Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
08-08-2019, 01:19 PM,
#1
Star  Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
खाला के संग चुदाई

प्यारे भाइयो मैं एक और कहानी शुरू करने जा रहा हूँ इस कहानी को मैं सिर्फ़ हिन्दी में पोस्ट कर कर रहा हूँ क्योंकि ये कहानी मैने नही लिखी है

मेरा नाम अयान है. एज 25, हॅंडसम ऑर गुड लुकिंग हूँ

ये स्टोरी तब की है जब मैं 15 यियर्ज़ का था.
मैं अपनी अम्मी की फॅमिली मे सब से पहला बच्चा हूँ. ऑर पहले बच्चे को बोहत प्यार दिया जाता है तो मुझे भी मामू खाला वग़ैरह सब बोहत प्यार करते थे.

मैं शुरू ही से अपनी नानी की घर रहता था. ऑर सब लोग मुझ से बहुत प्यार करते थे.

नानी के घर मे 2 खाला ऑर ऐक मामू थे.
बड़ी खाला का नाम शमा है ऑर छोटी खाला का नाम अंबर है. मैं घर मे अंबर खाला के साथ बहुत फ्री था ऑर वो भी मुझसे बहुत प्यार करती थी.

शमा खाला की शादी हो गई थी और मामू की भी शादी हो गई थी.
मैं जब भी नानी के घर जाता था तो अंबर खाला के रूम मे सोता था.

मैं 15 साल का था ऑर अंबार खाला 20 साल की थी. 20 साल की एज मे भी वो बहुत खूबसूरत नज़र आती थी. उनके ब्रेस्ट का साइज़ 36 था.

मैं जब घर जाता था तो अंबर खाला मेरे सामने दुपट्टा नही लेती थी.

मामू की शादी हो गई थी ऑर वो रात को अपने रूम मे मामी के साथ होते थे.
ऐक दिन रात के 10 बज रहे थे कि मैं अंबर खाला के साथ सोया था.
अंबर खाला को वॉशरूम जाना था.

वॉशरूम कमरे से बाहर था अंबर खाला चली गई ऑर तरीबन 10 मिंट लगा कर वापस आई.
जब वो बेड पे लेटी तो मेरी आँख खुल गई मगर मैं फिर भी सोने की आक्टिंग करता रहा.

खाला मेरे साथ आ कर लेट गई ऑर मेरा सिर उठा कर अपने बाज़ू पर रख दिया ऑर मुझे हग कर के लेट गई.

जब खाला ने मुझे हग किया तो मेरा फेस उनकी चेस्ट के क़रीब था.

मुझे उनके जिस्म की स्मेल बहुत अच्छी लग रही थी.

खाला मेरे साथ चिपक कर लेटी हुई थी. मुझे उनके जिस्म की स्मेल बोहत अच्छी लग रही थी.

कुछ देर बाद मैं ने अपना फेस खाला के मम्मो से उपेर नंगे सीने पर रख लिया. ऑर मेरे लिप्स उनके सीने को टच करने लगे..

मैं ने आहिस्ता से खाला के सीने पर किस कर लिया. जिस पर खाला हल्का सा हिली ऑर फिर मेरा सिर पीछे कर के मेरी आँखो मे देखा मगर मैं सोने का नाटक कर रहा था. तो खाला समझी कि शायद नींद मे ये सब हो गया होगा.

पहली बार मुझे अपनी खाला के लिए कुछ अजीब सी फीलिंग हुई थी. मेरे माइंड मे पहली बार अपनी ही सग़ी खाला के साथ सेक्स करने का ख़याल आया. मगर सोचने वाली बात तो ये थी कि मैं उसके साथ सेक्स केसे करूँ गा

मैं ने कुछ देर बाद खाला के नंगे सीने पर मम्मो से थोड़ा उपर ऐक ऑर किस किया. जिस पर खाला हल्की सी मूव हुई फिर मेरी तरफ देखा ऑर अब काए बार उन्हो ने मेरा फेस अपने सीने पर ज़ोर से दबा दिया ऑर मेरे बालों मे अपनी फिंगर्स मूव करने लगी..
Reply
08-08-2019, 01:19 PM,
#2
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
मेरा लंड हार्ड हो गया था. मैं सोच रहा था कि अपने लंड को केसे खाला से टच ना होने दूं. मगर खाला तो मेरे साथ चिपक कर लेटी हुई थी. खाला को भी मेरा लंड हार्ड होता हुआ फील हुआ था.

खाला ने मुझे टाइट हग किया ऑर मेरी लेग्स के बीच मे अपनी लेग्स ऑर मेरी लेग को अपनी लेग के उपेर रख दिया. जिस से उनकी लेग मेरे लंड से टच हो रही थी क्यू कि मेरी लेग्स के बीच मे उनकी लेग आ गई थी.

खाला को पता लग चुका था कि मैं जाग रहा हूँ. मगर उन्हो ने मुझ पर कुछ ज़ाहिर नही होने दिया.

अब खाला अपनी लेग्स को स्लोली स्लोली मूव कर रही थी मेरी लेग्स के बीच मे. जिस से उनकी लेग मेरे लंड को बार बार टच हो रही थी.. मुझे पसीना आ रहा था. क्यू कि मैं खुद से कुछ नही कर सकता था. मुझ मे हिम्मत नही हो रही थी कुछ करने की क्यू कि अगर खाला ने माइंड किया ऑर सब को बता दिया तो मुझे बहुत मार पड़ेगी .

खाला ऐसे ही कुछ देर तक मेरे लंड से अपनी लेग लगाती रही. फिर ऐक दम से उनका जिस्म अकड़ गया. उन्हो ने मुझे टाइट हग कर लिया. ऑर मेरे लंड पर बार बार अपनी लेग मूव करती रही. खाला का जिस्म अकड़ चुका था. मैं डर गया.

मैं समझा कि पता नही खाला को क्या हो गया है अचानक से. खाला की साँसे तेज थी. ऑर उन्हो ने मुझे हग किया हुआ था.

कुछ देर बाद खाला अपनी जगह से उठी ऑर वॉशरूम चली गई. जेसे ही खाला रूम से निकली मैं ने जल्दी से अपने लंड को हाथ मे लिया ऑर मूठ मारने लगा..

अभी मैं अपने लंड पर मूठ मार रहा था कि अचानक खाला रूम मे एंटर हो गई. मैं ने जल्दी से लंड से हाथ हटा दिया. ऑर आइज़ क्लोज़ कर लीं. खाला ने मुझे देख लिया था मगर अंजान बनी रही ऑर कुछ नही बोली. वो बेड पर आ कर मेरे साथ लेट गई. ऑर अपना फेस दूसरी साइड पर कर लिया ओर मेरी तरफ बॅक कर लिया.

इसी तरह लेटे लेटे उन्हो ने मेरा हाथ पकड़ कर अपने पेट पर रख दिया जिस की वजह से मैं उनके साथ बॅक से चिपक गया. अब मेरा लंड हार्ड था जो कि खाला के अचानक आने से अपना पानी भी नही निकाल सका.. अब मेरा हार्ड लंड मेरी खाला की गान्ड से टच होना शुरू हो गया.

मेरा लंड खाला की गान्ड से टच होना स्टार्ट हो गया. खाला की नरम गान्ड से मेरा लंड टच हुआ तो मेरा लंड ऑर ज़्यादा अकड़ गया.

मुझे खाला की नरम गान्ड बहुत अच्छी लग रही थी. मैं ने अपने आप को थोड़ा सा मूव किया तो मेरा लंड खाला की गान्ड की लकीर पर आ गया.

लंड जेसे ही खाला के गान्ड की लकीर पर आया. खाला के जिस्म को ऐक झटका लगा ऑर उन्हो ने मेरा हाथ अपने पेट पर ऑर टाइट कर लिया ऑर थोड़ा सा पीछे हो गई.

जिसकी वजह से मेरा लंड उनकी गान्ड की लकीर के बीच मे फँस गया.

मुझे बोहत अच्छा लग रहा था. मैं ने अपने जिस्म को हल्का सा मूव किया तो मेरा लंड खाला की लकीर मे थोड़ा सा आगे हो गया.

खाला ने अपनी गान्ड को टाइट कर लिया. जिसकी वजह से मेरा लंड खाला की गान्ड के बीच मे फँस गया. मुझे बोहत अच्छा लग रहा था.

मैं ने आज तक कभी किसी लड़की के जिस्म को टच नही किया था. पहली लड़की मिली ऑर वो भी मेरी सग़ी खाला. मैं बोहत एग्ज़ाइटेड था.

एग्ज़ाइट्मेंट मे मुझे कुछ समझ नही आ रहा था कि मैं क्या करूँ. मैं अपने जिस्म को आगे पीछे मूव करने लगा. ऑर खाला को भी मज़ा आने लगा.

वो भी अपनी गान्ड को कभी टाइट कर लेती ऑर कभी खोल देती. इतनी देर से हम लोग ये सब कर रहे थे मगर आहिस्ता आहिस्ता.
Reply
08-08-2019, 01:19 PM,
#3
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
ना खाला कुछ बोल रही थी ऑर ना मैं कोई आवाज़ निकाल रहा था.. मुझे तो मुफ़्त मे मज़े मिल रहे थे. मैं कुछ बोलना भी नही चाहता था कि कहीं ऐसा ना हो कि खाला को बुरा लग जाए ऑर वो किसी को बता दे.

जब मेरा लंड पानी छोड़ने वाला था तो मेरा दिल कर रहा था कि मैं अपना पूरा लंड खाला की गान्ड मे घुसा दूं मगर बीच मे शलवार थी जिस की वजह से मैं ऐसा नही कर सकता.

मैं ने ऐक हाथ से अपना ट्राउज़र नीचे किया ऑर अपना लंड बाहर निकाल कर अपना लंड खाला की गान्ड की लकीर मे घुसा दिया.

अब खाला की गान्ड ऑर मेरे लंड मे सिर्फ़ ऑर सिर्फ़ खाला की शलवार थी. मेरा बस नही चल रहा था कि मैं ऐक दम से खाला की शलवार उतार दूं.

झटके मारते मारते मैं ने ऐक 2 झटका ज़ोर से मारे ऑर खाला की गान्ड की लकीर मे उसकी शलवार के उपेर ही फारिघ् हो गया.

जेसे ही मैं ने अपना पानी निकाला मुझे कुछ सकून मिला. ऑर मैं ने अपना लंड वापस अपने ट्राउज़र मे डाल दिया.

खाला ने मेरा हाथ छोड़ कर अपना हाथ अपनी गान्ड पर शलवार के उपेर रखा जहाँ पर मेरे लंड का पानी लगा हुआ था. जो खाला की गान्ड को शलवार के अंदर से भी गीला कर रहा था. खाला ने मेरे पानी को हाथ लगाया. ऑर बेड से उठ कर वॉशरूम मे चली गई.

खाला जेसे ही रूम से बाहर निकली मैं ने आइज़ खोली. ऑर उठ कर खाला के पास गया. मैं ने देखा की वॉशरूम का डोर खुला हुआ है. ऑर खाला की बॅक साइड दरवाज़ी की तरफ है.

मैं छुप छुप कर खाला को देखने लगा.. खाला ने जल्दी से अपने कपड़े उतारे ऑर अपनी चूत मे फिंगरिंग करने लगी.

मैं पहली बार किसी लड़की का नंगा जिस्म देख रहा था. अपनी खाला को नंगा देख कर मेरा लंड फिर से हार्ड होने लगा.

खाला की बॅक दरवाज़े की तरफ थी. ऑर वो फिंगरिंग कर रही थी. उसको देख कर मैं ने अपना लंड ट्राउज़र से बाहर निकाला ओर मूठ मारने लगा.

मूठ मारते मारते जोश मे मेरा हाथ वॉशरूम के दरवाज़े पर लग गया.

जिसकी वजह से वॉशरूम के दरवाज़े की हल्की सी आवाज़ हुई. खाला ने ऐक दम घबरा कर पीछे मूड़ कर देखा. मगर मैं जल्दी से साइड मे होगया.

मैं डर गया था. ऑर शायद खाला ने भी मेरी ऐक झलक देख ली थी.
मैं जल्दी से बेड पर आ कर लेट गया.

डर के मारे मेरी गान्ड फॅट गई थी. ऑर मेरा लंड जो कुछ देर पहले किसी रोड की तरह टाइट था. खाला के डर की वजह से ऐक मरे हुए साँप की तरह हो गया था.

खाला जल्दी से रूम मे आई ऑर लाइट ऑन कर के मेरी तरफ देखा. मैं ने अपनी आइज़ को बिल्कुल हल्का सा ओपन रखा हुआ था ऑर मुझे नज़र आ रहा था सब कुछ

खाला मेरे क़रीब आई ऑर मेरी आइज़ ने देखने लगी. पता नही उन्हो ने क्या अंदाज़ा लगाया. उसके फेस पर ऐक स्माइल आई.

ऑर उन्होने वापस जा कर लाइट ऑफ की.

लाइट ऑफ करने के बाद वो मेरे साथ बेड पर आ कर लेट गयी. ओर ऐक बार फिर से मुझे हग कर लिया.

मैं भी अपने लंड का पानी ऐक बार निकाल चुका था. मैं ने भी खाला को हग किया ऑर फिर हम दोनो सकून से सो गये थे.
Reply
08-08-2019, 01:19 PM,
#4
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
नेक्स्ट डे जब हम दोनो सुबह उठे तो एक दूसरे से कोई ज़िक्र नही किया.

खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर कहा कि “जाओ जा कर नहा लो". मैं तुम्हारे कपड़े निकाल देती हूँ.

मैं नहाने चला गया ऑर नहा कर खाला को आवाज़ दी ऑर कपड़े देने का बोला.

खाला कपड़े ले कर आई. और मैने अपना हाथ बाहर निकाला मगर खाला ने डोर को थोड़ा सा धक्का दिया और अपना फेस अंदर कर के मुझे देखा ओर कहा कि जल्दी से बाहर आ कर नाश्ता कर लो.

मैं बाहर आया तो खाला मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी. मैने शरम के मारे सिर झुका लिया.

फिर खाला ने मुझे कहा: तुम बैठो मैं भी जल्दी से नहा कर आती हूँ. मैं जब आवाज़ दूं तो मुझे मेरे कपड़े दे देना वॉशरूम मे.

मैने कहा की ठीक है.

खाला वॉशरूम मे गई ऑर वॉशरूम का डोर ओपन छोड़ दिया. और नहाने लगी. मैं इस एंगल पे बैठा था कि खाला मुझे नज़र नही आ री थी. नहाने से फारिघ् हो कर खाला ने मुझे आवाज़ दी ऑर कहा: कपड़े दे दो.

मैं खाला के कपड़े ले कर डोर के पास गया तो खाला एक दम से थोड़ी सी बाहर की तरफ हुई जिस की वजह से मुझे उनका एक मम्मा (ब्रेस्ट) नज़र आया. जब खाला ने देखा कि मैं उनका मम्मा देख रहा हूँ तो खाला ने जल्दी से मुझे कहा कि सॉरी. और अंदर हो गई.

जब खाला नहा कर निकली तो उनके कपड़े उनके गीले जिस्म के साथ चिपके हुए थे. जिस की वजह से उनके जिस्म का एक एक हिस्सा क्लियर नज़र आ रहा था.

मैं खाला के जिस्म को देख रहा था तो खाला बोली कि : क्या देख रहे हो मेरी तरफ.

मैने कहा : कुछ नही.

इतने मे मामी भी अपने रूम से निकल आई. और मामी ने कहा कि तुम दोनो बैठो. मैं नाश्ता लगाती हूँ. फिर मुझे पति के साथ जाना है 2 दिन के लिए.

मामी ने नाश्ता ला गया ऑर मामू को आवाज़ दी. मामू भी नाश्ता करने आ गये ऑर हम ने नाश्ता किया.

मैं खाला के साथ वाली चेयर पे बैठा हुआ था. तो खाला अपनी टाँग मेरी टाँग के साथ लगाने लगी.

मैने जल्दी जल्दी नाश्ता ख़तम किया और खाला से कहा कि मैं बाहर जा रहा हूँ क्रिकेट खेलने.

मामू ने मुझे कहा कि तुम बाहर ना जाओ. खाला घर मे अकेली है. अब हम लोग जा रहे हैं दो दिन बाद आएँगे . जब तक तुम ने घर से बाहर नही जाना. और खाला का ख़याल रखना है. मैने खाला की तरफ देखा ऑर कहा कि मैं खाला का बहुत ख़याल रखूँगा .

हम लोग नाश्ते से फ्री हुए तो मामी उठ कर अपने रूम मे चली गई. और तय्यारी करने लगी.
और मैं उठ कर टीवी लाउंज मे आ गया ऑर केबल पर मूवी देखने लगा.

खाला ने बर्तन वग़ैरह समेटे ऑर टीवी लाउंज मे आ कर मेरे साथ सोफे पर बैठ गई ऑर मूवी देखने लगी.

मामू भी वहाँ ही आ गये ऑर खाला से बोले : तुम अकेली बोर हो जाओगी . ऐसा करो कि तुम अपनी फ्रेंड को बुला लो 2 दिन के लिए.

खाला ने कहा कि नही भाई मैं ऐसे ही ठीक हूँ ऑर अयान (मैं) है ना मेरे साथ. मुझे कुछ प्राब्लम नही है.

मामू बोले नही यार. कम आज़ घर मे ज़्यादा बंदे होंगे तो मुझे कोई टेन्षन तो नही होगी ना.

अब खाला भी कुछ नही कर सकती थी क्यू कि बड़ा भाई बोल रहा था ऐसा करने को. तो खाला ने अपनी फ्रेंड जिसका नाम सोबिया है. उसको कॉल कर दी तो सब बात बताई.

सोबिया ने अपनी अम्मी से पार्मिशन ली ऑर कहा की ठीक है मैं कुछ देर मे आ जाउन्गी. जिस पर मामू थोड़ा रिलॅक्स हो गये. और अपने रूम मे चले गये.

खाला उठ कर घर की सफाई करने लगी. सब चीज़ें समेट कर खाला घर मे झाड़ू लगाने लगी.

खाला जब रूम से बाहर झाड़ू लगा रही थी तो मैं उनको देख रहा था. उनकी गोल गोल गान्ड मुझे बहुत अच्छी लग रही थी ऑर मुझे रात वाली हरकत याद आ गई.

रात वाली हरकत को याद कर के मेरा लंड खड़ा होने लगा. ऑर मैं उसको शलवार के उपर से पकड़ कर सहलाने लगा.

खाला ने जब बाहर से झाड़ू लगा ली तो टीवी लाउंज मे आ गई झाड़ू लगाने के लिए.

खाला ने दुपट्टा नही लिया हुआ था. जब वो मेरे सामने आई तो मुझे महसूस हुआ कि शायद खाला ने ब्रा भी नही पहना है. ये सोचते ही मेरा लंड एक दम से डंडे की तरह खड़ा हो गया.

मैने जल्दी से अपने लंड पर हाथ रख दिया ऑर अपनी टाँग के उपर टाँग रख दी.

खाला की नज़रो मे मेरा खड़ा हुआ लंड आ गया था. मैं घबरा गया था कि कहीं खाला को बुरा ना लग जाए.

खाला मुस्कुरा दी ऑर कमरे मे झुक कर झाड़ू लगाने लगी. जिस की वजह से खाला के मम्मे लटक कर कमीज़ से जुड़ गये थे.

मैं अपने लंड को बिठाने की बहुत कोशिश कर रहा था मगर लंड था कि सोने का नाम ही नही ले रहा था. मेरे माथे पर पसीना आ गया था कि अगर खाला ने मेरा खड़ा हुआ लंड देख लिया तो क्या होगा .

खाला मेरी हालत को फील कर रही थी ऑर एंजाय कर रही थी

खाला ने मेरे माथे पर पसीना देखा तो बोली: अयान तुम्हारी तबीयत ठीक है ना?

मैं: हाँ, हाँ हाँ मैं ठीक हूँ. तो खाला मेरे पास आई ऑर कहा कि ये तुम्हे इतना पसीना क्यू आ रहा है.

मैं: पता नही गर्मी है बहुत शायद इस वजह से.

खाला: नही गर्मी तो नही है इतनी

फिर खाला ने मेरे माथे पे हाथ लगाया ऑर बोली.

तुम्हे तो बुखार भी नही है. फिर क्या हुआ.

और इसी तरह खाला मेरे सामने खड़ी हुई थी ऑर मैं खाला के मम्मो की तरफ देख रहा था.

एक दम से खाला ने अपनी कमीज़ का पल्लू उठाया ओर मेरे माथे पर से पसीना सॉफ करने लगी.

कमीज़ का पल्लू उठाने की वजह से उनका पेट मुझे नज़र आने लगा. मैं खाला का पेट देख रहा था ऑर खाला मेरे माथे पर से पसीना सॉफ कर रही थी.

खाला जब मेरे सामने से पसीना साफ कर रही थी तो मैं सोफे पर बैठा हुआ था. और खाला मेरी टाँगों के बीच मे खड़ी हुई आहिस्ता आहिस्ता मेरा पसीना सॉफ कर रही थी.

माथे पर पसीना सॉफ करने के बाद खाला मेरे सिर पर बालों मे अपनी कमीज़ से पसीना साफ करने लगी. जिसकी वजह से खाला की कमीज़ थोड़ा सा ऑर उपर हो गई.

खाला ने मेरा सिर नीचे किया तो मेरा फेस खाला के पेट से टच होने लगा.

जेसे ही मेरा फेस खाला के पेट से टच हुआ “““मेरा लंड रोड की तरह सीधा खड़ा हुआ ऑर खाला की शलवार के उपर से उसकी चूत को टच करने लगा""".

खाला के निचले जिस्म को एक हल्का सा झटका लगा. मगर खाला अपनी जगह से हिली नही.

अब मेरा लंड शलवार के उपर से खाला की चूत को टच क्र रहा था तो खाला ने मेरा फेस अपने पेट पर दबा दिया. और ज़ोर ज़ोर से मेरे बालों पर फिंगर्स मूव करने लगी. अब एक ओर चेंजिंग भी आ गई थी कि खाला मेरे सिर मे फिंगर्स मूव करने के साथ साथ “‘अपनी चूत को भी मेरे लंड पर हल्का हल्का मूव करने लगी““

ऐसे ही चल रहा था कि अचानक घर के मेन डोर पर दस्तक हुई.
और खाला जल्दी से मुझसे अलग हुई.

खाला की आँखे लाल हो रही थी ऑर उनका साँस तेज तेज चल रहा था.

खाला ने मुझसे पूछा: अयान जानू अब कैसा फील कर रहे हो.

मैं: अब ठीक हूँ.

खाला के अचानक हट जाने से मैं एक दम घबरा गया ऑर मुझे अहसास भी नही हुआ कि मेरा लंड अभी तक खड़ा है. और खाला मेरे लंड को ही देख रही थी जो उस टाइम तकरीबन 6 इंच का था.

इसी दौरान दरवाजे पर फिर दस्तक हुई तो खाला ने अपने कपड़े ठीक किए ऑर मुझे कहा:

अयान तुम ठीक से हो कर बैठो. मैं दरवाज़ा खोलती हूँ.

मैने जब देखा तो मेरा लंड बिल्कुल सीधा खड़ा हुआ था.

मैं जल्दी से उठ कर वॉशरूम की तरफ भागा. ऑर खाला दरवाज़ा खोलने चली गई......

अंबर खाला ने डोर ओपन किया तो दरवाज़े पर उनकी फ्रेंड सोबिया आई थी.

मैं आप को बताता चलूं कि सोबिया 23 साल की एक खूबसूरत लड़की थी. जिसकी बॉडी हुश्न की शाहकार थी.
उसके मम्मे कुछ 36 के क़रीब थे ऑर गान्ड मोटी सी थी ऑर कुछ ज़्यादा ही बाहर को निकली हुई थी.

वो घर मे एंटर हो कर खाला से गले मिली ऑर अंदर आ गई. डोर की आवाज़ सुन कर मामू भी अपने रूम से बाहर आ गये थे. सोबिया ने मामू को सलाम किया ऑर मामू ने सोबिया के सलाम का जवाब दिया.

उसके बाद अंबर खाला, सोबिया को अपने रूम मे ले गई. वहाँ जा कर अंबर ने चादर उतार कर दुपट्टा ले लिया.

मैं वॉशरूम से निकल कर टी.वी लाउंज मे गया ऑर वहाँ बैठ कर वही मूवी दोबारा देखने लगा.

इतने मे मामी ऑर मामू रूम से बाहर आए ऑर मामू ने बॅग उठाया हुआ था. मामू ने हम सब को आवाज़ दी ऑर कहा कि : अच्छा हम जा रहे हैं. घर का ऑर अपना ख़याल रखना. ऑर मामू ने अंबर खाला को 20,000 रुपीज़ दिए घर के खर्चे के लिए. मामू ने मुझे कहा: "अयान तुम ने घर से बाहर नही निकलना"

ऑर घर की ज़िम्मेदारी अब तुम पर है. मामू ने मुझे भी 1000 रुपीज़ दिए खर्चे के लिए. मैं खुश हो गया.

मामू ऑर मामी चले गये तो अंबर खाला ने मेन डोर लॉक किया ऑर सोबिया से कहा: सोबिया तुम अयान के साथ टी.वी लाउंज मे बैठो. मैं झाड़ू दे दूं. फिर गॅप शॅप लगाते हैं.

सोबिया आ कर टी.वी लाउंज मे मेरे साथ सोफे पर बैठ गई. ऑर अंबर खाला हमारे सामने उसी स्टाइल मे झाड़ू लगाने लगी.. मैं अब डर रहा था क्यू कि अब तो घर मे सोबिया भी थी ऑर मुझे उसकी नेचर का नही पता था. खाला उसी तरह झुक कर झाड़ू लगा रही थी. जिसकी वजह से उसके मम्मे लटक रहे थे.... ऑर मुझे उनके पूरे मम्मे नज़र आ रहे थे... मैं खाला के मम्मो को गौर से देख रहा था. खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर मुस्कुरा कर झाड़ू लगाने लगी.

खाला झाड़ू लगा रही थी,,, मैं उनके मम्मो को देख रहा था,,, ऑर मुझे नही पता था कि सोबिया की नज़र मेरे उपर थी. ऑर वो कभी मुझे ओर कभी अंबर खाला के मम्मो को देख रही थी...

सोबिया ने खाँसी करने के स्टाइल मे अंबर खाला को बताने का इशारा किया कि अपनी कमीज़ ठीक करे. मगर खाला ने उसको इशारा किया ऑर बाहर चली गई.

अंबर खाला बाहर गई तो सोबिया भी उसके पीछे पीछे बाहर चली गई.. वो दोनो कुछ देर तक बाहर रही ऑर फिर सोबिया आ गई..

अंबर खाला किचन मे छाए बनाने चली गई.

सोबिया मेरे पास सोफे पर बैठ कर मूवी देखने लगी ऑर इस बार सोबिया मेरे साथ क्लोज़ हो कर बैठी. उसकी थाइस मेरे थाइस के साथ टच हो रही थी.

अंबर खाला किचन मे चाय बनाने चली गई ऑर सोबिया टी.वी लाउंज मे आ कर मेरे साथ लग कर बैठ गई. उसकी थाइस मेरी थाइस से टच हो रही थी.

पता नही सोबिया ऑर अंबर खाला के बीच मे क्या बात हुई थी कि सोबिया मेरे साथ इतना क्लोज़ हो कर बैठ गई थी. सोबिया मूवी भी देख रही थी ऑर मेरे साथ साथ लेग भी रगड रही थी.

मूवी देखते देखते मूवी मे एक सीन आया समुंद्र पर नहाने का. जिस मे लड़कियाँ बिकिनी पहन कर घूम फिर रही थी. मैने वो सीन देखा ऑर सोबिया मेरे साथ बैठी हुई. मैं रिमोट ढूँढने लगा. ऑर रिमोट उठा कर मैं चॅनेल चेंज करने लगा कि

सोबिया की आवाज़ आई: अरे ये चॅनेल क्यू चेंज कर रही हो.

मैं. ये सीन ठीक नही है.

सोबिया: क्यू इस सीन मे क्या खराबी है. कपड़े तो पहने हुए हैं सब ने.

मैने कुछ नही कहा ऑर सोबिया के सामने मैं ऐसा सीन नही देखना चाहता था. मैं रूम से बाहर आ गया.

मैं खाला ऑर अपने कंबाइन रूम में चला गया. खाला ने मुझे रूम मे जाते हुए देख लिया था. जब वो चाय वाघेरा बना कर फ्री हुई तो उन्हो ने मुझे किचन से ही आवाज़ लगाई.

अंबार खाला: अयान आ जाओ चाय पी लो.

मैं: आता हूँ 5 मिंट मे.

खाला चाय टी.वी लाउंज मे ले गई. मैं जब टी.वी लाउंज मे जाने लगा तो अंबर खाला, सोबिया के साथ बातें कर रही थी.

सोबिया: अरे अंबर जब तू झाड़ू लगा रही थी तो तेरा भांजा तो तेरे मम्मो को ही देख रहा था.

अंबार खाला: ह्म्म्म मुझे पता है,

सोबिया: अरे क्या कहा, तुझे पता था कि वो तेरे मम्मो को देख रहा है ऑर तू फिर भी उसके सामने ऐसी ही रही. मतलब तू अपने भानजे को खुद से अपना जिस्म दिखा रही थी.

अंबार खाला: हाँ. वो मेरा भांजा है ऑर बचपन से मेरे ही साथ है. मैं उस से बहुत प्यार करती हूँ.

सोबिया: मगर वो तेरा भांजा है. तू उसके साथ ऐसा केसे कर सकती है.. कल को तेरी शादी भी हो जानी है.

अंबार: जब शादी होनी होगी तब हो जाएगी. मगर मैं अपने भानजे को ऐसे ही नही तर्साउन्गी कि वो किसी लड़की के लिए तरसे.

सोबिया: तो क्या तू उसके साथ चुदाई करे गी ऑर उसको अपनी चूत दे गी,,,??

अंबार: हाँ मेरे तो यही इरादा है.

सोबिया: देख ले ये ग़लत है.

अंबार: मेरी जान कुछ ग़लत नही. कल को शादी के बाद मेरे पति ने भी चूत मारनी ही है ना. क्यू ना उसके लिए अपने आप को अभी से तय्यार किया जाए.

सोबिया: मगर,,,, मगर वो बहुत छोटा है यार,

अंबार खाला: अरे वो छोटा नही है. इस उमर मे भी मेरे भानजे का लंड कम आज़ कम 6 इंच का होगा.

सोबिया: क्य्ाआआआअ?????? इस उमर मे भी 6 इंच का.

अंबार: हाँ 6 इंच का होगा...

सोबिया: तो क्या तू अपने भानजे का लंड देख चुकी है.

अंबार: हाँ मेरा भांजा मुझे बहुत अच्छा लगता है.. वो मेरे साथ ही सोता है. उसकी नींद बहुत गहरी है.. जब जब वो थका होता है. ऑर गहरी नींद सो जाता है. मैं उसका लंड पकड़ कर देखती हूँ... बहुत नरम नरम सा है सॉफ्ट सा..


मैं डोर से बाहर खड़ा हुआ उनकी बातें सुन रहा था.. अपनी खाला की बातें सुन कर मैं बहुत हैरान हुआ था कि मेरी खाला कितने अरसे से मेरे लंड के साथ खेलती है ऑर मुझे पता भी नही लगता..

मेरा लंड खाला की बातें सुन कर एक बार फिर से बिल्कुल सीधा खड़ा हो गया. इतने मे मुझे पता ही नही चला कि खाला एक दम से रूम से बाहर निकली... वो शायद मुझे बुलाने के लिए निकली थी रूम से..

खाला मुझे बाहर देख कर एक दम से घबरा गई... ऑर मेरे टाइट लंड पर उनकी नज़र पड़ी.. एक मिंट के लिए खाला सोच मे गुम हो गई.. वो समझ गई थी कि मैने उनकी बातें सुन ली हैं...

मैं घबराते हुए बोला... वो खाला मैं आ रहा था. आप क्यू आई..

खाला : मैं तुम्हे बुलाने आई थी मेरी जान.. चाय ठंडी हो रही है...

मैं अपनी खाला के साथ रूम मे एंटर हुआ. ऑर खाला ने मुझे सोफे पर बिठाया.. ऑर मेरे साथ बैठ गई.. अब की बार सोबिया भी मेरी तरफ देख रही थी.. उसकी नज़र मेरी लेग्स के बीच मे ही थी. शायद वो भी ख़यालों मे मेरे लंड के बारे मे ही सोच रही थी.

सोबिया बोली: अंबर तेरा भांजा तो बहुत बड़ा हो गया है.

खाला: खाला ने मेरे गाल पर एक किस की ऑर बोली... हाँ ना मेरा भांजा बहुत बड़ा हो गया है. ये तो मेरी जान है.
Reply
08-08-2019, 01:20 PM,
#5
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
मैं आराम से चाय पीता रहा.. चाय पी कर मैं अपने रूम मे आ गया. ऑर बेड पर लेट गया.. वहाँ पर सोबिया के कपड़े एक शॉपार मे पड़े हुए थे.. मैने शॉपार को थोड़ा सा खोल कर देखा तो मुझे सोबिया का ब्रा नज़र आया..

मेरा बहुत दिल कर रहा था कि उसका ब्रा निकाल कर देखूं. मगर हिम्मत नही हो रही थी. ऑर डर भी लग रहा था कि कहीं कोई आ ना जाए. फिर मैने दिल मज़बूत कर के ब्रा निकाल ही ली.. मैं ब्रा को खोल कर देखने लगा.. मैने ब्रा को स्मेल की तो मुझे उस की स्मेल बहुत अच्छी लगी..

मेरे माइंड मे एक ख़याल आया ऑर मैने ब्रा को चुपके से अपनी पॉकेट मे डाला ऑर वॉशरूम मे आ गया..
वॉशरूम मे आ कर मैने ब्रो को पॉकेट से निकाला ऑर उसको स्मेल करने लगा.. उसकी स्मेल से मैं पागल हो रहा था.. मैने ब्रा का नंबर देखा तो उस पर 36 लिखा हुआ था.. मैं समझ गया कि सोबिया के ब्रा का साइज़ 36 है... मैं ब्रा को देखता रहा ऑर मेरा हाथ अपने लंड पर चला गया.

मैं ब्रा को हाथ मे लिए मूठ मारने लगा.. फिर मुझे ख़याल आया और मैने ब्रा को अपने लंड पर रखा ऑर फिर ब्रा को अपने लंड पर रगड़ने लगा.... मेरी साँसे तेज चल रही थी....

मैने 2 बार मूठ मारी ऑर ब्रा पर अपना पानी निकाल दिया.. अब जब कि मेरा पानी निकल चुका ऑर मैं रिलॅक्स हो गया तो मुझे ख़याल आया कि अब मैं ब्रा का क्या करूँ उसको तो धो कर वापस रखना पड़ेगा..

"वो कहते हैं ना कि जब इंसान की क़िस्मत ही खराब हो तो फिर कोई चीज़ साथ नही देती"

ठीक इसी तरह मेरे साथ भी उस टाइम हुआ..

मैने ब्रा को धोने के लिए पानी का नलका खोला तो पानी नही आ रहा था.. अब मैं परेशान हो गया.. मैने अपना पानी ब्रा पर रगड़ा ऑर फिर सोचा कि अब मेरा पानी सूख जाएगा ..

मैने सोचा था कि जब ब्रा सूख जाएगा तो फिर मैं उसके शोप्पर मे वापस रख दूंगा.. मगर जब मैं रूम मे गया तो अंबर खाला ऑर सोबिया रूम मे बैठे हुए थे.. सोबिया शायद कपड़े चेंज करने लगी थी..

मैं रूम मे एंटर हुआ तो अंबर खाला ने कहा: सोबिया, चल अयान वॉशरूम से निकल आया है अब तू जा कर कपड़े चेंज कर ले.. सोबिया ने अपना शोप्पर खोला तो मैं परेशान हो गया..

सोबिया गौर से शोप्पर को देख रही थी ऑर फिर उस ने सब कपड़े निकाल कर बेड पर रख दिए ऑर खाला से कहा कि : यार मेरा ब्रा नही मिल रहा है.

खाला: तू अपने साथ लाई ही नही होगी.

खाला के बिल्कुल भी माइंड में नही था कि मैं भी ऐसा कर सकता हूँ.

सोबिया: अरे यार मैं खुद ले कर आई हूँ. वो यहाँ उपर ही पड़ी थी.

खाला: नही यार देख, तेरे कपड़ों मे ही होगी..

सोबिया: नही है यार देख लिया है.. ऑर सोबिया फिर से कपड़ों मे ढूँढने लगी..

मैं डरा हुआ था.. मैं सोबिया की तरफ देख रहा था ऑर मुझे नही पता था कि अंबर खाला मेरी तरफ देख रही है.. मैने सोबिया की तरफ देखते हुए अपनी पॉकेट के उपर हाथ रखा ऑर उसका ब्रा पॉकेट के अंदर फील कर ने लगा..
मेरी ये हरकत अंबर खाला ने नोट कर ली..

अभी वो कुछ बात करने ही लगी थी कि सोबिया का मोबाइल फोन पर रिंग आ गई... सोबिया ने मोबाइल देखा तो उसके घर से कॉल आ रही थी..

सोबिया ने कॉल रिसीव की ऑर: हेलो

सोबिया को घर से न्यूज़ मिली कि उसके रिलेटिव्स मे किसी की डेथ हो गई है ऑर सब को वहाँ जाना है..
सोबिया परेशान हो गई.. ऑर अपने घर वालो को कहा कि """"ठीक है, मैं आ रही हूँ""""..

ये कह कर कॉल बंद कर दी.. सोबिया ने अंबार खाला की तरफ देखा तो अंबर खाला ने कहा कि कोई बात नही तू चली जा..

कुछ देर बाद मेन डोर पर दस्तक हुई मैने डोर ओपन किया तो सोबिया का भाई आया था उसको लेने के लिए..

सोबिया अपने भाई के साथ चली गई.. ऑर उसकी ब्रा मेरी पॉकेट मे ही रह गई.. मेरी पॉकेट उभरी हुई थी उसकी ब्रा की वजह से..

मैं डोर लॉक कर के आया तो खाला ने मुझे कहा: अयान, जब तुम रूम मे आए थे तो सोबिया का शोप्पर कहाँ पड़ा हुआ था.

मैं: यहाँ ही बेड पर पड़ा हुआ था..... क्यू???

अंबार खाला: हाँ वो, उसकी ब्रा नही मिल रही थी..

मैं: खाला ये ब्रा क्या होती है..

खाला मुस्कुरा पड़ी ऑर बोली: बताती हूँ

मैं रूम के डोर के पास खड़ा था... खाला मेरी तरफ आने लगी... मैं समझा कि खाला रूम से बाहर जा रही हैं..

खाला डोर की तरफ गई ऑर एक दम से वो हरकत की जिसकी मुझे ख्वाब ओ ख़याल मे भी तवक़्क़ो नही थी..

खाला ने एक दम से मेरी पॉकेट मे हाथ डाला ऑर सोबिया की ब्रा निकाल कर मुझे दिखाई ऑर बोली:

"""""ये होती है ब्रा""""""

खाला ने अचानक ही ये काम कर दिया था. जिसकी वजह से मैं एक दम डर गया. ऑर पीछे हो गया.

खाला ने मुझे गुस्से से कहा: तुम,,,, तुम ने ये ब्रा चोरी की थी सोबिया के शोप्पर से.

मैं खामोश रहा क्यू कि मेरी तो फट गई थी.

खाला: तुम इतने बड़े होगये हो कि अब तुम्हे गर्ल्स की ब्रा वग़ैरह की ज़रूरत भी पड़ने लगी.
ये तुम्हारी पॉकेट मे क्या कर रही थी
तुम इतने बड़े हो गये हो कि अब तुम्हे गर्ल्स के जिस्म की तलब होने लग गई है.

मैं: वो,, खाला आइ आम सॉरी.

खाला: क्या... सॉरी...??? क्या तुम समझते हो कि तुम्हारी ये हरकत सॉरी से ख़तम हो सकती है.
मैं तुम पर कितना ऐतबार करती थी ऑर तुम ने ऐसा किया. तुम ने मेरा ऐतबार ज़ाया कर दिया..

मैं खामोश रहा तो खाला एक बार फिर गुस्से से बोली..... बोलो, जवाब दो. खामोश क्यू हो.. हाआंणन्न्

मैं: खाला प्लेज मुझे माफ़ कर दो. मैं आइन्दा ऐसा नही करूँगा.

खाला ने ब्रा हाथ मे पकड़ी हुई थी. उनको ब्रा मे कुछ नमी नमी सी लगी.. उन्हो ने ब्रा को खोल कर देखा तो वो थोड़ी सी गीली हो रही थी.. गीली तो ब्रा ने होना ही था.. क्यू कि उस पर मेरे लंड का पानी जो गिर चुका था...

खाला: ये गीली केसे हो रही है....????

मैं: वो,,, वो मेरे हाथ से गिर गई थी... वॉशरूम मे..

खाला ने ब्रा को स्मेल कर के देखा ऑर हैरान हो गई..

खाला ने फिर मुझे गुस्से से बोला: अयान तुम,,,,, तुम ऐसी हरकत केसे कर सकते हो..

मैं: खाला मुझे माफ़ कर दो.

खाला: ये गीली केसे हो रही है.. क्या किया है तुम ने????

मैं: वो खाला मुझसे वॉशरूम मे गिर गई थी..

खाला: मेरे क़रीब आ कर गुस्से से.... तुम मुझसे एक ऑर झूट बोल रहे हो... ये वॉशरूम मे गिरी नही है.. इस पर तुम्हारे लंड का पानी निकला हुआ है..

तुम ने इस ब्रा पर मूठ मारी है..,,,

मैं दिल ही दिल मे हैरान हुआ कि खाला को लंड के पानी का पता है... मगर मैं कुछ ना बोला. क्यू कि उस टाइम खाला बहुत गुस्से मे थी.. मैं कुछ नही बोला.. बस खामोश रहा..

खाला मेरे क़रीब आई ऑर मेरा फेस उपर कर के मुझसे बोली: अयान तुम्हे ऐसी क्या ज़रूरत पड़ गई कि तुम ने ऐसी हरकत की...

मैं खामोश रहा... ऑर खाला गुस्से मे बाहर चली गई.. मैं वहाँ ही रूम मे ही खड़ा हुआ था अपनी जगह पर.. मैं बहुत शर्मिंदा था.. क्यू कि खाला ने मुझे रंगे हाथों पकड़ लिया था.....

मुझ मे हिम्मत नही हो रही थी कि जा कर खाला से बात करूँ....... मैं जा कर रूम मे बैठ गया...

कुछ देर बाद मैने फ़ैसला कर लिया कि मैं जा कर खाला से बात करूँ ऑर उन से सॉरी बोलूं..

मैं रूम से बाहर निकला तो देखा कि खाला किचन मे थी.... मैं किचन मे गया.. मेरे क़दमो की आहट से खाला ने एक नज़र मूड कर मेरी तरफ देखा ऑर फिर से अपने काम मे लग गई..... मैं जा कर खाला के पास खड़ा हो गया.. मगर खाला ने मुझ पर नज़र नही डाली ऑर मैं भी सिर झुकाए खड़ा रहा..

मैने हिम्मत कर के खाला का एक हाथ पकड़ लिया मगर मुँह से कुछ ना बोला.. खाला ने मेरी तरफ देखे बिना ही मेरे हाथ को झटक दिया ऑर मेरा हाथ पीछे कर दिया.. अभी तक हम दोनो के दरमियाँ कुछ बात चीत नही हुई थी......

खाला ने जब मेरा हाथ झटक दिया तो मेरी आँखो मे आँसू आ गये.. क्यू कि मैं भी खाला से बहुत प्यार करता था...... मैं बचपन से उसी के पास रहा था ऑर मुझे अहसास था कि मेरी इस हरकत से वो हर्ट हुई होगी..

मैने एक बार फिर से खाला का हाथ पकड़ा ऑर खाला ने फिर मेरे हाथ से अपना हाथ छुड़ा लिया... मैं एक दम नीचे बैठ कर खाला के पाँव पकड़ लिए..

मैं: खाला प्लीज़ मुझे मारो. बहुत पिटाई करो मेरी.... मगर मुझसे नाराज़ ना हो.. मगर खाला ने मुझे उठा कर पीछे कर दिया.. वो सच मे मुझसे नाराज़ हो रही थी.... क्यू कि अगर वो भी मुझसे सेक्स करना चाहती थी. मगर वो भी बर्दाश्त नही कर सकती थी कि मैं किसी ऑर लड़की की तरफ जाऊ...

मुझे रोना आ गया.. ऑर मैं रो पड़ा... खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर मुझे नरम लहजे मे कहा कि अयान यहाँ पर गर्मी है.. तुम रूम मे जा कर लेटो.. मैं आती हूँ. वहाँ ही बात करेंगे.... लेकिन खाला के लहजे से सॉफ पता लग रहा था कि वो गुस्से मे है ऑर मुझसे नाराज़ है.....

मेरी आँखो मे अभी भी आँसू थे... मैं खामोश सा किचन से बाहर निकलने लगा.. खाला मूड कर मेरी तरफ ही देख रही थी...

मैं रूम की तरफ जाने की बजाए मैं डोर की तरफ जाने लगा...

खाला ने मुझे पीछे से आवाज़ दी ऑर बोली: आयाआअन्न्न्न्न,, कहाँ जा रहे हो.. मगर मैने पीछे मूड कर नही देखा ऑर ना ही खाला की बात का कोई जवाब दिया..

मैं मेन डोर तक पहुँचने ही वाला था कि खाला मेरे पीछे पीछे भागती हुई आई ओर मुझे पकड़ लिया... ऑर पूछा:

खाला: बाहर कहाँ जा रहे हो??

मैं: खामोश रहा.. ऑर मेरी आँखों मे आँसू थे..

मेरी आँखों मे आँसू देख कर खाला ने मेरा हाथ पकड़ा ऑर मुझे ज़बरदस्ती रूम मे ला कर बिठा दिया.. ऑर मेरे साथ ही बेड पर बैठ गई... ऑर मुझे देखने लगी.. मगर मैने अपना सिर झुकाया हुआ था....

खाला: गुस्से से.. ये क्या बात हुई कि ग़लती भी तुम ने ही की है.. ऑर ये बताओ कि तुम घर से बाहर कहाँ जा रहे थे..

मैं: मैं अपने घर जा रहा था..

खाला: क्यू जा रहे थे तुम अपने घर हाआआआआअन्न्णेणन्....

तुम ने ग़लती की है. अब मैं तुमसे नाराज़ भी नही हो सकती क्या???

मैं : रोते हुए.. खाला आप बेशक मेरी पिटाई कर लो.. मुझे थप्पड़ मारो.. मगर मुझसे नाराज़ ना हो प्लीज़.. मैं आपकी नाराज़गी बर्दाश्त नही कर सकता............प्लज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़....

मैने खाला के सामने हाथ जोड़ दिए.. खाला की आँखों मे भी आँसू आ गये.. ऑर उन्हो ने मुझे एक दम से अपने सीने से लगा लिया....

खाला: अयान तुम्हे पता है ना कि मैं तुमसे कितना प्यार करती हूँ..

मैं: खाला के सीने से लगा हुआ था मगर खामोश था...

खाला: मैं नही चाहती कि तुम किसी ऑर लड़की के पास जाओ..

जब खाला ने ये बात की तो मैने सिर उठा कर खाला की तरफ देखा.. उनकी आँखों मे भी आँसू थे...

मैं: खाला मैं भी आपसे बहुत प्यार करता हूँ... आप मुझसे नाराज़ नही हो ना...

मैने खाला के आँसू सॉफ किए.. क्यू कि ये तो सच था कि मैं उसकी आँखों मे आँसू नही देख सकता था...

मैने जब खाला के आँसू सॉफ किए तो खाला ने मेरे गाल पर किस की.. ऑर फिर दूसरे गाल पर किस की... ऑर बोली:

अच्छा अब नाराज़गी ख़तम हो गई है. अब ये बात डीस्कस्स नही होगी... ऐसे बिहेव करना है कि जेसे कुछ हुआ ही नही..

मैने खुशी से खाला के गाल पर किस कर दी... खाला भी मुस्कुराने लगी.. ऑर कहा कि तुम ने बदला पूरा नही किया..

मैं: कॉन सा बदला

खाला: मैने तुम्हे 2 किस की थी ऑर तुम ने मुझे सिर्फ़ 1 ही किस की.....

मैने कहा कि चलो मैं बदला पूरा कर देता हूँ..

मैं आगे हुआ ऑर खाला के एक गाल पर किस की ऑर फिर दूसरे गाल पर किस की...

उसके बाद मैने वैसे ही खाला के माथे पर भी किस की...

मैने प्यार भरे अंदाज़ मे खाला के माथे पर किस की तो खाला बहुत खुश हो गई.....

फिर वो मेरे बालों मे फिंगर्स मूव कर के मुझे बोली::: अच्छा थोड़ा सा काम रह गया है.. मैं काम ख़तम कर के आती हूँ....

खाला रूम से बाहर जाने लगी तो मैं भी उनके पीछे पीछे आया ऑर खाला का हाथ पकड़ लिया ऑर उनके साथ ही किचन मे आ गया..
Reply
08-08-2019, 01:20 PM,
#6
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
किचन मे आ कर खाला आटा गूंधने की तैयारी करने लगी... किचन मे ऐसी जगह भी थी कि खाला खड़े हो कर आटा गूँथ सकती थी.. मगर खाला ने मुनासिब समझा के फ्लोर पर बैठ कर आटा गूँथने लगी..

उस वक़्त खाला ने दुपट्टा नही लिया हुआ था... खाला जब बैठी थी तो उस टाइम मैं खाला के साथ ही खड़ा हुआ था...

खाला के बैठ ने की वजह से मुझे उसके मम्मे नज़र आने लगे थे... खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर कहा: तुम भी बैठ जाओ..

मीयन: नही मैं ऐसे ही ठीक हूँ..

खाला मुस्कुराने लगी... ऑर आटा गूँथने लगी....

खाला आटा गूँथ रही थी ऑर मैं उसके मम्मे देख रहा था.. उनके हाथ जब जब हिलते तो उनके मम्मो को भी हल्का हल्का झटका लगता..

मुझे उस टाइम खाला के मम्मे बहुत अच्छे लग रहे थे...... आटा गूँथते हुए खाला के बाल उनके फेस पर आने लगे

खाला अपने हाथ की बॅक साइड से बाल पीछे कर देती.. क्योंकि उनके हाथ पर आटा लगा हुआ था...

2,, 3 बार उनके बाल उनके फेस पर आए जिन्हे खाला ने पीछे कर दिया...

ऐसे ही बाल पीछे करते हुए खाला के हाथ पर लगा हुआ आटा उनके माथे (फोर्हेड) पर लग गया... ऑर कुछ आटा एक दम से उनके मम्मों पर गिर गया... ऑर उस मे थोड़ा सा आटा उनके मम्मो की दरमियानी लकीर (क्लीवेज) मे चला गया...

खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर बोला कि: अयान,,,, मेरे हाथों मे आटा लगा हुआ है... प्लीज़ ज़रा इधर आओ ऑर ये माथे पर से आटा सॉफ कर दो...

मैं आगे बढ़ा ऑर खाला के माथे पर से आटा सॉफ कर दिया... खाला ने अपने मम्मो की तरफ देखते हुए कहा...

प्लीज़ ज़रा ये भी सॉफ कर दो..

मैने खाला की आँखे मे देखा तो खाला बोली: अरे जल्दी से साफ करो ना ता कि मैं जल्दी फ्री हो जाऊ....

मैं आगे बढ़ा ऑर खाला के मम्मों के ऊपर से आटा सॉफ किया.. मेरा हाथ जब खाला के मम्मों पर टच हुआ तो मेरे लंड मे हरकत हुई....

जिसे शायद खाला ने महसूस कर लिया..

जब मैने खाला के मम्मो के उपर से आटा सॉफ कर लिया तो खाला थोड़ा सा हिलने लगी....

मैं: क्या हुआ...???

खाला: अरे यार एक तो क्या करूँ इस का???

मैं: हुआ क्या.. ये तो बताएँ...

खाला: यार ये थोड़ा सा आटा मेरी कमीज़ के अंदर चला गया है.. अयान प्लीज़ हेल्प मी.. ज़रा बाहर तो निकाल दो ये आटा..

मैं: एम्म्म,,, मैं,,,, मैं कैसे निकालूं...

खाला: अरे यार तुम देख तो रहे हो कि मेरे हाथ आटे के हो रहे हैं... हेल्प करो...

मैं: मगर..............

खाला: अगर मगर क्या कर रहे हो.. मैं तुम्हारी खाला भी हूँ ऑर दोस्त भी

मैं झिझकते हुए खाला के ऑर भी क़रीब हो गया.. ऑर उनकी क्लीवेज मे उंगली मारी.. मगर आटा तो शायद थोड़ा नीचे हो गया था..

मैने जैसे ही खाला की क्लीवेज मे उंगली मारी तो खाला के जिस्म मे हल्की सी हरकत हुई..ऑर इधर मेरा लंड खड़ा हो गया...

पोज़िशन कुछ यूँ थी कि खाला नीचे फ्लोर पर बैठी हुई थी ऑर मैं उनके उपर झुक कर खड़ा हुआ था.. ऑर मेरा हाथ उनकी क्लीवेज मे था... ऑर मेरा लंड खाला के फेस के क़रीब था ऑर उस मे हल्की हल्की हरकत हो रही थी.. जिसे खाला बखूबी देख रही थी..

मैं उंगली से आटा निकालने की कोशिश कर रहा था तो खाला ने कहा के:::: यार शरमाओ नही.. जल्दी से हाथ डाल कर आटा सॉफ कर दो...

देखो पहले ही इतनी गर्मी है.. मैं तंग हो रही हूँ आटे से...

मैने खाला के क्लीवेज मे हाथ डाला.... उनके मम्मे इतने नरम नरम थे जैसे कि रूई... मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.. ऑर शायद खाला भी एंजाय कर रही थी.. क्योंकि उनके फेस पर स्माइल थी...

आटा तो थोड़ा सा था.. मगर वो खाला के हरकत की वजह से उनके मम्मो पर लग चुका था... अब मैने खाला के एक मम्मे की साइड को हाथ मे लिया ऑर सॉफ करने लगा था..

खाला ने ब्रस्सिएर नही पहना था... मैं पहली बार किसी लड़की के मम्मो को हाथ लगा रहा था.. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.. ऑर मेरा लंड अब पूरी तरफ तैयार हो चुका था..

मैं खाला के मम्मो को रगड़ रहा था... आटा तो बहाना था.. मैं अब खाला के मम्मो से खेल रहा था..

खाला: अरे मेरे ख़याल मे दूसरी तरफ लगा हुआ है आटा तो मैं खाला के राइट माममे पर अपने हाथ मूव करने लगा.. इस तरह मेरा हाथ खाला के निपल पर भी लगा तो खाला को एक दम से झटका लगा ऑर उनकी साँसे तेज होने लगी....

मैं खाला के मम्मो से अच्छी तरफ खेलने लगा.. जब मुझे लगा कि अब बर्दाश्त नही होगा तो मैने अपना हाथ बाहर निकाल लिया..
Reply
08-08-2019, 01:21 PM,
#7
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
जैसे ही मैने हाथ बाहर निकाला तो खाला ने कहा कि शायद आटा सीने पर से होता हुआ पेट (टमी) तक पहुँच गया है..

अयान ज़रा प्लीज़ मेरी कमीज़ उपर करना... मैने खाला की कमीज़ थोड़ी सी उपर की तो मुझे उनकी टमी नज़र आने लगी..

खाला ने खारिश करने के बहाने अपने टमी पर हाथ लगाया तो हाथों मे लगा हुआ आटा उनके टमी पर भी लग गया...

खाला: लो,,,,, पहले वाला सॉफ नही हुआ ऑर अब ये भी लग गया.. अयान प्लीज़ सॉफ कर दो जानू

मैं खाला की टमी पर से आटा सॉफ करने लगा... मुझे उनकी टमी पर भी हाथ फेरने मे बहुत मज़ा आ रहा था ऑर मेरा लंड भी बार बार झटके मार रहा था...

मुझसे बर्दाश्त नही हुआ तो मैने जल्दी से पेट सॉफ किया ऑर कमीज़ नीचे कर दिया... क्योंकि एक वर्जिन लड़के के लिए इतना सब भी बहुत ज़्यादा होता है..

मैं जैसे ही सीधा खड़ा हुआ तो खाला ने मेरे लंड की तरफ देखा तो हंस पड़ी.. ऑर मुझे बोली

खाला:: लगता है कि तुम बहुत ज़्यादा एग्ज़ाइटेड हो गये थे..

मैं: नही,,, नही तो..

खाला ने मेरे लंड की तरफ इशारा किया,,, तो फिर ये क्या है...

मैने अपने खड़े हुए लंड की तरफ देखा तो शरम के मारे मुझे कुछ समझ नही आया ऑर मैं भी मुस्कुरा कर किचन से बाहर जाने लगा तो मुझे अपने पीछे खाला की हँसी की आवाज़ सुनाई दी...

खाला ने आवाज़ लगाई.. मैं आ रही हूँ.. फिर तुम्हे पूछती हूँ अच्छाआआआआआअ....

मैने पीछे मूड कर देखा तो खाला ने मुझे एक आँख मारी ऑर मैं भी हंस पड़ा...

मैं किचन से निकल कर सीधा टी.वी लाउंज मे आया टी.वी ऑन कर लिया... मगर मुझे टी.वी देखने मे मज़ा नही आ रहा था.. मैं अभी तक अपने हॅंड्ज़ पर खाला के मम्मो की नर्मी फील कर रहा था.. खाला के माममे बहुत नरम नरम थे.. मेरा लंड उस टाइम खड़ा हुआ था.. मैने बहुत कोशिश की कि किसी तरह मेरा लंड बैठ जाए मगर ये साहिब तो बैठ ने का नाम ही नही ले रहे थे.. दरअसल मेरे लंड की भी तो कोई ग़लती नही थी ना..... क्योंकि खाला का जिस्म था ही इतना सॉफ्ट कि अगर मर्द जितना भी शरीफ हो.. बस एक बार मेरी खाला को बिना दुपट्टे के देख ले तो उसकी सारी शराफ़त ख़तम हो जाएगी.

अब मैं सोच रहा था कि खाला को कैसे चोदा जाए.. क्योंकि मुझे तो सेक्स करना भी नही आ ता था.. मैने पॉर्न मूवीस देखी हुई थी मगर रियल मे तो कभी नही किया था किसी के साथ..

मेरी नज़रें तो टी.वी की तरफ थी मगर मेरा माइंड खाला की तरफ ही था.. मैने अपना हाथ लंड पर रखा ऑर आहिस्ता आहिस्ता लंड को मसल्ने लगा... मैने अपनी आँखे बंद की ऑर अपनी शलवार के उपर से ही मूठ मारने लगा... मेरी आँखे बंद थी ऑर मेरी ख़याल मे खाला का नंगा जिस्म घूम रहा था.... मेरी साँसे तेज होने लगी थी ऑर मुझे पसीना आने लगा था.. मैं चाहता था कि जल्दी से मेरे लंड का पानी निकले ऑर मेरे जिस्म को सकून मिले.. मगर लंड साहिब तो आज कुछ ज़्यादा ही जवानी दिखा रहे थे..... मैं तेज तेज मूठ मार रहा था... जब मुझे लगा कि मैं डिसचार्ज होने वाला हूँ तो मैने मूठ मारने की स्पीड तेज कर दी... ऑर मेरे मुँह से एक दम से ही निकला.... उफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ खााआआआाअलल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्लाआआआआआआआआअ तुम्हाआआआअरर्र्रृिईई चूऊऊऊवटतत्टटतत्त माअरर्र्ररुउुउउन्न्ञणन्.................

मैने अपनी शलवार के अंदर ही अपने लंड का पानी छोड़ दिया था.. ऑर मेरा जिस्म कुछ हल्का सा हो गया..

मैं सोफे पर बैठा हुआ था.. सोफे की बॅक साइड पे दीवार थी मगर दीवार और सोफे के बीच मे तक़रीबन 3 फीट का गॅप था..

जब मेरी शलवार मे ही लंड का पानी निकल गया ऑर मेरा जिस्म हल्का हल्का सा हो गया... मेरी सिक्स्त सेन्स ने कहा कि शायद रूम मे मेरे अलावा भी कोई ओर है... मैने ऐसे ही आँखे खोली.. मगर मेरे सामने तो मुझे कुछ नज़र ना आया... मैं सोफे पर से उठ कर खड़ा हो गया ऑर वॉशरूम की तरफ जाने लगा....

मैं जैसे ही सोफे पर से उठा.. मैने ज़रा सा पीछे घूम कर देखा तो सोफे की बॅक साइड पर खाला दीवार से लग कर खड़ी हुई थी.. उनकी आँखे लाल हो रही थी.. ऑर वो मुझे ही देख रही थी....

पोज़िशन कुछ यूँ थी कि मैं अपना लंड हाथ मे लिए हुए खड़ा था.. ऑर खाला मुझे ही देख रही थी....

मैं एक बार फिर डर गया... ऑर अब मैने सोचा कि "अयान बेटा अब तो बचने के कुछ चान्स नही है.... क्योंकि सुबह से ये 3र्ड टाइम हो गया था... जब मेरी ग़लत हरकत पकड़ी गई थी...

ऑर सब से बड़ी बात तो ये थी कि मैं डिसचार्ज होते हुए जो बकवास कर चुका था.. क खाला तुम्हारी चूत मारू अब मुझे उन वर्ड्स का रिज़ल्ट का पता लग रहा था.. क्योंकि सॉफ ज़ाहिर था कि खाला ने मेरे मुँह से वो वर्ड्स सुन लिए हों गे...

खाला ने मुझे कुछ ना कहा ऑर खाला के मुँह से भी आवाज़ नही निकल रही थी...

खाला ने मुझे कुछ देर तक देखा ऑर मैं खाला को देख रहा था.
फिर खाला बोली:

वो वो,,, वो मैं तुम्हे खाने पर बुलाने के लाइ आई थी.... तुम जा कर चेंज कर लो.. ऑर नहा लो.. मैं खाना लगाती हूँ. फिर खाना खाते हैं...

मैं हैरान रह गया कि खाला ने मुझे कुछ कहा क्यू नही..... ऑर खाला ऐसे बिहेव कर रही थी कि जैसे उनकी चोरी पकड़ी गई हो... मगर फिर मेरे माइंड मे ख़याल आया कि क्या खाला मुझे मूठ मारते हुए देख रही थी?????? क्या खाला मेरे पीछे खड़ी हो कर खुद भी उंगली कर रही थी?????????

फिर मेरे फेस पर एक स्माइल आ गई ऑर मेरा 2न्ड ख़याल मुझे ठीक लगने लगा... ऑर शायद खाला मेरे पीछे खड़े हो कर उंगली ही कर रही थी... जब मैने एक दम से पीछे देखा था तो खाला घबरा गई थी..

मैं यही सब कुछ सोचते सोचते वॉशरूम की तरफ चल पड़ा... ऑर वहाँ से अपना ट्राउज़र पहन कर किचन मे खाला के पास चला गया.... खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर एक स्माइल पास की... ऑर मुझे कहा कि "अयान प्लीज़ हेल्प करो मेरी खाना लगाने मे...

मैने उनके हाथ से कुछ बर्तन लिए ऑर डाइनिंग टेबल पर ले जा कर रख दिए... खाला भी आ गई ऑर फिर खाला ने एक ही प्लेट मे सालन डाला.. ऑर पहला लुक़मा खाला ने खुद ही मेरे मुँह मे डाला.. मैं खुश हो गया..

खाला मेरी तरफ प्यार भरी नज़रो से देख रही थी ऑर मैं भी दिल ही दिल मे खुश हो रहा था कि खाला ने मेरी इस हरकत का बुरा नही माना था... फिर मैने भी खाला को एक लुक़मा खिला दिया... इसी तरह एक लुक़मा वो मुझे खिलाती ऑर मैं एक लुक़मा खिलाता... हम ने खाना ख़तम किया....

खाला किचन मे बर्तन वाघेरा रख कर आई तो मुझे टी.वी लाउंज मे पाया...

खाला: अयान मैं तो थक गई हूँ. मैं सोने जा रही हूँ.. अगर तुम्हे भी सोना हो तो फिर आ जाना..

ये कह कर खाला अपने रूम मे चली गई जो मेरा ऑर उनका कंबाइन रूम था...

मैने भी टी.वी ऑफ किया ऑर खाला के पीछे पीछे कमरे मे आ गया... जब मैं कमरे मे आया तो खाला अपने कपड़े निकाल रही थी अपनी कपबोर्ड मे से...

खाला ने मेरी तरफ देखा ऑर कहा....... तुम्हारा ये ट्राउज़र तो शायद गंदा था... मैं तुम्हे दूसरे कपड़े निकाल कर दे दूं????

मैं: मगर मैं तो अपने घर से ज़्यादा कपड़े लाया ही नही था...

खाला: देखो गर्मी है.. अगर तुम गंदे कपड़ों मे रहो गे तो तुम्हे अलेर्जी हो जाए गी.. एक काम करो.. तुम ये ट्राउज़र भी उतार दो.. ऑर कोई टोवल या चादर लपेट लो.. मैं तुम्हारे ये कपड़े धो कर डाल देती हूँ.. शाम तक सूख जाएँ गे...

मैं: मगर टवल कैसे लपेट लूँ..

फिर खाला ने मुझे अपना एक दुपट्टा दिया ऑर बोली: लो ये लपेट लो.. टोवल भी गरम होता है.. तुम्हे गर्मी लगे गी उस मे...

मैने खाला से दुपट्टा लिया ऑर दूसरे रूम मे जा कर ट्राउज़र उतार दिया ऑर दुपट्टा लपेट लिए... ऑर अपना ट्राउज़र भी खाला को ला कर दे दिया..

खाला ने मुझसे ट्राउज़र लिया ऑर बोली.... एक तो तुम ये बार बार कपड़े बहुत गंदे कर देते हो ऑर स्माइल मारी...

मैं कुछ ना बोला... मैं एक दुपट्टे मे था.. मैं सोच रहा था कि मेरा लंड तो बार बार खड़ा हो जाता है... अगर इस दुपट्टे मे ये खड़ा हो गया तो फिर तो साफ साफ नज़र आएगा...

खाला मेरे कपड़े वाघेरा सर्फ मे भिगो कर वापस रूम मे आ गई थी.. खाला ने अपने कपड़े निकाले ऑर रूम से बाहर चली गई.. मैने रूम के दरवाज़े के पास आ कर देखा तो खाला वॉशरूम मे एंटर हो रही थी.. मैं समझ गया कि खाला नहाने गई है..

मैं वापस आ कर बेड पे लेट गया ऑर खाला के बारे मे ही सोचने लगा... मैं सोच रहा था कि मैं खाला से कितना प्यार करता हूँ.. ऑर खाला भी मुझसे कितना प्यार करती हैं..

मैं इन्ही सोचो मे गुम था कि खाला कुछ देर बाद रूम मे एंटर हुई... मैने जब खाला की तरफ देखा तो देखता ही रह गया.. .क्योंकि खाला जो लग रही थी ना.. कमाल लग रही थी. खाला ने वाइट कपड़े पहने हुए थे.. रेशमी कपड़े थे ट्रॅन्स्परेंट टाइप के.. खाला का ब्रा भी सॉफ ऑर क्लियर नज़र आ रहा.. ब्रा तो छोड़ो मुझे खाला का पूरा जिस्म सॉफ नज़र आ रहा था.. ऑर उपर से खाला का गीला जिस्म.... वो रेशमी कपड़े भी खाला के जिस्म से चिपके हुए थे....
Reply
08-08-2019, 01:21 PM,
#8
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
मेरी नज़रें तो जैसे खाला से चिपक गई थी.. खाला ने मेरी नज़रो को समझा तो खाला बोली.. अयान,,,,,, क्या देख रहे हो..

मैं सटपटा गया ऑर बोला: खाला आप बहुत प्यारी लग रही हो..

खाला: अच्छा मैं कैसे प्यारी लग रही हूँ. अभी तो मैं तैयार भी नही हुई..

मैं: खाला आप इन कपड़ो मे बहुत प्यारी लग रही हो.. ये कलर आप पर बहुत सूट कर रहा है.. मगर एक प्राब्लम है..

खाला: प्राब्लम???? केसी प्राब्लम ऑर खाला अपना कपड़ों की तरफ देखने लगी....

मैं: ये कपड़े बहुत ट्रॅन्स्परेंट हैं... सब कुछ नज़र आ रहा है..

खाला: क्या नज़र आ रहा है..... सिर्फ़ ब्रा ही नज़र आ रही है ना.. ऑर ब्रा तो तुम पहले ही देख चुके हो.. ऑर ब्रा से काफ़ी एंजाय भी कर चुके हो..

मैने शरम के मारे सिर झुका लिया ऑर खाला हँसने लगी....

फिर खाला मेरे पास आ कर बेड पर लेट गई.. ओर मैं खाला को देखता रहा ऑर खाला मुझे देखती रही..

मैं बेड पर खाला के साथ लेटा हुआ था. पर हम दोनो एक दूसरे को देख रहे थे.

खाला: यार मैं तो बहुत ज़्यादा थक गई हूँ.

मैं: खाला आप थोड़ा रेस्ट कर लो. आज आप ने अकेले ही सारे घर का काम किया है. थकना तो लाज़मी था.

खाला: ह्म्म मुझे हल्की हल्की नींद आ रही है.

खाला: अयान, जान एक काम करो गे..

मैं: जी,, बोलो.

खाला: जान ज़रा मेरा सिर दबा दो. सिर मे बहुत दर्द हो रहा है.

मैने कहा ठीक है. मैं खाला के सिरहाने बैठ गया ऑर उनका सिर दबाने लगा..

खाला की आँखें खुमार था. उन्हे नींद आ रही थी. मैने खाला की आँखे मे देखा तो उनकी आँखे लाल हो रही थी.

मैं: खाला मैं आप का सिर दबा रहा हूँ.. आप सो जाओ..

खाला के फेस पर हल्की सी स्माइल आई ऑर उन्होने मेरे हाथ पकड़ कर उस पे किस की..

खाला: थॅंक्स मेरी जान..

मैने खाला के गाल पर एक किस की. तो खाला ने मुझे एक स्माइल पास की ओर अपनी आँखे क्लोज़ कर ली.

मैं उनका सिर दबा रहा था. तक़रीबन 10 मिंट तक मैं खाला का सिर दबाता रहा.

फिर मैने खाला को हल्की सी आवाज़ दी... खाला... खाला....

खाला ने मेरी बात का कोई जवाब नही दिया. मैं समझ गया कि वो सो गई है.

मैं भी उनके साथ ही लेट गया ऑर लेटे लेटे उनका सिर दबाने लगा... सिर दबाते दबाते मुझे पता नही क्या हुआ ऑर मैं खाला के फोर्हेड पर हाथ फेरने लगा..

फोर्हेड पर हाथ फेरने के बाद मैने डरते डरते खाला के फोर्हेड पर किस कर दी..

मुझे डर भी लग रहा के कहीं वो जाग ना जाए.

जब मैने उनके फोर्हेड पर किस की तो मैने एक दम से उनके फेस की तरफ देखा.. मगर उनका फेस उसी तरह नॉर्मल था.

मुझे यक़ीन हो गया कि खाला सच मे सो रही है.. क्योंकि ऐसा हो ही नही सकता कि एक लड़की जाग रही हो. ऑर एक लड़का उसके इतने क़रीब हो एक दूसरे की गरम गरम साँसे आपस में मिल रही हों ऑर लड़की के फेस एक्सप्रेशन्स चेंज ना हो.

मैने अपना यक़ीन पक्का करने के लिए खाला के गाल पर किस की...

खाला को कुछ भी फील नही हो रहा था. अब मुझे पक्का यक़ीन हो गया कि वो सो रही हैं.

मैं उनके पास ही लेट गया ऑर उनको देखने लगा.. मेरी खाला सोते हुए बहुत प्यारी लग रही थी. बहुत मासूम सी..मुझे अपनी खाला पर बहुत प्यार आ रहा था.. ऐसा लग रहा था कि जैसे कोई परी उड़ते उड़ते थक गई हो ऑर फिर वो नींद की आगोश मे चली गई हो..

मेरी खाला बहुत खूबसूरत थी या फिर शायद मेरे प्यार की नज़र मे वो दुनिया की सब से हसीन लड़की थी..

खाला के बारे मे सेक्स फीलिंग्स से पहले भी मेरी खाला मेरे लिए ऐसी ही थी. बहुत प्यारी मेरी दोस्त भी ऑर खाला भी... बट सेक्स फीलिंग्स के बाद तो वो मुझे ऑर भी प्यारी लग रही थी..

मैं खाला को सोते हुए देख रहा था. ऑर सोच रहा था कि काअस्स्स्स्शह अगर ये मेरी खाला ना होती तो मैं इन से शादी कर लेता....

ये सोचते सोचते एक ख़याल आया कि क्या हुआ अगर शादी नही हो सकती तो... शादी वाले काम तो हो सकते हैं ना... ये ख़याल आते ही मेरे फेस पर एक स्माइल आ गई..

मैने खाला के राइट गाल पर हाथ रखा ओर उनके सॉफ्ट सॉफ्ट गाल फील करने लगा... मैं उनके फेस पर हाथ फेरने लगा.. तब मेरी नज़र उनके लिप्स पे पड़ी.. उनके पतले पतले गुलाबी होन्ट बहुत अच्छे लग रहे थे.. मैने अपनी एक उंगली उनके लिप्स पर टच की ऑर देखा के खाला को कुछ भी फील नही हुआ तो उस से मेरी हिम्मत बढ़ गई.

मैं खाला के लिप्स पर अपनी उंगली मूव करने लगा.. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. दिल कर रहा था कि अभी उनके होंठो का सारा रस चूस लूँ.. मगर डर भी तो लग रहा था..

मैं अपने जज़्बात पर क़ाबू नही कर पाया ऑर मैं ने अपना सिर उपर उठा कर अपने लिप्स उनके लिप्स पर एक या 2 सेकेंड के लिए रख दिए.

जिस से खाला के जिस्म मे हल्की सी हरकत हुई तो मैं एक दम से सीधा हो कर लेट गया..

खाला ने नींद मे ही हरकत की थी. ऑर मेरे उपर हाथ रख दिया. एक पल के लिए मुझे लगा कि शायद खाला जाग गई है. मगर मेरा अंदाज़ा ग़लत साबित हुआ. खाला सो रही थी ऑर ये हरकत भी उन्होने नींद मे की थी...
Reply
08-08-2019, 01:22 PM,
#9
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
अब खाला का हाथ मेरे उपर था. ऑर खाला ने मेरी तरफ करवट ली हुई थी. मैने खाला का हाथ अपने उपर पड़े रहने दिया ऑर खाला के उपर हाथ रख दिया ऑर उनको हग कर लिया.

जब मैने खाला को हग किया तो उनके बूब्स मेरे साथ टच हो रहे थे. मैं थोड़ा सा पीछे हुआ ऑर उनके बूब्स को देखने लगा..

उनके 36 साइज़ के बूब्स ब्लॅक ब्रा मे क़ैद बहुत खूबसूरत लग रहे थे.. मैने खाला की आँखो की तरफ देखा तो वो तो गहरी नींद मे थी ऑर सो रही थी..

मैं थोड़ा सा उपर हुआ ऑर खाला के लिप पर हल्की सी किस की.. जब कोई रेस्पॉन्स ना मिला तो मैं आहिस्ता आहिस्ता खाला के लिप्स पर किस करने लगा... मेरी ये किस ज़्यादा से ज़्यादा 3 सेकेंड की होती थी.... क्योंकि मुझे डर भी था कि कहीं खाला उठा ना जाएँ.. जब मैने कोई 10 बार किस कर ली तो मैने अपनी ज़ुबान निकाल कर खाला के लिप्स से टच की...

मुझे अब ज़ुबान टच करते हुए मज़ा आ रहा था. ऑर उधर मेरा लंड खड़ा हो गया था....

मैने लेग्स पर खाला का दुपट्टा लपेटा हुआ था.. जिस से मेरा खड़ा लंड साफ तोर पर नज़र आ रहा था...

मैं अब लंड को सुलाने की फिकर मे लग गया ऑर अब मेरा मूठ मारने का कोई इरादा भी नही था. क्योंकि मैं सुबह से 2 बार मूठ मार चुका था......

मैं खाला के साथ लेट गया ऑर अपना सिर उनके सीने पर रख दिया.. खाला की हार्ट बीट मुझे सुनाई दे रही थी.... मैने खाला को टाइट हग किया ऑर उनके जिस्म की खुश्बू को सूंघने लगा.. मुझे उनकी खुश्बू से कुछ कुछ होने लगा..

मैं एक बार फिर थोड़ा सा पीछे हुआ... ऑर खाला के बूब्स को देखने लगा... मैने हिम्मत कर के खाला के बूब्स के उपर हाथ रख ही दिया ऑर अपनी आँखे क्लोज़ कर ली..

मैं ये ज़ाहिर कर रहा था कि मैं सो रहा हूँ.. मगर दूसरी तरफ से कोई हरकत ना हुई..... मैने हिम्मत कर के खाला के एक बूब को हल्का सा दबाया. मेरे दबाने से खाला के जिस्म मे हल्की सी हरकत हुई तो मैने अपनी आँखे बंद कर दी... खाला ने अपनी आँखे खोल कर मुझे देखा ऑर मेरी बंद आँखो को देख कर खाला समझी कि मैं सो रहा हूँ. तो खाला ने मुझे हग कर लिया ऑर मेरा सिर अपने सीने पर रख दिया...मेरा फेस उनकी कमीज़ के गले के उपर नंगे सीने पर था...

मैं उनके जिस्म को स्मेल करने लगा..... उनके जिस्म को स्मेल करते करते मुझ पर भी नींद छाने लगी ऑर मैं भी खाला को हग कर के नींद की आगोश मे चला गया

मैं जब खाला के साथ चिपक कर सोया हुआ था तो उस टाइम 1 बज रहा था.. मैं तक़रीबन 2 घंटे सोया था तो मेरी आँख खुल गई थी.... मैने खाला की तरफ देखा तो वो अभी तक सो रही थी.. शायद वो बहुत ज़्यादा थक गई थी......


मैने वॉल क्लॉक पर टाइम देखा तो 3:30 हो रहे थे.. मगर मुझे रूम मे कुछ अंधेरा अंधेरा सा लगा.. दोपहेर का टाइम था ऑर रूम की लाइट तो ऑफ थी.. मगर दिन के टाइम धूप की वजह से रूम मे रोशनी होती है.. मुझे वो रोशनी कम लग रही थी..

मैं रूम से बाहर निकला ऑर सहन मे आ कर देखा तो आसमान पर बादल छाए हुए थे ऑर ठंडी हवा चल रही थी.. मौसम बहुत प्यारा हो गया था ओर बारिश होने के आसार थे... मैं सहन मे ही चारपाई पर बैठ कर हवा को एंजाय करने लगा..

मैं कुछ देर वहाँ बैठा रहा तो माइंड मे ख़याल आया कि क्यू ना खाला को भी उठा दिया जाए ता कि वो भी मोसम एंजाय कर सके..... ये सोचते ही मैं रूम की तरफ गया, खाला अभी भी सो रही थी.. मुझे उन पर बहुत प्यार आया ऑर मैने झुक कर खाला के गाल पर एक किस की.. ऑर उनको हल्का सा हिलाया..

खाला ने नींद मे एक करवट ली ऑर आहिस्ता आहिस्ता अपनी आँखे खोल दी.. पहले तो वो कुछ देर नींद की खुमारी मे रही.. मैने एक बार फिर से आवाज़ दी तो खाला नींद की खुमारी से बाहर निकली ओर मुझे अपने सामने खड़ा हुआ पाया.. उन्होने मुझे देख कर एक स्माइल पास की ऑर मेरी तरफ देख कर बोली:

खाला: क्या हुआ जान, मुझे क्यू जगा दिया..

मैं: खाला, देखो बाहर इतना प्यारा मोसम हो रहा है.. चलो बाहर चल कर एंजाय करते हैं

खाला: नही यार मुझे नींद आ रही है..

मैं: ओहो खाला अब उठ तो गई हो.. चलो ना बाहर जा कर बैठ ते हैं...

ये बोल कर मैने खाला का हाथ पकड़ा ऑर उनको बाहर ले आया.. खाला बाहर निकली तो उनको भी मोसम बहुत अच्छा लगा...

खाला: अयान, रियली यार मोसम तो बहुत अच्छा हो रहा है..

मैं: हाँ जी इसी लिए तो आप को जगाया है मैं ने..

खाला: अयान क्यो ना आज आइस क्रीम खाने चलें...

मैं: हाँ, हाँ चलो... क्यू नही..

खाला ने कहा ओके मैं तैयार हो कर आती हूँ. ऑर ये बोल कर वो कपबोर्ड से कपड़े निकालने चली गई ऑर कपड़े ले कर निकली तो नहाने के लिए चली गई..

जब खाला नहा कर निकली तो मैने खाला से कहा कि आप हल्का सा मेकप भी कर लो.. खाला ने स्माइल पास की ऑर बोली.... क्यू जी, मैं मेकप क्यू कर लूँ...

मैने कहा कि मेकप मे अच्छी लगो गी..

खाला: तो क्या मैं मेकप के बिना अच्छी नही लगती..

मैं: खाला जान, ये बात नही है.. आप मेकप करो या ना करो.. आप तो मुझे दुनिया की सब से हसीन लड़की लगती हो.. आप बहुत अच्छी लगती हो मुझे.. आइ लव यू खाला

खाला: अच्छााआअ,,, ऐसी क्या बात है मुझ मे..

मैं: ज़रूरी तो नही है कि अच्छा लगने के लिए कोई वजह हो.. बिना किसी वजह के ही आप मुझे अच्छी लगती हो..

खाला: अच्छा ये बताओ, तुम्हे मुझ मे क्या अच्छा लगता है,???????

मैं खाला की बात सुन कर थोड़ा सा सटपटा गया कि अब क्या जवाब दूं खाला को...

मैने एक मिंट के लिए सोचा ऑर बोला: मुझे आप का सब कुछ बहुत अच्छा लगता है...

खाला: सब कुछ मे क्या क्या?????

वो शायद मुझे टीज़ करने का प्रोग्राम बनाए बैठी थी..

मैं: सब कुछ मे तो सब कुछ आ जाता है ना.. आप के बालों, आँखे, चीक्स एट्सेटरा एट्सेटरा

खाला: ऑर क्या क्या????

मैं: शरमाते हुए.. सब कुछ ना

ओर मैं उठ कर वॉशरूम जाने लगा तो खाला ने मेरा हाथ पकड़ लिया ऑर मुझसे बोली...

खाला: तुम ऐसे नही जा सकते,,,, पहले मेरी बात का जवाब दो....

मैं: अंजान बनते हुए,, कौनसी बात का...??????

खाला: यही कि तुम्हे मुझ मे क्या क्या अच्छा लगता है..????

मैं: बताया तो है कि मुझे आप का सब कुछ अच्छा लगता है.. बल्कि आप मुझे पूरी की पूरी अच्छी लगती हो...

खाला: यही तो मैं पूछ रही हूँ कि क्या क्या अच्छा लगता है....

खाला ने मेरा हाथ पकड़ा हुआ था.. ऑर वो मेरी तरफ देखते हुए हल्के गुस्से से बोली..

देखो अयान तंग ना करो ऑर सच सच बोलो कि तुम्हे मुझ मे क्या क्या अच्छा लगता है.. वरना मैं नाराज़ हो जाउन्गी...

मैं: देखो खाला.... मुझे आप के बाल बहुत अच्छे लगते हैं.. आप के सिल्की सिल्की बाल मुझे बहुत अच्छे लगते हैं ऑर जब आप नहा कर बाहर निकलती हो तो मुझे आपके बालों की स्मेल बहुत अच्छी लगती है..
Reply
08-08-2019, 01:22 PM,
#10
RE: Muslim Sex Stories खाला के संग चुदाई
खाला शायद अपनी पूरी तारीफ सुन,ने के मूड मे थी.. वो मुस्कुराते हुए..

खाला: ऑर....????

मैं: मुझे आप की आँखे भी बहुत अच्छी लगती है.. जब आप नहा कर निकलती हो तो आप की आँखे लाल होती हैं.. बिल्कुल ऐसा लगता है कि आप नशे मे हो.. ऑर इन नशीली आँखों मे डूब जाने को दिल करता है..


मैं एक फिल्मी हीरो की तरफ फिल्म के डाइयलोग मार रहा था ऑर खाला मेरा डाइयलोग सुन कर हँसने लगी... ऑर पूछा..


खाला: अच्छा ऑर भी बताओ ना..

मैं: अगर ऑर बताया तो आप नाराज़ हो जाओगी ...

खाला: अरे नही नाराज़ होती..

मैं: प्रॉमिस...?????

खाला: अरे य्ाआआरररर,,, चलो प्रॉमिस बाबा...

ये बोल कर खाला ने मेरी तरफ दूसरा भी हाथ बढ़ाया ऑर मैने उनका हाथ पकड़ लिया..

मैं: खाला मुझे आप के ये पतले पतले होन्ट (लिप्स) बहुत अच्छे लगते हैं..

खाला के फेस एक मासूम मुस्कुराहट आई..

खाला: क्यू ऐसा क्या है मेरा होंठो मे..

मैं: खाला पता नही बस मुझे आप के ये होन्ट बहुत अच्छे लगते हैं... दिल करता है कि इनको भी एक बार किस करूँ....

खाला ने मेरी बात सुनी तो बहुत हैरान हुई.. ऑर फिर प्यार भरे अंदाज़ मे बोली:

खाला: तो क्या हुआ अगर तुम चाहते हो तो तुम किस भी कर सकती हो.. तुम तो मेरी जान हो..

मैं: शरमाते हुए.. नही खाला बस छोड़ो , मैं तो ऐसे ही बोल रहा था..

खाला: नही...... अब तो तुम मुझे मेरे लिप्स पर किस करो गे....

ऑर ये बोल कर खाला ने अपना फेस मेरे फेस के बिल्कुल क़रीब कर लिया ऑर बोली: लो,,,, किस करो इनको...

मैने आज से पहले कभी किसी लड़की को किस नही की थी.. ये मेरी फर्स्ट किस थी जो मैं अभी करने वाला था..

मेरा गला खुश्क हो गया था.. मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे के सेहरा ( रेगिस्तान ) मे भागता रहा हूँ ऑर बहुत प्यास लगी है.. मैं अपने लिप्स पर ज़ुबान फेरने लगा..

दिल तो कर रहा था कि अभी खाला के होंठो का सारा रस चूस लूँ मगर पता नही क्यू,, मुझ मे हिम्मत नही हो रही थी.....

मैं तो खुद भी यही चाहता था कि खाला के लिप्स को चूसू मगर अब जब खाला खुद मुझे बोल रही थी तो मुझ से नही हो पा रहा था.. मैने बहुत हिम्मत पैदा करने की कोशिश की मगर नही कर पाया...

खाला मेरी तरफ देखते हुए बोली: अरे क्या देख रहे हो.. अभी तो बोल रहे थे कि किस करना चाहते हो.. ऑर अब, जब कि मैं खुद तुम्हे बोल रही हूँ तो तुम नही कर रहे हो...

खाला: चलो मैं अपनी आँखे बंद कर लेती हूँ फिर तुम मुझे किस करो..

ये बोल कर खाला ने अपनी आँखे बंद कर ली... मैने हिम्मत की ऑर खाला के लिप्स के क़रीब अपने लिप्स ले कर गया.. ऑर खाला के लिप्स पर अपने लिप्स रख कर एक दम से हटा दिए.. कोई 2 सेकेंड तक के लिए मैने लिप्स रखे थे..

खाला ने झट से अपनी आँखें खोली ऑर मुझे कहा: ये क्या????????

मैने कुछ नही कहा क्योंकि मेरी तो आवाज़ ही नही निकल रही थी..

खाला ने मेरी हालत को नोट किया ऑर मेरा हाथ पकड़ कर रूम मे ले आई, ऑर मुझे बेड पर बिठा दिया ऑर खुद मेरे साथ ही बैठ गई.... खाला ने बहुत प्यार भरे अंदाज़ मेरे बालों मे उंगलियाँ मूव की ऑर बोली...

खाला: तुम्हे तो किस करना भी नही आती.. क्या पहले कभी किसी को किस नही की...

मैं: मैने अपना सिर नही मे हिला कर इनकार किया..

खाला: तो पहले नही की तो क्या हुआ.. आगे तो कोई ना कोई गर्ल फ्रेंड तुम्हे मिल जाए गी तो उसको तो करोगे ना...

मैने सिर उठा कर खाला की तरफ देखा मगर मुँह से कुछ नही बोला..

खाला: चलो मैं तुम्हे किस करना सिखाती हूँ..

मैं: नही खाला अभी नही... फिर कभी.. क्योंकि सोचने ऑर रियल मे करने मे बहुत फ़र्क़ होता है.. ऑर जब कि आप का फर्स्ट टाइम हो तो फिर आप कुछ कर ही नही सकते....

खाला: नही अभी ही...

मैने थोड़ी बहुत बहस की मगर फिर खामोश हो गया.. खाला मेरी खामोशी को समझ गई ऑर मेरा हाथ पकड़ के अपने क़रीब किया...

खाला ने मेरे दोनो हाथ पकड़ के अपनी कमर पर रखे ऑर अपने दोनो हाथ मेरी कमर पर रखे...

वो अपने फेस को मेरे क़रीब लाती गई ऑर मुझे पसीना आ रहा था.. खाला मेरी आँखे मे देखती देखती अपने फेस को स्लोली स्लोली मेरे फेस के क़रीब ला रही थी..

खाला की साँसे मुझे फील होने लगी थी ऑर मेरे बॉडी टेंपॅरेचर हाइ होने लगा था.. नीचे शलवार मे हल्की हल्की सी हरकत होने लगी थी..

खाला अपने लिप्स को मेरे लिप्स के क़रीब लाई...

ऑर मेरे लिप्स पर अपने लिप्स रख दिए.

खाला ने जैसे ही मेरे लिप्स पर अपने लिप्स रखे. मैने अपनी आँखे क्लोज़ कर लीं.

खाला को भी शायद ठीक तरह से किस्सिंग नही आती थी. वो अपने लिप्स को मेरे लिप्स पर स्लोली स्लोली रगड रही थी.. हम दोनो की आँखे बंद थी. वो कभी मेरे अपर लिप को अपने लिप्स मे ले कर चूस्ति ऑर कभी मेरे लोवर लीप को.. मैने अपनी आँखे एक लम्हे के लिए खोली तो देखा कि खाला की आँखे क्लोज़ थी... मुझ पर अब सेक्स का नशा चढ़ने लगा था.

नीचे शलवार मे मेरे लंड साहिब पूरी तरह खड़े हो गये थे. ऑर मेरा लंड खाला की थाइस को टच कर रहा था.. ये पहली बार ऐसा हुआ था क्य जागते हुए मेरा लंड खाला से टच हो रहा था.. उन्होने भी मेरे खड़े लंड को महसूस कर लिया ऑर थोड़ा क़रीब हो गई.

मैं खाला की थाइस से अपने लंड को रगड़ने लगा जिसकी वजह से मुझ पर मुकम्मल तौर् पर सेक्स का नशा छा गया.

मुझे किस्सिंग करनी तो नही आती थी मगर जो कुछ पॉर्न मूवीस मे देखा वोही अप्लाइ करने का सोचा..

मैं भी खाला के लिप्स पर अपने लिप्स रगड़ने लगा उधर वो भी मुकम्मल तौर पर मेरा साथ दे रही थी.... मैने खाला के अपर लिप्स को अपने लिप्स मे लिया ऑर चूसने लगा... मेरी इस हरकत पर खाला ने भी मुझे जल्दी जल्दी किस्सिंग स्टार्ट कर दी..

मेरा लंड मुकम्मल तौर पे खड़ा हो गया था ऑर मैं खाला की थाइस से अपना लंड मुसलसल रगड़ रहा था..

खाला ने मेरी कमर से एक हाथ हटाया ऑर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी लेग्स के बीच मे पुश कर दिया.. इसके बाद उन्होने फिर से मेरी कमर पर हाथ रखे ऑर मेरी कमर को अपनी तरफ पुश करने लगी.. मैने भी अपना लंड खाला के लेग्स के बीच मे पुश किया जिसकी वजह से मेरा लंड उनकी चूत को लगने लगा..

मैं अपना लंड बार बार खाला के लेग्स के बीच मे पुश करता.. ऑर खाला के लिप्स को चूस्ता रहा. फिर मैने अपनी ज़ुबान से खाला के मुँह पर दस्तक दी.... पहले तो खाला नही समझी.. मगर जब मैने अपनी ज़ुबान खाला के मुँह मे पुश करने लगा तो खाला ने अपना मुँह खोल दिया. ऑर मैं अपनी ज़ुबान उनके मुँह के अंदर मूव करने लगा... मेरे मुँह का थूक खाला के मुँह मे जा रहा था ऑर उनके मुँह का थूक मेरे मुँह मे आ रहा था...

मेरा लंड खाला की चूत को टच हो रहा था. मैं अपने लंड को बार बार उनकी लेग्स के अंदर पुश कर रहा था... जब मेरा लंड खाला की चूत के एंड वाले हिस्से पर लगा तो खाला ने अपनी लेग्स बंद कर ली.... ऑर मेरे लंड को अपनी चूत पर टाइट कर लिया.....

किस करते करते मुझे ऐसा फील हुआ कि शायद मेरा लंड हल्का हल्का गीला हो रहा है.. मैं समझा कि शायद मैं फारिघ् हो गया हूँ...

मगर मेरा लंड अभी भी टाइट था ऑर खाला की लेग्स आहिस्ता आहिस्ता ओपन होने लगी ऑर खाला की साँसे तेज होने लगी.
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star Desi Sex Kahani दिल दोस्ती और दारू sexstories 155 8,847 Yesterday, 02:01 PM
Last Post: sexstories
Star Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम sexstories 46 41,856 08-16-2019, 11:19 AM
Last Post: sexstories
Star Hindi Porn Story जुली को मिल गई मूली sexstories 139 24,816 08-14-2019, 03:03 PM
Last Post: sexstories
Star Maa Bete ki Vasna मेरा बेटा मेरा यार sexstories 45 51,631 08-13-2019, 11:36 AM
Last Post: sexstories
Thumbs Up Incest Kahani माँ बेटी की मज़बूरी sexstories 15 18,551 08-13-2019, 11:23 AM
Last Post: sexstories
  Indian Porn Kahani वक्त ने बदले रिश्ते sexstories 225 82,274 08-12-2019, 01:27 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna तूने मेरे जाना,कभी नही जाना sexstories 30 42,741 08-08-2019, 03:51 PM
Last Post: Maazahmad54
Lightbulb Rishton Mai Chudai गन्ने की मिठास sexstories 100 78,935 08-07-2019, 12:45 PM
Last Post: sexstories
  Kamvasna कलियुग की सीता sexstories 20 17,730 08-07-2019, 11:50 AM
Last Post: sexstories
Thumbs Up Kamvasna धन्नो द हाट गर्ल sexstories 269 98,822 08-05-2019, 12:31 PM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 4 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


land par uthane wali schoolsexvideobedroom me chudatee sexy videoGokuldham ki chuday lambi storyKutte se chudwake liye mazewww.maa-muslims-ke-rakhail.comraj sharma stories सूपाड़ाMene bete ke liye saheli fasai टॉप 50 बिपाशा बसु Hat xxx Indian Telugu nudesexvidieosmere dada ne mera gang bang karwayaBhainsa se bur chudairajpoot aurat chodi,antarwasnaकटरीना के अदमी पिया दुध चूसा बौबा bur me kela dalkar rahne ki sazaileana d cruz का बूर का फोटोsodhi ne hathi ko chodaSexbabaHansika motwani.netनागडी पुच्चीअालिया भटा कि चुत कि फोटोसsonakshi sinha nude fucking gif sexbabaxxx anty mom chodti hindi videoxxxzx.manciyseSunny Leone sex baba new thread. Comxossipy divyankaek ldki k nange zism ka 2 mrdo me gndi gali dkr liyaमंगलसूत्र वाली इडियन भाभी के हाट बडे बूब्सMolvi ki patni sexbaba.netrandi chumna uske doodh chusna aur chut mein ungli karne se koi haniXxx video Hindi deci muthi nokrani .k samne.pornराज शर्मा की गन्दी से गन्दी भोसरा की गैंग बंग टट्टी पेशाब के साथ हिंदी कहानियां45 saal ki aurat aur bete ki chudai kahani khet me ghamasanchhoti kali bur chulbulijuhi chawla ki chut chudai photo sex babayoni se variya bhar aata hai sex k badxBOMBO sex videosचाडी,मनीशा,सेकसी,विढियोup xnxx netmuh me landbosdhe ma lund secsi chahiyeचाची की चुतचुदाई बच्चेदानी तक भतीजे का लंड हिंदी सेक्स स्टोरीज सौ कहानीयाँtelgu anti xxx imgewww.भाई ने बहन से बोला एक बार चुदवालो विडीयों रियल मे. comsuhagrat gand se letring na xxxricha.chada.bara.dudh.bur.nakd."chydai" story hindiVelamma the seducer episodewww.sexbaba.net/Thread-hin...riya deepsi sex babachut mei diye chantePtikot penti me nahati sexDeewane huye pagal Xxx photos.sexbabaNoida Saxi hd Hindi video jinsh wali girl 2019 kiMaa uncle k lund ko pyar karwww mastaram net category rishto me chudai page 66Sexi video anokha desixxsocata.hu ketni.masum rekoton4 sahl ki Daughterssex video गतांक से आगे मा चुदाईbhijlelya sadi xxx sexnetukichudaiदिया मिरजा bfsexkonsa xxx dikhake bibi ko sex ke liye raziपुच्चीत मुसळRadwap xxx full HD video download biwi ke samne soti Hui Se Alag Kisi Aur ki chudai Karta bedTai ji ne mujhe bulaya or fir mujhse apni chudai karwaiBhabhe ko sasur ne jabrdaste choda porn bideobollywood actress sexbaba stories site:mupsaharovo.ruरिश्तेदार की शादी मे मुझे ओर भाभी को रंडी की तरह तोदा मेहमानो नेNude tv actresses pics sexbabasurbhi boj xxx imejesindian badi mami ko choda mere raja ahhh chodo fuck me chodAkhiyon Ke bade bade doodh wali blue film full sexyमस्त भाबी की चुदाई विडियो बोलती हुई राजा और जोर से धक्का लगाओ मजा आ रहा है