिया ऑर मुझे किस करने लगा. मैने जान बूझ कर खुद को छुड़ाने के लिए शोर करना शुरू कर दिया. ऊँची आवाज़ में हँसने लगी ऑर चिल्लाने लगी छोड़ो मुझे प्लीज़ छोड़ो पायल आजा ना. में ऊँची आवाज़ में चिल्ला रही थी ताकि पायल भी सुन सके बाहर से ही कि अंदर क्या हो रहा है.


में फिर चिल्लाई यार तुम्हे तो हर वक़्त बस यही काम होता है कि बस मुझे ही चोदते रहो. मुझ से नही पूरी होती अब तुम्हारी इतनी ज़्यादा हवस. राज बोला, तुझे ना चोदू तो फिर किसे चोदू. तुझ से पूरी नही होती मेरी हवस तो क्या तेरी बहन को चोदू जा के अपने लंड की प्यास बुझाने के लिए. राज ने मेरे बूब्स को मसल्ते हुए कहा. में हँसी ऑर ज़ोर से बोली, क्यूँ मेरी बहन को चोदने क्यूँ जाता है तेरी अपनी बहन तो घर में ही है जा के उसे चोद ले ना. मेरी बात सुन कर राज हँसने लगा ऑर एकदम मेरे ऊपर चढ़ गया तो में भी हँसते हुए अपना बचाओ करने लगी. अब राज मेरे ऊपर लेटा हुआ था ऑर मेरे दोनो हाथ पकड़ कर ऊपर किए हुए थे ऑर मेरे गालों को चूम रहा था ऑर दूसरे हाथ से मेरे बूब्स को दबा रहा था. में ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी, बचाओ बचाओ. पायल प्लीज़ हेल्प मी जल्दी आओ. 


मेरी इस बात पर राज ऑर भी ज़ोर ज़ोर से हँसने लगा. ऑर बोला, बुला ले बुला पूरे मोहल्ले को बुला ले लेकिन नही छोड़ूँगा तुझे में. अब उसे क्या पता था कि ये गेम में सारी अपने प्लान के मुताबिक़ ही खेल रही थी. राज ने अपने हाथ से मेरी टी शर्ट के निचले हिस्से को पकड़ा ऑर उसे ऊपर करने लगा. में चिल्लाई नही नही प्लीज़ नही करो. लेकिन राज ने मेरी शर्ट मेरे बूब्स तक ऊपर कर दी ऑर मेरे दोनो बूब्स मेरी ब्रा समेत नंगे हो गये. इस से पहले कि वो कुछ ऑर करता वोही हुआ जो में चाहती थी, हमारे कमरे का दरवाज़ा खुला ऑर पायल तेज़ी से कमरे में दाखिल हुई, क्या हुआ क्या हुआ भाभी, कहती हुई. लेकिन जैसे ही उसकी नज़र अंदर के मंज़र पर पड़ी तो एक लम्हे के लिए तो उसके पैर अपनी जगह पर जम ही गये. सामने बेड पर उसका भाई मेरे ऊपर चढ़ा हुआ था मेरी शर्ट ऊपर उठी हुई थी ऑर मेरी ब्रस्सिएर नज़र आ रही थी. मैने पहले ही जान बूझ कर ही अपनी दोनो टाँगे राज की कमर पर कस ली थीं ताकि वो जल्दी से खुद को अलग ना कर सके. चन्द लम्हों के लिए तो राज भी साकित हो गया था यौं अपनी बहन को सामने देख कर. चन्द लम्हों बाद राज ने मेरे ऊपर से उतरने की कोशिश की तो मैने उसे अपनी टाँगो के साथ जकड लिया ऑर बोली, क्यूँ क्यूँ अब क्यूँ भाग रहे हो डर कर. अब मेरी हेल्प आ गई है ना. मेरे बोलने से पायल भी जैसे होश में आ गई ऑर साथ ही उसके चेहरा शरम से सुर्ख हो गया. ऑर वो फॉरन ही कमरे से भाग गई. में ज़ोर ज़ोर से हँसने लगी ऑर राज को भी छोड़ दिया वो भी जल्दी से मेरे ऊपर से उतर गया. उसके चेहरे पर भी थोड़ी सी घबराहट थी. लेकिन फिर वो भी मुस्कराने लगा. फिर में उठी ऑर बाहर जा कर पायल को बुला लाई. वो मेरे साथ ही शरमाती हुई अंदर आ गई . में बीच में लेट गई ऑर वो भी मेरे साथ ही लेट गई. राज ने भी मेरी तरफ करवट ली हम तीनों बातें करने लगे. राज थोड़ा उँचा हो कर बेड की बॅक से ताकि लगा कर लेटा हुआ था ऑर हम दोनो को देख रहा था. मैने फील किया कि वो पायल को देखता तो पायल उस से शरमा रही थी. में इस चीज़ को एंजाय कर रही थी. थोड़ी देर गुज़री तो राज ने अपना बाज़ू मेरे पेट पर रख दिया मुझे हग करने के लिए. उसे भी शायद शरारत सूझ रही थी. इस तरह से मेरे ऊपर हाथ रखने की वजह से उसका हाथ पायल के बाज़ू से भी टच होने लगा जो कि उसकी हाफ शर्ट में नंगी थी. मैने फील किया कि राज आहिस्ता आहिस्ता अपने हाथ को हरकत दे रहा है जिसकी वजह से उसका हाथ पायल की बाज़ू से रगड़ खा रहा था ऑर पायल के चेहरे पर सुर्खी फैलती जा रही थी. में दिल ही दिल में मुस्करा रही थी. में ऐसे आक्टिंग कर रही थी जैसे मुझे नींद आती जा रही है. उस नीम तरीक कमरे में आहिस्ता आहिस्ता मैने अपनी आँखे बंद कर लीं ऑर सोने की आक्टिंग करते हुए उन दोनो बहन भाई को पूरा पूरा टाइम देने का फ़ैसला किया . मैने पायल की तरफ करवट ली आँखे बंद कर लीं. थोड़ी सी खुली हुई आँखों से मैने देखा कि कुछ देर बाद पायल की आँखे भी बंद हो गई. मुझे नही पता था कि वो सो रही है या जाग रही है लेकिन एक बात कन्फर्म थी कि राज जाग रहा था अभी तक.



तभी मैने देखा कि राज ने पायल की नंगी बाज़ू के ऊपर अपना हाथ रख दिया ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसकी बाज़ू को सहलाने लगा. मेरी पीठ राज की तरफ ही थी इस लिए मुझे उसका लंड अकड़ता हुआ महसूस हो रहा था जो कि मेरी गान्ड में चुभ रहा था. अचानक ही पायल ने करवट बदली ऑर दूसरी तरफ मुँह कर के लेट गई. राज ने फॉरन ही अपना हाथ पीछे खींच लिया. लेकिन ज़्यादा देर तक राज खुद को ना रोक सका. अब पायल की कमर हमारी तरफ थी. उसकी शर्ट के नीचे पहनी हुई उसकी ब्लॅक कलर की ब्रस्सिएर सॉफ नज़र आ रही थी. थोड़ी देर इंतेज़ार करने के बाद राज ने अपना हाथ आगे बढ़ाया ऑर अपनी एक उंगली पायल की ब्रस्सिएर के हुक पर फेरने लगा. ये सब देख कर मेरी चूत गीली होती जा रही थी. राज पायल की ब्रस्सिएर के हुक्स ऑर स्ट्रॅप्स पर अपनी फिंगर फेरने लगा ऑर धीरे धीरे उन को महसूस कर रहा था. राज का खड़ा हुआ लंड पीछे से मेरी गान्ड में घुस रहा था. अब मुझ से भी बर्दाश्त नही हो रहा था ऑर में राज को थोड़ा ऑर तड़पाना चाहती थी ऑर उसे यही तक ही रोक लेना चाहती थी. इस लिए मैने नींद का नाटक ही करते हुए करवट ली ऑर राज से लिपट गई. राज भी अब जल्दी से संम्भल कर लेट गया सीधा हो कर. शाम को उठने के बाद में जब किचन में गई तो पायल भी वहीं थी. मुझे देख कर बोली, भाभी ये आप क्या हरकते कर रहे थे रूम में. में हँसते हुए बोली, में कर रही थी या तुम्हारे भैया. वोही मुझे तंग कर रहे थे. पायल थोड़ा शरमाते हुए बोली, लेकिन आप को इतना शोर तो नही मचाना चाहिए था ना.

में हँसने लगी ऑर बोली, यार तुझे क्या पता मियाँ बीवी में इस तरह के खेल चलते ही रहते हैं. ऐसे ना करो तो ज़िंदगी में मज़ा ही कहाँ आता है. 

पायल : लेकिन भाभी आपको दरवाज़ा तो बंद करना चाही ना. 

में हंस कर: यार तेरे भैया ने मौका ही नही दिया बंद करने का इसी लिए तो में चिल्ला रही थी ऑर तुझे बुला रही थी अपनी मदद के लिए लेकिन तू ने भी आकर मेरी कोई मदद नही की ऑर वैसे ही भाग गई. 

पायल शर्मा कर: में भला क्या मदद कर सकती थी आपकी. आप दोनो मियाँ बीवी का मामला है में क्यूँ बीची मियाँ रुकावट बनती. 

हम दोनो हँसने लगीं ऑर फिर चाइ बना कर किचन से बाहर आ गए ऑर चाइ उसी बेडरूम में बैठ कर पीने लगे हम तीनों. उस रात जब हम लोग सोने के लिए लेटे तो जल्दी ही राज ने दूसरी तरफ करवट ले ली ऑर बोला कि में सोने लगा हूँ. में भी खामोशी से पायल की तरफ करवट ले कर लेट गई. थोड़ी देर हम दोनो ने बात चीत की ऑर फिर हमारी भी आँख लग गई. अभी मेरी आँख लग ही रही थी कि बाद मुझे थोड़ी सी हलचल अपने पीछे महसूस हुई. साथ ही राज का बाज़ू मेरे ऊपर आ गया . मैने अपनी आँखे थोड़ी सी खोलीं तो देखा कि राज आहिस्ता आहिस्ता पायल के शोल्डर पर हाथ फेर रहा था. में आहिस्ता से मुस्करा दी ऑर उस की हरकतों को देखने लगी. नींद तो मेरी फॉरन ही गायब हो गई. राज का हाथ आहिस्ता आहिस्ता फिसलता हुआ पायल के कंधे से नीचे को आने लगा. मेरी चूत में एक करेंट सा दौड़ गया जैसे ही राज ने पायल के बूब को छुआ. बहुत ही आहिस्ता से राज ने अपना हाथ पायल के बूब पर रखा ऑर कुछ देर तक अपना हाथ वैसे ही पड़ा रहने दिया. जब उस ने देखा कि पायल के जिस्म में कोई हरकत नही हुई तो उसे यक़ीन हो गया कि वो सो रही है. राज ने आहिस्ता आहिस्ता अपने हाथ को हरकत देते हुए अपनी बहन पायल के बूब को सहलाना शुरू कर दिया. मेरी चूत ये मंज़र देख कर गीली होती जा रही थी कि एक भाई अपनी सोई हुई बहन के बूब्स को सहला रहा है.


में देख रही थी कि राज अपने पूरे हाथ में उसका बूब पूरे का पूरा अपने हाथ में ले लिया ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसे दबा रहा था. पायल की छोटी सी ब्रेस्ट उसकी मुट्ठी में आराम से पूरी आ रही थी लेकिन पायल को शायद कोई होश नही था क्योंकि वो सोई हुई थी. थोड़ी देर में राज का हाथ थोड़ा से ऊपर को गया ऑर उस ने अपना हाथ पायल के सीने के नंगे हिस्से पर रख दिया ऑर अपनी उंगली आहिस्ता आहिस्ता उसकी नंगी चेस्ट पर गले के नीचे फेरने लगा. मेरे पीछे राज अपनी कोहनी के बल उठ चुका हुआ था ऑर बड़े आराम से अपनी बहन के बूब्स ऑर जिस्म पर हाथ फेर रहा था. कभी उसके हाथ अपनी बहन के बूब्स को सहलाने लगते ऑर कभी उसके पेट के ऊपर हाथ फेरने लगता. फिर राज ने थोड़ा सा ऑर ऊपर हो कर मेरे ऊपर से झुकते हुए अपनी बहन के गाल पर एक किस कर ली.


हाथ तो राज अपनी बहन के बूब्स ऑर जिस्म पर फिरा रहा था लेकिन लंड अपना मेरे अंदर ठोकता जा रहा था. लेकिन मुझे भी इस से मज़ा ही आ रहा था. वैसे भी पिछले कुछ रोज़ से में राज को छेड़ छाड़ कर के एग्ज़ाइट तो कर देती थी लेकिन उसे अपनी छूट दिए हुए मुझे 15 दिन से ऊपर हो चुके थे इस लिए भी वो इतना बे क़ाबू हो रहा था. पायल का बूब दबाते दबाते शायद कुछ ज़्यादा प्रेस कर दिया था जज़्बाती हो कर राज ने जिसकी वजह से पायल थोड़ा सा कसमासाई ऑर फिर मेरी तरफ करवट ले ली. जैसे ही पायल हिली तो राज ने फॉरन ही अपना हाथ पीछे खींच लिया ऑर दूसरी तरफ मुँह कर करते हुए लेट गया. तभी मैने अपनी आँखे हल्की सी खोल कर देखा तो देखा कि पायल ने आहिस्ता आहिस्ता अपनी आँखे पूरी खोलीं हैं ऑर मेरी तरफ देख रही है फिर उस ने थोड़ा सा ऊपर हो कर अपने भाई की तरफ देखा ऑर धीरे से मुस्करा कर फिर लेट गई. उसके चेहरे पर हल्की सी मुस्कान थी ऑर आँखें खुली हुई थीं. में दिल ही दिल में सोच रही थी कि क्या पायल को भी पता था कि उसका भाई उसके बूब्स को छू रहा है. अगर ऐसा था तो उस ने कोई ऐतराज़ क्यूँ नही किया ऑर अगर उस ने सब कुछ जानते हुए भी कोई ऐतराज़ नही किया तो फिर तो ये मेरी बहुत बड़ी कामयाबी थी कि में दोनो बहन भाई को इतना क़रीब लाने में कामयाब हो गई थी. ऑर में अपनी इस कामयाभी पर दिल ही दिल में बहुत खुश हो रही थी.
Reply
09-11-2018, 10:25 AM,
#14
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
अगली शाम पायल ने मेरे कहने पर एक स्किन कलर की टाइट्स ऑर टी-शर्ट पहन ली. टी-शर्ट उसके हिप्स को आधा ढँक रही थी लेकिन उसकी थाइस की पूरी पूरी शेप ऑर टांगे उस टाइट्स में बिल्कुल सॉफ दिख रही थीं. पायल आज बोहत ही सेक्सी लग रही थी. जैसे ही राज ने उसे देखा तो उसके चेहरे पर मुस्कराहट फैल गई. पायल की नज़र उस से टकराई तो पायल ने शरमा कर अपना सिर झुका लिया. में देख रही थी कि जिधर जिधर भी पायल जा रही थी राज की नज़रें उसी के जिस्म पर रह रही थीं. ऊपर टाइट टी-शर्ट में उसके बूब्स बिल्कुल फँसे हुए थे ऑर उस का गला भी थोड़ा डीप था जिसकी वजह से उसका खूबसूरत गोरा गोरा चिकना सीना भी काफ़ी नज़र आ रहा था लेकिन बूब्स या क्लीवेज तो नही दिख सकता था. सोने के वक़्त तक भी पायल अपने जिस्म के जलवे बिखेरती रही ऑर अपने भाई पर अपने हुष्ण की बिजलियाँ गिराती रही. आज भी सोने के लिए रोज़ की तरह में ऑर राज पहले ही कमरे में आ गये. अब जो आग पायल ने अपने भाई के जिस्म ऑर दिमाग़ में लगाई थी उसकी वजह से राज ने अंदर आते ही मुझे खींचा ऑर अपने सीने से लगा लिया. मैने भी कोई मज़ाहीमत नही की ऑर उसे ऑर भी गरम करने के लिए उससे लिपट गई ऑर उसके किस का जवाब किस से देने लगी. नीचे मैने उसके बरमूडा में हाथ डाला ऑर उसका लंड पकड़ लिया जो धीरे धीरे मेरे हाथ में फूलने लगा. में भी उसके लंड को अपने हाथ में दबाते हुए आगे पीछे करते हुए ऑर भी खड़ा करने लगी. राज बोला, जान जल्दी से एक बार चोद लेने दो ना. मैने कहा नही अभी नही तुम्हारी बहन नेआजाना है. राज बोला, नही तुम थोड़ी देर के लिए डोर लॉक कर आओ. मैने उसके लंड को सहलाते हुए कहा नही जब वो सो जाय गी तो तुम खामोशी से मेरे पीछे लेटे लेटे कर लेना जो करना हो गा.


आख़िर राज मान गया. तभी दरवाज़ा खुला ऑर पायल अंदर आई तो उसे देख कर हम दोनो अलग हो गये. जैसे ही पायल बेड के क़रीब आई तो में फॉरन ही उसकी जगह पर हो कर लेट गई ऑर बोली, पायल आज तुम बीच में सो ओगी. पायल चौंकी ऑर हैरान हो कर बोली, लेकिन क्यूँ भाभी. राज भी हैरत से मेरी तरफ देख रहा था. में मुस्कराई ऑर हँसते हुए बोली, तुम्हारे भैया मुझे बोहत तंग करते हैं इस लिए आज में इस तरफ सोउंगी ऑर तुमको बीच में सोना पड़े गा. पायल का चेहरा सुर्ख हो गया लेकिन मैने उसका हाथ पकड़ कर घसीटा ऑर उसे अपने ऑर राज के बीच अपनी वाली जगह पर लिटा दिया. पायल के चेहरे पर कन्फ्यूषन ऑर घबराहट ऑर शरम के आसार सॉफ नज़र आरहे थे ऑर वो मेरी तरफ देख रही थी ऑर में मुस्करा कर बोली, थॅंक यू माइ डियर ननद . मैने फील किया था कि राज के चेहरे पर थोड़ी एग्ज़ाइट्मेंट थी पहले वाली मायूसी के बाद. आज इस नई पोज़िशन्स की वजह से हम में से कोई भी बोल नही रहा था. मैने ही थोड़ी सी बातें कीं ऑर उन दोनो ने हूँ हाँ में जवाब दिया फिर मैने अपनी आँखें बंद कर लीं. बेड इतना बड़ा नही था कि हम सब लोग एक दूसरी से दूर दूर हो कर सो सकें इस लिए पायल का जिस्म अपने भाई के जिस्म से टच कर रहा था. मेरे देखते ही देखते पायल ने भी आँखे बंद कर लीं ऑर शायद इस सारी सिचुयेशन को हजम करने की कोशिश करते हुए सोने लगी. लेकिन उसके जिस्म से टच होता हुआ उसके भाई का जिस्म भी उसे शायद बेचैन कर रहा था. ज़ाहिर है कि में सो नही रही थी ऑर राज के ऐक्शन में आने का इंतजार कर रही थी. कुछ ही देर गुज़री कि वोही हुआ जिसका मुझे इंतजार था. राज ने अपनी बहन की तरफ करवट ली ऑर आहिस्ता से अपना हाथ उठा कर पायल के पेट पर रख दिया. मेरी फॉरन ही नज़र पायल के चेहरे की तरफ गई. मैने महसूस किया कि उसके चेहरे के एक्सप्रेशन्स एकदम से थोड़े चेंज हो गये लेकिन फॉरन ही उस ने दोबारा से अपने चेहरे को सपाट कर लिया ऑर खुद को संम्भालते हुए दोबारा से आँखे बंद कर के पड़ी रही. मेरे जिस्म के पास पड़े हुए उसके हाथ में मुझे थोड़ी सी हरकत सी भी फील हुई थी जैसे कि एकदम किसी के छूने से वो उसका जिस्म काँप उठा हो. में दिल ही दिल में मुस्करा उठी. राज का हाथ कुछ देर के लिए एक ही जगह पर पायल के पेट के ऊपर पड़ा रहा ऑर फिर आहिस्ता आहिस्ता उसका हाथ हिलने लगा ऑर उस ने अपने हाथ को अपनी बहन के पेट के ऊपर होले होले हरकत देते हुए उसके पेट को उसकी शर्ट के ऊपर से सहलाना शुरू कर दिया. 


राज का हाथ आहिस्ता आहिस्ता अपनी बहन के पेट पर हरकत कर रहा था ऑर उसके चेहरे के एक्सप्रेशन्स बदल रहे थे लेकिन उसकी आँखे अभी भी बंद थीं. पेट पर हाथ फेरने के बाद राज ने अपना हाथ थोड़ा सा नीचे ले जाते हुए पायल की थाइ पर रख दिया. पायल की थाइस उसकी टाइट लेग्गी में फँसी हुई थी. स्किन कोलोरेड लेग्गी ऐसे ही लग रही थी जैसे कि उसकी स्किन ही हो. राज ने अपना हाथ आहिस्ता आहिस्ता पायल की थाइ पर फेरना शुरू कर दिया ऑर उसकी थाइस को सहलाने लगा. राज का हाथ नीचे उसके घुटने तक जाता ऑर फिर ऊपर को आ जाता. उसे अपनी बहन की थाइस पर हाथ फेरने में शायद बहुत ही अच्छा लग रहा था. मैने फील किया कि वो थोड़ा सा ऊपर को उठा ऑर उस ने बहुत ही आहिस्ता से पायल के गाल की तरफ अपना मुँह करे आगे बढ़ा ऑर उसके गोरे गोरे गाल को चूम लिया. में ये सब कुछ अपनी अध खुली आँखो से देख रही थी. एक भाई को इस तरह से अपनी बहन के जिस्म से मज़े लेते हुए ऑर उसे किस करते हुए देख कर मेरी अपनी चूत भी गीली हो रही थी. 


अब मेरा ख्वाहिश हो रही थी कि जल्दी से राज अपनी बहन की चूत को छूए लेकिन मुझे लग रहा था कि वो इस हद तक जाने से डर रहा है. राज ने थोड़ा सा ऊपर हो कर अब मेरी तरफ देखा ऑर फिर उसका हाथ अपनी पाजामी के ऊपर से ही अपने खड़े हुए लंड पर चला गया ऑर उस ने अपने लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया ऑर आहिस्ता आहिस्ता अपने लंड को पायल की थाइ के साथ रगड़ने लगा. मेरा दिल कर रहा था कि जल्दी से अपनी चूत को अपने हाथ से सहलाते हुए उसे ठंडा करना शुरू करूँ लेकिन में राज के सामने खुद को एक्सपोज़ कर के उसे शर्मिंदा नही करना चाहती थी कि उसे पता चले कि उसकी बीवी को पता चल गया है कि वो अपनी ही सग़ी बहन को इस तरह से टच कर रहा है. एक बात का मुझे थोड़ा थोड़ा यक़ीन होता चला जा रहा था कि हो ना हो पायल भी जाग रही है ऑर अपने भाई के अपने जिस्म पर टच का मज़ा ले रही है ऑर वो भी शायद अपनी झीजक ऑर शर्म की वजह से ही उसे रोक नही पा रही थी.


जब पायल को अहसास हुआ कि उसका भाई हद से गुज़रता जा रहा है तो उस ने इस से बचने के लिए एकदम अपना रुख़ चेंज किया ऑर मेरी तरफ करवट ले ली ऑर मेरे ऊपर अपनी बाहें डाल लीं. इस अचानक हरकत से राज भी थोड़ा बोखला गया ऑर फॉरन ही पीछे हट कर लेट गया. लेकिन मुझे पता था कि इस वक़्त टाइट लेग्गी में पायल की खूबसूरत गान्ड राज के बिल्कुल सामने हो गी ऑर उसके लिए खुद को रोकना मुश्किल हो गा उसे छूने से. जैसे ही पायल ने मुझे हग किया तो मुझे उसका नर्म ओ मुलायम जिस्म इस क़दर प्यारा लगा कि मैने भी फॉरन ही उसे हग कर लिया ऑर खुद भी उस से चिपक गई. अब राज के लिए कुछ ऑर कर पाना मुश्किल था शायद इसी लिए उस ने भी जल्दी से दूसरी तरफ करवट ले ली ऑर जल्द ही सो गया. नेक्स्ट डे जब में सुबह नाश्ता बना रही थी तो पायल किचन में आई. मैने ऐसे ही उसे तंग करने के लिए कहा, रात को कब सोई थी तुम. 


मेरी बात सुन कर पायल घबरा गई ऑर थोड़ा हकला कर बोली, भाबी... आपके साथ ही तो आँख लग गई थी मेरी ..... कककक क्यूँ पूछ रही हो आप ये. 

में: मैने उसे आँख मारी ऑर बोली, इस लिए पूछ रही हूँ कि तेरे भैया ने तुझे तो तंग नही किया 

रात को. मेरी बात सुनते ही पायल के चेहरे का रंग ही उड़ गया ऑर उसकी आँखे फैल गई. फिर वो बोली, भाभी भला मुझे भैया क्यूँ तंग करेंगे.

में मुस्कराई ऑर उसके गोरे गोरे चिकने लाल होते हुए गाल पर एक चुटकी लेते हुए बोली, इसी लिए तो मैने तुझे बीच में अपनी जगह पर सुलाया था में होती तेरी जगह तो सारी रात ही मुझे तंग करते रहते तेरे भैया. 

पायल कुछ सोच में डूबी हुई थी जैसे याद कर रही हो कि कैसे उसके भाई ने रात को उसके जिस्म को टच किया था.

मैने उसे कहा अरे किस सोच में डूब गई हो तू अरे तिझे कॉलेज नही जाना क्या . मेरी बात सुन कर उसे तो जैसे मौका मिल गया तो वो फॉरन ही किचन से भाग गई. नाश्ते की टेबल पर दोनो आए तो पायल की नज़र भी नीचे को झुकी हुई थीं ऑर हमेशा की तरह राज की नज़र उसके जिस्म पर ही बहक रही थी. पायल ने अपना कॉलेज का सफेद यूनिफॉर्म पहना हुआ था ऑर शर्ट के नीचे उस ने ब्लॅक ब्रस्सिएर पहन रखी थी. अभी उस ने दुपट्टा नही लिया हुआ था. जब वो उठ कर किचन की तरफ गई तो राज की नज़र फॉरन ही उसके पीछे गई उसकी बॅक पर उसकी ब्लॅक ब्रा के स्ट्रॅप्स ऑर हुक्स बिल्कुल सॉफ नज़र आरहे थे. राज की प्यासी नज़रें देख कर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. जब वो दोनो बाइक पर जाने लगे तो में गेट पर ही थी हमेशा की तरह उन दोनो को सी ऑफ करने के लिए. मैने फील किया कि पायल आज अपने भाई के पीछे बैठ ती हुई थोड़ा झीजक रही थी. ज़ाहिर है कि उसे याद आ गया था कि रात को उसका भाई उसके जिस्म को कैसे कैसे छूता रहा था. में उन दोनो की कंडीशन पर मुस्करा रही थी. फिर आख़िर पायल राज के पीछे बैठी ऑर दोनो निकले गये.

दोपहर को पायल जल्दी कॉलेज से वापिस आ गई राज से पहले ही. आज मैने सोच रखा था कि इसे कुछ ऑर एक्सपोज़ करना है इसके भाई के सामने. इस लिए जैसे ही वो अपने कमरे में अपना यूनिफॉर्म चेंज करने के लिए जाने लगी तो मैने उसको कहा कि ठहरो में अभी आती हूँ. में अपने कमरे में गई ऑर उसके भाई का एक बरमूडा ऑर अपनी एक स्लीव्लेस्स टी-शर्ट उठा लाई ऑर बोली, पायल आज से तुम घर में ये भी पहना करो गी देखो ना कितनी गर्मी है. 

पायल ने हैरत से उस बर्म्यूडा की तरफ देखा ऑर बोली, भाभी में ये कैसे पहन सकती हूँ वो भी भैया के सामने. 

में बोली, अरे इस में शरमाने वाली कॉन सी बात है, देखो तो मैने भी तो रात से यही पहना हुआ है ऑर वैसे भी हमारे घर पर कॉन से कोई मेहमान आते हैं जो हमे फिकर हो गी. 

पायल : लेकिन ........... भाबीईईईईईईई


में: लेकिन वकिन कुछ नही बस मुझे नही पता. अगर नही पहन ना मेरी मर्ज़ी के मुताबिक़ तो इसे फैंक दो सोफे पर ऑर अपनी मर्ज़ी का पहन लो जो पहन ना है लेकिन फिर मुझ से बात ना करना तुम. ये कह कर में मूडी ऑर किचन की तरफ बढ़ी.

मैने सेंटिमेंटल होते हुए अपना तीर चलाया ऑर मेरी उम्मीद के मुताबिक़ मेरा तीर लगा भी ठीक निशाने पर.

पायल ने फॉरन ही आगे बढ़ कर मुझे पीछे से हग कर लिया ऑर अपनी बाहें मेरे गले में डाल कर पीछे से अपना मुँह आगे लाते हुए मेरे गाल को किस किया ऑर बोली, में अपनी प्यारी सी भाभी को कैसे नाराज़ कर सकती हूँ. अरे भाभी तू कहे तो में कुछ भी नही पहनूँगी लेकिन तू नाराज़ ना हो मुझ से. 


मैने मुस्करा कर पायल के बालों में हाथ फिराया ऑर बोली, ये हुई ना मेरी प्यारी सी ननद वाली बात. सच में पायल तू बहुत ही प्यारी ऑर मासूम है, हां तू मेरी मासूम सी ननद है मेरी जान. में दिल ही दिल में अपने शैतानी ख़ेल पर मुस्कराती हुई किचन में आ गई ऑर पायल अपने कमरे की तरफ बढ़ गई चेंज करने के लिए. 


कुछ देर के बाद पायल अपने कमरे से मेरा दिया हुआ ड्रेस पहन कर मेरे पास किचन में आई तो बहुत ही शरमा रही थी. मैने उसे देखा तो हमेशा की तरह उस से मज़ाक़ करने की बजाय उसको एनकरेज करने लगी कि तुम सच में बहुत ही प्यारी लग रही हो. 

पायल ने अपने भाई वाला जो बरमूडा पहना था वो उसके घुटनों तक आ रहा था उस से नीचे उसकी गोरी गोरी टांगे बिल्कुल नंगी थीं. बिल्कुल ही सॉफ गोरी गोरी चिकनी टांगे जिन पर एक भी बाल नही था. देखते साथ ही मज़ा आजाए जिन को. ऊपर उस ने मेरी स्लीव्लेस्स शर्ट पहन ली थी. शर्ट उसको काफ़ी लूस थी. उसकी दोनो बाहें बिल्कुल नंगी थीं. बिल्कुल गोरी गोरी ऑर चिकनी. उसके शोल्डर्स पर उसके ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स सॉफ नज़र आरहे थे. स्लेव्लेस्स शर्ट होने की वजह से पायल ने प्लास्टिक के ट्रांसपेरेंट स्ट्रॅप्स वाली ब्रस्सिएर पहन ली थी ताकि कम से कम नज़र आसके लेकिन शोल्डर्स पर सब मर्दों को तलाश तो ब्रा के स्ट्रॅप्स की ही होती है ना. शर्ट के स्ट्रॅप्स तो वाइड थे लेकिन फिर भी थोड़ी सी मूव्मेंट के साथ ही वो पीछे हट जाते थे ऑर ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स नज़ार आने लगते थे. 


मैने बिना कुछ ज़्यादा बात किए पायल को काम पर लगा दिया ताकि उसे भी कोई अहसास ना हो. काम करते हुए पायल आहिस्ता से बोली, भाभी वो भैया............. मेरा मतलब है कि वो नाराज़ हो गये तो ........... मुझे ऐसे...........................मेरा मतलब था............ 


में: अरे पगली तू तो इतनी प्यारी लग रही है तो तेरा भाई तुझे देख कर क्यूँ नाराज़ हो गा. कोई भाई भी अपनी बहन पर नाराज़ नही होगा.


शाम में जब राज घर आया तो खाने की टेबल पर पहुँचने तक उस की मुलाक़ात पायल से नही हो सकी. राज टेबल पर बैठा था ऑर जैसे ही पायल खाने की ट्रे ले कर आई तो राज की आँखे फटी की फटी रह गई. उसकी नज़रें अपनी बहन की नंगी टाँगो पर जमी हुई थीं. जो कि उसके बर्म्यूडा के नीचे बिल्कुल नंगी थीं. में राज की नज़रों को ही देख रही थी लेकिन शो ऐसा ही कर रही थी जैसे कि में उन लोगों को नही देख रही. पायल बुरी तरह से शरमा रही थी ऑर राज की नज़रें चाहते हुए भी अपनी बहन के जिस्म पर से नही हट पा रही थीं. कभी वो उसकी नंगी बाहों को देखता ऑर कभी चिकनी टाँगो को देखने लगता. 

मैने देखा कि पायल के शोल्डर पर उसकी ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स भी सॉफ नज़र आरहे हैं. 


पायल ने बड़ी ही मुश्किल से खाना खाया में उसकी तवज्जो हटाने की कोशिश करती रही इधर उधर की बातों से लेकिन वो अपने ड्रेस में बहुत ही अनकंफर्टबल फील कर रही थी. खाने के बाद राज ने कुछ देर बैठ कर टीवी देखा रात हो रही थी तो वो सोने चला गया अपने बेडरूम में. मैने किचिन समेटा ओर फिर चाइ बना कर मैने ऑर पायल ने पी ऑर फिर उसे बोली, कि आओ सोने चलते हैं एसी में. पायल ड्रेस चेंज करने का कहना चाहती थी लेकिन कह ना पाई ऑर खामोशी से मेरे साथ हमारे बेडरूम में आ गई . 



कमरे में आए तो राज सो रहा था उसके हल्के हल्के खर्राटे कमरे में गूँज रहे थे. लेकिन मुझे शक़ था कि वो सो नही रहा हो गा लाज़मी अपनी बहन के आने का इंतजार कर रहा हो गा. कमरे में आकर मैने डोर लॉक किया ऑर बेड पर जाने की बजाय टाय्लेट में चली गई ताकि पायल बेड पर अड्जस्ट हो जाय. थोड़ी देर बाद में बाहर निकली तो पायल अपनी ही वाली साइड पर लेटी हुई थी मैने बेड के क़रीब आकर उसे आगे होने को कहा पहले तो वो चुप रही फिर आहिस्ता से अपने भैया की तरफ सरक गई. 



मुझे खुशी इस बात की थी कि अगर वो कल रात जाग रही थी ऑर उसे अपने भाई के उसके जिस्म को छूने का पता चला था तो उसके बावजूद भी उस ने अपने भाई के साथ लेटना क़बूल कर लिया था शायद उसे भी इस खेल में मज़ा आने लगा था. ज़ाहिर है कि वो एक नौजवान खूबसूरत लड़की थी जिसे आज तक कभी भी किसी मर्द ने नही छूआ था ऑर जब कोई उसे छू रहा था तो उसे उसका टच अच्छा लग रहा था अब उसका बदन इस चीज़ को मान ने के लिए तैयार नही था कि वो उसका भाई है तो ये ग़लत है लेकिन उसका दिमाग़ उसे अभी भी समझाता था जिसकी वजह से उसके अंदर थोड़ी झीजक थी. दूसरी वजह उसकी झीजक की थी में, उसके ख़याल में मुझे कुछ भी इल्म नही था ऑर अगर हो जाय इल्म तो उसको यकीन था कि मैं बहुत बुरा मानूँगी कि वो मेरे हज़्बेंड के साथ ऐसा करना चाह रही है. हालाँकि उसे इस बात का इल्म नही था कि ये सारी गेम मेरी ही थी जिस पर वो दोनो बहन भाई ना चाहते हुए भी आगे बढ़ रहे थे ऑर एक दूसरे के क़रीब आते जा रहे थे बिना ये सोचे समझे कि ये एक गुनाह है ऑर ग़लत बात है.




राज दूसरी तरफ मुँह कर के लेटा हुआ था ऑर पायल बिल्कुल सीधी अपनी पीठ के बल लेटी हुई थी. मैने पायल की तरफ करवट ली ऑर उस से बातें करने लगी. हम दोनो ने बर्म्यूडा ही पहना हुआ था ऑर दूसरी तरफ राज ने भी अपने शॉर्ट्स पहन रखे थे. हम दोनो की नंगी टांगे एक दूसरी से टच हो रही थीं. मैने अपनी टाँग ऊपर कर के पायल की टाँग पर रखी और उसकी टाँग को आहिस्ता आहिस्ता सहलाते हुए बोली, पायल तुम्हारा जिस्म बहुत ही मुलायम है.

पायल शरमाई ऑर बोली, भाभी आप का भी तो ऐसा ही है. 

में: पायल जो भी लड़का तुम्हे हासिल करे गा ना वो बहुत ही लकी हो गा. 


पायल शरमा कर: क्या मतलब भाभी???


में: अरे तेरे जैसी खूबसूरत लड़की जिसको मिले गी उसकी तो समझो कि लॉटरी ही निकल पड़े गी. 


पायल शर्मा गई मेरी बात सुन कर. में ऐसी बातें इस लिए कर रही थी ताकि अगर राज सो नही रहा है तो वो भी मेरी बातें सुन सके ऑर में उसी को एग्ज़ाइट करने के लिए ऐसी बातें कर रही थी. 


ऐसे ही थोड़ी देर तक बातें करने के बाद मैने अपनी आँखे बंद कर लीं जैसे कि में सो गई हूँ. काफ़ी देर तक खामोशी रही. मुझे नींद भला कहाँ आनी थी. थोड़ी सी आँख खोल कर मैने देखा तो पायल की आँखे भी बंद थीं.
Reply
09-11-2018, 10:26 AM,
#15
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
ऐसे ही क़रीब क़रीब एक घंटा गुज़र गया तो मुझे पायल की दूसरी तरफ राज हिलता हुआ महसूस हुआ. उस ने जैसे नींद मे ही करवट ली ऑर सीधा अपना बाज़ू ऑर टाँग अपनी बहन के ऊपर रख दिया. मैने देखा के पायल ने फॉरन ही आहिस्ता से आँखे खोलीं ऑर सब से पहले अपने भाई की तरफ देखा ऑर फिर मेरी तरफ देख कर मेरा कन्फर्म किया कि में सो रही हूँ या जाग रही हूँ. अपनी तसल्ली कर के पायल ने आराम से अपनी आँखे बंद कर लीं. में हैरान हुई कि उस ने अपने भाई का बाज़ू या टाँग हटाने की कोई कोशिश नही की. उसके भाई की बाज़ू उसकी ब्रेस्ट्स से बिल्कुल नीचे पड़ी थी ऑर टाँग उसकी थाइस पर थी. में समझ गई कि पायल भी आज मज़े लेने के चक्कर में है.



अब मेरी तरह से पायल भी सोती हुई बनी हुई थी लेकिन उसे ये नही पता था कि में जाग रही हूँ. कुछ ही देर गुज़रने के बाद मुझे राज के हाथ में हल्की हल्की हरकत महसूस हुई. राज का अपनी बहन के जिस्म के ऊपर रखा हुआ हाथ आहिस्ता आहिस्ता हरकत में आ रहा था. उस ने आहिस्ता आहिस्ता अपना हाथ अपनी बहन की टी-शर्ट के ऊपर से ही उसके पेट पर फेरना शुरू कर दिया. जब उसे महसूस हुआ कि उसकी बहन के जिस्म में कोई भी हरकत नही हो रही है तो उस को यक़ीन हो गया कि वो सो रही है तो अब उसकी हिम्मत बढ़ी ऑर उसके हाथ का पायल के सीने की पहाड़ियों पर चढ़ने का सफ़र शुरू हुआ.


राज ने आहिस्ता आहिस्ता अपने हाथ से पायल के बूब्स के निचले हिस्से को छूना शुरू कर दिया. राज का हाथ अपनी बहन के बूब्स को नीचे से छू रहा था आहिस्ता आहिस्ता उस ने अपने हाथ को हरकत देते हुए पायल के बूब्स के ऊपर रख दिया ऑर हाथ ऊपर रख कर वहीं पर कुछ देर के लिए ठहर गया. जैसे पायल का रेस्पॉन्स देखना चाह रहा हो. मुझे मज़ा आ रहा था लेकिन उस से बढ़ कर पायल के कंट्रोल पर हैरत हो रही थी कि कैसे वो खामोश लेटी हुई है अपने चेहरे के एक्सप्रेशन्स को कंट्रोल कर के. 


राज ने आहिस्ता आहिस्ता अपने हाथ को पायल के बूब्स पर गोल गोल घुमाना शुरू कर दिया. एक भाई के हाथ के नीचे उसकी बहन का बूब देख कर मेरी तो अपनी चूत गीली होने लगी थी. मेरा दिल कर रहा था कि में अपने हाथ अपनी चूत पर ले जाऊ ऑर अपनी चूत को सहलाने लगूँ लेकिन में ऐसा नही कर सकती थी. 


पायल ने जो शर्ट पहन रखी थी वो स्लिव्लेस्स थी ऑर उसका गला भी काफ़ी बड़ा था जिस में उसके सीने का काफ़ी हिस्सा सॉफ नंगा नज़र आता था. दोनो बूब्स पर हाथ फेरते हुए राज के हाथ आहिस्ता आहिस्ता पायल के नंगे सीने पर आगये ऑर उस ने अपनी उंगलियों को अपनी बहन के नंगे गोरे गोरे सीने पर रखा ऑर आहिस्ता आहिस्ता अपना हाथ उसकी चेस्ट पर गले के नीचे फेरने लगा. 


राज का हाथ आहिस्ता आहिस्ता पायल के सीने पर फिसलता हुआ मेरी तरफ को आने लगा ऑर उस ने अपना हाथ पायल की शर्ट के स्ट्रॅप्स के नीचे को पुश कर दिया. ऑर फिर वापिस ले गया. पायल के सीने पर हाथ फेरते हुए उसका हाथ आहिस्ता आहिस्ता नीचे को जाने लगा. पायल के बूब्स का क्लीवेज भी सॉफ नज़र आ रहा था इस तरह लेटने की वजह से. राज ने अपनी एक उंगली उस खूबसूरत क्लीवेज में पुश की ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसे आगे पीछे करने लगा. राज की एक टाँग अभी तक पायल की टाँगों पर ही थी. 


अपनी बहन के बूब्स के क्लीवेज में कुछ देर अपनी उंगली फेरने के बाद मेरे हज़्बेंड ने अपने हाथ की बाक़ी उंगलियाँ भी आहिस्ता आहिस्ता पायल की टी-शर्ट के अंदर पुश कीं ऑर अपना हाथ पायल के बूब्स पर ले गये. अभी शायद वो पायल के बूब्स पर उसकी ब्रा के ऊपर से ही हाथ फेर रहा था. उसका हाथ पायल की ब्रस्सिएर के ऊपर से उसके बूब्स को छू रहा था. राज के हाथ पायल के नंगे बूब्स को भी छू रहे थे जो कि उसकी ब्रा के हाफ कप्स में से बाहर निकल रहे थे. मेरी नज़र पायल के चेहरे की तरफ गई तो उसकी आँखे हल्की हल्की सी मूव कर रही थीं जैसे कि वो खुद को पूर सुकून रखने की कोशिश कर रही हो.उस अंधेरे कमरे में जहाँ सिर्फ़ एसी के जलते बुझते नंबर्स की बहुत ही मध्यम सी रोशनी फैली हुई थी उस रोशनी में कोई भी किसी के चेहरे के एक्सप्रेशन्स नही देख सकता था. किसी को नही पता था कि दूसरा जाग रहा है या सो रहा है हर कोई दूसरे को सोता हुआ ही समझ रहा था. हम तीनों के तीनों उस बेड पर एक दूसरे के क़रीब लेटे हुए जाग रहे थे. लेकिन राज समझ रहा था कि में ऑर पायल दोनो सो रहे हैं. पायल मेरे सोए हुए होने की दुआएँ कर रही थी ऑर खुद भी सोने की आक्टिंग करते हुए अपने भाई को अपने जिस्म से खेलने का मौका दे रही थी. 




ज़्यादा देर तक अपना हाथ पायल की शर्ट के अंदर रखी बिना ही राज ने अपना हाथ उसकी शर्ट से बाहर निकाला ऑर फिर बेड पर उठ कर बैठ गया. मैने फॉरन ही अपनी आँखे बंद कर लीं. चन्द लम्हो के बाद मैने देखा तो वो उठ कर बेड के हमारे पैरों वाली साइड पर चला गया हुआ था. ऑर नीचे झुक कर आहिस्ता आहिस्ता अपनी बहन के गोरे गोरे पैरों को किस कर रहा था. पायल के पैरों को नीचे ऑर ऊपर से चूम रहा था. उसके पैरो को चूमते हुए धीरे धीरे उसकी टाँगो पर आ गया ऑर उसकी चिकनी गोरी गोरी टाँगो पर हाथ फेरने लगा. फिर नीचे झुक कर अपने होंठ उसकी गोरी टाँगो पर रख दिए उनको चूमने लगा . 



पायल की नंगी टाँगो के पास ही मेरी भी टांगे थीं ऑर वो भी नंगी थीं.राज ने एक नज़र मेरे चेहरे पर डाली ऑर फिर अपना दूसरा हाथ मेरी नंगी गोरी टाँग पर रख दिया अब उसका एक हाथ मेरी टाँग को सहला रहा था तो दूसरा अपनी बहन की शायद वो दोनो को ये जानने की कोशिस कर रहा था कि कॉन ज़्यादा चिकनी है, उसकी बहन या उस की बीवी. 


पायल की टाँगों पर हाथ फेरता हुआ राज ऊपर को आ रहा था अब उसका हाथ पायल के घुटनो तक पहुँच चुका था ऑर फिर उसका हाथ ऊपर को सरका ऑर उस ने अपना हाथ अपनी बहन की नंगी थाइ पर रख दिया. जैसे ही राज के हाथ ने पायल की नंगी थाइ को छूआ तो मेरी चूत ने तो फॉरन ही पानी छोड़ दिया. ऑर में अब ज़्यादा बर्दाश्त नही कर पा रही थी. ऑर ना ही में अभी राज को पायल की चूत तक पहुँचने देना चाहती थी इतनी जल्दी ऑर इतनी आसानी से. 


मैने थोड़ी सी हरकत की तो राज फॉरन ही पीछे हट कर लेट गया. में बड़े ही आराम से उठी जैसे नींद से जागी हूँ ऑर आराम से बाथरूम की तरफ चल दी. बाथरूम में जा कर मैने अपनी चूत को धोया अच्छे से जो कि बिल्कुल गीली हो गई थी. फिर मैने बाहर निकलने से पहले थोड़ा सा छुप कर बाहर देखा तो राज थोड़ा सा उठ कर अपनी बहन के गालों को चूम रहा था ऑर कभी उसके होंठो को लेकिन साथ ही बार बार बाथ रूम की तरफ भी देख रहा था. मैने थोड़ा सा शोर किया बाथरूम में ऑर फिर दरवाज़ा खोल दिया लेकिन राज को अपनी जगह पर ठीक होजाने का पूरा मौका दे दिया. 



बाथ रूम से वापिस आ कर में अपनी जगह पर लेटने की बजाय राज की तरफ आ गई ऑर उसके साथ लेटने की बजाय उसके ऊपर लेट गई क्योंकि उसके साथ लेटने के लिए जगह नही थी. मेरे अपने ऊपर लेटने की वजह से राज ने नींद में होने का नाटक करते हुए आँखे खोली ऑर बोला हां क्या है. मैने बिना कुछ कहे उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए ऑर उसके होंठो को चूमने लगी. राज भी जो अब तक अपनी बहन के जिस्म से छेड़ छाड़ करने से गरम हो चुका था उस ने भी मुझे अपनी बाहों में भर लिया. में ये सब कुछ जान बूझ कर कर रही थी क्योंकि मुझे पता था कि पायल भी जाग रही है ऑर वो ये सब देख रही हो गी. 


मुझे चूमते हुए ऑर मेरी कमर ऑर मेरी गान्ड पर हाथ फेरते हुए राज मेरे कान में आहिस्ता से बोला, पायल जाग जाय गी. में अपने होंठ राज के पायल की साइड वाले कान की तरफ ले गई ऑर थोड़ी उँची आवाज़ में बोली, नही जानू तुम्हारी बहन सो रही है गहरी नींद वो नही उठेगी सुबह से पहले. बस जल्दी से तुम अपनी प्यास बुझा लो मेरे जिस्म से.
में इतनी ऊँची आवाज़ में कह रही थी ताकि पायल भी ये बात आसानी से सुन ले.



में नीचे को जाने लगी ऑर राज की टाँगो के बीच आ गई . मैने राज के शॉर्ट्स को नीचे खींचा ऑर उसके आक़ड़े हुए लंड को अपने हाथ में ले लिया. मैने राज के लंड की टोपी को किस किया ऑर बोली, जानू तुम्हारा लंड तो पहले से ही तैयार है लगता है कि किसी हसीन ऑर खूबसूरत लड़की के ख्वाब ही देख रहे थे. राज मुस्काराया ऑर एक नज़र पायल पर डाल कर बोला, हां. 


मैने राज के लंड की टोपी को ज़ुबान से चाटा ऑर बोली, ख्वाब देखने की क्या ज़रूरत है जब तुम्हारे पास इतनी खूबसूरत चीज़ मौजूद है तो चढ़ जाते बस ऑर चोद लेते तुम्हें किसी से इजाज़त लेने की तो ज़रूरत नही है ना. राज ने चौंक कर मेरी तरफ देखा ऑर बोला, क्या मतलब. में मुस्कराई उसकी घबराहट देख कर ऑर बोली, हां तो ओर क्या तुम्हारी बीवी हूँ ऑर खूबसूरत भी हूँ तो दिल कर रहा था तो आ कर चोद लेते मुझे. मेरी बात सुन कर राज ने स्कून का साँस लिया. मेरा इशारा तो पायल की तरफ ही था लेकिन में अपनी बात को संम्भाल गई.



अब मैने राज के लंड को अपने मुँह में लिया ऑर उसे चूसने लगी. में पूरे तरीके से खुल कर राज के साथ सेक्स करना चाहती थी ताकि पायल को भी मालूम हो सके कि कैसे सेक्स करते हैं. मेरी एक टाँग पायल के जिस्म से भी टच कर रही थी. में अब कोई भी कोशिश नही कर रही थी कि पायल को पता ना चले क्योंकि मुझे तो पहले ही पता था कि पायल जाग रही है ऑर सब कुछ देख रही है ऑर महसूस कर रही है. मैने अच्छी तरह से अपने हज़्बेंड के लंड को चाटा ऑर फिर बेड से नीचे उतर कर अपना बरमूडा ऑर अपनी टी-शर्ट उतार दी. नीचे मैने ने ब्रस्सिएर पहनी हुई थी ऑर ना ही पैंटी . पूरी तरह से नंगी हो कर में दोबारा से राज के ऊपर आ गई . राज ने मुझे बहुत रोका कि पूरे कपड़े ना उतारो लेकिन में कहाँ मान ने वाली थी जबकि मुझे पता था कि पायल अपनी आँखे नही खोले गी. 



राज के ऊपर आकर मैने अपनी चूत को राज के लंड के ऊपर रखा ऑर धीरे धीरे से उसे अपनी चूत में लेते हुए नीचे को बैठ गई ऑर फिर आहिस्ता आहिस्ता ऊपर नीचे को हो कर अपनी चूत चुदवाने लगी. में आगे को झुकी ऑर राज के गाल पर किस करने लगी. फिर में पायल की तरफ देखते हुए बोली, राज देखो कितनी मासूम ऑर खूबसूरत लग रही है तुम्हारी बहन सोते हुए. राज ने भी अपनी नज़र पायल के चेहरे पर जमा दी ऑर अब बिना मेरी तरफ देखे हुए आहिस्ता आहिस्ता मुझे चोदने लगा. थोड़ी देर के बाद जब हम दोनो फारिघ् हुए तो हम दोनो ने वॉशरूम में जा कर सॉफ किया जिस्म ऑर फिर अपनी अपनी जगह पर आ कर लेट गये ऑर अब आराम से सो गये हम तीनों ही.

नेक्स्ट सुबह को जब हम लोग उठे तो पायल पहले ही किचन में जा चुकी हुई थी. मैने राज को उठाया ऑर तैयारी का कह कर खुद भी किचन में चली गई. पायल चाइ बना रही थी. मैने जैसे ही उसे देखा तो वो शरमा गई. मैने महसूस किया कि वो मुझ से नज़रें नही मिला पा रही है. मैने उसे कहा चलो भी जल्दी से तैयार हो कर कॉलेज के लिए निकलो फिर मुझे भी नहाना है आज. 


पायल शरारती अंदाज़ में बोली: क्यूँ आज ऐसी क्या बात हो गई कि सुबह ही सुबह नहाने की फिकर लग गई है आप को.


में मुस्करा कर: अरे यार तुझे बताया तो था कि तेरे भैया बहुत तंग करते हैं रात को तो बस पकड़ लिया उन्हो ने रात को.


पायल : भैया ने आपको पकड़ लिया या आप ने उन्हे पकड़ा था. 


में जानती थी कि वो सब कुछ देख रही थी इसी लिए ये बात कह रही है. में फिर भी उसकी बात को छुपाते हुए बोली, तू तो सारी रात बेहोश हो कर सोई रहती है तुझे क्या पता कि कितना तंग करते हैं तेरे भैया. पूरी रात नही सोने देते मुझे तो. इसी लिए तुझे अपनी जगह पर लिटाया था कि शायद तू ही कुछ हेल्प करे गी लेकिन फिर भी कोई फ़ायदा नही हुआ तेरा भी मुझे. 


पायल शरमा कर चाइ के कप उठाते हुए बोली, भाभी में भला कैसे रोक सकती हूँ भैया को उनकी शरारतों से. 


इसके बाद हम सब नाश्ते की टेबल पर आए तो राज की नज़रें आज तो कुछ ज़्यादा ही गहरी थीं पायल के जिस्म पर ऑर उसके जिस्म से हट ही नही रही थीं. में इस सब को एंजाय कर रही थी. लेकिन अभी भी वो दोनो यही समझ रहे थे दोनो इनकी हरकतों का इल्म किसी को नही है. 


नाश्ते के बाद वो दोनो बहन भाई चले गये ऑर में किचन समेट ने के बाद नहाने के लिए चली गई. ठंडे ठंडे शवर के पानी के नीचे नहाते हुए में येई सोच रही थी कि अब आगे क्या किया जाय जिस से राज को ऑर भी मौका मिले अपनी बहन के क़रीब आने का ऑर अपनी बहन का जिस्म देखने का. हालाँकि में दोनो को बिस्तर पर तो एक दूसरे के क़रीब ला ही चुकी थी अब उनके बीच की शरम ऑर पर्दे की दीवार को भी गिरा देना चाहती थी में.
Reply
09-11-2018, 10:26 AM,
#16
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
दोपहर को दोनो एक साथ ही वापिस आ गये. खाने की टेबल पर ही मैने राज को कह दिया कि आज हम दोनो को शाम में शॉपिंग के लिए ले कर जाओ कुछ रेडी मेड कपड़े खरीदने हैं . राज मान गया कि शाम में निकलते हैं. 


तक़रीबन अंधेरा ही हो चुका था जब हम लोग शॉपिंग के लिए निकले अगले दिन सनडे था इस लिए कोई फिकर नही थी कि रात को देर हो जाय गी या सुबह जाना है कॉलेज ऑर ऑफीस. मैने ऑर पायल ने जीन्स ही पहनी थी ऑर ऊपर से लोंग शर्ट्स पहन ली थी . जो कि ज़्यादा वल्गर या सेक्सी नही लग रही थी . लेकिन मेरी शर्ट का गला हमेशा की तरह ही डीप था जिसकी वजह से मेरा क्लीवेज आसानी से नज़र आ रहा था. पायल भी आज खूब बन संवर कर तैयार हुई थी. उसने बोहत ही अच्छा सा पेर्फ्यूम भी लगाया हुआ था ऑर लाइट सा मेक अप भी कर रखा था. उसके पतले पतले प्यारे प्यारे होंठो पर पिंकिश लीप ग्लो लगी हुई थी जिसकी वजह से उसके लिप्स बहुत ही सेक्सी लग रहे थे दिल करता था कि बस उनको चूम ही ले.



मैने आज भी पायल को बीच में बिल्कुल राज के पीछे बैठाया ऑर खुद उसको राज की कमर के साथ प्रेस करते हुए उसके पीछे बैठ गई. पायल के दोनो खूबसूरत बूब्स अपने भाई की कमर के साथ प्रेस हो रहे थे. ऑर आज मुझे पक्का यक़ीन था कि राज भी खुद उनको फील करना चाह रहा हो गा अपनी कमर पर यही वजह थी कि वो थोडा थोड़ा अपनी कमर को मूव भी कर रहा था. मैने अचानक ही हाथ एक साइड से आगे ले जा कर राज की थाइ पर रखा ओर फिर जैसे ही उसकी पॅंट के ऊपर से उसके लंड को छूआ तो पता चला कि वो तो पहले से ही खड़ा हो चुका है. 



राज के लंड के ऊपर हाथ फेरते हुए में थोड़ा सा ऊँची आवाज़ में पायल से बोली, पायल डार्लिंग आज तो तुम बहुत प्यारी लग रही हो ऑर तुम्हारे लिप्स तो बहुत ही सेक्सी लग रहे हैं. मेरा तो दिल करता है कि इनको चूम ही लूँ. मैने अपनी आवाज़ इतनी रखी थी कि राज भी सुन सके. ऑर उसके सुन ने का अहसास मुझे उसके लंड से हुआ जिस ने मेरे हाथ में दो तीन झटके एक साथ लिए. में मुस्करा दी ऑर आहिस्ता से अपने होंठ पायल की गर्दन से थोड़ा नीचे कमर के ऊपरी हिस्से को चूम लिया. पायल कस्मसाइ भाभी क्या करती हो यार. 


में उसकी गर्दन के नीचे अपने होंठ आहिस्ता आहिस्ता मूव करती हुई बोली, तू प्यारी ही इतनी लग रही है आज तो क्या करूँ में डार्लिंग. मैने फिर पूछा तू बता तू ने क्या क्या लेना है. वो बोली, कुछ नही भाभी. मैने आहिस्ता से उसके बूब को एक साइड से छूआ ऑर बोली, नई ब्रस्सिएर ही ले लो आज तो तेरे भैया भी साथ ही हैं. पायल ने पीछे को होले से अपनी कोहनी मेरे पेट में मारी ऑर बोली, भाभी कुछ तो शरम करो भैया भी साथ हैं. में ज़ोर ज़ोर से हँसने लगी. ऑर फिर उसके कान में बोली, उस दिन से भी तो अपने भैया की ही लाई हुई ब्रा पहन रही है ना तो उनके साथ आकर लेने में क्या शरम है तुझे. पायल चुप रही लेकिन मैने देखा कि वो मुस्करा रही थी. मुझे यक़ीन था कि मेरी ये नौक झौंक राज ने भी सुन ली हो गी ऑर यही में चाहती थी कि वो भी ये बातें सुन कर एंजाय करे. 


राज ने एक बड़े शॉपिंग माल के बाहर बाइक रोकी ऑर हम नीचे उतार आईं. राज बाइक पार्क करने गया तो पायल बोली, भाभी कुछ तो शरम करें भैया क्या सोचेंगे अगर सुन लें तो. मैने दिल ही दिल में सोचा उस वक़्त तो तुझे शरम नही आती जब तेरे भैया तेरे बूब्स ऑर जिस्म पर हाथ फेर रहे होते हैं उस वक़्त तो बड़े मज़े ले रही होती हो. लेकिन में चुप रही ओर बोली, अरे कुछ नही होता उस क्या पता हमारी बातों का. इतने में राज भी आ गया ऑर हम तीनों माल में दाखिल हो गये. काफ़ी मॉड किस्म का माल था जहाँ पर महँगी किस्म की शॉप्स थी ऑर आजकल कुछ शॉप्स पर सेल भी चल रही थी इसी लिए में यहाँ आई थी वरना राज की इनकम में ज़्यादा महँगी शॉपिंग अफोर्ड नही हो सकती थी ना.


एक शॉप में गये तो वहाँ पर मुख़्टलिफ किस्म के ड्रेसस मॉडेल्स के ऊपर पहनाए हुए थे. कुछ मॉडेल्स के ऊपर ब्रा ऑर पॅंटीस पहना रखी हुई थी ऑर कुछ पर मुकम्मल ड्रेस ऑर कुछ में काफ़ी सेक्सी किस्म के नाइट ड्रेसस. इस शॉप पर आकर पायल का चेहरा तो शरम से सुर्ख ही हो गया था. वो बहुत शर्मा ऑर घबरा रही थी इधर उधर देखते हुए. अपने भाई की मौजूदगी की वजह से उसे ज़्यादा फील हो रहा था. 
Reply
09-11-2018, 10:26 AM,
#17
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
वहाँ पर कपड़े देखते हुए मुझ एक मॉडेल पर पहनी हुई एक अच्छी ड्रेस नज़र आई. इसके शोल्डर्स पर सिर्फ़ बारीक डोरियाँ थी ऑर चेस्ट का ऊपरी हिस्सा बिल्कुल ओपन था. ये समझ लें कि बूब्स का भी ऊपरी हिस्सा नंगा हो रहा था इस में से लेकिन बाक़ी बूब नीचे तक कवर थे. बिल्कुल हल्का सा कपड़ा था सिल्क का ऑर लेंग्थ भी सिर्फ़ वेस्ट तक थी कि पेट कवर हो सके नीचे उस मॉडेल पर सिर्फ़ पेंटी थी उस ड्रेस के साथ. बेसिकली ये एक नाइट ड्रेस था हज़्बेंड आंड वाइफ के लिए. मुझे वो ड्रेस पसंद आ गया . मैने राज से कहा कि मुझे ये ड्रेस पसंद आया है. पास ही पायल भी खड़ी थी. वो थोड़ा ऑर घबरा गई. 


राज बोला, पसंद है तो ले लो रात में पहन ने के लिए. में मुस्कराई ऑर पायल की तरफ देख कर बोली, दो लूँगी. 

राज: दो किस लिए??

में: एक पायल के लिए भी लेना है.

पायल ने चौंक कर मेरी तरफ ऑर फिर मेरे सामने के ड्रेस को देखा ओर बोली, भाभी में..................... मैने क्या करना है ये ड्रेस.


में: अरे यार ले लो पहन लिया करना कभी कभी, क्यों राज ठीक कह रही हूँ ना. 

राज ने एक नज़र अपनी बहन की तरफ देखा तो उसकी आँखो में चमक थी लेकिन बहुत ही कॅषुयल से अंदाज़ में बोला, हां ले लो लेना है तो हर्ज तो कोई नही है. 

मैने दो का ऑर्डर दे दिया सेल्स मॅन को. पायल आहिस्ता आहिस्ता बात कर रही थी लेकिन मैने उसका नंबर भी बता दिया. सेल्स बॉय ने दो ड्रेसस निकाल दिए. डिफरेंट कलर के मेरी ड्रेस लाइट ब्लू कलर की थी ऑर पायल की पिंक कलर की. मैने शरारत के अंदाज़ में पायल की तरफ देखा ऑर बोली, पायल तुम ऐसा करो कि ट्राइ कर के देख लो अंदर के ठीक है साइज़ के चेंज करना है. 

पायल घबरा कर: नही नही कोई ज़रूरत नही है.

सेल्स मॅन: नही मेडम प्लीज़ आप चेक कर लें पहन कर. उधर ऊपर है हमारा ट्राइयल रूम वहाँ पर कोई भी नही है आप लोग ऊपर जा कर चेक कर लें. 

मैने दोनो ड्रेसस उठाए ऑर पायल का हाथ पकड़ कर बोली, आओ मेरे साथ ऑर राज को भी आने का कह दिया. ऊपर गये तो छोटा सा ही एक कमरा था जिस में एक हिस्से में ट्राइयल रूम बना हुआ था. मैने पायल को कहा कि जाओ चेक कर लो. मैने पकड़ कर पायल को ट्राइयल रूम में धकैल दिया. पायल सुर्ख चेहरे के साथ अंदर चली गई.


थोड़ी देर के बाद मैने उसे आवाज़ दी ऑर पूछा हां बोलो ठीक है कि नही. 

पायल : जी भाभी ठीक है.

में: खोलो डोर मुझे देखने तो दो. 

पायल ने अंदर से लॉक खोला तो में ट्राइयल रूम में दाखिल हुई ऑर अंदर का मंज़र देखा तो मेरे तो होश ही उड़ गये. उस सेक्सी नाइट ड्रेस में पायल तो क़यामत ही लग रही थी. उसका खूबसूरत चिकना चिकना सीना बिल्कुल ओपन था. उसके बूब्स का ऊपरी हिस्सा उस ड्रेस में से बाहर ही नंगा हो रहा था. शोल्डर्स तो बिल्कुल ही नंगे लग रहे थे सिर्फ़ पतली पतली सी डोरियाँ थी उन पर. मैने देखा ऑर बोली, हां परफेक्ट है यार बहुत प्यारा लग रहा है तुम पर. बस अब चेंज कर लो. 

में जैसे ही बाहर निकलने लगी तो मैने राज जो गेट के पास ही खड़ा था को कहा कि राज देखना पायल ठीक है ना ड्रेस. मेरी इस बात से दोनो ही बहन भाई चौंक पड़े लेकिन ज़ाहिर है कि राज ये मौक़ा कैसे जाने दे सकता था फॉरन ही वो दरवाज़े में आ गया ऑर अंदर अपनी बहन को उस ड्रेस में देखा तो उसकी आँखे जैसे फॅट गई ऑर मुँह खुल गया लेकिन कोई लफ़्ज मुँह से ना निकला. फिर बोला, हां ठीक है अच्छा है.
Reply
09-11-2018, 10:26 AM,
#18
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
मैने अब राज को बाहर पुश किया ऑर खुद भी बाहर आ गई ऑर अपने पीछे दरवाज़ा बंद कर दिया. पायल ने दरवाज़ा लॉक किया ऑर वो ड्रेस चेंज कर के दोबारा अपनी शर्ट पहन ली. कुछ देर के बाद वो बाहर आई तो उसका चेहरा सुर्ख हो रहा था ओर राज के चेहरे पर ऐसे आसार थे जैसे उसे बहुत ही मज़ा आया हो. राज मुझे बोला, डार्लिंग ये ड्रेस तो अच्छा है तुम नाइट के अलावा भी घर में वैसे भी पहन सकती हो. राज के दिल की बात में समझ गई थी इस लिए उसका दिल रखने के लिए बोली, हां हां क्यूँ नही पहना जा सकता इतनी तो गर्मी हो गई है आज कल तो ऐसे ही हल्के फुल्के ड्रेसस होने चाहिए पहन ने के लिए घर में तो.


नीचे आ कर हम ने वो ड्रेस पॅक करवा लिया ऑर फिर कुछ ओर देखने लगी में कि शायद कुछ ऑर भी मुझे मेरे मतलब का मिल जाए जो कि मेरी गेम में मेरी हेल्प करे एक बहन को अपने भाई के सामने ओपन ऑर नंगी करने में. फिर राज से थोड़ा हट कर मैने एक एक ब्रा खरीदी अपने ऑर पायल के लिए. पायल तो नही लेना चाह रही थी लेकिन मैने उसे भी ले कर दी. ब्लॅक कलर की नेट वाली जिस में से उसके दोनो बूब्स ही नंगे नज़र आएँ. पायल बोली, भाभी ये नही. मैने उसे छेड़ा अच्छी है यही यार ले लो. इस में तुम्हारे ये दोनो ही सॉफ दिखेंगे. पायल मेरी बात सुन कर शरमा गई क्योंकि थोड़े ही फ़ासले पर खड़ा हुआ सेल्स बॉय भी मुस्कराने लगा था शायद मेरी बातें सुन ली थी उस ने. 



इतनी शॉपिंग करते हुए ही हमे 11 बज गये फिर हम वहाँ से निकले ओर एक जगह से आइस क्रीम खाई ऑर एक लार्ज पिज़्ज़ा खरीदा ऑर फिर घर पहुँच गये.

घर पहुँच कर लाउंज में ही हम तीनों बैठ गये ऑर बातें करने लगे. राज बोला. लाओ यार दिखाओ तो क्या क्या लिया है. मैने फॉरन ही हॅंड बॅग खोला ऑर दोनो नाइट ड्रेस उसके सामने कर दिए. ऑर बोली, ये लिए है. 

राज: ये तो मैने देखा था ऑर भी कुछ लिया है या ऐसे ही फिरती रही हो तुम दोनो.

राज की बात सुन कर पायल घबरा गई. मैने पायल को अनकंफर्टबल देखा तो मुस्कराई ऑर उसकी घबराहट का मज़ा लेते हुए फिर हॅंड बॅग में अपना हाथ डाल दिया. पायल ने इशारे से मुझे रोकना चाहा लेकिन मैने दोनो ब्रा बाहर निकाल लीं ओर राज की तरफ बढ़ा दी. 


राज ने दोनो ब्रा मेरे हाथ से लीं ऑर देखने लगा. पायल अपनी नज़रें चुरा रही थी. राज उनकी क्वालिटी देखता रहा फिर बोला, अरे ये तुम दोनो डिफरेंट नंबर की क्यों लाई हो.

में मुस्कराई ऑर पायल की तरफ देखा कर बोली, अरे बुद्धू एक मेरी है ऑर दूसरी ब्रा पायल की है. राज ने भी फॉरन ही पायल की तरफ देखा तो वो फॉरन ही दूसरी तरफ देखने लगी. राज ने भी जल्दी से मेरे हाथ में दोनो ब्रा दी ऑर बोला हां ठीक हैं अच्छी हैं दोनो. पायल उठ कर किचन में चली गई.


उसके जाने के बाद राज बोला, यार पहन कर तो दिखाओ तुम ये अपनी नई ड्रेस मुझे. मैने कहा ठीक है हम दोनो ही पहन कर आती हैं फिर देखना कि ठीक है कि नही. राज बोला हां ठीक है आप लोग पहन कर आओ ऑर में पिज़्ज़ा गरम करता हूँ ओवेन में. वो किचन में गया ऑर पायल को बाहर भेज दिया. मैने उसे कहा कि तुम्हारे भैया कहते हैं कि ये जो ड्रेस लिया है ना वो पहन कर दिखाओ. पायल बोली, नही भाभी में नही पहनूँगी. 

में: अरे यार क्यों शर्मा रही हो. तुमको इस में तुम्हारे भैया देख तो चुके हैं तो फिर घबराना कैसा है. चलो जल्दी से जाओ ऑर पहन कर आओ ये ड्रेस ऑर में भी पहन कर आती हूँ. ऑर हां नीचे जीन्स ही रहने देना कहीं पैंटी पहन कर ना आ जाना बाहर उस मॉडेल की तरह. 

पायल : भाबीइ..........................


फिर में अपने बेडरूम में आ गई ऑर पायल अपने रूम में चली गई. मैने जल्दी से अपनी शर्ट उतारी ऑर फिर अपनी ब्रा भी उतार कर वो लाइट सा ओपन ड्रेस पहन लिया. मेरे बूब्स बड़े थे तो उस ड्रेस में ऑर भी ओपन हो रहे थे. क्लीवेज भी काफ़ी ज़्यादा दिख रहा था. हाफ बूब्स तो नंगे ही थे ऑर उन से ऊपर का चेस्ट का हिस्सा भी बिल्कुल नंगा था. मैने वो पहना ऑर बाहर आ गई . इतने में राज भी आ गया पिज़्ज़ा गरम कर के ऑर हम दोनो बैठ कर पायल का वेट करने लगे.


जब वो बाहर नही आई तो मैने उसे आवाज़ दी, पायल आ भी जाओ अब जल्दी से, पिज़्ज़ा ठंडा हो रहा है फिर से. तभी पायल ने होल से दरवाज़ा खोला ऑर बाहर क़दम रखा तो हम दोनो की नज़र उस पर ही थी. उस छोटे से शॉर्ट सेक्सी ड्रेस में वो बोहत प्यारी ऑर सेक्सी लग रही थी. उस का कुँवारा खूबसूरत गोरा चिटा जिस्म बहुत ही सेक्सी लग रहा था. देखने वाले का फॉरन ही दिल मचल जाय उसे अपनी बाहों में लेने के लिए. 


पायल बेहद शरमा रही थी. इस से पहले कि वो वापिस जाती चेंज करने के लिए. राज ने पिज़्ज़ा का बॉक्स खोला ऑर बोला, चलो आ जाओ जल्दी से ले लो. पायल शरमाती हुई होले होले क़दम उठाती हुई आई ऑर मेरे पास राज के सामने ही बैठ गई. हम तीनों पिज़्ज़ा खाने लगे. अब में ऑर राज की बहन दोनो ही राज के सामने इस तरह हाफ़ नेक्ड हालत में बैठी हुई थी ऑर दोनो के ही खूबसूरत जिस्म राज पर बिजलियाँ सी गिरा रहे थे. ज़ाहिर है कि राज की नज़रें ज़्यादा अपनी बहन ही को देख रही थी . में भी इस चीज़ को नोट कर रही थी. जैसे ही पायल सामने टेबल पर पड़े हुए पिज़्ज़ा का पीस उठाने के लिए आगे को झुकती तो उसका ड्रेस सामने से नीचे को हो जाता ऑर उसके खूबसूरत बूब्स का क्लीवेज भी नज़र आने लगता. पायल ने अपनी ब्रस्सिएर नही उतारी थी ऑर उस ड्रेस के नीचे उसकी ब्लॅक कलर की ब्रा के स्ट्रॅप्स बिल्कुल ओपन दिख रहे थे. 


थोड़ी देर बाद राज बोला, पायल जा कर किचन से कोक ही ले आओ फ्रिड्ज से निकाल कर. पायल उठी ऑर किचन की तरफ बढ़ गई. उसकी बॅक पर वो ड्रेस इस क़दर लो था कि उसकी ब्रा की बेल्ट से भी नीचे थी वो ड्रेस ऑर पायल की ब्रस्सिएर की बेल्ट ऑर उसके हुक्स बिल्कुल ओपन नज़र आ रहे थे. यूँ समझो कि पायल की बॅक पर से उसकी पूरी की पूरी ब्रस्सिएर बिल्कुल ओपन नज़र आ रही थी. ब्लॅक ब्रस्सिएर के इलावा पायल की पूरी की पूरी गोरी गोरी चिकनी कमर भी बिल्कुल नंगी नज़र आ रही थी. उसके गोरे गोरे सफेद शोल्डर बिल्कुल ओपन थे. उस ड्रेस से नीचे उसकी टाइट जीन्स थी जिस में उसके गोल गोल हिप्स फँस कर बहुत ही सेक्सी नज़र आ रहे थे.

राज बोला, इसकी बॅक ज़्यादा ही लो नही है क्या ???

में: हां है तो सही लेकिन ये असल में बिना ब्रस्सिएर के पहन ने वाली ड्रेस है ना जो कि तुम्हारी बहन ने ग़लती से ब्रा के साथ पहन ली है. 

इतने में पायल कोक ले आई. दूर से चल कर आती हुई भी वो बोहत ही सेक्सी लग रही थी. पायल वापिस आ कर दोबारा अपनी जगह पर बैठ गई. पिज़्ज़ा खाते हुए मैने उसे कहा, पायल तुम ने ये ड्रेस के नीचे ब्रा क्यूँ पहनी है इस तो ब्रा के बगैर पहन ना होता है. देखो सारी नज़र आ रही है ये. 


मेरी बात सुन कर पायल घबरा गई. राज बोला, अरे यार क्यूँ तंग कर रही हो इसे. पहली बार तो पहना है उस ने ये ड्रेस आहिस्ता आहिस्ता पता चल जाय गा इसे भी कि कैसे पहनते हैं कॉन सा लिबास. पायल चुप कर गई. खाने के बाद हम दोनो ने बर्तन रखे ऑर फिर में पायल को पकड़ कर अपने कमरे में ले आई. उस ने बहुत कहा कि वो ड्रेस चेंज कर के आए गी लेकिन मैने उसकी एक ना सुनी ऑर बोली, कि जब है ही ये नाइट ड्रेस तो नाइट को ही पहनो गी ना. में उसे उसके कमरे में ले गई ऑर उसे पॅंट चेंज कर के यूज़ किया हुआ राज का बर्म्यूडा पहन ने को कहा. कल रात की बात से मुझे यक़ीन था कि वो ज़रूर पहन कर आए गी क्योंकि उसे भी आख़िर मज़ा आ रहा था अपने भाई के छूने से. मैने अपने कमरे में आकर राज के सामने ही खड़ी हो कर अपनी पॅंट उतारी ऑर फिर एक बर्म्यूडा पहन लिया. अब मेरा ऊपरी ऑर नीचे का जिस्म दोनो ही बोहत ज़्यादा नंगे नज़र आ रहे थे. में खामोशी से जा कर राज के पास बैठ गई ऑर उस से बातें करने लगी. राज बोला, डार्लिंग बोहत ही हॉट लग रही हो तुम इस ड्रेस में. में मुस्कराई ऑर बोली, हॉट तो तुम्हारी बहन भी लग रही है लेकिन उसे ना कहीं कह देना ऐसे शर्मिंदा हो जाय गी. पहले ही बड़ी मुश्किल से उसे पैन्दु महॉल से आज़ाद किया है मैने . राज भी हँसने लगा. इतने में शरमाती हुई पायल कमरे में आ गई जहाँ उसका अपना सगा भाई उसकी आमद का मुंतज़ीर था.

पायल कमरे में दाखिल हुई तो अभी मैने लाइट बंद नही की थी. ट्यूब लाइट की सफेद रोशनी में पायल का खूबसूरत चिकना जिस्म चमक रहा था. उसके गोरे गोरे कंधे ऑर चेस्ट बहुत प्यारी लग रही थी. नीचे उसकी गोरी गोरी बालों से बिल्कुल पाक टांगे घुटनो से नीचे बिल्कुल नंगी थी अपने भाई के बरमूडे में. जैसे ही वो अंदर दाखिल हुई तो राज की नज़रें उसी के जिस्म पर थी . आज मेरे ज़हन में एक ऑर ख़याल था. आज मैने राज से कहा कि वो बेड पर बीच में लेटे गा ऑर हम दोनो साइड पर लेटेंगी. राज ऑर पायल दोनो ही हैरान हुए लेकिन राज तो फॉरन ही बेड पर बीच में हो कर लेट गया. में उसके एक तरफ लेट गई ऑर फिर ज़ाहिर है कि पायल को राज की दूसरी तरफ बिस्तर पर लेटना पड़ा. 


चन्द मिनट तक सीधी लेट ने के बाद मैने करवट ली ऑर राज के ऊपर अपना बाज़ू डाल कर उसे हग करते हुए लेट गई ऑर अपनी एक टाँग भी राज के ऊपर उसकी टाँगों पर रख दी. पायल भी सीधी ही लेटी हुई थी ऑर ये सब देख रही थी. में आहिस्ता आहिस्ता राज के गालों पर पायल की साइड पर हाथ फेर रही थी ऑर कभी उसके नंगे शोल्डर्स पर हाथ फेरने लगती. में यही शो कर रही थी पायल को भी ऑर राज को भी जैसे की में बहुत ज़्यादा गरम हो रही हूँ उस वक़्त. हालाँकि असल में में राज को गरम कर रही थी. में अपनी थाइ के नीचे राज के लंड को आहिस्ता आहिस्ता सहला रही थी. 


कमरे में काफ़ी अंधेरा था हस्ब ए मामूल ऑर कुछ नज़र नही आता था जब तक कि बहुत ज़्यादा गौर ना किया जाय. में अपना हाथ राज की चेस्ट पर ले आई ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसकी चेस्ट को सहलाने लगी. मेरा हाथ सरकता हुआ राज की चेस्ट से नीचे उसके पेट पर आ गया ऑर फिर में ऑर भी नीचे जाने लगी तो राज मेरी तरफ मुँह कर के आहिस्ता से बोला, डार्लिंग पायल है इधर देख ले गी वो. में अपना हाथ उसके बरमूडे में पुश कर के अंदर दाखिल करती हुई बोली, नही अंधेरा है उसे कुछ नही दिख रहा है. राज चुप कर गया ऑर मैने हाथ अंदर डाल कर उसके लंड को अपने हाथ में ले लिया. उसका लंड आहिस्ता आहिस्ता खड़ा हो रहा था ऑर मैने उसे सहलाते हुए आहिस्ता अहसता मुकम्मल तोर पर खड़ा कर दिया साथ साथ में उसकी गर्दन को भी चूम रही थी ऑर अपने बूब्स को उसकी बाज़ू पर रगड़ रही थी जो कि मैने अपनी ड्रेस को नीचे करते हुए बाहर निकाल लिया था. अब मेरा नंगा बूब राज की बाज़ू से रगड़ रहा था ऑर उसका लंड भी मेरे हाथ में था. राज की हालत बुरी हो रही थी. ऑर उसके शॉर्ट्स के अंदर खड़ा हुआ लंड ऑर उस पर हरकत करता हुआ हाथ उसकी बहन को सॉफ नज़र आ रहा था. दूसरा में जो उसकी गर्दन पर किस कर रही थी वो भी में जान बूझ कर आवाज़ पैदा करते हुए कर रही थी ताकि उसकी आवाज़ भी उसकी बहन तक जा सके.


कुछ देर तक ऐसे ही चूमने के बाद मैने राज का बाज़ू पकड़ कर उसे अपनी तरफ मोड़ लिया. अब राज का चेहरा मेरी तरफ था ऑर मैने उसके गले में अपनी बाहें डालीं ऑर उसके ऊपर टाँग रखते हुए उस से चिपक गई. मेरी थाइस खुल जाने से राज का अकडा हुआ लंड सीधा मेरी चूत से टकरा रहा था. मैने भी एक हाथ से उसे पकड़ा ऑर उसे अपनी चूत पर रगड़ने लगी. जब फिर भी मेरी तसल्ली ना हुई तो मैने राज के शॉर्ट्स को थोड़ा सा नीचे को कर के उसका लंड बाहर निकाल लिया ऑर उसे अपनी चूत पर रगड़ने लगी. राज भी मुझे अपनी बाहों में भर कर अपने साथ चिपकाते हुए मेरे कान में आहिस्ता से बोला, क्या हो गया है तुम को आज डार्लिंग. लेकिन में मस्ती में अपनी आँखे बंद की बस उसके लंड से अपनी चूत को रगड़ती जा रही थी. कुछ देर के बाद मैने राज को छोड़ा ऑर आहिस्ता से बोली, सॉरी डार्लिंग. ऑर फिर थोड़ा पीछे हट कर लेट गई.


राज सीधा हुआ तो फॉरन ही पायल ने दूसरी तरफ करवट ले ली. में समझ गई कि वो सब कुछ देख रही थी बड़े मज़े से. 


अब कमरे में बिल्कुल खामोशी ऑर अंधेरा था. हम तीनों ही आँखे बंद की हुए लेटे थे ऑर सब ही एक दूसरे के सोने का इंतेज़ार कर रहे थे. क़रीब क़रीब एक घंटे तक जब बिल्कुल कोई हरकत बेड पर ना हुई तो अचानक ही राज ने पायल की तरफ करवट ले ली. पायल अभी भी दूसरी तरफ मुँह कर के लेटी हुई थी ऑर उसकी खूबसूरत गान्ड उसके भाई के सामने थी बल्कि यूँ कहें कि उसके भाई के लंड के बिल्कुल सामने थी अब. 


उस शॉर्ट से नाइट ड्रेस में पायल की खूबसूरत कमर राज की नज़रों के सामने बिल्कुल नंगी हो रही थी उसकी ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स ऑर बेल्ट ऑर हुक्स सॉफ सॉफ दिख रहे थे. उसकी गोरी गोरी चिकनी कमर कमरे के अंदर मौजूद हल्की सी रोशनी में चमक रही थी. कुछ देर में राज का हाथ सरकता हुआ पायल की कमर के पास पहुँचा ऑर उस ने धीरे धीरे अपने हाथ की बॅक से पायल की कमर को सहलाना शुरू कर दिया. उसके हाथ की बॅक साइड अपनी बहन की नंगी कमर पर ऊपर नीचे सरक रही थी ऑर वो अपनी बहन की नंगी गोरी कमर के चिकने पन को महसूस कर रहा था. 


थोड़ी देर के बाद राज ने अपना हाथ को सीधा क्या ओर उसे आहिस्ता पायल की कमर के नंगे हिस्से पर रख दिया. अब राज ने होले होले पायल की नंगी कमर को सहलाना शुरू कर दिया. राज का हाथ अपनी बहन के बिल्कुल बाहर पड़े हुए ब्रस्सिएर के स्टप्स पर गया ऑर उस ने उसे आहिस्ता आहिस्ता छूना ऑर उस पर अपनी उंगली को फेरना शुरू कर दिया. पायल की कमर पर से शुरू कर के अपनी उंगली को ब्रा की स्ट्रॅप शोल्डर स्ट्रॅप के ऊपर फेरता हुआ नीचे को लाने लगा ऑर फिर उसकी उंगली पायल की ब्रा के बेल्ट पर आ गई. अब राज ने अपनी बहन की ब्लॅक ब्रस्सिएर की हुक पर अपनी उंगली फेरनी शुरू कर दी जिस ने ब्रा के दोनो एंड्स को मिला कर पायल के खूबसूरत बूब्स को जकड रखा था.


कुछ देर तक तो राज पायल की ब्रा के स्ट्रॅप्स पर हाथ फेरता रहा ऑर कभी उसकी नंगी गोरी कमर पर ऊपर नीचे ऑर उसके शोल्डर्स पर. फिर उस ने अपना हाथ आगे ले जाते हुए अपनी बहन के बूब पर अपना हाथ ढीला सा रख दिया. आहिस्ता आहिस्ता उसका हाथ बंद होने लगा ऑर उस की मुट्ठी में पायल की ब्रेस्ट समा गई. आहिस्ता आहिस्ता अब राज अपनी बहन के बूब को सहलाने लगा. 


इस पोज़िशन में राज पायल के ऑर भी क़रीब चला गया हुआ था अब उस ने आहिस्ता से अपने होंठ अपनी बहन की नंगी कमर पर रखे ओर अपनी बहन की नंगी चिकनी कमर को एक बार चूम लिया. ज़ाहिर है कि उसकी सिर्फ़ एक बार किस करने से तसल्ली होने वाली नही थी अब तो जैसे वो पागल ही हो गया उस ने बार बार अपनी बहन की नंगी कमर ऑर नंगे शोल्डर्स पर किस करना ऑर उन्हे चूमना शुरू कर दिया. 


नीचे राज का हाथ पायल की उभरी हुई गान्ड पर पहुँचा ऑर आहिस्ता आहिस्ता उस ने अपना हाथ पायल की गान्ड पर फेरना शुरू कर दिया. बिना किसी पैंटी के पतले से कपड़े के बर्म्यूडा में पायल की चिकनी गान्ड ज़ाहिर है कि बहुत ज़्यादा मज़ा दे रही हो गी उसे इसी लिए उसका हाथ उसकी गान्ड पर फिसलता ही जा रहा था. 


में राज के पीछे ही थोड़ी उँची हो कर ये सब देख रही थी. आहिस्ता आहिस्ता राज ने अपनी ज़ुबान बाहर निकाली ऑर उसकी कमर को चाट ने लगा. उसके शोल्डर्स को चूमा ऑर फिर अपनी ज़ुबान उन पर फेरने लगा. राज ने पायल की उस नाइट ड्रेस की डोरी वाली स्ट्रॅप को पकड़ा जो कि उसके शोल्डर पर थी ऑर फिर आहिस्ता आहिस्ता उसे नीचे उस के शोल्डर से बाज़ू पर ले आया. मेरी चूत तो जैसे गर्मी से जल ही उठी कि आज राज ऑर भी ज़्यादा भड़क रहा है अपनी बहन के लिए हवस की आग में. 



राज ने अपना हाथ दोबारा से अपने बहन के सीने पर रखा ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसके नंगे सीने को सहलाने लगा. ऊपर से तो काफ़ी ओपन था ये नाइट ड्रेस तो राज का हाथ बड़े ही आराम से ड्रेस के अंदर भी दाखिल हो रहा था ऑर उसकी ब्रा से निकलते हुए बूब्स के ऊपरी हिस्से को छू रहा था. अचानक राज ने अपने हाथ को पूरा पायल की शर्ट के अंदर डाला ऑर उसकी ब्रस्सिएर के ऊपर से उसके बूब को पकड़ लिया. मुझे अहसास ऐसे हुआ क्योंकि जैसे ही उसका हाथ उसकी ब्रा के ऊपर से उसके बूब पर आया तो पायल के जिस्म ने एक झुरजूरी सी ली लेकिन फिर साकित हो गई. में दिल ही दिल में पायल के कंट्रोल की दाद दे रही थी क़ि किस क़दर हिम्मत वाली लड़की है कि एक मर्द के हाथ के टच पर भी खुद को इतना कंट्रोल कर रही है. जबकि मेरी चूत तो ये देख देख कर ही पानी छोड़े जा रही थी कि एक भाई अपनी बहन की चूत को सहला रहा है. 



कुछ ज़्यादा हो गया जो पायल बर्दाश्त ना कर सकी या फिर राज के लंड ने पायल की गान्ड के बीच में घुसने की कोशिश की जिसकी वजह से एकदम पायल सीधी हो गई. ओर राज ने भी खुद को संम्भालते हुए अपना हाथ फॉरन ही पीछे खींच लिया. अब पायल बिल्कुल सीधी हो कर लेट गई अपनी बॅक पर. राज उसी की तरफ मुँह कर के लेटा हुआ था. एक बार उस ने मूड कर मेरी तरफ देखा ऑर फिर चन्द लम्हे इंतेज़ार करने के बाद मैने देखा कि उसका चेहरा आहिस्ता आहिस्ता पायल के क़रीब जाने लगा. पायल की नाइट ड्रेस की स्ट्रॅप अभी भी उसके शोल्डर से नीचे ही थी ऑर उसका सीना मानो जैसे कि नंगा ही हो रहा था. राज ने आहिस्ता से अपने होंठ पायल के शोल्डर पर रख दिए ऑर उसके कंधे को चूम लिया. जब पायल के जिस्म में कोई भी हरकत नही हुई तो राज की हिम्मत बढ़ ने लगी ऑर उस ने पायल के शोल्डर को किस करते हुए थोड़ा थोड़ा आगे को आते हुए उसके सीने के ऊपरी हिस्से ऑर फिर अपनी बहन के गाल को भी चूम लिया. एक बार तो उस ने हिम्मत करते हुए पायल के पतले पतले गुलाबी होंठो को भी किस कर ली. 


राज की हवस में ऑर प्यास में इज़ाफ़ा ही होता जा रहा था ऑर उसकी हिम्मत भी बढ़ ती जा रही थी. उस ने आहिस्ता से पायल के दूसरे शोल्डर से भी उसके ड्रेस की डोरी को नीचे की सरकाना शुरू कर दिया. ऑर चन्द ही लम्हो के बाद दूसरी तरफ की डोरी भी उसके बाज़ू पर झूल रही थी. अब पायल के सीने पर उस शर्ट से ऊपर सिर्फ़ ऑर सिर्फ़ उसकी ब्लॅक कलर की ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स नज़र आ रहे थे. 


राज कुछ देर तक इसी हालत में अपनी सोई हुई बहन को देखता रहा ऑर फिर उस ने पायल की नाइट ड्रेस को उसके बूब्स से नीचे को करना शुरू कर दिया अपनी उंगलिओ में पकड़ कर. उस लूज सी नाइट ड्रेस को जब राज ने आहिस्ता आहिस्ता नीचे को उतारा तो थोड़ी सी कोशिश के बाद पायल के बूब्स उसकी ब्लॅक ब्रस्सिएर समेत सामने आ गये. राज की तो आँखे ही खुल गई ऑर चेहरा भी खिल उठा अपनी साग़ी बहन के बूब्स को इसतरह सिर्फ़ ब्रस्सिएर में देख कर. 


पायल के गोरे गोरे बूब्स उस काली ब्रस्सिएर में बहुत ही प्यारे लग रहे थे ऑर उसके आधे बूब्स उसकी ब्रा में से बाहर थे. उसके बूब्स के बीच बहुत ही खूबसूरत सा क्लीवेज बन रहा था. उसके लेटे हुए होने की वजह से उसके बूब्स ऊपर की तरफ को जैसे उबले पड़ रहे थे ऑर बहुत ही सेक्सी ऑर खूबसूरत मंज़र पेश कर रहे थे. मैने भी आज पहली बार अपनी ननद को इस हालत में देखा था तो उसके खूबसूरत जिस्म को देख कर मेरे मुँह में भी पानी आ रहा था. 


राज ने अपना हाथ पायल के सीने पर दोबारा रखा ऑर फिर आहिस्ता आहिस्ता से उसके सीने पर हाथ फेरने लगा. उसके हाथ अब अपनी बहन के बूब्स के ऊपरी हिस्से पर भी जा रहे थे ऑर राज अपनी बहन के बूब्स के नेक्ड हिस्सों को सहला रहा था. राज ने अपनी एक उंगली को पायल के क्लीवेज में दाखिल किया ऑर उसे आहिस्ता आहिस्ता अंदर बाहर करने लगा. अचानक पीछे मूड कर मेरी तरफ दोबारा देखा ऑर मेरे सोए होने की तसल्ली कर के राज थोड़ा सा ऊपर को उठा ऑर झुक कर अपने होंठ अपनी बहन के बूब्स के ऊपरी नंगे हिस्से पर रख दिए ऑर अपनी बहन के बूब्स का अपनी ज़िंदगी का पहला किस लिया लिया. जाने ऑर आगे कितने किस ऑर क्या क्या आने वाला था उन दोनो की लाइफ में इस सेक्स को ले कर. 


में अब इस खेल को आज की रात के लिए यहीं पर रोक देना चाहती थी ताकि दोनो के अंदर ही तड़प ऑर प्यास बाक़ी रहे ऑर एक ही रात में सारी हदें क्रॉस ना कर लें. यही सोच कर में एकदम नींद की हालत का नाटक करती हुई राज के साथ चिपक गई ऑर उसे मजबूर कर दिया कि वो अब कुछ ऑर ना कर सके. मैने उसे इतना मौका भी नही दिया कि वो अपनी बहन का ड्रेस ही दुरुस्त कर सके. उसकी बहन उसके बिल्कुल क़रीब उस अध नंगी हालत में पड़ी रही कि उसके बूब्स उसकी ब्रा में उसके भाई के सामने थे ऑर वो बार बार उनको देख रहा था लेकिन छू नही पा रहा था. कुछ देर के बाद मैने राज को अपनी तरफ करवट दे दी ऑर उसे अपने से चिपका लिया ऑर आख़िर उसकी भी मेरे साथ ही आँख लग गई.

नेक्स्ट डे सनडे था तो सब ही देर तक सोते रहे. सब से पहले मेरी आँख खुली, कमरे में बिल्कुल हल्की हल्की दिन की रोशनी हो रही थी क्योंकि सारे कर्टन बंद थे. मैने अपने मोबाइल से टाइम देखा तो 10 बज रहे थे. में अपनी जगह से उठी ऑर उठ कर वॉशरूम गई ऑर फिर किचन में चली गई सब के लिए चाइ बनाने. मैने किचन में चाइ बनाई ऑर फिर जब में चाइ के तीन कप ले कर बेडरूम में वापिस आई तो अंदर का मंज़र देख कर में बे इख्तियार ही मुस्करा उठी. 



बेड पर राज अपनी बहन से लिपट कर सो रहा था ऑर नींद में होने की वजह से पायल भी उस से लिपटी हुई थी. अपना बाज़ू राज के गले में डाल कर उस से चिपकी हुई थी. उसका बर्म्यूडा भी उसकी थाइस पर ऊपर तक चढ़ा हुआ था ऑर उसकी गोरी गोरी थाइस नंगी हो रही थी . अपनी ड्रेस को तो अपनी ब्रा पर कर के ही सोई थी दोबारा वो लेकिन अब फिर उसकी ड्रेस का एक स्ट्रॅप नीचे शोल्डर पर आया हुआ था. राज की टाँग उसकी चिकनी मुलायम नंगी थाइ पर थी ऑर उसका हाथ पायल की कमर पर था. 


चाइ साइड टेबल पर रखने के बाद में पायल की तरफ ही बैठ गई ऑर अपना हाथ बहुत ही अहिस्तिगि से उसकी नंगी थाइ पर रख दिया. सच में बहुत ही चिकनी ऑर मुलायम जिल्द थी पायल की. मेरा दिल चाह रहा था कि धीरे धीरे उसकी थाइस को सहलाती रहूं. में लेज़्बीयन नही थी कभी भी लेकिन आज पायल की खूबसूरती को देख कर मुझ पर भी नशा सा छा रहा था. में सोच रही थी कि अगर मेरा ये हाल हो रहा है तो राज बेचारा कैसे खुद को रोक सकता है अपनी बहन की जवानी को इस हालत में देख कर. 


मेरा हाथ धीरे धीरे पायल की नंगी थाइस को सहला रहा था ऑर थोड़ा उसके ऊपर तक चढ़े हुए बर्म्यूडा के अंदर तक भी फिसल रहा था. पायल का नंगा शोल्डर भी मेरी आँखों के सामने था.में आहिस्ता से झुकी ऑर अपने होंठ पायल के नंगे शोल्डर पर रख कर उसे चूम लिया. पायल बड़ी मदहोशी में अपने भाई के साथ चिपकी हुई सो रही थी. 


पायल के शोल्डर को चूमते ऑर उसे सहलाते हुए मैने आहिस्ता आहिस्ता अपना हाथ उसके नाइट ड्रेस के अंदर को मूव करना शुरू कर दिया. मेरा हाथ पायल के खूबसूरत टाइट बूब्स के बीच क्लीवेज पर पहुँच गया. मैने आहिस्ता अहसता पायल के बूब्स पर अपने हाथों की उंगलियों को फेरना शुरू कर दिया. बहुत ही ज़्यादा मस्ती सी छाने लगी थी मेरे पर पायल के बूब्स को छूने के बाद. उसके बूब्स ऑर क्लीवेज में हाथ फेरते हुए में होले होले उसके नंगे गोरे चिकने शोल्डर्स को चूम रही थी. अपने भाई की बाहों में जकड़ी हुई ऑर उस से चिपकी हुई वो बहुत ही प्यारी ऑर सेक्सी लग रही थी. मेरे ज़हन में ख़याल आया कि जब इसकी चूत में इसके भाई का लंड जाए गा तो कैसी लगे गी ये ऑर कितना मज़ा आए गा वो मंज़र देखने में. ये सोचते ही मेरे चेहरे पर एक स्माइल दौड़ गई.

कुछ देर बाद रूम की लाइट जला कर उन दोनो को जगाने लगी. दोनो को आवाज़ दी तो कुछ ऐसा हुआ कि दोनो ने एक साथ ही आँख कोली ऑर जैसे ही दोनो की नज़र एक दूसरे पर पड़ी कि दोनो बहन भाई के चेहरे इतने क़रीब हैं एक दूसरे के ऑर दोनो ने एक दूसरे को सोते में इस तरह से हग कर लिया है तो दोनो ही एकदम से पीछे हटे ऑर शर्मिंदा शर्मिंदा से उठ कर बैठ गए बेड की बॅक से तकिया लगा कर. में दोनो की हालत देख कर हँसने लगी. राज थोड़ा शर्मिंदा होता हुआ बोला, तुम किस वक़्त उठ कर चली गई थी. में मुस्कराई कि अभी गई थी ऑर शायद आप समझी कि में अभी यहीं लेटी हुई हूँ आपके पास ही. मेरी बात सुन कर पायल ने शर्म से सिर झुका लिया ऑर अपने शोल्डर पर अपनी नाइट ड्रेस की डोरी ठीक करते हुए चाइ का कप उठा लिया. उसके कंधों पर उसकी ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स अभी भी बिल्कुल ओपन ही दिख रहे थे.


राज उठ कर वॉशरूम में चला गया. मैने आहिस्ता से पायल के गोरे गोरे नंगे बाज़ू पर चुटकी काटी ऑर बोली, बड़ी चिपक कर सो रही थी आज तो तू अपने भैया के साथ. 

पायल शर्मा कर: भाभी बस पता ही नही चला ऑर भैया को भी तो चाहिए था ना कि वो दूर हो के सोते.

में: वो तो शायद समझी होंगे कि में ही उनके साथ चिपकी हुई हूँ अब नींद में उसे क्या पता कि ये खूबसूरत जिस्म उसकी अपनी बहना का है. 

पायल शरमा गई.

में: वैसे यार क़सूर उसका भी नही है.

पायल : वो कैसे भाभी??


में: देखो ना तुम्हारे जैसी खूबसूरत लड़की किसी की बाहों में हो तो किसे होश रहे गा डार्लिंग. ये कहते हुए मैने उसके शोल्डर पर एक किस कर दी.

पायल : भाभी.......................... आप भी ना बस............

पायल शरमा गई. इतने में राज भी वॉशरूम से बाहर आ गया . 


हम तीनों ही चाइ पीने लगे. में ओर पायल उसी नाइट-शर्ट ऑर बरमूडे में बैठे हुए थे. दोनो की ही टांगे घुटनो के ऊपर तक खुली हुई नंगी हो रही थी . ऊपर से हम दोनो का सीना भी खुला हुआ था क्लेवगे मेरा तो काफ़ी ज़्यादा ही नज़र आ रहा था. जब कि पायल के बूब्स का ऊपरी हिस्सा भी काफ़ी सेक्सी लग रहा था. चाइ के दौरान ही राज बोला, यार नाश्ते में क्या बनाया है. मैने कहा जनाब आज हम ने कुछ नही बनाना आप ही जाओ ऑर बेज़ार से ले कर आओ नाश्ता अच्छा सा. राज बोला ठीक है में फ्रेश हो कर जाता हूँ.

चाइ पीने के बाद राज वॉशरूम गया ऑर अपने कपड़े चेंज कर के मार्केट चला गया. पायल बोली, भाभी में भी चेंज कर के आती हूँ ये ड्रेस. मैने उसका हाथ पकड़ा ऑर बोली, नही आज हम दोनो ने ही ड्रेस चेंज नही करना. आज सनडे है ना तो घर में यही ड्रेस चले गा. तुम जल्दी से फ्रेश हो जाओ फिर में तुम्हारा थोड़ा सा मेक अप करती हूँ. तुम्हारे भैया कह रहे थे कि तुम्हें भी मेक अप वग़ैरह करा दिया करूँ ऐसे ही फिरती रहती है. मैने हँसते हुए उस से झूठ बोला. मेरी बात सुन कर पायल थोड़ा शरमा गई ऑर बोली, लेकन घर में मेक अप की क्या ज़रूरत है. मैने कहा अरे यार घर में भी करना चाहिए इस में क्या हर्ज है अब जल्दी से मुँह हाथ धो कर आओ. तुम्हारे भैया चाहते हैं कि तुम घर में उनको खूबसूरत नज़र आओ.

पायल : तो क्या ऐसे में खूबसूरत नही हूँ भाभी.

में: खूबसूरत तो हो लेकिन मेकप कर के तुम्हारे में सेक्सी लुक आ जाती है ना पायल .

मैने पायल को एक आँख मारते हुए कहा तो वो मुस्कराती हुई उठ कर वॉशरूम में चली गई.
Reply
09-11-2018, 10:27 AM,
#19
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
कुछ देर के बाद पायल बाथरूम से टवल से अपना चेहरा पोंछती हुई बाहर आई. मैने उसे पकड़ कर अपनी ड्रेसिंग टेबल के सामने बैठा लिया ऑर बोली, बैठो यहाँ में तुम्हारा मेक अप करती हूँ. में पायल के पीछे खड़ी हुई उसके बालों में अपनी उंगलियाँ फेरने लगी. फिर अपना हाथ उसके नंगे शोल्डर पर रख कर उनको सहलाते हुए नीचे को झुकी ऑर उसके शोल्डर्स को चूमती हुई बोली, कितनी खूबसूरत है मेरी ननद . भगवान बुरी नज़र से बचाए लेकिन मुझे लगता है कि तुझे अपने भाई की ही नज़र लग जानी है. 

पायल मेरी बात पर हँसने लगी. मैने आहिस्ता से अपना हाथ आगे ले जा कर उसके बूब्स पर रखा तो वो उछल ही पड़ी. मैने उसके बूब्स को मसल दिया अपनी मुट्ठी में ऑर बोली, क्या सॉलिड बूब्स हैं तेरे मेरी जान. पायल बोली, भाभी क्या करती हो आप तुम्हारे भी तो हैं ना बल्कि मेरे से भी बड़े बड़े . 

मेरी नज़र पायल की बॅक पर उसके ब्रस्सिएर के स्ट्रॅप्स ऑर हुक्स पर पड़ी. 

में: पायल ये तुम ने क्यूँ नीचे पहनी हुई है बिल्कुल तो ओपन नज़र आ रही है ये तो ऑर भी ज़्यादा सेक्सी लगती है उतारो इसे. पूरी की पूरी ब्रस्सिएर ओपन अपने भैया को दिखाती फिर रही हो छुपा हुआ क्या है इस में. 

ये कह कर मैने पायल की ब्रस्सिएर के हुक को पकड़ा ऑर उसकी ब्रस्सिएर को खोल दिया. इस से पहले कि वो कोई मुज़ाहीमत करती या मुझे रोकती मैने उसकी ब्रा के स्ट्रॅप्स उसके शोल्डर्स से नीचे खींच दिए ऑर उसके साथ ही उसकी शर्ट की डोरियाँ भी नीचे उतार दी. एकदम से पायल के दोनो बूब्स बिल्कुल नंगे हो गये मेरी नज़रों के सामने. पायल ने फॉरन से ही अपने बूब्स पर अपने दोनो हाथ रख दिए ऑर बोली, भाभिइ भाबीई ये क्या कर रही हो आप. मुझे क्यूँ नंगी कर दिया. 

मैने हँसते हुए उसके हाथों को पीछे खींचने के लिए ज़ोर लगाने लगी ऑर वो भी मस्ती के साथ मेरे साथ ज़ोर आज़माई करने लगी. लेकिन मैने अपने दोनो हाथ उसके बूब्स पर पहुँचा ही दिए. ऑर अपनी ननद के दोनो नंगे बूब्स को अपनी मुट्ठी में ले लिया ओर बोली, उउउफफफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ क्या मज़े के हैं तेरे बूब्स दिल करता है कि इन साइबू को कच्चा ही खा जाऊ. 

पायल : सोच लो भाभी फिर में भी तुम्हारे सेब खाउन्गी.

में: हां हां पहले भाई नही छोड़ता इन सेबों को खाना ऑर चूसना अब उसकी बहन भी इनके पीछे पड़ने लगी है. 

अब मैने पायल की ब्रस्सिएर उसकी बाज़ू में से बाहर निकाल दी ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसके दोनो हाथो से निकाल कर दोबारा से उसकी शर्ट की डोरियों को उसके शोल्डर्स पर अड्जस्ट कर दिया. लेकिन उसकी ड्रेस की डोरियाँ ठीक करने के बावजूद भी मैने उसके बूब्स को उसकी शर्ट के बाहर ही रखा तो वो हँसने लगी, भाभी इनको तो अंदर कर दो. अब वो मुझ से अपने बूब्स को नही छुपा रही थी.

में: चल आज तू अगर ऐसे ही अपने भैया के सामने रह जाती है ना तो जो मर्ज़ी मुझ से माँग लेना में दूँगी.

पायल मेरी बात सुन कर हँसने लगी. ऑर बोली, लगता है कि आप मुझे भैया से मरवा कर ही रहो गी.

में मुस्कराई ऑर धीमी आवाज़ में बोली, तुमको नही तुम्हारी मर्वाउन्गी तुम्हारे भैया से.

पायल बोली, भाभी क्या बोला आप ने. फिर से बोलना पायल .

में हँसने लगी उसकी बात पर. मुझे पता चल गया था कि मेरी बात पायल ने सुन तो ली ही है.


मैने उसकी ब्रा वहीं अपने बेड पर फैंक दी जान बूझ कर. ऑर दोबारा से पायल के मेक अप को सेट करने लगी. थोड़ी ही देर में मेरे मेक अप ने पायल के हसीन चेहरे को ऑर भी हसीन कर दिया. उसके होंठो पर लगी हुई चमक दार सुर्ख लिपस्टिक बहुत ही सेक्सी लग रही थी. मैने उसे तैयार करने के बाद उसके गोरे गोरे गाल पर एक चुटकी ली ऑर बोली, आज तो मेरी ननद पूरी छमक छल्लो ही लग रही है. मेरी बात सुन कर पायल शरमा गई ऑर बोली,

पायल : भाभी घर पर दिन के वक़्त ये ड्रेस कुछ ज़्यादा ही ओपन नही हो जाय गा.

में: अरे नही यार कुछ भी ज़्यादा या कम नही है. देख में भी तो इसी ड्रेस में ही हूँ ना मैने कॉन सा इसे चेंज कर लिया है. ऑर एक बात तुम को बताऊ कि तेरे आने से पहले तो में घर पर तुम्हारे भैया के होते हुए सिर्फ़ ब्रस्सिएर ही पहन कर फिरती रहती थी अब तो सिर्फ़ तुम्हारी वजह से इतनी फोरमैलिटी करनी पड़ती है.

पायल : क्या सच भाभी?????

में: हां तो ऑर क्या अगर तू कहे तो में ऐसे दोबारा से भी हो सकती हूँ.

मेरी बात सुन कर वो खामोश हो गई. 


फिर हम दोनो बाहर लाउंज में आ गये ऑर टीवी देखने लगे. इतने में बेल हुई राज के आने की. मैने जान बूझ कर पायल से कहा कि जाओ गेट खोलो तुम्हारे भैया आए हैं. वो शरमा कर बोली, नही भाभी आप ही जाओ. मैने इनकार कर दिया ऑर उसे दरवाज़ी की तरफ धकेला ऑर वो छुप कर के गेट की तरफ बढ़ गई.

मुझे पता था कि इतनी खूबसूरत हालत में अपनी बहन को देख कर राज को ज़रूर शॉक लगे गा. इस लिए में भी उनकी तरफ ही देख रही थी गेट को. वोही हुआ कि जैसे ही पायल ने गेट खोला तो उसे देख कर राज का मुँह खुले का खुला रह गया. 


अपनी बहन के खिलते हुए गोरे रंग ऑर उस पर किए हुए इस क़दर खूबसूरत मेक अप की वजह से पायल पर तो नज़र ही नही टिक पा रही थी. गेट खोल कर पायल ने मुस्करा कर अपने भाई को देखा ऑर फिर वापिस मूडी. राज ने जल्दी से गेट बंद किया ऑर पायल के पीछे पीछे चलने लगा. पायल की कमर पर नज़र पड़ी तो उसे एक ऑर शॉक लगा कि उसकी सिस्टर ने अब रात वाली काली ब्रस्सिएर भी नही पहनी हुई थी ऑर वो भी उतार चुकी थी. अब बॅक पर पायल की गोरी गोरी चिकनी कमर बिल्कुल नंगी हो रही थी.
Reply
09-11-2018, 10:27 AM,
#20
RE: Hindi Sex Story मासूम ननद
मैने फील किया कि पायल भी बहुत ही धीरे धीरे चलती हुई आ रही थी. अंदर आ कर पायल नाश्ते का समान ले कर किचन में चली गई ऑर राज मेरे पास आ गया . मैने मुस्करा कर उसकी तरफ देखा ऑर बोली, आज हमारी पायल प्यारी लग रही है ना. राज ने मेरी तरफ देखा ओर बोला, हां हां बहुत अच्छी.


में उठी ऑर किचन की तरफ जाते हुए राज से बोली, यार वो बेडरूम से चाइ के सुबह वाले कप तो उठा लाना साथ ही धो लेती हूँ. ये कह कर में किचन में चली गई. मुझे पता था कि अंदर क्या मंज़र राज का मुंतज़ीर हो गा. में किचन में पायल के पास आ गई ऑर उसे ब्रेकफास्ट अरेंज करने में हेल्प करने लगी. थोड़ी देर बाद मैने पायल को कहा,

पायल देखना जा के क्या कर रहे हैं तुम्हारे भैया उनहे कप उठा कर लाने के लिए कहा था बेडरूम से मुझे लगता है कि दोबारा से सो गये हैं जा कर वहाँ. पायल मुस्कराई ऑर बेडरूम की तरफ बढ़ी ऑर में उसको किचन के दरवाज़े के पीछे से देखने लगी. 


पायल ने जैसे ही अंदर झाँका तो एकदम पीछे हट गई. उस ने किचन की तरफ मूड कर देखा लेकिन जब मुझ पर नज़र नही पड़ी तो दोबारा छुप कर अंदर देखने लगी. में समझ सकती थी कि अंदर क्या हो रहा हो गा. लाज़मी बात थी के अपने बेड पर जो मैने पायल की ब्रस्सिएर फैंकी थी वो वहीं पड़ी हुई थी राज के आने तक तो अब राज ने उसे देख लिया हो गा ऑर लाज़मान उसे उठा कर उसका जायज़ा ले रहा हो गा. उसे अच्छे से अंदाज़ा था कि ये मेरी ब्रस्सिएर नही है ऑर अब तो उसे साइज़ का भी पता था ऑर उसे ये भी पता था कि मैने तो कल से ब्रा पहनी ही नही हुई है. 



अंदर राज अपनी बहन की ब्रस्सिएर से एंजाय कर रहा था ऑर बाहर खड़ी हुई पायल अपने भाई को अपनी ही ब्रस्सिएर से खेलते हुए देख रही थी. ये नही पता कि राज अपनी बहन की ब्रा के साथ कर क्या रहा है लेकिन बहरहाल ऑर उसके लिए कुछ करने का था तो नही वहाँ पर. कुछ देर तक मैने दोनो को एंजाय करने दिया ऑर फिर थोड़ा दरवाज़े से पीछे हट कर राज को ऑर फिर पायल को आवाज़ दी ऑर जल्दी आने को कहा. मेरी आवाज़ सुन कर पायल किचन में आ गई. 


मैने पायल का चेहरा देखा तो वो सुर्ख हो रहा था मैने पूछा आए नही तुम्हारे भैया क्या कर रहे हैं. पायल बोली आ रहे हैं वो बस अभी आते हैं. वो घबरा रही थी मेरे सवाल का जवाब देने में. फिर वो आहिस्ता से बोली, 

भाभी आप ने मेरी ब्रा वहीं बेड पर ही फैंक दी थी क्या ???

में: ओह हां बस ख़याल ही नही रहा बस, क्यूँ क्या हुआ है उस से. 

पायल बोली नही कुछ नही भाभी कुछ नही हुआ.

ऑर फिर जल्दी से खाना उठा कर बाहर आ गई . मैने उसे ब्रेकफास्ट डाइनिंग टेबल की बजाय आज छोटी सेंटर टेबल पर लगाने के लिए कहा. ज़ाहिर है कि इस में भी मेरे दिमाग़ की कोई शैतानी ही शामिल थी ना. थोड़ी ही देर में राज भी बेडरूम से कप्स की ट्रे ले कर आ गया . मैने पूछा कहाँ रह गये थे. उस ने घबरा कर एक नज़र पायल पर डाली ऑर बोला, वो बस बाथरूम में चला गया था. पायल अपने भाई की तरफ नही देख रही थी बस सोफे पर बैठी अपने भाई के आने का इंतजार कर रही थी. क्यूंकी रात उसका भाई जो जो उसके साथ करता रहा था उसे सोई हुई समझ कर ऑर जो कुछ अब वो उसकी ब्रस्सिएर के साथ कर रहा था तो वो उसके लिए बहुत ही एग्ज़ाइटिंग लेकिन शरमा देने वाला महसूस हो रहा था. 



राज आया तो मेरे साथ ही सोफे पर बैठ गया ऑर हम तीनो ने नाश्ता शुरू कर दिया. पायल हम दोनो के बिल्कुल सामने बैठी थी. अब खाना इस टेबल पर रखने में मेरा ट्रिक ये था कि ये जो टेबल थी वो काफ़ी लो थी ऑर इस पर खाना खाते हुए आगे को काफ़ी झुकना पड़ता था. इस तरह आगे को नीचे झुकने का पूरा पूरा फ़ायदा में राज को दे रही थी. क्योंकि पायल भी नीचे झुक कर खाना खा रही थी ऑर उसके नीचे झुकने की वजह से उसकी नाइट-शर्ट ऑर भी नीचे को लटक रही थी ऑर इस वजह से उसके बूब्स ऑर भी ज़्यादा एक्सपोज़ हो रहे थे. ऑर राज की नज़र भी सीधी सीधी अपनी बहन के खुले ओपन क्लीवेज ऑर बूब्स पर ही जा रही थी. मैने फील किया कि राज नाश्ता कम कर रहा था ऑर अपनी बहन के बूब्स को ज़्यादा देख रहा था. एक ऑर बात जो मैने नोट की वो ये थी कि पायल को पता था कि उसके बूब्स काफ़ी ज़्यादा ओपन नज़र आ रहे हैं ऑर उसका भाई इनको पूरी तरह से एंजाय कर रहा है लेकिन इसके बावजूद भी पायल ने अपनी पोज़िशन को चेंज करने की ऑर अपने बूब्स को छुपाने की कोई कोशिश नही की. वैसे भी उसकी ऑर मेरी शर्ट इतनी ज़्यादा ओपन थी कि हमारे पास अपने ओपन सीने ऑर बूब्स को छुपाने के लिए कुछ नही था. 


हमारी तवज्जो हटाने के लिए राज बोला, यार आज तो बाहर मौसम काफ़ी खराब हो रहा है बादल भी छाए हुए हैं काले, लगता है कि आज बारिश हो जाय गी.


पायल : जी भैया अच्छा है ना बारिश हो जाय तो कुछ गर्मी की शिद्दत में भी कमी हो जाय गी. 

बारिश का जिकर आते ही में दिल ही दिल में बारिश के लिए दुआ माँगने लगी ताकि कुछ ऑर भी मस्ती करने का मौका मिल सके.

नाश्ता करने के बाद मैने ऑर पायल ने बर्तन उठाए ऑर किचन में रखे ऑर फिर में पायल को चाइ बना कर लाने का कह कर किचन से बाहर टीवी लाउंज में आ गई ऑर राज के बिल्कुल साथ लग कर बैठ गई. राज ने भी टीवी देखते हुए मेरी गर्दन के पीछे से अपना बाज़ू डाला ऑर मेरे दूसरे शोल्डर पर ले आया ऑर मेरे सीने को सहलाने लगा. फिर उसका हाथ आहिस्ता आहिस्ता मेरे ओपन शर्ट मे नीचे चला गया ऑर उस ने मेरी शर्ट के अंदर हाथ डाल कर मेरे बूब को पकड़ लिया ऑर आहिस्ता आहिस्ता उस से खेलने लगा. मैने भी उसे मना नही किया ऑर ना ही उसकी बहन के पास होने का इशारा दिया बल्कि उसे खुल कर एंजाय करने दे रही थी ऑर खुद भी उस से चिपकती जा रही थी ताकि उसका हाथ ऑर भी मेरी शर्ट के अंदर तक चला जाय बहुत ही आसानी के साथ. 


हम दोनो ही इसी हालत में बैठे हुए टीवी देख रहे थे में थोड़ी तिरछी नज़र से किचन की तरफ भी देख रही थी. इतने में पायल टीवी लाउंज मे दाखिल हुई तो मैने अपनी नज़र उस पर नही डाली ऑर मज़ीद राज से चिपक गई. राज का हाथ अभी भी मेरी शर्ट के अंदर मेरे बूब से खेल रहा था. उसकी बहन ने आते ही सब कुछ देख लिया था मैने देखा कि चन्द लम्हे तो वो वहीं किचन के दरवाज़े पर खड़ी हुई ये सीन देखती रही फिर आहिस्ता आहिस्ता क़दमों से चलती हुई हमारी टेबल के क़रीब आई ऑर झुक कर टेबल पर चाइ की ट्रे रख दी. उसके चेहरे पर हल्की हल्की मुस्कराहट थी. 


उसे देखते ही राज ने अपना हाथ मेरी शर्ट से बाहर निकाल लिया लेकिन इस से पहले तो पायल सब कुछ देख ही चुकी थी कि कैसे उसका भाई मेरे बूब्स से खेल रहा है मेरी शर्ट के अंदर अपना हाथ डाल कर. राज ने अपना हाथ तो मेरी शर्ट से निकाल लिया था लेकिन अभी तक मेरे शोल्डर पर ही रखा हुआ था. में भी बिना कोई शरम किए हुए राज के साथ चिपक कर बैठी हुई थी. पायल ने मुस्कराते हुए वहीं पर ही हम दोनो को चाइ के कप्स पकड़ाई ऑर फिर वो भी चाइ ले कर मेरे पास बैठ गई अब में बीच में थी ऑर दोनो बहन भाई मेरे दोनो तरफ थे. पायल के नंगे शोल्डर्स भी मेरे कंधों से टकरा रहे थे ओर राज के हाथ भी अपनी बहन के शोल्डर्स को छू जाते थे लेकिन वो आराम से बैठी हुई थी बिना किसी मज़हमत के.



मैने चाइ का एक सीप लिया ऑर उन दोनो के बीच से उठते हुए बोली, यार चीनी कम है में अभी डाल कर लाई. में उठ गई उन दोनो बहन भाई के बीच से ऑर फिर किचन में आ गई . वहाँ से मैने देखा कि राज ने थोड़ा सा सरकते हुए पायल के शोल्डर पर गर्दन से पीछे बाज़ू डाल कर अपना हाथ रखा ऑर फिर उसके शोल्डर को सहलाते हुए बोला, ऑर सुनाओ पायल कैसी चल रही हैं स्टडीस तुम्हारी.

पायल बोली, जी भैया ठीक चल रही है स्टडीस भी ऑर कॉलेज भी. मैने देखा कि पायल ने अपने जिस्म को अपने भाई के हाथ की पकड़ से छुड़ाने की कोई कोशिश नही की बल्कि उसी तरह बैठी रही. कुछ देर तक मैने उन दोनो को बिना कोई ऑर बात चीत किए हुए मज़ा लेने दिया ओर फिर किचन से बाहर आ गई .
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star Hindi Kamuk Kahani वो शाम कुछ अजीब थी sexstories 93 10,325 Yesterday, 11:55 AM
Last Post: sexstories
Star Desi Porn Kahani कहीं वो सब सपना तो नही sexstories 487 164,215 07-16-2019, 11:36 AM
Last Post: sexstories
  Nangi Sex Kahani एक अनोखा बंधन sexstories 101 193,664 07-10-2019, 06:53 PM
Last Post: akp
Lightbulb Sex Hindi Kahani रेशमा - मेरी पड़ोसन sexstories 54 40,832 07-05-2019, 01:24 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna kahani वक्त का तमाशा sexstories 277 85,328 07-03-2019, 04:18 PM
Last Post: sexstories
Star vasna story इंसान या भूखे भेड़िए sexstories 232 65,393 07-01-2019, 03:19 PM
Last Post: sexstories
Thumbs Up Incest Kahani दीवानगी sexstories 40 47,215 06-28-2019, 01:36 PM
Last Post: sexstories
Lightbulb Bhabhi ki Chudai कमीना देवर sexstories 47 59,903 06-28-2019, 01:06 PM
Last Post: sexstories
Star Maa Sex Kahani हाए मम्मी मेरी लुल्ली sexstories 65 55,925 06-26-2019, 02:03 PM
Last Post: sexstories
Star Adult Kahani छोटी सी भूल की बड़ी सज़ा sexstories 45 45,931 06-25-2019, 12:17 PM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


sexbaba + baap betirandi la zavalo marathi sex kathalalchi ladki blue garments HD sex videoparidhi sharma xxx photo sex baba 789xxx sexy Tamil serial xxx hd photoxxxxmuhmeapni maa ko kothe pr bechkr use ki chudai kimonalisa bhojpuri actress nangi chuda sexbaba hd14 कि साली कि गाड मारी तेल लगाकर सेक्स विडियोwww sexbaba net Thread hindi porn stories E0 A4 B9 E0 A4 BF E0 A4 A8 E0 A5 8D E0 A4 A6 E0 A5 80 E0 ASex stories of anita bhabhi in sexbaba Bigg Boss actress nude pictures on sexbabadogni baba bhabi ke sath sex videoRaveena tandon nude threadSex baba meghna naidu ki chudai ki photos xxx babancha land sax kathasasur ne khet me apna mota chuha dikhaya chudai hindi storychut.kaise.marte.hai.kand.ko.gusadte.kaise.he ladies chudai karte hue gadiyan deti Hui chudwatiछोटा लडका ने अपनी बहन को चोगा.xxxhindi shote sexy sali aade garbaliXxx dise gora cutwalevidwa.didi.ko.pyar.kia.wo.ahhhhh.peloammi ki samuhik chudai sexkhani rajsharma storiesAkanksha puri puku sex photos sexbaba. Comtuje sab k shamne ganda kaam karaugi xxopicwww.lalita boor chodati mota lnd ka maja leti hae iska khaniwww.hindisexstory.rajsarmaminimathurnudeपुचची sex xxxsex babanet rep porn sex kahani site:mupsaharovo.ruMastram net anterwasna tange wale ka mota lodaungl wife sistor sex tamil videoसोतेली माॅ सेक्सकथा Kiya advani nued photos in sex bababaji and bivi new sex storess 2019मुततो.xnxx.compaapa aatam se choodo sexy videoसलमान खान ने कितनी लडकि चोद दियी उनके फोटुdayabhabhinudeसाले की बेटी को गाली भरी चुदाई कहानियाँup xnxx netmuh me landxnxx आंटि मुझे रोज दुध पीलाती हेwww.sexbaba.net shelpa shetyजीजाजी आप पीछे से सासूमाँ की गाण्ड में अपना लण्ड घुसायें हम तीन औरतें हैं और लौड़ा सिर्फ दोmarathi actress shemale sex babasiral abi neatri ki ngi xx hd potokavita ki nanga krke chut fadiSab dekhrhe he firbhi land daldiya sex video Aaort bhota ldkasexsexi.videos.sutme.bottals.sirr.daunlodasxxx sax heemacal pardas 2018Madhurima xxx photo by sex baba netraveena tandon ki chudai chut ki or meane chudi raveena gokuldham goa sex kahaneदीदी में ब्लाउज खोलकर दूध पिलायाvidhwa amma sexstories sexy baba.net.comgarib ki beti se chudai sexbabaanchor ramya in sexbaba.comindian 35 saal ke aunty ko choda fuck me ahhh fuck me chodo ahhh maaa chodwww.xnxx pucchit pani photoskavita nandoi ki hindi kahani dehati xxx nXxxhdमैसी वालाOwraat.ka.saxs.kab.badta.ha.hdजवान औरत बुड्ढे नेताजी से च**** की सेक्सी कहानीcold drink me Neend ki goli dekar dusre se chudvayaPurn.Com jhadu chudel fuckingSaheli ki chodai khet me sexbaba anterwasna kahanibhabi gand ka shajigparineeti chopra and jaquleen fernandis xxx images on www.sexbaba.net antarvasna fati salwar chachi kixxx rashmika gand dikhati photosDost ki maa chodavsex videocigrate pilakar ki chudai sex story hindiराज शर्मा बहन माँ की बुर मे दर्द कहानी कामुकताsix khaniyawww.commom ki chekhe nikal de stories hindi86sex desi Bhai HDVelamma sexybaba.netpativrata maa aur dadaji ki incest chudaikutte ki choudai saxe storiesreanushka sex comMaa Na beta and husband sea chut and gand marvihat xxx com dhire se kapde kholle ke sath walaमराठी सेक्स स्टोरी बहिणीची ची pantyDamdar Chaudhary sexy auntyदोनों बेटी की नथ उतरी हिंदी सेक्सी स्टोरीmaa ko lagi thand to bete ne diya garma garam lund videossara khan acetrss naked fuck photo sex bababahu nagina aur sasur kamina page 7भाभी पेटीकोट उठाकर पेशाब करने लगी Hindi sexstoriessasur ji thread porn