Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
07-04-2018, 01:01 PM,
#21
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 22
”दरअसल बात ये है टीना की योगेश की हम सभी बहनों में माधुरी से ही ज्यादा नीभती है कोई अगर उन दोनों को आपस में बातें करते देख ले तो गर्लफ्रेंड-बाय्फ्रेंड ही समझेगा भाई बहन नहीं और मैं तो लगभग रोज ही उन्हें इस बारे में डाँट्ति भी हूँ और माधुरी भी जब तक घर पर होती है उसका ज्यादातर वक्त योगेश के साथ ही गुजरता है ऐसे में मुझे नहीं लगता की हमें मौका मिलेगा योगेश को पटाने का” मनीषा ने अपनी चिंता जाहिर की
”देख मनीषा वैसे तो मुझे वहाँ के हालत के बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं है वो तो वहाँ जा कर ही मालूम पड़ेंगे पर जैसा तू बता रही है वैसा है तो कहीं वो दोनों पहले ही तो चुदाई नहीं कर चुके है?” टीना बोली
”नहीं नहीं ऐसा नहीं है वो दोनों भले ही आपस में कितना भी खुले हो पर चुदाई जैसी कोई बात नहीं है, बस मुझे उनकी नज़दीकियो से डर लगता है बस” मनीषा बोली
”अगर वो दोनों पहले ही चुदाई ना कर चुके हो तो तू चिंता मत कर मैं सब संभाल लूँगी, ओके” टीना बोली
मनीषा को इस बात का पूरा यकीन था की आज तक भी योगेश और माधुरी ने ऐसा कोई कम नहीं किया है इसलिए उसकी चिंता गायब हो गई और वो रेलेक्स नज़र आने लगी और शरारती मुस्कान के साथ टीना से बोली ”तो तू भी अब तैयारी कर ले ना रात के लिए”
”मुझे क्या तैयारी करनी है?”टीना ने पूछा
”अरे बाबा रात को तू राहुल से अपनी ‘गांड’ मरवाने वाली है ना तो सोच कितना दर्द होगा उस दर्द को सहने के लिए तुझे अभी से ही कुछ करना होगा वरना तू वो दर्द सहन कैसे कर पाएगी” मनीषा ने उसे चीढ़या
”तू उसकी चिंता मत कर उसका इलाज है मेरे पास, भैया के कमरे में हमेशा ही शराब रखी रहती है रात को मैं भी एक पेग मर लूँगी तो सब ठीक हो जाएगा” टीना बोली
”तू शराब भी पीती है” मनीषा ने हैरानी से उसे देखा
”रेग्युलर नहीं पर कभी कभार मस्ती में एकाध पेग लगा लेती हूँ भैया के साथ” टीना बोली
”बहुत बिगड़ गई है तू” कह कर मनीषा ने उसे एक चपत लगाई
टीना हँसने लगी और फिर उनमें इधर उदर की बातें होने लगी शाम को राहुल भी घर आ चुका था फिर सभी लोग डिनर के लिए इकट्ठा हुए जहां मनीषा लगातार मुस्कुराते हुए राहुल को घुरे जा रही थी और राहुल उसके ऐसे घूरने से बड़ा ही असहज महसूस कर रहा था, टीना ने भी ये सब देखा और वो भी राहुल के मजे लेती रही फिर सभी लोगों ने खाना खाया और कुछ देर बातें करने के बाद सभी अपने अपने रूम में चले गये……
दोनों ही बहने अपने रूम में आगाई थी टीना आते ही बाथरूम में घुस गई और नहा के नंगी ही बाहर आगाई उसे इस हालत में देख कर मनीषा का मुंह खुला का खुला ही रही गया टीना के मादक बदन को देख कर वो भी एक्शैटेड होने लगी कितने बारे बारे बूब्स थे ट्यूना के और उनके नीचे सपाट पेट पर गहरी नाभि ”हाय” उसके नीचे पतली कमर और भारी भारी चिकनी जांघें, जांघों के जोड़ पर क्लीन शवेद चिकनी और फूली हुई चुत जैसे कोई डोबुल रोती रखी हो उसके पीछे उसकी बड़ी सी गांड जो की आज फटने वाली थी भारी चूतड़ जो की आसामानया रूप से बाहर की ओर निकले हुए थे ऐसे की आधा लंड तो उनकी दरार में ही चुप जाए मनीषा चुपचाप टीना को घुरे जा रही थी.
टीना बाथरूम से आते ही टावल उठा कर अपने शरीर को अच्छे से पोछने लगी फिर उसने वो सब कुछ इस्तेमाल किया जो एक लड़की अपने बॉयफ्रेंड के पास जाते वक्त इस्तेमाल करती है और उसने ब्रा, पैंटी नहीं पहनते हुए सिर्फ़ एक झीनी सी नाइटी पहन ली जो की सिर्फ़ उसके नंगे चुतड़ो को ही ढँक पा रही थी पूरी तरह तैयार हो कर उसने घड़ी देखी रात के 9.30 हो चुके थे.
”अभी तक मेसेज नहीं आया बहँचोड़ का” टीना बड़बड़ाई
”ये तू किसे गली बक रही है” मनीषा उसे गली बकते देख हैरानी से बोली
”उसी बहन के लंड राहुल को जो आज मेरी गांड फाड़ने वाला है”टीना बोली
”तू अपने भाई को ऐसी गंदी गलिया बकती है तुझे शर्म नहीं आती”मनीषा ने उसे झिड़का
मनीषा की बात सुन कर टीना हँसने लगी और बोली ”देख मनीषा मुझे गली बकने का कोई सौक नहीं है ये भैया की ही जिद है की जब भी हम चुदाई करे तब गलियों और गंदे शब्दों का खूब इस्तेमाल करे इस से और ज्यादा मजा आता है चुदाई में, और अब मैं भी आजआंटी चुकी हूँ सच में बहुत मजा आता है ऐसा करने में इसी लिए मैं अभी से गलियाँ बक कर मैं अपने आपको तैयार कर रही थी”
मनीषा स्तब्ध सी टीना को देखे जा रही थी और सोच रही थी उसे कितना कुछ सीखने को मिल रहा है इस बार टीना से तभी टीना के मोबाइल पर मेसेज टोन बाजी टीना ने झट से मेसेज ओपन किया वो मेसेज राहुल का ही था उसमें लिखा था ”ही जान, लगता है की मनीषा के रहते हुए शायद हमें कुछ दिन ऐसे ही गुजरने होंगे इसलिए गुड नाइट” टीना ने भी रिप्लाइ किया ”तुम मनीषा की चिंता मत करो बस बाथरूम का अपने साइड का दरवाजा खुला रखो मैं कुछ देर में हूँ आ रही हूँ” कुछ देर बाद फिर राहुल का मेसेज आया ”ओके दरवाजा खोल दिया है”
अब टीना ने अपने आप को मिरर में फिर से देखा और मनीषा से बोली ”चल तैयार हो जा लाइव चुदाई देखने के लिए” और वहाँ रखी एक कुर्सी उठा कर बाथरूम की ओर चल दी मनीषा भी उसके पीछे चल दी बाथरूम में आकर टीना ने कुर्सी वहाँ रखी और मनीषा के कोन से मुंह लगाकर उसे धीमे स्वर में समझने लगी की आगे उसे कैसे करना है फिर मनीषा को सब समझा कर वो राहुल के रूम में चली गई……

टीना को देखते ही राहुल ने उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसके होंठ चूमने लगा टीना भी उसका साथ देते हुए उसके लंड को कपड़ों के ऊपर से ही अपनी मुट्ठी में भींचने लगी तभी राहुल ने अपना एक हाथ टीना की गांड पर रख दिया और उसके कूल्हे दबाने लगा और एकाएक ही अपनी एक उंगली उसकी गांड में घुसेड़ दी टीना ने पैंटी नहीं पहनी थी और नाइटी भी बहुत झीनी थी सो उंगली गांड में ही घुस गई उंगली गांड में जाते ही टीना चिटक कर राहुल से दूर हो गई और बोली ”साले गान्डू बहँचोड़ अपनी बहन को चोद कर भी तुझे चैन नहीं मिलता जो उसकी गांड के पीछे लगा रहता है”
”आबे साली रंडी, साली चुदाक्कड़ तेरी गांड है ही इतनी प्यारी की मेरा लंड समझने से भी नहीं समझता है और उसमें घुसने को ही करता है जब तू मुझसे चुत मरवा सकती तो गांड मरवाने में तेरी मां क्यों चुदती है” राहुल बोला
”चल साले भादु पहले एक पेग बना फिर तेरे लिए एक सर्प्राइज़ गिफ्ट है अगर लेना चाहता है तो जल्दी कर” टीना बोली
राहुल उत्ता और दोनों के लिए ही पेग बना कर लाया और नॉर्मल वे में टीना से बोला ”मनीषा सो गई है क्या”
टीना ने उसकी बात का कोई जवाब नहीं दिया और पेग लिया और आंखें बंद कर के एक सांस में ही पेग खत्म कर दिया राहुल आंखें फाड़े टीना को देखे जा रहा था ”ऐसे क्यों पी रही हो आराम से पियो जल्दी क्या है” वो बोला
”भैया मुझे अभी एक पेग और पीना है ताकि नशा ज्यादा हो जाए इसलिए मैंने इसे जल्दी खत्म कर दिया है तुम भी जल्दी से खत्म करो मैं तुम्हें बाहों में भरना चाहती हूँ”टीना भी अब नॉर्मल बातें कर रही थी
राहुल ने जल्दी से अपना पेग खत्म किया जैसे ही राहुल ने गिलास नीचे रखा टीना उसके गले से लग गई और उसके कोन के पास फुसफुसते हुए बोली ”भैया मैं तुम्हें कुछ बता रही हूँ जिसे सुन कर तुम किसी भी प्रकार का रिएक्शन नहीं करना और बाथरूम की तरफ भी मत देखना, भैया वो क्या है ना मनीषा हमें देख रही है” उसकी बात सुनकर राहुल चौंका पर उसने अपने चेहरे पर कोई भी भाव नहीं आने दिए उधर मनीषा भी इन दोनों को देख रही थी पर वो ये नहीं समझ पाई की दोनों बातें कर रहे है उसे यही लगा की दोनों एक दूसरे के गले लगकर प्यार कर रहे है ”हाँ भैया वो बाथरूम में बैठी हमारी लाइव चुदाई देखेगी मैंने उसे अपने बारे में सब बता दिया है और उसी के कहने पर मैं आपको आज सबसे बड़ा गिफ्ट देने वाली हूँ तो प्लीज़ भैया आप ये भूलकर की मनीषा यहाँ बैठी है सब वैसे ही करना जैसे आप पहले करते थे ओके” टीना बोली
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 22
Reply
07-04-2018, 01:01 PM,
#22
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 23
राहुल ने गर्दन हिला दी उसे अजीब सी एक्शाटमेंट हो रही थी उसे ऐसा लग रहा था जैसे वो चुदाई का शो करने जा रहा हो उसके हाथ अब टीना के भारी नितंबों पर पहुँच गये टीना की नाइटी उसकी गांड की दरार में घुस गई थी और उसकी लाइन में नली सी बन गई थी राहुल अब उस नली में उंगली घुआंटी रहा था और उसका लंड खड़ा हो कर टीना की नाभि के पास चुभ रहा था थोड़ी देर बाद टीना उससे अलग हुई और अपनी नाइटी उतार दी अब वो पूरी नंगी थी उसे ऐसे देख कर राहुल ने भी अपने कपड़े उतार दिए और पूरा नंगा हो गया जैसे ही मनीषा की नज़र राहुल के लंड पर पड़ी उसके मुंह से आ सी निकल गई उसने अपने लोवर के अंदर उंगली डाल ली और अपनी चुत को सहलाने लगी
”तो आज मेरी रंडी बहन क्या गिफ्ट दे रही है अपने बहँचोड़ भाई को” राहुल बोला
”आज मैं अपने बहँचोड़ भाई को वो गिफ्ट दूँगी जिसके लिए पता नहीं वो कब से मारा जा रहा है”टीना राहुल को आँख मरते हुए बोली
”आख़िर वो गिफ्ट है क्या” राहुल झल्ला कर बोला
टीना पलट कर खड़ी हो गई अब उसकी पीठ और उसके बारे बारे चूतड़ राहुल के सामने थे अचानक वो टाँगे फैला कर नीचे झुक गई जिससे उसकी गांड पूरी तरह ओपन हो कर राहुल के सामने आगाई राहुल टीना की गांड का छेद फटी हुई आंखों से देखने लगा
”देख लो भैया अपने गिफ्ट को अच्छे से लो आज मैं तुम्हें गिफ्ट में अपनी गांड दे रही हूँ तुम अब इसके साथ कुछ भी कर सकते हो” टीना बोली
राहुल को अपने कानों पर भरोसा ही नहीं हो रहा था उसे लग रहा था के जैसे उसके कोन बज रहे हो उसका मुंह खुला का खुला ही रही गया था
”क्या हुआ भैया तुम कुछ बोलते क्यों नहीं, क्या मेरा गिफ्ट अच्छा नहीं लगा” ट्यूना बोली
”मैं इसके साथ कुछ भी कर सकता हूँ, इसे मर भी सकता हूँ”राहुल टीना के ठीक पीछे खड़े होते हुए बोला
”हाँ भैया ये आज से आपकी है आप इसे मर भी सकते है और फाड़ भी सकते है” टीना वैसे ही झुके झुके बोली
राहुल ने अपने हाथ टीना की गांड पर रखे और टीना के बारे बारे चटाद सहलाने लगा उसका लंड भी अब टीना की गांड के छेद पर टकराने लगा था अपनी गांड पर लंड टकराने से टीना बहुत ज्यादा एक्शैटेड हो गई थी उसकी चुत भाल भाल पानी चुदने लगी थी उधर ये सीन देख कर मनीषा की भी बुरी हालत हो गई थी और वो अपनी चुत में तेजी से उंगली करने लगी अब राहुल टीना की गांड की दरार में उंगली फिरने लगा था ऐसा करने से टीना को अजीब सी गुदगुदी लग रही थी मजे के मारे उसकी आंखें बंद हो गई थी तभी उसने राहुल का हाथ अपनी चुत पर महसूस हुआ अब राहुल ने अपनी एक उंगली टीना की चुत में डाल दी और ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करने लगा टीना को ऐसा लगा जैसे वो झड़ने वाली हो तभी राहुल ने अपनी उंगली टीना की चुत से निकली और उसकी गांड में घुसेड़ दी अचानक हुए इस हमले को ट्यूना सह नहीं पाई उसकी टाँगे मूंड़ गई और वो घुटनों के बाल बैठ कर झड़ने लगी उधर मनीषा भी ये लाइव सीन देख कर अपने आप को रोक नहीं पाई और अपनी चुत में तेजी से उंगली करते हुए वो भी झाड़ गई.
इधर राहुल भी अब टीना के सामने आकर घुटनों के ऊपर बैठ गया और टीना के होंठ चूसने लगा और बोला ”मुझे अपनी गांड गिफ्ट करने के थॅंक्स टीना, मैं कब से इसमें अपना लंड डालने के लिए तड़प रहा था”
”थॅंक्स मुझे नहीं मनीषा को बोलिए भैया जिसने इस सब के लिए मुझे तैयार किया है” टीना मनीषा को सुनते हुए बोली
मनीषा की हालत खराब हो गई की कहीं वो उसके बारे में राहुल को ये ना बता दे की वो बाथरूम में बैठी हुई ये सब देख रही है
”उसे भी बोल दूँगा बाद में पहले थी तेरा ही नंबर है” कह कर उसने ज़ोर से टीना की चुचियां दबा दी
”आहह…. भैया धीरे करो ना दर्द होता है, चलो अब दूसरा पेग बनाओ थोड़ा हार्ड ताकि गांड मरवाने में मुझे ज्यादा तकलीफ ना हो” कह कर टीना उठी और बेड पर बैठ गई राहुल पेग बनाने लगा तभी टीना ने बाथरूम की ओर देखा उसकी नज़रे मनीषा से मिली तो वो मुस्करा दी मनीषा भी मुस्कुराईं अब राहुल पेग ले कर आ गया था और टीना के सामने खड़ा हो गया जिससे उसकी पीठ मनीषा के सामने हो गई थी टीना ने पेग लिया और फिर से एक ही बार में खत्म कर दिया और मनीषा की ओर देखते हुए राहुल का लंड पकड़ लिया और बोली ”हाय भैया कितने दिन हो गये आप का केला चूसे हुए” और नीचे बैठ कर राहुल का लंड चूसने लगी उसे लंड चूसते हुए देख कर मनीषा अपने होठों पर जीभ फिरने लगी अब वो फिर से गरम हो गई थी कुछ देर तक टीना राहुल का लंड चूसते रही तो राहुल बोला ”अगर तुम ऐसा ही करते रही तो मैं अपना गिफ्ट कब लूँगा”
उसकी बात सुन कर टीना जो की नशे में तुंन हो चुकी थी बोली ”चल साले भद्दे बहुत जल्दी हैईना तुझे अपनी बहन की गांड मरने की तो ले मर ले”
राहुल उत्ता और जा कर एक तेल की बोतल उठा लाया और अपने लंड पर अच्छे से तेल मलने लगा उसे ऐसा करते देख टीना बेड पर चढ़ कर घोड़ी बन गई और अपना मुंह तकिया से लगा लिया जिससे उसकी गांड और भी बाहर आगाई राहुल भी अब बेड पर आ चुका था और वो अब टीना की गांड पर तेल लगाने लगा उसके हाथ के स्पर्श से टीना सिहर उठी उसकी गांड का छेद धीरे धीरे खुलने बंद होने लगा अब राहुल ने अपनी एक उंगली में तेल लिया और वो उंगली टीना की गांड में आगे पीछे करने लगा चूँकि टीना को पहले से भी उंगली की आदत थी तो उसे कोई फर्क नहीं पड़ा पर मनीषा की हालत देखने वाली हो गई थी उसने अपना लोवर नीचे कर लिया और एक हाथ से अपने बूब्स मसलते हुए अपनी चुत में गपगाप उंगली पेलने लगी इधर राहुल अब गांड मरने के लिए पूरी तरह तैयार हो चुका था
”तू तैयार है मैं शुरू करने वाला हूँ” वो अपना लंड गांड के मुंह पर सेट करते हुए टीना से बोला
”हाँ भैया मैं तैयार हूँ”कह कर टीना ने तकिया अपने मुंह में भर लिया और बेडशीट पर उसकी पकड़ सख्त हो गई वो दर्द सहने के लिए पूरी तरह तैयार हो चुकी थी
अब राहुल ने टीना की छोटी पकड़ी और दूसरा हाथ उसकी कमर में डालते हुए एक ज़ोर का धक्का दिया ”आहह….माँ…….मर…गैिईईईई…….रीईए…..”की आवाज़ टीना के मुंह से निकली और राहुल का आधा लंड टीना की गांड में घुस गया टीना की चीख सुन कर मनीषा तर्रा उठी उसका उंगली करता हुआ हाथ वहीं रुक गया और वो एकटक टीना को ही देखने लगी
”आहह……..भैया रुक जाओ प्लीज़ जैसे हो वैसे ही रहो बहुत दर्द हो रहा है” टीना बोली उसे बहुत दर्द हो रहा था उसका दिल थी कह रहा था की राहुल लंड को तुरंत बाहर निकल ले पर वो जानती थी की जब गांड मरवाना ही है तो दर्द तो सहन करना ही पड़ेगा इस लिए उसने राहुल से लंड निकालने को नहीं कहा अब धीरे धीरे उसका दर्द कुछ कम हुआ तो वो बोली ”भैया अब जितना भी लंड बाहर है एक ही बार में अंदर घुसा दो ताकि बार बार दर्द ना हो” उसकी बात सुन कर राहुल ने तेल उठा कर बाहर बचे हुए लंड पर लगाया और थोड़ा सा लंड बाहर खिच कर एक जोरदार धजाक्का लगाया जिससे पूरा लंड गांड में घुस गया टीना के होठों से फिर एक घुटि घुटि सी चीख निकली क्योंकि उसने तकिया अपने मुंह में तुसा हुआ था जैसे ही लंड पूरा अंदर गया राहुल फिर रुक गया टीना धीरे धीरे अपने आपको संभालने लगी उधर मनीषा आंखें फाड़े ये सब देख रही थी
कुछ देर बाद टीना का दर्द कम हुआ तो उसने राहुल को धक्के लगाने का इशारा किया ट्यूना की गांड टाइट होने से राहुल को भी धक्के लगाने में परेशानी हो रही थी उसका लंड फँसा फँसा सा धीरे धीरे अंदर बाहर होने लगा थोड़ी देर बाद गांड अच्छे से खुल गई थी और टीना का दर्द भी लगभग खत्म हो गया था अब वो भी गांड पीछे धकेल कर लंड अंदर लेने लगी थी अब राहुल भी अपने धक्को की बढ़ता काफी बढ़ा चुका था ‘खच खचकी आवाजें सारे कमरे में गूँज रही थी उधर मनीषा भी अपनी चुत में गाचा गछ उंगली चलाने लगी थी
”मर बहँचोड़ मर अपनी बहन की गांड पेल अपना लंड अपनी सगी बहन की गांड में बहन के लंड” टीना राहुल को उकसाने के लिए गलिया बकते हुए बोली
”ले साली कुतिया ले अपनी गांड में मेरा लंड, आज अगर मैंने तेरी गांड नहीं पढ़ी तो मैं भी तेरा भाई नहीं”कह कर राहुल भयानक तरीके से धक्के लगाने लगा लगभग 10 मिनट तक धक्के मरने के बाद राहुल टीना की गांड में ही झाड़ गया टीना भी अपने भाई का माल अपनी गांड में महसूस करके झड़ने लगी और बेड पर ही ढेर हो गई इन दोनों की ये हालत देख कर मनीषा की चुत ने भी अपना बाँध तोड़ दिया था और वो भी दूसरी बार झाड़ गई
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 23
Reply
07-04-2018, 01:02 PM,
#23
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 24
कुछ देर बाद मनीषा उठी और अपने रूम में आगाई टीना अभी भी राहुल के रूम में ही पड़ी अपनी सांसें संभाल रही थी…..
पूजा किचन में माधुरी के पास जा चुकी थी योगेश हाल में बैठा टीवी देख रहा था तभी योगिता वहाँ आई और योगेस के पीछे खड़े होकर उसके गले में बहन डाल कर उसके गाल चूमने लगी अचानक ऐसा होने से योगेश घबरा गया उसने पलट कर योगिता को देखा तो बोला ”बाप रे तूने तो मुझे घबरा ही दिया था,और तू ये क्या कर रही थी अगर कोई देख लेता तो”
योगिता उसे चूमना चूड़कर उसके साइड में बैठते हुए बोली ”भैया क्या करती मैं मुझे आप पर प्यार आ रहा था तो किस कर ली मैंने, और घर में हमारे अलावा पूजा और माधुरी दीदी ही तो है, पूजा की तो कोई टेन्शन ही नहीं है हाँ अगर माधुरी दीदी देख लेती तो शायद कुछ पंगा होता शायद वो अपने माल को ऐसे लूटते नहीं देख पति और मुझसे झगड़ा करने लगती”
योगिता की बातें सुन कर योगेश घबरा गया ‘तो क्या इसे भी पता चल गया माधुरी के बारे में’ उसने सोचा और बोला ”ये कैसी बातें कर रही है तू माधुरी का कौन सा माल लूट रही है तू जो वो तुझसे जगड़ेगी”
”देखो भैया शुरू से ही दीदी तुम्हारे बहुत करीब रही है और अभी पूजा ने उनकी कुछ अजीब सी हरकतों के बारे में मुझे बताया था जो की वो तुम्हारे साथ कर रही थी, शायद वो भी तुम्हारे साथ वही करना चाहती है जो मैं कर रही हूँ फिर ऐसे में उनके पैर में मोच भी आ गई है तो मैं इसका क्या मतलब निकालु यही ना की तुम उनका माल हो”योगिता बोली
योगेश उसकी बात सुन कर सकपका गया उसने सोचा की वो अब योगिता को कैसे संभाले फिर बोला ”योगिता ऐसी कोई बात नहीं है उसके पैर में सच में मोच आई होगी उससे मेरा कोई लेना देना नहीं है और पूजा ने जो भी तुझे बताया है वो उसने मुझे भी बताया था पर इसमें मधु की कोई गलती नहीं थी वोटो मैं ही उसे घूर रहा था”
योगेश की बातें सुन कर योगिता के होठों पर मुस्कान आगाई और वो हँसने लगी उसे इस तरह हंसते देख योगेश बोला ”ऐसे क्यों हंस रही है तू”
”भैया मुझे बच्चा समझते हो क्या, देखो भैया जैसे मैं तुम्हारी बहन हूँ बाकी भी तुम्हारी बहने ही है तुम्हारा जिसके साथ जैसा भी करने का मान हो करो मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता मैं तो सिर्फ़ इतना चाहती हूँ की मुझे मेरे हिस्से का मजा मिलते रहे बस” वो बोली
योगेश ने एक ठंडी सांस ली और कुछ सोचने लगा तभी योगिता खड़ी हुई और बोली ”भैया आज दोपहर में मिलोगे क्या बहुत खुजली हो रही है”
”मैं अभी से कैसे बता दूं यदि मौका मिला तो आजना”योगेश बोला
योगिता गर्दन हिलाते हुए अंदर चली गई तभी योगेश को बाहर बाइक रुकने की आवाज़ आई वो तुरंत खड़ा हो कर अंदर की ओर भगा और सभी बहनों से बोला ”अंकल आ गये है” और फिर बाहर की ओर भगा. उसके मुंह से ऐसा सुन कर सभी बहने हड़बड़ा गई और सलीके के साथ जल्दी जल्दी कम करने लगी.
योगेश दरवाजा पर पहुंचा तब तक राजेश (उसके पापा) भी दरवाजा तक आ गये थे ”लाइए अंकल मुझे दीजिए” कह कर उसने अंकल का बैग ले लिया ”और बेटा क्या चल रहा है, और तुम्हारी बहने कहा है?” अंकल बोले
”बस अंकल सब ठीक चल रहा है और तीनों बहने खाना बना रही है बुलाऊ क्या उन्हें” योगेश बोला
”रहने दे, पहले मैं नहा धोकर फ्रेश हो लू फिर खाना खाते हुए बातें करते है” कहते हुए राजेश अपने रूम में चले गये
लगभग पाँव घंटे बाद सभी डाइनिंग टेबल पर बैठे हुए खाना कहा रहे थे राजेश कुछ मामलों में सख्त जरूर थे पर अपने बच्चों से प्यार भी बहुत करते थे पूजा उनकी सबसे प्यारी बेटी थी और घर भर में एक वो ही थी जो उनसे बहस कर सकती थी बाकियो के मुंह से तो उनके सामने आवाज़ भी नहीं निकलती थी.
”इस बार बहुत देर कर दी अंकल वापस आने में” पूजा बोली
”देर कहाँ बेटा, मैं तो जल्दी आ गया वरना तो अभी 4-5 दिन और लगने थे वहाँ लेकिन मुझे माधुरी को लेकर तुम्हारे माआंटी के घर जाना है इसलिए जल्दी आना पड़ गया,अरे हाँ माधुरी तुम अपनी पकिंग कर लो हमें अभी 3 बजे की गाड़ी से ही निकलना है समझी” राजेश बोले
”लेकिन अंकल एकाएक ही माआंटी के घर जाने का प्रोग्राम कैसे बन गया” योगेश ने पूछा
योगेश के पूछने पर राजेश ने उन लोगों को समाज के सम्मेलन के बारे में बताया और फिर इधर उधर की बातें करते हुए सभी खाना खाने लगे खाना खाने के बाद माधुरी अपने रूम में पकिंग करने चली गई और राजेश मार्केट चले गये थे पूजा और योगिता को किचन के कम समेटने थे तो वो दोनों नीचे ही थी योगेश ने मौका देख कर पूजा को बुलाया और बोला ”पूजा मैं उप्पर मधु के पास जा रहा हूँ तू प्लीज़ ध्यान रखना के कोई ऊपर ना आ जाए और यदि कोई आता है तो मुझे आगाह कर देना प्लीज़”
पूजा के चेहरे पर एक कुटिल मुस्कान आगाई थी ”हाँ, हाँ जल्दी जाओ अब वो सेक्सी गांड तुम्हें बहुत दिन नहीं मिलने वाली है जाते हुए एक बार तो उसका भोग लगा ही लो मैं देखती हूँ इधर, पर भैया अब घर में हम तीनों ही है और हमें मौका भी मिल गया है क्योंकि योगिता तो हमारे साथ है ही अब तो आपको मेरा कम करना ही होगा” टीना बोली
”ये भी कोई बोलने वाली बात है मुझे सब याद है, ठीक है मैं जाता हूँ तू ध्यान रखना”योगेश बोला पूजा ने हाँ में गर्दन हिलाई तो वो ऊपर की ओर लपका
माधुरी अपने रूम में पकिंग कर रही थी उसकी पीठ दरवाजा की तरफ थी योगेश धीरे से रूम में एंटर हुआ और बगैर आवाज़ किए दरवाजा बंद कर के माधुरी के पीछे आ गया और उसे बाहों में भर के दीवानों की तरह उसके बूब्स दबाते हुए उसकी गर्दन चूमने लगा पहले तो माधुरी चौंकी पर योगेश को देख कर उसने भी अपना शरीर ढीला चोद दिया अपने भाई की हरकतों का मजा लेने लगी योगेश का लंड खड़ा होकर उसकी गांड पर दस्तक दे रहा था और योगेश के हाथ उसके बारे बारे और कठोर बूब्स को निचोड़ रहे थे और योगेश के तपते होठों की गर्मी जैसे उसके पूरे बदन को पिघला रही थी माधुरी पूरी तरह मस्त हो गई थी उसकी चुत पानी चुदने लगी थी तभी योगेश ने अपना एक हाथ उसकी सलवार के अंदर घुसेड़ कर उसकी पैंटी को हटते हुए उसकी नंगी चुत को अपनी मुट्ठी में भर कर भिचने लगा ”आहह…..भैया क्या कर रहे हो कोई आजाएगा माधुरी मदहोशी में अपना एक हाथ पीछे लाकर योगेश के बालों में घूमते हुए बोली और उसका दूसरा हाथ पेंट के ऊपर से ही योगेश के लंड को मसल रहा था अब योगेश से भी नहीं रहा जा रहा था ”मधु अब तो कुछ दिन मिलना नहीं हो पाएगा प्लीज़ तब तक इंतजार करने के लिए अभी मुझे अपनी प्यारी सी गांड दे दे ना” योगेश उसे मानते हुए बोला
”ले लो भैया जैसे चाहे वैसे ले लो अब ये तुम्हारी ही तो है”माधुरी बोली
”बस गांड ही डोगी चुत नहीं” योगेश पहले की तरह ही अपने हाथ चलते हुए बोला
”चुत के बारे में भी कुछ करेंगे बाद में अभी उसके लिए टाइम नहीं है पर पहले तुम गांड तो ले ही लो आहह….उउम्म्म्म……” अपनी चुत में योगेश की उंगली घुसने के कारण चिंहुक्ती हुई माधुरी बोली
योगेश जनता था के उसके पास टाइम कम है इसलिए उसने देर ना करते हुए वहीं माधुरी की सलवार नीचे कर उसे घोड़ी बना दिया और जाकर तेल ले आया अब उसके हाथ अच्छे से माधुरी की गांड की ‘तेल मालिश’ कर रहे थे उधर माधुरी भी एक्शैतमेंट में अपनी चुत में उंगली पेल रही थी योगेश ने अपने लंड पर भी अच्छे से तेल लगा लिया और पोज़ीशन लेते हुए माधुरी से बोला ”बोल मेरी घोड़ी तैयार है सवारी शुरू करूं”
”चालू हो जा मेरे राजा” माधुरी के शब्द अभी पूरे भी नहीं हुए थे की ‘ककच……….’की आवाज़ के साथ माधुरी की एक घुटि हुई चीख से माहौल और भी सेक्सी हो गया एक ही धक्के में योगेश का आधा लंड माधुरी की गांड में था गांड वैसे भी बहुत खुल चुकी थी और तेल भी लगा था तो माधुरी को ज्यादा दर्द नहीं हुआ वो अभी पहले धक्के को ही संभाल नहीं पाई थी की तभी फिर से ‘ककच्छ…..’ की दूसरी आवाज़ आई और वो आगे की ओर गिरने को गुई पर योगेश ने उसे संभाल लिया अब लंड पूरी तरह से माधुरी की गांड में सआंटी गया था कुछ देर योगेश रुका रहा और फिर उसने धक्के लगाने शुरू कर दिए माधुरी भी पूरी ताक़त से अपनी गांड पीछे धकेलते हुए जोरों से अपनी चुत में उंगली चलाने लगी पूरा कमरा ”आहह’, ‘ऊओह’, ‘उउंम्म……’ जैसी आवाजो से गूंजने लगा योगेश अब ऐसे लंड अंदर बाहर कर रहा था जैसे वो आज माधुरी की गांड फाड़ ही देगा उधर माधुरी के भी मजे की कोई सीआंटी नहीं थी दोनों भाई बहन जैसे पागल हो गये थे उस पर माधुरी की गांड से तेल की वजह से आती ”फ़च्छ…फ़च्छ…’ की आवाज़ एक अलग ही सआंटी बना रही थी लगभग 10 मिनट बाद योगेश के धक्को की बढ़ता शताब्दी की बढ़ता को भी मत देने लगी और उसने आज फिर अपनी बड़ी बहन की गांड को अपने वीर्य से लबालब भर दिया माधुरी भी अब झाड़ चुकी थी कुछ देर अपने आपको संभाले के बाद दोनों उठे माधुरी बाथरूम जाकर अपनी गांड साफ कर के आगाई थी योगेश ने उसे पकड़ा और अपने सीने से लगते हुए उसके होंठ चूमने लगा और बोला ”मधु अब तुम्हारे बिना मेरा दिल नहीं लगेगा”
”दिल नहीं लगेगा या लंड परेशान करेगा” माधुरी उसे चिढ़ते हुए बोली
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 24
Reply
07-04-2018, 01:02 PM,
#24
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 25
”दोनों ही बात है, पर माधुरी जब मैं तुम्हारी गांड मर सकता हूँ तो चुत क्यों नहीं” योगेश बोला
”भैया मैं अभी तक इसके लिए तैयार नहीं थी पर आज मैं वादा करती हूँ की वापस आते ही मैं तुम्हें अपनी चुत का गिफ्ट भी दे दूँगी तुम्हारे इंतजार के लिए” माधुरी बोली
”ऊ मेरी प्यारी बहन तू कितनी अच्छी है” कह कर योगेश ने उसके गाल चूम लिए
”चलो अब तुम नीचे जाओ 2 बज चुके है और मुझे अब तैयार भी होना है अंकल भी मार्केट से आते ही होंगे” माधुरी घड़ी देखते हुए बोली
योगेश ने माधुरी की एक किस और ली और नीचे हॉल में आ गया.

दोपहर के 2.30 बज चुके थे और योगेश अपने अंकल और बहन को चुदने स्टेशन गया हुआ था उसकी दोनों छोटी बहने घर पर थी. दोनों हॉल में बैठी थी योगिता की खुशी का तो ठिकाना ही नहीं था क्योंकि अब जैसा मौका उसे नहीं मिल सकता था वो चाहे तो अब रात दिन चुदाया सकती थी. पूजा भी यही सोच रही थी की अब उसका भी प्लान पूरा हो जाएगा अपने भाई से चुत और गांड एक साथ मरवाने का क्योंकि उन दोनों ही बहनों को एक दूसरे से कोई डर नहीं ताड़ोनो ही एक दूसरे की परछाई थी वो योगिता को देखते हुए बोली ”अब क्या इरादा है तेरा
पूजा की आवाज़ सुन कर योगिता अपनी सोचो से बाहर आई और मुस्कुराते हुए बोली ”मेरा इरादा तो नेक ही है बाकी सब भैया पर डिपेंड है की वो कितना दम रखते है मैं तो बगैर रुके दिन रात 24 घंटे चुदाया सकती हूँ”
”ये तो तेरी बात हो गई लेकिन मेरा क्या मुझे कब चुड़वाएगी तू भैया से” पूजा ने योगिता के मान की बात जाने के लिए पूछा
”पहले मैं भैया से एक बार और चुदाया लू फिर चुदवाते वक्त उनसे बात करती हूँ तेरे लिए” योगिता बोली
”कुछ ऐसा कर ना योगिता की जब भैया तुझे देखे तो मैं भी सामने बैठ कर तुम दोनों की चुदाई देख सुकून” पूजा बोली
”क्या बोल रही है तू ऐसा कैसे हो सकता है”योगिता हैरानी से बोली
”तू चाहे तो सब हो सकता है” पूजा ने उसे उकसाया
”मगर ये कैसे होगा, मान ले मैं इसके लिए तैयार भी हो गई तो भैया का क्या, क्या पता वो तैयार होंगे के नहीं?” योगिता बोली
”तू सिर्फ़ अपनी बात कर भैया को मैं मना लूँगी” पूजा बोली
”अगर तू भैया को मना सकती है तो मैं तैयार हूँ वाइज़ भी तो हम दोनों ही एक दूसरे का सब कुछ देख ही चुके है एकदुसरे की चुत में उंगली भी कर चुके है अब अगर चुत में लंड घुसते हुए भी देख लेंगे तो क्या फर्क पड़ जाएगा” योगिता बोली
”टांका मेरी बहना तू मेरी उम्मीडो पर बिलकुल खड़ी उतरी” कह कर पूजा ने योगिता गाल चूम लिए
कुछ देर उनमें ऐसी ही बातें चलती रही और अब योगेश भी स्टेशन से घर वापस आ गया था वो भी उन्हीं के पास आकर बैठ गया योगिता कल की चुदाई के कारण कुछ शर्आंटी रही थी क्योंकि पूजा भी उन दोनों भाई बहन की चुदाई के बारे में जानती थी उसे शरमाते देख पूजा बोली ”योगिता अब तेरी मोच का दर्द कैसा है”
योगिता से कुछ बोलते ही नहीं बना वो नज़रे झुकाए चुप ही रही उसे चुप देख पूजा फिर बोली ”देखो भैया कल आप की वजह से ही इसे मोच आई थी, देखो ना दर्द की वजह से बेचारी कैसे तड़प रही है अब आपको ही इसका इलाज करना पड़ेगा वरना पता नहीं बेचारी का क्या हाल हो”
योगेश समझ गया था की पूजा उसको योगिता की चुदाई करने को कह रही थी वो मुस्कुराते हुए बोला ”अगर योगिता को मंजूर हो तो मैं अभी जहाँ इसे मोच आई है वहां इसकी मालिश कर देता हूँ और ‘इंजेक्शन’ भी लगा देता हूँ ताकि इसका दर्द खत्म हो जाए”
”भैया वो तो तैयार हो ही जाएगी आख़िर दर्द तो उसे ही हो रहा है ना पर मुझे आप पर भरोसा नहीं की आप इसकी मालिश अच्छे से कर पाएँगे और इंजेक्शन भी सही जगह लगा पाएँगे इस लिए मैं भी आप लोगों के पास ही रही कर देखूँगी की आप सब सही कर रहे हो की नहीं और जहाँ आप गलती करोगे मैं आपको बता दूँगी ठीक है”पूजा बोली
”मुझे कोई ऐतराज नहीं है पर मालिश करने और करवाने के लिए कपड़े उतरने पड़ते है, अब हम दोनों के कपड़े उतरेंगे तो तुम्हें भी उतरने ही पड़ेंगे यदि मंजूर हो तो योगिता से पुचलो मैं तो तैयार हूँ तेरे सामने इसे इंजेक्शन लगाने के लिए” योगेश पूजा की बात समझते हुए बोला
”क्यों योगिता तुझे मंजूर है ना” पूज़्ज़ा ने योगिता से पूछा
”मुझे कुछ नहीं पता मैं भैया के रूम में जा रही हूँ” कह कर योगिता भागते हुए सीडिया चढ़ने लगी जिस से उसकी चौड़ी गांड का नज़ारा ऐसा बन गया की उसे देख कर योगेश का मुंह खुला का खुला ही रही गया और वो अपने कड़े लंड को पेंट में एडजस्ट करने लगा उसे ऐसा करते देख पूजा उत्त् कर उसके पास आई और उसके लंड को पकड़ कर बोली ”कितनी मस्त गांड है ना भैया योगिता की, पर तुम क्यों चिंता करते हो वो तो अब तुम्हारा ही माल है, जब मान करे पेल देना अपना लंड उसमें लेकिन एकाध दिन ठहर जाओ पहले बेचारी की चुत का दर्द तो कम हो जाए”
पूजा के हाथ लंड पर महसूस करके योगेश मस्त हुए जा रहा था पूजा भी समझ गई थी की योगेश मस्त हो चुका है उसने योगेश के पेंट की जीप खोल कर उसका लंड बाहर निकल लिया और लंड को मुट्ठी में भर कर आगे पीछे करने लगी तभी ऊपर से योगिता की आवाज़ आई ”पूजाआा” ये आवाज़ सुनकर दोनों ही होश में आ गये
”मैं चलता हूँ, अगर तू भी आना चाहती है तो आजना दरवाजा खुला ही रहेगा” योगेश बोला
”मैं भी आ रही हूँ पर भैया मेरा कम याद है या भूल गये” टीना बोली
”अभी पहले योगिता की खुजली मिटा देता हूँ फिर रात को तेरी हर ख्वाहिश पूरी कर दूँगा” कह कर योगेश उप्पर अपने रूम में चला गया, पूजा भी मैं दरवाजा बंद कर के ऊपर जाने लगी……….

जैसे ही योगेश रूम में दाखिल हुआ योगिता किसी बेल की तरह उससे लिपट गई और उसके होंठ चूमते हुए पेंट के ऊपर से ही योगेश का लंड मसलने और खींचने लगी जैसे वो उसे झड़ से उखाड़ कर ही दम लेगी योगेश भी अब अपने एक हाथ से उसके बूब्स दबा रहा था और दूसरा हाथ उसकी चुदी गांड पर फिरा रहा था योगेश के ऐसा करने से योगिता बिलकुल किसी भूखी बिल्ली की तरह योगेश के होठों को काटने लगी उसके ऐसे करने से योगेश भी भड़क गया और उसने सलवार के ऊपर से ही अपनी एक उंगली पूरी ताक़त से योगिता की गांड में घुसेड़ दी हलकी उंगली ज्यादा अंदर नहीं गई पर योगिता की चीख तो निकल ही गई और उसे थोड़ा दर्द भी हुआ जिससे वो चिटक कर योगेश से दूर हो गई ”क्या कर रहे हो भैया ऐसे भी कोई करता है क्या” वो बोली
”और तू जैसे मेरे होठों के साथ कर रही है वैसे भी कोई करता है क्या” योगेश बोला
तभी योगिता की नज़र पूजा पर पड़ी जो दरवाजा पर खड़े ये सब देख रही थी जब पूजा ने देखा की योगिता उसे देख चुकी है तो वो अंदर आते हुए बोली ”योगिता लगता है की भैया को तेरी गांड पसंद आ गई है और वो उसमें भी अपना लंड पेलना चाहते है इसीलिए वो अभी से उंगली घुसेड़ कर तेरी गांड का छेद बड़ा करना चाह रहे है, क्यों भैया मैंने सही कहा ना?”
”तू सच कह रही है पूजा, मैं तो वैसे भी लड़कियों की गांड का दीवाना हूँ फिर हमारी योगिता की गांड तो शायद सारी दुनिया में सबसे ज्यादा सेक्सी है अगर इसमें लंड नहीं पेला थी ये मेरे लंड के साथ नाइंसाफी होगी” योगेश बोला
उन दोनों की बातें सुन कर योगिता दंग रही गई और बोली ”कैसी बात कर रहे हो तुम दोनों क्या कोई गांड में भी लंड डालता है”
”तू तो ऐसे बोल रही है जैसे तूने आज तक पॉर्न फिल्आंटी में किसी लड़की को गांड मरते हुए देखा ही नहीं है” पूजा बोली
”मगर वो फिल्म है और उसमें सारी रंडिया ही कम करती है उन्हें ये सब करने की आदत होती है पर मैं ये सब नहीं कर सकती” योगिता बोली
”ठीक है वैसे भी तू सिर्फ़ चुत ही मरवा सकती है गांड मरवाना तेरे बस की बात नहीं है, रात को देखना मैं कैसे एक ही बार में भैया से चुत और गांड दोनों ही कैइसड चुदवाती हूँ” पूजा बोली
तभी योगेश दोनों को बहस करते देख बोला ”अरे तुम दोनों तो झगड़ने ही लगी चलो बंद करो ये लड़ाई अगर योगिता को गांड नहीं मरवाना है तो ना मरवाए वही इस मजे से अंजान रहेगी हमें क्या करना है और योगिता चलो अब कपड़े उतरो तुम्हारी मालिश और इंजेक्शन लगाने का टाइम हो गया है, और हाँ पूजा कपड़े तुम्हें भी उतरने है सांझी”
”मुझे कपड़े उतरने में कोई ऐतराज नहीं है पर पहले वो उतरे जिसे अपनी चुत चुड़वणी है और जिसे चुत चोदना है मैं तो दर्शक हूँ मैं सबसे बाद में उतरुँगी” पूजा बोली
”बात तो तुम्हारी भी सही है योगिता चलो शुरू हो जाओ” कह कर योगेश अपने कपड़े उतरने लगा योगिता भी पूजा की मौजूदगी के कारण शरमाते हुए अपने कपड़े उतरने लगी अब वो जन्मजात नंगी हो गई थी उसकी 34 की साइज की चुचियाँ पहाड़ की तरह टन गई थी और दूर से ही उसकी चुत का निकला हुआ पानी दिखाई दे रहा था योगेश भी अब नंगा हो चुका था और उसका फुल टाइट लंड आसमान की ओर सर उत्ताए खड़ा था पूजा बारे ध्यान से दोनों को देख रही थी अभी वो आगे बढ़ी और उसने योगेश का लंड पकड़ लिया और बोली ”हाय क्या मस्त लंड है भैया आपका जी करता है कच्चा ही कहा जाओ” और वो योगेश का लंड मसलने लगी योगेश ने तुरंत ही योगिता को अपने पास खींचा और उसकी नंगी चुचियों को दबाने लगा योगिता ने भी अपने मुंह को योगेश के मुंह से जोड़ लिया था और अपनी जीभ योगेश के मुंह में घुसेड़ दी थी योगेश तो जैसे मस्तियो के समंदर में डूबता उतरता महसूस कर रहा था उसकी एक बहन उसके लंड को मसल रही थी और दूसरी बहन के बूब्स वो खुद दबा रहा था उसे ऐसा लग रहा था जैसे उसके दोनों हाथों में लड्डू हो तभी पूजा योगेश का लंड चोद कर पीछे हाथ गई और योगिता से बोली ”चल छीनाल अब तू भैया के लंड को ज़रा अपने मुंह से साफ तो कर दे अपनी चुत में लेने के लिए”
”तू ये कौन सी भाषा बोल रही है हरंजड़ी क्या तुझे शर्म लाज नहीं है जो अपनी बहन को छीनाल बोल रही है” योगिता भड़की
”शर्म लाज की बात क्यों कर रही तू जो अपने भाई से छुड़ाए उसे छीनाल कहना तो बहुत कम है उसे तो रंडी कहना चाहिए बल्कि उससे भी खराब कोई और वर्ड उसे करना चाहिए” पूजा बोली
”क्या मैं अकेली ही अपने भाई से चुदवाना चाहती हूँ तू नहीं चुदवाना चाहती है जो ऐसा कह रही है” योगिता बोली
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 25
Reply
07-04-2018, 01:02 PM,
#25
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 26
”मैं कब मना कर रही हूँ की मैं अपने भाई से नहीं चुदवाना चाहती हूँ ” पूजा बोली
”तो फिर जैसी मैं वैसी तू” योगिता बोली
”मैं भी तो वही कह रही हूँ साली रंडी जब मैं भी भैया से चुदाया लूँगी तो मैं भी रंडी बन जाऊंगी और हाँ तुम दोनों ही याद रखो सेक्स में जितना गंदा बोलोगे और करोगे उतना ही ज्यादा मजा आएगा, अब चल कुतिया तू भैया का लंड मुंह में ले” टीना बोली
”लेकिन उससे पहले तू तो नंगी हो जा साली चुदाक्कड़ और ज़रा अपने बूब्स, चुत और गांड के दर्शन हमें भी तो करा दे” योगेश पूजा से उसी की स्टाइल में बोला
योगेश के ऐसे शब्द सुन कर पूजा के होठों पर मुस्कान आगाई और वो भी अपने कपड़े उतरने लगी………
पूजा कपड़े उतरने में कोई जल्दी नहीं कर रही थी सबसे पहले उसने अपनी टी-शर्ट उतरी उसके टी-शर्ट उतरते ही उसके ब्लैक ब्रा में कैद 36 साइज के बूब्स जैसे आज़ाद होने के लिए फड़फदा उत्ते उसके बूब्स जैसे उस ब्रा में सआंटी ही नहीं रहे थे उधर पूजा के चुचियों को ऐसे देख कर योगेश का मुंह फॅट गया था योगिता भी योगेश की ये हालत देख रही थी अब पूजा ने अपनी पाजामी भी उतार दी वो अब सिर्फ़ ब्रा और पैंटी में थी उसका 36-26-36 साइज का साँचे में ढाला हुआ बदन जैसे योगेश को मदहोश किए दे रहा था योगेश ने योगिता का हाथ छुड़ाया और पूजा की ओर दो कदम बढ़ा की उसे वहीं रुक जाना पड़ा क्योंकि तब तक पूजा ने अपनी ब्रा भी उतार कर फेंक दी थी योगेश मुंह फाड़े उसके दोनों बॉल्स को देख रहा था जो की बिना किसी सहारे के टन कर खड़े थे योगेश अपने सूखे हुए होठों पर जीभ फिरने लगा उसकी ऐसी हालत देख कर पूजा मान ही मान मुस्कुराईं और उसने झट से अपनी पैंटी भी उतार दी अब वो पूरी नंगी योगेश के सामने खड़ी थी योगेश से अब रहा नहीं गया और उसने लपक कर पूजा को अपनी बाहों में भर लिया और उसके बूब्स को दीवानों की तरह मसलने और खींचने लगा ये पूजा के लिए पहला मौका था किसी मर्द से बूब्स डबवाने का लेकिन योगेश के पागलों जैसे बूब्स खींचने से उसे मजा कम आया और दर्द ज्यादा हुआ वो दर्द और गुस्से से चिल्ला पड़ी ”ऊई….बहँचोड़ ये क्या जानवरों टाइप कर रहा है मेरा पहली बार है ज़रा आराम से कर ना बहन के लंड”
”साली कुतिया अभी तो सिर्फ़ तेरी चुचियां खींची है अब देख मैं और क्या करता हूँ” कह कर योगेश ने अपनी एक उंगली गच्च्छ से पूजा की कुंवारी चुत में घुसेड़ दी उस पर पाशविकता हावी होती जा रही थी वो बोला ”अब बोल साली छीनाल कैसा लगा, अभी तो बड़ी मटक मटक कर अपने कपड़े उतार रही थी अब तेरी मां चुद गई है क्या बोल ना कैसा लगा” योगेश की ऐसी जंगली हरकतों से पूजा की आँख में आँसू आ गये थे पर वो अपने आपको योगेश से छुड़ा भी नहीं पा रही उसने योगिता की ओर देखा, योगिता एकदम लेकिन बने ये सब देख रही थी तभी योगिता की नज़र पूजा की नज़र से टकराई तो जैसे योगिता को होश आया की यहाँ क्या हो रहा है वो लपक कर योगेश के पास पहुँची और उसे झिझोड़ कर बोली ”भैया आप पूजा के पास क्या कर रहे हो अभी तो मेरी बड़ी है ना”
योगिता के ऐसे झिझोड़ने से योगेश को भी होश आया और उसने झट से पूजा को चुद दिया जैसे ही उसकी नज़र पूजा आँसुओ से भरे चेहरे पर गई तो उसकी गांड फॅट गई उससे कुछ बोलते ही नहीं बन रहा था उसने देखा की उसकी वहशी हरकतों से पूजा गोरे गारे बूब्स एकदम लाल हो गये है और उसकी चुत से भी खून की कुछ बूंदें निकल गई है ये सब देख कर योगेश की आंखों में भी आँसू आ गये और उसने पूजा का चेहरा दोनों हाथों में भर लिया और भरे गले से बोला ”मुझे माफ करदे मेरी बहन पता नहीं मुझे क्या हो गया था मैं जैसे जानवर ही बन गया था जो तेरी ये हालत कर दी मैं कसम खाता हूँ की दोबारा ऐसा नहीं करूँगा और उसने पूजा को गले से लगा कर ज़ोर से भींच लिया पूजा के दोनों बूब्स जैइयाए योेश के सीने में भिच से गये और उसका लंड पूजा की चुत के पास टकराने लगा था योगेश के ऐसा करने से रोते हुए भी पूजा के होठों पर मुस्कान आगाई वो बोली ”भैया आप परेशान ना हो आप ने जो भी किया उसमें अकेले आपकी अकेले की गलती नहीं थी मैंने भी आप को उकसाया था चलो अब मुझे चोदा और इस रंडी योगिता की चुत जल्दी से फाड़ दो तभी मैं आपको माफ करूँगी” इतना कह कर पूजा योगेश से अलग हो गई
”थॅंक्स बहना, अब माफी पाने के लिए तो सच में ही मैं इस रंध की चुत की धज्जियां उड़ा धुंगा बस तू देखती जा” कह कर योगेश ने योगिता को अपनी बांहों में ले लिया और उसके बूब्स दबाते हुए ुआकी चुत में अपनी दो उंगलियां घुसेड़ दी एक साथ दो उंगलियां घुसने से योगिता को हल्का सा दर्द हुआ और वो चीख उठी ”हाय,हाय्ी तुम दोनों की आपसकी बातों में मेरी चुत का भुर्ता क्यों बनाया जा रहा है भैया इस कुतिया बात मान कर कहीं सच में ही मेरी चुत मत फाड़ देना” योगिता बोली
थोड़ी देर हुए हादसे की वजह से योगेश का लंड कुछ ढीला हो गया था इस लिए उसने योगिता को अपने से अलग कर के नीचे बैठा दिया और उसके होठों से लंड लगा कर बोला ”चल अब इसे अपने मुंह में लेकर अच्छे से चूस कर टाइट कर दे फिर देख आज मैं तेरी चुत कैसे मरता हूँ”
योगिता अपने मुंह के सामने योगेश का लंड देख कर घबरा गई उसे लंड को हाथ में पकड़ कर सहलाना या दबाना तो अच्छा लगता था पर मुंह में लेने की उसने कभी नहीं सोची थी फिर भी उसने हिम्मत कर के अपने एक हाथ से लंड पकड़ा और अपनी जीभ लंड के सुपाडे पर लगा दी जहाँ पर योगेश के प्रीकुं की चुछ बूंदें लगी थी अपने लंड पर योगिता की जीभ का अहसास होते ही योगेश ने मजे से अपनी आंखें बंद कर ली और योगिता का सर अपने दोनों हाथों से अपने लंड पर दबा दिया उधर योगिता को योगेश के लंड के पानी का स्वाद कुछ अजीब सा लगा और उसको उल्टी आने को हुई पर अपना सर दबा होने से वो अपना मुंह वहाँ से हटा भी नहीं पा रही थी तभी उसकी सहन शक्ति खत्म हो गई उसने झट से योगेश की पकड़ से छूटते हुए जेर से ‘ऊओउऊउक्ककक’ की आवाज़ निकलते हुए उल्टी करने की कोशिश की पर किस्मत से उसके मुंह से उल्टी नहीं निकली और वो हांपने लगी इधर योगेश की हालत बहुत बुरी हो गई थी योगिता के इस तरह से हटने से उसे योगिता पर बहुत गुस्सा आ रहा था उधर पूजा भी ये सारा तमाशा देख रही थी वो समझ गई थी की मुंह में लंड लेना योगिता के बस की बात नहीं है और योगेश की हालत देख कर वो समझ गई की वो बहुत गुस्से में है ये देख कर वो झट से योगेश के पास गई और बिना कुछ सोचे समझे उसका लंड मुंह में भर लिया ये उसका पहली बार था और लंड भी बहुत मोटा था इसलिए पूजा को पूरा लंड मुंह में भरने में बहुत परेशानी हो रही थी फिर भी वो लगी रही उधर योगिता भी अब तक नॉर्मल हो गई थी और आंखें फाड़े पूजा को मुंह में लंड लेने की कोशिश करते हुए देखने लगी वो समझ गई की योगेश जरूर उससे नाराज़ हो गया है पर वो करे भी तो क्या करे उसे कुछ समझ नहीं आ रहा था उधर धीरे धीरे कर के पूजा ने पूरा लंड मुंह में भर लिया तज़ और अब उसे चूसने लगी थी योगेश को भी अब लंड चूसा में मजा आने लगा था थोड़ी देर बाद उसे लगा के अगर वो पूजा के मुंह में ही झाड़ जाएगा तो वो योगिता से बदला कैसे लेगा ये सोच कर उसने पूजा के मुंह से लंड निकाला और योगिता से बोला ”क्योनरी साली रंडी तू सिर्फ़ चुत में ही लंड ले सकती है मुंह में नहीं है ना चल इधर आकर घोड़ी बन आज मैं तेरी चुत का वो हाल करूँगा की कल से तू चुत में भू लंड लेने से मना कर देगी”
”भैया मैं मुंह में लेने की कोशिश कर रही थी पर आपके लंड के पानी की वजह से मुझे उल्टी आने लगी पर भैया मैं वादा करती हूँ की अगली बार मैं जरूर मुंह में लेलुँगी” योगिता शर्मिंदा होकर बोली
”ज्यादा बातें मत बना और जल्दी से घोड़ी बन जा” योगेश बोला
योगिता उत्त् कर वहाँ रखे टेबल के पास आई और अपनी दोनों टाँगे फ़ैया कर टेबल पकड़ कर झुक गई जिस से उसकी चुत पूरी ततः खुल गई पूजा भी वहाँ रखी एक कुर्सी पर बैठ गई और अपनी चुत में उंगली घुसाए चुदाई देखने लगी योगेश जनता था की योगिता की चुत अभी उतनी गीली नहीं होगी इसलिए उसे बदला लेने का ये सही मौका लगा उसने झट से लंड को योगिता की चुत पर सेट किया और एक ज़ोर का धक्का लगाया उसका लंड योहिता की सुखी हुई चुत में ‘छर्र्ररर’ की आवाज़ करते हुए आधे से ज्यादा घुस गया उधर सुखी हुई चुत में लंड घुसने से हुए दर्द से योगिता की आंखें फॅट गई ”भैया आराम से करो ना बहुत दर्द होता है” वो बोली
मगर योगेश अब योगिता के साथ नर्मी से पेश नहीं आने वाला था उसके खड़े लंड को मुंह में ना लेकर योगिता ने जो गलती की थी वो उसे उसकी पूरी सजा देना चाहता था योगेश ने तुरंत ही दूसरा ज़ोर का धक्का लगा दिया जिस से उसका लंड पूरा का पूरा योगिता की चुत में घुस गया और फिर वो रुका नहीं और भयंकर बढ़ता से धक्के लगाने लगा उधर योगिता की दर्द के मारे बुरी हालत थी सारा कमरा उसकी चीखो से गूँज रहा था ”हे भगवान बच्चा लो मुझे इस बहँचोड़ से, ऊआंटी मर गैरे, आअहह……,आरीईएरीई, आबे साले गान्डू ये तेरी बहन की चुत है किसी रंडी की नहीं क्या इसे फाड़ ही देगा, अओुचह…” जैसे शब्द योगिता के मुंह से निकल रहे थे और उधर योगेश की बढ़ता बढ़ती ही जा रही थी ऐसी मस्त चुदाई देख कर पूजा भी आहें भरते हुए अपनी चुत में सतसट उंगली पेले जा रही थी योगेश भी धकढ़क धक्के मरते हुए बोल रहा था ”ले साली रंध ले और ले अब साली कुतिया तू कभी भी मेरे खड़े लंड को धोका नहीं देगी आज मैं तेरी चुत को फाड़ के रख दूँगा”
अब योगिता की चुत भी पानी छोड़ लगी थी जिससे उसका दर्द खत्म हो चुका था और उसे बड़ा मजा आने लगा था चुदाई में ”चोद साले भद्दे चोद तेरी गांड में कितना दम है है देखती हूँ मैं आज साले गान्डू जब तक मेरी चुत सुखी थी ताड़ तक ही तेरी चल रही थी अब पेलना अब क्यों ज़ोर नहीं लगा रहा है” मस्ती में योगिता बोली उसके इस तरह भड़काने से योगेश गलिया बकते हुए और ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाने लगा उधर पूजा को इतना मजा आया की वो इन दोनों से पहले ही झाड़ कर हांपने लगी थी तभी योगिता चिल्लाई ”ऊओ…भैया मेरी चुत अब और सहन नहीं कर सकती मैं अब झड़ने वाली हूँ” कह कर योगिता आहें भरते हुए झड़ने लगी उसकी चुत ने इगेश को लंड को भींच लिया था और उसकी चुत का पानी बहकर उसकी जांघों तक आ गया था उधर योगेश भी अब योगिता की झड़ती चुत की गर्मी को सहन नहीं कर पाया और झड़ने लगा उसने योगिता की चुत को अपने पानी से पूरी तरह भर दिया था और बच्चा हुआ पानी योगिता के पानी के साथ मिक्स होकर बहाने लगा था अच्छे से झड़ने के बाद दोनों भाई बहन वहीं फर्श पर ही ढेर हो गये………
Reply
07-04-2018, 01:02 PM,
#26
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 27
राजेश और माधुरी को ट्रेन में सीट मिल गई थी और ट्रेन में कोई खास भीड़ भी नहीं थी जहाँ वो दोनों बाप बेटी बैठे थे वहीं आसपास 4 जोड़े लड़के लड़कियां भी बैठे हुए थे और ऐसा लगता था जैसे वो लोग बिगड़े हुए रईस जड़े थे वो लोग आपस में मस्ती करते हुए एक दूसरे के बदन को छेद भी रहे थे माधुरी अपने अंकल के साथ बैठे हुए ये सब देख कर बहुत शर्आंटी रही टनी राजेश भी माधुरी के होते अपने आपको बहुत असहज स्थिति में महसूस कर रहा था भीड़ कम होने से वो लड़के लड़कियां इसका फायदा उत्थते हुए पूरी तरह मस्ती कर रहे थे राजेश इन सब से परेशान हो कर उठा और सारे कंपार्टमेंट का चक्कर लगाने लगा पर ये देख कर उसे बहुत निराशा हुई की उन लोगों के अलावा सिर्फ़ एक बूढ़ा और बधहिया ही एक सीट पर बैठे हुए थे बाकी सारा डिब्बा ही खाली था वो वापस अपनी सीट पर आकर बैठा तब तक एक लड़के ने एक लड़की को बाहों में भर लिया था उसके होंठ चूम रहा था मनीषा शर्म से आंखें बंद कर चुकी थी तभी एक दूसरा जोड़ा भी यही सब करने लगा राजेश को बुरा तो बहुत लगा पर वो कुछ कर भी नहीं सकता था उसने माधुरी की तरफ देखा माधुरी को आंखें बंद किए देख वो कुछ शांत हुआ तभी पहले जोड़े का लड़का अपनी साथी लड़की के बूब्स दबाने लगा उस जोड़े को ऐसा करते देख जैसे उन चारों जोड़ो में ये सब करने की होड़ लग गई की कौन सबसे ज्यादा करता है. वो सारे लड़के लड़कियां ही जैसे पागल हो गये थे उन्हें राजेश और माधुरी के बैठे होने से जैसे कोई फर्क ही नहीं पड़ रहा था अब राजेश का धैर्या भी जवाब देने लगा था वो इन लोगों को ये सब करने के लिए डाँटने की सोच रहा था की तभी एक लड़की ने अपना टॉप उतार दिया वो अंदर कुछ भी नहीं पहने थी जिस से उस्काए बारे बारे गोरे बूब्स नंगे हो गये और उसका साथी उसके बूब्स को मुंह में भरकर चूसने और चाटने लगा लड़की मजे में आहें भरने लगी लड़की की आहें सुनकर माधुरी ने आंखें खोल कर देखा थी दंग रही गई की किस तरह वो लड़के लड़कियां खुले में ही ये सब कर रहे थे अब राजेश से रुका नहीं गया और वो ज़ोर से चिल्लाया ”बंद करो ये सब शर्म नहीं आती तुम्हें इस तरह से ट्रेन में ही ये सब करते हुए”
उसके ऐसे चिल्लाने से वो सभी लड़के लड़कियां उसकी ओर देखने लगे ”अरे अपना नहीं तो कम से कम हम लोगों का ध्यान रखो जो तुम लोगों को ऐसी गंदी हरकतें करते हुए देख कर परेशान हो रहे है” राजेश फिर बोला
तभी उन लड़कों में से एक लड़का जो शकल से गुंडा लगता था बोला ”ओये अंकल क्या परेशानी है तुम्हें अगर तुम्हें अच्छा नहीं लग रहा है तो आंखें बंद कर लो या फिर कहीं और जा कर बैठ जाओ, हमें सीखने की कोशिश मत करो समझे” और वो फिर से अपनी साथी की नंगी चुचियों को मसलने लगा उसे ऐसा करते देख राजेश उस लड़की से बोला ”ये तो लड़का है पर तुम तो कुछ सोचो तुम लड़की हो कर भी खुले में ये सब गंदा कम कर रही हो क्या यही सिखाया है तुम्हारे मां बाप ने तुम्हें”
उसकी बात सुनकर वो लड़की उसे घूरते हुए बोली ”आबे साले छूतिए तेरे को अभी जो बोला शायद तेरी समझ में नहीं आया है ना साले गान्डू ये मेरी लाइफ है मैं चाहे कुछ भी करूं तुझे इससे क्या मलब अब अगर तू और कुछ बोला ना तो समझ की तेरी गांड ही मर जाएगी”
उस लड़की की ऐसी बातें सुनकर माधुरी राजेश से बोली ”अंकल आप इन के मुंह मत लागो हम कहीं और बैठ जाते है चलिए यहां से” कह कर माधुरी कहदे ही गई तभी राजेश ने उसका हाथ पकड़ कर उसे बैठा दिया और बोला ”हम क्यों जाए अपनी सीट छोड़कर ननगपन ये दिखा रहे है और हम इनसे डर कर अपनी सीट चोद दे नहीं ये नहीं हो सकता मैं अभी जाकर ठीक को बुला कर लाता हूँ फिर वो ही ठीक करेगा इनको” कह कर राजेश खड़ा हो गया उसकी ऐसी बतड़ सुनकर वो सभी लड़के लड़कियां घबरा गये तभी वो गुंडा टाइप लड़का खड़ा हुआ और राजेश का हाथ पकड़ कर बोला ”क्या, क्या बोला तू साले मादरचोद ठीक को बुलाएगा तू चल अब यहाँ से हिल कर तो दिखा” उसने कस कर राजेश का हाथ पकड़ा हुआ था फिर उसने अपने साथियों से कहा की वो जाकर डिब्बे के सारे दरवाजा बंद कर के आ जाए उसकी बात सुनकर दो लड़के उठे और डिब्बे के सभी दरवाजा लॉक कर के आ गये अब राझहेश के हाथ पैर डर के मारे कांपने लगे उसे अब माधुरी की चिंता होने लगी उसे लग रहा थाई सचमुच इन लोगों के मुंह लग कर उसने गलती गलती कर दी थी तभी उसका हाथ पकड़े लड़के ने एक ज़ोर का थप्पड़ राजेश के गाल पर मारा एक ही थप्पड़ से राजेश की आंखों के सामने अंधेरा सा हो गया उसे थप्पड़ पड़ते ही माधुरी तड़प कर उठी और उस लड़के से बोली ”शर्म नहीं आती आपको एक तो ऐसी गंदी हरकतें करते हो और अगर कोई आपको समझाए तो उसे मरते भी हो छोड़िए इनका हाथ, और अंकल मैंने आपसे पहले ही कहा था ना की इनके मुंह मत लगिए मिल गया ना मजा अब, चलिए यहाँ से हम कहीं और बैठ जाते है”
अब सभी लड़कों की नज़रे माधुरी पर थी पहली बार उन्होंने गौर से उसको देखा था ”क्या माल है भाई एकदम झकस” एक लड़का बोला
”हाँ यार हम तो साले अभी तक अंधे बने बैठे थे ये तो पूरी पटका है” दूसरा लड़का बोला
तभी वो गुंडे टाइप दिखने वाला लड़का माधुरी को देखते हुए बोला ”नहीं मेरी रानी अब तुम लोग इस सीट से उत्त् कर कहीं नहीं जा सकते तेरे बाप ने जो हमारे मजे में रुकावट डाली है उसकी सजा तो अब तुम लोगों को मिलेगी ही” कहते हुए उसके होठों पर एक कुटिल मुस्कान तैयार गई और माधुरी और राजेश को ये सुनकर ऐसा लगा जैसे किसी ने उनके हलक में हाथ घुसेड़ दिया हो…………

राजेश और माधुरी की तो जैसे काटो तो खून नहीं वाली हालत हो गई थी ”ये क्या कह रहे है आप, कैसी सजा हमें जाने दीजिए यहाँ से और फिर आपको जो करना है वो आप करते रहिए, चलिए पापा” माधुरी बोली
”तूने सुना नहीं मॉंटी भाई ने क्या कहा है तेरे बाप के किए की सजा तो तुम लोगों को भोगनी ही पड़ेगी इसलिए चुपचाप खड़ी रही, भाई बोलो अब क्या करना है रेप कर दे इस चोरी का” एक लड़का बोला
”रुक पकया अभी मुझे सोचने दे रेप तो बहुत छोटी सजा है मैं इस खाड़ुस बूढ़े को कोई और सजा देने की सोच रहा हूँ” कह कर मॉंटी सोचने लगा
थोड़ी देर बाद वो चहकते हुए बोला ”आइडिया, ये दोनों बाप बेटी है ना क्यों ना बेटी बाप के सामने नंगी हो कर अपने ही बाप का लंड चूसे और बाद में बाप अपनी बेटी को हम सब के सामने चोदे, बोलो कैसी रहेगी ये सजा इनके लिए”
”सुपर्ब बॉस क्या सोचा है, चल लड़की अपने कपड़े उतरने शुरू कर” पकया माधुरी से बोला
माधुरी डर के मारे कांपने लगी तभी राजेश ने ”कुत्तों कामीनो तुम ने सोच भी कैसे लिया की तुम हमारे साथ ऐसा कुछ कर सकते हो”कहते हुए पकया को लत घुसो पर रख लिया और जोरों से उसकी धुनाई करने लगा पकया को ऐसे पीटते देख मॉंटी और बाकी के दोनों लड़के राजेश पर पिल पड़े माधुरी राजेश को बचाने बीच में गई तो चरो लड़कियों ने उसे पकड़ कर उसकी भी पिटाई कर दी थोड़ी ही देर में राजेश बेजान सा नीचे पड़ा था लड़कों न्ड उसे इस तरह अंकल था की कहीं से खून भी नहीं निकालने दिया था फिर उन लड़कों ने जैसे तैसे राजेश को सीट पर बैठाया तभी मॉंटी माधुरी से बोला ”देख चमिया मैं जो कह रहा हूँ वही करने में तेरी भलाई है अगर तूने मेरी बात नहीं मानी तो हम चारों ही तेरे साथ रेप करेंगे और तेरे शरीर का कोई भी छेद बगैर चोदे नहीं मानेंगे इस लिए फटाफट अपने कपड़े उतार कर अपने बाप का लंड चूसना शुरू कर दे”
”मुझे माफ कर दो प्लीज़, यदि हमसे गलती हुई है तो अपने हमें पीट भी तो लिया है भगवान के लिए हमसे ऐसा कम मत करवाईए” माधुरी रोते हुए बोली और उसने मॉंटी के पैर पकड़ लिए
”ना मेरी रानी ना ऐसे मत रो और तेरे जैसे माल की जगह पैरों में नहीं लंड में होती है समझी, और मैं जो तन लेता हूँ वही करता हूँ अब अगर 5 मिनट के अंदर तूने अपने कपड़े उतरने शुरू नहीं किए तो फिर हम तेरे कपड़े उतरेंगे और फिर तेरी चुत में तेरे बाप का नहीं हम चारों का लंड होगा समझी”
माधुरी की बुरी हालत हो गई थी उसने राजेश की ओर देखा तो वो भी रो रहा था और अपने आप को बहुत बेबस पा रहा था माधुरी से नज़र मिलते ही उसने अपनी नज़रे झुका ली थी जैसे वो कह रहा हो की जो भी ये लोग कह रहे है वो मान लो.
”चार मिनट हो गये है चोरी बस एक मिनट और बच्चा है तेरे पास” कहे हुए पकया ने माधुरी के बूब्स को बड़ी निर्दयता के साथ मसल दिया माधुरी दर्द के मारे ज़ोर से करही उसने सोच लिया की अब वो नहीं बचने वाली है उसकी चुदाई होना पक्का है तो इन कुत्तों से चुदवाने से अच्छा तो ये है की वो अपने अंकल से ही चुदाया ले पक्का फैसला कर के उसने अपनी कुरती उतार दी……….
माधुरी की कुरती उसके पैरों के पास पड़ी थी सभी लड़के मूःखोले हुए उसे घुरे ही जा रहे थे उसके बारे बारे बूब्स जैसे उसके ब्रा को फाड़ कर बाहर आने को हो रहे थे उसका चिकना सपाट गोरा पेट ऐसा लग रहा था जैसे अभी कोई उसे चाट चाट कर दे उसके नीचे उसकी गहरी नाभि किसी को भी जैसे जीभ घुसने को आमंत्रित कर रही थी उसकी लंबी सुडौल गोरी बहन ये सब देख कर वो सारे ही लड़के जैसे मंत्र मुग्ध हो गये थे तभी पकया आगे बढ़ा और उसने माधुरी की एक चूची को पकड़ कर बड़ी बेरहमी से मसल दिया उसके ऐसा करने से माधुरी के मुंह से एक कराह सी निकल गई और उसकी आंखों में दर्द के मारे आँसू आ गये तभी पकया बोला ”वो मेरी जान क्या बूब्स है तेरे दिल कर रहा है कच्चा ही चबा जाओ, चल अब इसे भी उतार दे” पकया ने उसकी सलवार खींची
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 27
Reply
07-04-2018, 01:02 PM,
#27
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 28
माधुरी ने अपने अंकल की तरफ देखा वो अभी भी गर्दन नीचे झुकाए बेबसी में रो रहे थे माधुरी अब अपने कपते हाथों से अपनी सलवार का नाडा खोलते हुए उसे उतरने लगी जैसे ही उसकी सलवार उसके पैरों के पास गिरी सभी लड़कों को जैसे साँप सूंघ गया क्या मस्त जांघें थी उसकी एकदम केले के ताने जैसी चिकनी चिकनी और गोरी, उसकी बाहर को निकली हुई 40 साइज की बड़ी सी गांड जिसकी दरार में उसकी पैंटी फँसी हुई थी जिससे उसकी गांड की लाइन क्लियर दिख रही थी लड़कों के होश उड़ाए दे रही थी सबसे ज्यादा कहर उसकी पाव रोती सी फूली हुई चुत बरपा रही थी जो उसकी पैंटी से भी बाहर निकालने को कर रही थी तभी मॉंटी उसके पीछे आया और अपना लंड पेंट से बाहर निकल कर उसने माधुरी की गांड से लगा दिया और उसके दोनों बूब्स ब्रा के ऊपर से पकड़ कर दबाने लगा ”ये क्या कर रहे हो तुम तुमने वादा किया था की तुम में से कोई भी मेरे साथ कुछ नहीं करेगा” माधुरी कसमसाते हुए बोली माधुरी के ऐसा बोलने से राजेश ने पहली बार नज़र उठा कर माधुरी की तरफ देखा उसे सिर्फ़ ब्रा और पैंटी में देख उसका बुरा हाल हो गया अपनी बेटी को इस हालत में देख कर उसका लंड भी अंगडाया लेने लगा
”मैं अपने वेड पर टीका हुआ हूँ, मैं सिर्फ़ तुम्हें छू रहा हूँ कुछ कर नहीं रहा, अच्छा चलो अब मैं तुमसे दूर हाथ जाता हूँ अब अपने बचे हुए कपड़े भी निकालो” कह कर मॉंटी उसके बूब्स चुद कर एक कदम पीछे हो गया
अब माधुरी ने एक ही झटके में अपना ब्रा उतार दिया उसके बारे बारे 38 साइज के दोनों कबूतर जैसे फड़फदा कर आज़ाद हो गए और अपनी पिंक कलर की निप्पल रूपी छोड ताने जैसे सीधे खड़े होकर उड़ने को तैयार थे अभी सभी उसके बूब्स को ढंग से देख भी नहीं पाए थे की उसने अगले ही पल अपनी पैंटी भी उतार दी…..

जैसे ही माधुरी की पैंटी उतरी वैसे ही सभी लड़कों की आंखें चौंधिया गई और जैसे उनकी लार टपकने लगी वहीं सभी लड़कियों की गांड जलने लगी अपने पार्ट्नर्स को माधुरी के ऊपर ऐसे लार टपकते हुए देख कर तभी उन में से एक लड़के ने अपनी पार्ट्नर की स्कर्ट ऊपर उठाई और उसकी पैंटी निकल कर उसे वही घोड़ी बना कर चोदने लगा राजेश फटी हुई आंखों से कभी नंगी खड़ी माधुरी को देखता तो कभी चुदाई करते जोड़े को अभी कुछ देर बाद उसकी बेटी उसके लंड को चुसेगी और बाद में उस से चुड़वाएगी भी ये सोच कर उसे अजीब टाइप का रोमांच हो रहा था अब वो माधुरी को अपनी बेटी की नहीं बल्कि चुदाई के लिए तैयार किसी मस्त माल की तरह देख रहा था उसका लंड फुल टाइट हो गया था अब उसने सोच लिया की आज तो माधुरी उससे मजबूरी में चुड़ाएगी पर उसके बाद वो रोज ही उसे छोड़ेगा चाहे माधुरी की मर्जी हो या ना हो
अब तक सभी बारे गौर से माधुरी के शरीर का निरीक्षण कर चुके थे तभी पकया उठा और माधुरी के सामने बैठ कर उसकी चुत को देखने लगा और बोला ”भाई मैं शर्त लगा कर कह सकता हूँ की इसकी चुत अभी तक चुदी नहीं है एकदम सील पैक है देखो तो डरी की चुत के होंठ कैसे चिपके हुए है” कह कर उसने माधुरी की चुत को छूने की कोशिश की पर माधुरी ने रास्ते में ही उसका हाथ झिड़क दिया उसके ऐसा करने से पकया एक कुटिल मुस्कान मुस्कराया जैसे वो माधुरी से कह रहा हो की ‘इट्राले जितना भी इतराना है आख़िर तेरी चुत मैं ही फड़ुँगा’ पकया की ऐसी बात सुनकर मॉंटी अपना नंगा खड़ा लंड लेकर उसके पास आया और माधुरी की चुत देख कर बोला ”ये तू सही कह रहा है पकया चल अब इसकी गांड भी देख लेते है” कह कर वो माधुरी के पीछे आ गया और माधुरी की दोनों चूतडो को फैला के उसकी गांड का छेद देखने लगा अचानक उसने अपनी एक उंगली मुंह में डाल कर थूक से गीली की और ‘खच…’ से माधुरी की गांड में घुसेड़ दी चुकी माधुरी की गांड पहले से ही खुली हुई थी तो थूक में सनी हुई उंगली सात से अंदर घुस गई ऐसा होते देख मॉंटी बोला ”अब मैं भी एक बात शर्त लगा कर कह सकता हूँ की इसकी गांड पहले ही किसी मूसल लंड से फॅट चुकी है, देख मेरी इतनी मोटी उंगली कैसे इसकी गांड में सात से घुस गई है”
उसकी बात सुनकर राजेश ने चौंकते हुए हैरानी से माधुरी की ओर देखा राजेश से नज़र मिलते ही माधुरी की तो जैसे गांड ही फॅट गई ‘अब क्या होगा अब तो अंकल को भी पता चल गया की मैं पहले ही गांड मरवा चुकी हूँ पर अब तो अंकल भी मुझे चोद ही लेंगे अब क्या फर्क पड़ता है’ वो अभी सोच ही रही थी की एक आवाज़ उसके कानों से टकराई ”आबे साले मादरचोद क्या मेरी चुत फाड़ ही डालेगा क्या, उस नंगी खड़ी छीनाल का जोश मुझ पर क्यों निकल रहा है” दरअसल चुदाई करते जोड़े के लड़के ने लड़की को बहुत ज़ोर से धक्का लगा दिया था ये देख कर मॉंटी जोश में आ गया और उसने माधुरी की गांड से उंगली निकल कर अपने लंड पर थूक चूपदा और खड़े खड़े ही उसने माधुरी की गांड में लंड दस दिया धक्का इतनी ज़ोर का था की एक ही बार में लंड आधा अंदर घुस गया उसके इस धक्के से ”ऊओमाा साले कुत्ते क्या मर ही डालेगाआअ” कहते हुए माधुरी सामने की ओर गिरने को हुई लेकिन मॉंटी ने उसे अपनी मजबूत बांहों में कमर से पकड़ लिया अब माधुरी आधी झुकी हुई हालत में थी जिस से उसकी गांड और खुल कर बाहर आगाई टनी मॉंटी ने आव देखा ना ताव और गच्छ से एक धक्का और मरते हुए अपना पूरा लंड माधुरी गांड में पेल दिया ”ऊए कुत्ते ये क्या कर रहा है तूने पहले वादा किया था की अगर मैं तुम्हारी बात मानूँगी तो तुम में से कोई भी मुझे हाथ नहीं लगाएगा फिर अब तू ऐसा क्यों कर रहा है” चीखते हुए माधुरी बोली
”हां,हां,हां जानेमन वेड किए ही तोड़ने के लिए जाते है और तेरे जैसे मस्त माक को चुदना भारी मूर्खता होगी अब तो हम चारों ही तुझे कस कस कर छोड़ेंगे” मॉंटी हंसते हुए बोला
”वो भाई वो क्या बात की है आपने भाई अगर आओ इसकी सील तोड़ने का मौका मुझे देदे तो मैं जिंदगी भर आपके पैर धोकर पानी पिऊंगा” पकया ने चहकते हुए मॉंटी की चापलूसी की
”जा मॉंटी तू भी क्या याद करेगा, दिया तुझे इस छीनाल की सील तोड़ने का मौका मुझे तो इसकी टाइट गांड में ही मजा आ रहा है लगता है अभी एक या दो बार ही इसने गांड मराई है बहुत टाइट गांड है साली की” ये कहते हुए मॉंटी ने अपना लंड पूरा बाहर खींचा और एक ही धक्के में फिर से पूरा लंड अंदर भर दिया उसके इस धक्के के साथ ही माधुरी के मुंह से ‘हाआक्कककक…..’की आवाज़ निकली और दर्द के मारे उसकी आंखों से आँसू निकल गये
मॉंटी ने अपना लंड पूरा बाहर खींचा और एक ही धक्के में फिरसे पूरा अंदर घुसेड़ दिया उसके इस धक्के से माधुरी के मुंह से ‘हाआक्कककक…’ की एक आवाज़ निकली और दर्द के मारे उसकी आंखों में आँसू आ गये……
अब आगे…..
पकया ललचाई नज़रो से माधुरी की ओर देख रहा था और अपने नंबर का इंतनजर कर रहा था मॉंटी ने फिर अपना लंड बाहर खींचा और अभी वो धक्का लगाने ही वाला था की उसके जेब में पड़ा मोबाइल बज उठा इस टाइम फोन आने से उसे बहुत गुस्सा आया और वो एक हाथ से माधुरी को ऐसे ही पकड़े फोन निकलते हुए बड़बड़ाने लगा ”इस मोबाइल की मां भी अभी ही चूड़नी थी मां का लौंडा टाइम देख कर भी नहीं बजता” और मोबाइल का कॉलिंग स्विच दबा कर बोला ”कौन है भी, कहे इस वक्त अम्आंटी चुदाया”
”भाई मैं बाबू बोल रहा हूँ पुलिस को पता चल गया है की आप किस ट्रेन से जा रहे हो इसलिए उन्होंने सभी स्टेशन पर आपको पकड़ने के लिए घेराबंदी कर दी है आप जहाँ हो वही चैन पुल्लिंग कर के ट्रेन रोको और उतार जाओ वरना आगे भगवान ही आपका मलिक है” दूसरी तरफ से आवाज़ आई
पुलिस का नाम सुनते ही मॉंटी ने माधुरी को चुद दिया वो धम से नीचे गिरी ”मैं तुझसे बाद में बात करता हूँ” कह कर मॉंटी ने फोन कटा और पकया से बोला ”पकया भूल जा इस लड़की को और जाकर तुरंत चैन खींच अगले स्टेशन पर पुलिस हमारा इंतजार कर रही है, और तुम लोग भी उत्तो और दरवाजा पर पहुंचो ट्रेन रुकते ही हमें ट्रेन से दूर भाग जाना है समझे” वो दूसरों से बोला और खुद भी अपना बैग उत्ता कर दरवाजा की ओर भगा तब तक पकया चैन खींच चुका था और ट्रेन की रफ्तार भी धीमी होने लगी थी अब वो सभी दरवाजा के पास जा चुके थे इधर दोनों बाप बेटी को यकीन ही नहीं हो रहा था की वो इन गुंडों से बच गये थे माधुरी भी अभी तक उसी तरह नीचे ही पड़ी हुई थी तभी ट्रेन रुकी और वो सभी गुंडे कूद कर ट्रेन से दूर भाग गये ट्रेन रुकने से एक धक्का सा लगा और माधुरी उत्त् कर जल्दी जल्दी अपने कपड़े पहनने लगी और कपड़े पहन कर अपनी सीट पर बैठ गई अभी भी मॉंटी के जानवरों जैसे लगाए गये धक्को से उसकी गांड में हल्का हल्का दर्द हो रहा था राजेश भी अब तक टॉयलेट जा कर अपनी हालत ठीक कर के वापस अपनी सीट पर बैठ चुका था थोड़ी देर बाद ट्रेन फिर से अपनी बढ़ता पकड़ने लगी थी माधुरी शर्म के मारे अपनी गर्दन झुकाए बैठी थी राजेश भी अभी तक चुप ही बैठा था अब माधुरी के बारे में उसके विचार बदल गये थे वो माधुरी के नंगे बदन को देख कर पूरी तरह उसके हुस्न का दीवाना हो चुका था और किसी भी कीमत पर माधुरी को चोद देना चाहता था आख़िरकार राजेश ने ही चुप्पी तोड़ी और बोला ”देख माधुरी जो हुआ सो हुआ अब तू इस बात को हमेशा के लिए भूल जा और कभी भी किसी से इसका जिकर नहीं करना, मैं भी इस बारे में अपना मुंह सील लूँगा ओके”
”जी अंकल मैं भी इस हादसे को याद नहीं रखना चाहती और कभी भी किसी को इस बारे में कुछ नहीं बताऊंगी” माधुरी वैसे ही गर्दन झुकाए बोली
”लेकिन बेटा वो लड़का जो तेरे पीछे था वो ऐसा क्यों बोल रहा था की तेरी गाअ…..की तू पीछे से कुंवारी नहीं है” राजेश ने गंदे शब्दों का इस्तेमाल ना करते हुए माधुरी से पूछा
इतना सुनते ही जैसे माधुरी के पैरों ताले से ज़मीन खिसक गई थी उसे समझ नहीं आ रहा था की वो अपने बाप को अब क्या जवाब दे आख़िरकार वो लड़खड़ाते हुए शब्दों में बोली ”पा….पा उूओ…उूओ…..लड़का झूठ बोल रहा था ऐसी कोई बात नहीं है”
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 28
Reply
07-04-2018, 01:03 PM,
#28
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 29
माधुरी के चेहरे पर साफ लिखा था की वो झूठ बोल रही है उसके इस तरह झूठ बोलने से राजेश के गुस्से का पड़ा सातवें आसमान पर पहुंच गया और वो अपनी असली औकात में आकर बोला ”तू मुझे चूतिया समझती है क्या बहुत गंदे मारी है मैंने भी और इतना मैं भी समझता हूँ की कौन सी गांड चुदी हुई है और कौन सी गांड ऊंची है, जिस तरह आसानी से उस लड़के का लंड तेरी गांड में घुसा था उस तरह किसी सील पैक गांड में लंड घुस ही नहीं सकता है इसलिए सच सच बता और अगर अब तूने झूठ बोला तो मुझसे बुरा कोई नहीं होगा समझी”
राजेश के गुस्से को देखकर माधुरी डर से थर थर कांपने लगी और सीट से उतार कर राजेश के पैर पकड़ कर रोते हुए बोली ”अंकल मुझे माद कर दीजिए मुझसे गलती हो गई थी लेकिन मैं सामने से अभी भी कुंवारी हूँ और पीछे से भी सिर्फ़ दो बार ही किया है और कसम खाकर कहती हूँ की अब कभी भी नहीं करूँगी”
”किसके साथ गांड मरवाई है तूने उसका नाम बता मुझे” राजेश चिल्लाते हुए बोला वैसे भी डिब्बे में अब उनके अलावा और कोई नहीं था तो उनकी आवाज़ कौन सुनता
राजेश की बात सुनते ही माधुरी का दिल किया की वो चलती ट्रेन से कूदकर जान देदे किस मुंह से वो अपने बाप को बताए की उसने अपने सगे भाई से ही अपनी गांड मरवाई है, क्या सोचेंगे उसके अंकल उसके बारे में उसके मान में यही उधेड़बुन चल रही थी की तभी राजेश ने उसके बाल पकड़ कर खिंचते हुए चिल्ला कर पूछा ”बोलती क्यों नहीं छीनाल किसका लंड पेलवाया है तूने अपनी गांड में”
राजेश के इस तरह बाल खींचने से माधुरी तड़प उठी और रोते हुए बोली ”योगेश भैया के साथ किया है मैंने ये सब लेकिन इसमें उनकी कोई गलती नहीं थी मैंने ही उन्हें ये सब करने के लिए मजबूर किया था” माधुरी अपने भाई को बचाते हुए बोली
योगेश का नाम सुनते ही जैसे राजेश को साँप सूंघ गया उसे यकीन ही नहीं हुआ की उसकी पीठ पीछे उसके घर में उसके बच्चे ऐसा भी कर सकते है तभी उसकी सोचे दूसरी ओर मूंड़ गई उसने सोचा की आख़िर अब उसके सभी बच्चे जवान हो गये है और उसने सभी पर सख्ती भी तो बहुत की है और इस उमर में ये सब तो हर कोई करता है पर भाई बहन ही आपस में ये सब करे तो ठीक नहीं है फिर करे भी तो क्या करे घर से बाहर कुछ करने का तो उन्हें कोई मौका ही नहीं है और अगर वो घर से बाहर कुछ करते और बात खुल जाती तो कितनी बदनामी होती नहीं नहीं अच्छा हुआ उन्होंने जो किया घर में ही किया कम से कम बदनामी का डर तो नहीं है और वो भी तो अब अपनी ही बेटी को चोदना चाहता है तो क्या गलत किया इन दोनों ने राजेश को अब ये बात जच्छ गई थी उसने माधुरी के बाल चोदे और बोला ”देख माधुरी मैं जनता हूँ की तुम लोगों की उमर ही ऐसी है की इसमें बच्चे बहक ही जाते है और तूने ये ठीक किया की बाहर के किसी आदमी से नहीं चुदवाया इस लिए मैं तुझे माफ कर सकता हूँ पर मेरी एक शर्त है”
माफी की बात सुनकर माधुरी ने रोना बंद किया और राजेश की ओर देखती हुई बोली ”कैसी शर्त पापा”
”यही की तुम जो कुछ भी योगेश के साथ करती हो वो मेरे साथ भी करना पड़ेगा” राजेश मुस्कुराते हुए बोला
”क्या……..ये आप क्या बोल रहे है अंकल मैं आप के साथ ये सब कैसे कर सकती हूँ आख़िर आप मेरे अंकल है” माधुरी हैरानी से राजेश की ओर देखते हुए बोली उसे यकीन नहीं हो रहा था के उसके अंकल उसे ही चोदना चाहते है
”तो क्या हुआ योगेश भी तो तेरा सागा भाई है जब तू उसका लंड ले सकती है तो मेरा क्यों नहीं” राजेश बोला
”नहीं अंकल ये मुझसे नहीं होगा” माधुरी बोली
”ठीक है फिर, अब तू सोच के जब मैं घर में सभी को ये बताऊंगा की तू कैसे अपने सगे भाई से गांड मरवती है तो क्या सोचेंगे तेरे बारे में कैसे उन सब से नज़र मिला पाएगी तू,देख माधुरी मेरी बात मानने में ही तेरा फायदा है मैं कोई रोज रोज तो तुझे चोदने वाला हूँ नहीं कभी कभार ही तुझे मेरे नीचे आना होगा और फिर इतने से के बदले मैं तुझे योगेश के साथ चुदवाने की खुली चुत भी दे रहा हूँ अब तू खुद ही सोच ले की तेरा भला किस में है” राजेश उसे ब्लकमैइल करते हुए बोला
माधुरी अब सोचने लगी थी ये बात उसके हलक से नहीं उतार रही थी की उसका सागा बाप उसे चोदना चाहता है फिर उसने बहुत गहराई से राजेश की बातों पर गौर किया और आख़िर में वो इस फैसले पर पहुँची की राजेश सही कह रहा है अगर उसे योगेश से चुदाई के मजे लेने है तो उसे राजेश से चुदवाना ही होगा और कौन सा राजेश उसे रोज रोज छोड़ेगा और फिर उसे भी तो दो-दो लुंडो का मजा मिलेगा ये सोच कर वो उत्त् कर अपनी सीट पे बैठ गई और बोली ”ठीक है अंकल मुझे मंजूर है पर मेरी ये शर्त है की आप कभी भी मुझसे ज़बरदस्ती नहीं करेंगे जो मेरी मर्जी होगी आप उतना ही करेंगे अगर ये बात आपको मंजूर हो तो बोलो”
”मुझे मंजूर है, बहुत दीनों से गाँव की शादी हुई मजदूरों को चोद चोद के परेशान हो गया था अब तुझे चोदने के लिए मुझे तेरी ये शर्त मंजूर है” कह कर राजेश माधुरी से चिपक कर बैठ गया और कपड़ों के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाने लगा अपने अंकल के हाथ अपने बूब्स पर महसूस करके माधुरी ने अपनी आंखें बंद कर ली उधर राजेश ने अपना लंड पेंट से बाहर निकल लिया और माधुरी का एक हाथ पकड़ कर अपने नंगे लंड पर रख दिया और बोला ”मधु जब से मैंने तुझे नंगा देखा है मैं तुझे चोदने के लिए बेकरार हो गया हूँ ले बेटा ज़रा मेरा लंड तो सहला दे” अपने अंकल के मुंह से ऐसी बातें सुनकर माधुरी की चुत में गुदगुदी होने लगी और वो धीरे धीरे अपना हाथ अपने अंकल के लंड पर आगे पीछे करने लगी थोड़ी देर ऐसा करने के बाद राजेश मस्त हो गया और बोला ”माधुरी अभी इतना वक्त तो नहीं है की मैं तेरी चुत की सील तोड़ पऔन और तेरे माआंटी के घर भी हमें मौका नहीं मिलेगा इसकिय अभी तो बस तू मुझे एक बार तेरी बड़ी सी कसी हुई गांड मर लेने दे बाकी बाद में देखेंगे क्योंकि बहुत देर से मेरा लंड तेरी गांड में घुसने को मारा जा रहा है”
माधुरी भी बहुत देर से तड़प रही थी इसलिए उसे भी अभी अपने बाप से गांड मरवाने में कोई दिक्कत नहीं थी वो खड़ी हुई और बोली ”अंकल आप मेरी चुत की सील तोड़ने के बारे में तो भूल ही जाए वो तो भैया ही तोड़ेंगे आप को तो चुदी चुदाई चुत ही मिलेगी चोदने के लिए हाँ आप अभी मेरी गांड जरूर मर सकते है” कह कर माधुरी ने अपनी सलवार और पैंटी घुटनों तक उतार दी और वही फर्श पर घोड़ी बन गयी माधुरी की मस्त गांड देख कर राजेश कुत्तों की तारा जीभ लपलपाने लगा और अपने लंड पर थूक लगते हुए बोला ”तीखाई बेटा जैसी तेरी मर्जी अगर तुझे अपनी चुत की सील अपने भाई से ही तुड़वणी है तो उसी से तुड़वाना मुझे चुदी हुई चुत भी चलेगी” कह कर राजेश ने पोज़ीशन ली और गच्छ से अपना थूक से साना लंड माधुरी की गांड में पेल दिया ”हहाआअक्ककक…..आहह….ज़रा धीरे से घुसेदो ना”माधुरी कसमसाई
राजेश का लंड योगेश के लंड जितना मोटा तो नहीं था पर अभी माधुरी की गांड उतनी ज्यादा खुली नहीं थी इसलिए लंड जाते ही उसे थोड़ा दर्द हुआ अब राजेश उसकी कमर पकड़ कर धक्के लगाने लगा और माधुरी भी अपनी चुत में उंगली अंदर बाहर करने लगी लगभग 5 मिनट तक धक्के मरने के बाद राजेश के धक्को की बढ़ता एकाएक तरफ गई अब वो तूफानी बढ़ता से धक्के मरने लगा माधुरी समझ गई की अब वो झड़ने वाला है और उसने भी अपनी उंगली की बढ़ता बढ़ा दी तभी उसे अपनी गांड में गरम गरम लावा महसूस हुआ और वो भी राजेश के साथ ही झड़ने लगी राजेश के लंड ने आज बहुत दीनों के बाद इतना पानी चोदा था वो वैसे ही माधुरी के ऊपर ढेर हो गया कुछ देर बाद माधुरी ने उसे अपने ऊपर से हटाया और अपनी पैंटी निकल कर अपनी गांड अच्छे से साफ की और पैंटी खिड़की से बाहर फेंक कर अपनी सलवार पहांली राजेश भी अपना मुरझाया हुआ लंड लेकर खड़ा हुआ और अपने कपड़े पहनने लगा माधुरी भी तब तक अपने आप को ठीक कर चुकी थी तभी ट्रेन की बढ़ता कम हुई और वो रुकने लगी राजेश ने बाहर देखा तो उनका स्टेशन आ गया था वो दोनों ही उत्ते और अपना समान ले कर दरवाजा के पास आ गये..

शाम के 7 बज गये थे पूजा और योगिता खाना बना चुकी थी योगेश अभी घर पर नहीं था लेकिन कुछ देर में ही वापस आने वाला था दोनों बहने हॉल में बैठी टीवी देख कर टाइम पास कर रही थी तभी योगिता को कुछ याद आया तो वो पूजा से बोली ”पूजा क्या तू सच में भैया से चुत और गांड एक ही बार में चुडवाएगी”
”हाँ मैं सच में ही ऐसा करूँगी” पूजा बोली
”लेकिन तुझे ऐसा ख्याल कहाँ से आया, तुझे पता है की कितना दर्द होता है पहली बार चुत चुदवाने में फिर तू तो उसके साथ गांड भी मरवाने वाली है तेरी तो वॉट ही लगजाएगी” योगिता बोली
”देख योगिता दर्द तो होगा ही चाहे मैं गांड अभी मार्व्ौन या बाद में इस लिए मैं दोनों ही छेड़ो को एक ही बार में चुदाया लेना चाहती हूँ ताकि जितना भी दर्द होना है एक बार में हो जाए बार बार का झंझट कौन पाले और इसकी पीछे एक राज भी है” पूजा बोली
”कौन सा राज है” योगिता चूकते हुए बोली
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 29
Reply
07-04-2018, 01:03 PM,
#29
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 30
”देख योगिता मैंने तुझसे भैया के कहने पर एक बात छुपाई थी, असल में भैया माधुरी दीदी की गांड मर चुके है जब सुबह मैंने दीदी को लंगड़ा कर चलते देखा तो मैंने भैया को ऐसे ही ब्लफ मर दिया की मैंने उनके रूँ में मादगुरी दीदी और उनकी चुदाई करने की आवाजें सुन ली थी तब उन्होंने मुझे बताया था की उन्होंने दीदी को चोदा नहीं बल्कि उन की गांड मारी थी, तब मैंने भी सोच लिया की भैया ने तेरी चुत का और दीदी की गांड का उद्घाटन तो कर ही दिया है तो क्योना मैं तुम दोनों से आगे तरफ कर दोनों ही कम उनसे करवा लू इसी लिए मैंने दीदी वाली बात छुपाने के बदले उनसे ये वादा लिया था की जब भी हमें मौका मिलेगा वो मेरे दोनों ही छेड़ो में एक बार में ही अपना लंड पेलेंगे और किस्मत से आज ही हमें मौका भी मीलगया” पूजा ने बताया
पूजा की बात सुनकर योगिता दंग रही गई उसे यकीन ही नहीं आया की उसका भाई उसको चोदने के बाद अपनी बड़ी बहन की गांड भी मर चुका है ”यार भैया तो बहुत फास्ट चल रहे है कल मुझे चोद डाला, दीदी की गांड फाड़ डाली और आज तेरी चुत और गांड दोनों ही मरने वाले है, अब बची मनीषा दीदी तो क्या भैया अब उसका भी नंबर लगाएँगे”वो अपनी सोचो में गुम बोली
”अगर भैया ना भी लगाएँगे उसका नंबर तो ये हमें ही करना पड़ेगा क्यों की मनीषा दीदी के होते हुए हम भैया से नहीं चुदाया सकते इसलिए किसी भी प्रकार हमें मनीषा दीदी को भी शामिल करना ही होगा इस खेल में नहीं तो जो मजा हमें अभी मिल रहा है फिर वो हमें नहीं मिलेगा” पूजा ने अपनी चिंता जाहिर की
”हुउम्म्म्म…कह तो तू सही रही है इतना तो हमें किसी भी तरह करना ही पड़ेगा वरना बहुत गड़बड़ हो जाएगी” योगिता सोचते हुए बोली
”अब तू बैठ मैं ज़रा तैयार होकर आती हूँ क्योंकि भैया आने ही वाले होंगे और मैं उन्हें अभी से इतना गरम कर देना चाहती हूँ की वो जब मुझे चोदे तो पूरे जोश में हो” कह कर पूजा ऊपर अपने रूम में चली गई
पूजा अपने रूम में गई और सोचने लगी की वो कौन से कपड़े पहने जो उसका भाई उसे देख कर एकदम उत्तेजित हो जाए उसने अपने सभी कपड़े देखे पर कोई भी ड्रेस उसे इसलायक नहीं लगी तभी उसे आइडिया आया और वो स्टोर रूम में गई जहाँ पुराने कपड़े रखे थे उसने वहाँ से अपने कॉलेज टाइम की एक यूनिफॉर्म निकल ली और अपने रूम में आगाई उस ड्रेस में एक हाफ शर्ट और एक मिनी स्कर्ट थी जो की अब उसे बहुत छोटी हो गई टनी उसने ट्राइ कर के देखा तो शर्ट तो बिलकुल उसके मनमाफ़िक थी पर स्कर्ट उसकी कमर में टाइट हो रही थी उसने कमर के पास पीछे से थोड़ी सी सिलाई उधेड़ दी जिससे अब स्कर्ट भी थोड़ी ढीली हो गई थी उसने उन कपड़ों को प्रीस किया और नहा कर बगीर ब्रा पैंटी पहने ही वो ड्रेस पहांली और आने के सामने जाकर अपने आपको देखने लगी उसे यकीन ही नहीं आया की वो इतनी सेक्सी भी लग सकती है स्कर्ट उसके कुल्हो से सिर्फ़ 2 इंच ही नीचे थी जिससे उसकी भारी भारी गोरी चिकनी जांघें पूरी नज़र आ रही थी और अगर वो ज़रा भी झुकती तो उसकी पूरी गांड भी नज़र आ जाती शर्ट उसे इतनी फिट हुई थी की उसके बदन का एक एक कटाव नज़र आ रहा था उसके बस तो उस शर्ट में सआंटी ही नहीं रहे थे यहाँ तक की उसे सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी अब उसने शर्ट के ऊपर के दो बताऊं खोल लिए जिससे उसके बूब्स आधे से ज्यादा दिखने लगे और इस कंडीशन में आ गये के जरसे झुकने में ही वो शर्ट से बाहर आकर लटक भी सकते थे फिर उसने एक बहुत ही मादक सेंट वाला बॉडी स्प्रे अपने शरीर पर और कपड़ों पर लगाया और एक बार खुद को अच्छे से आने में देख कर मान ही मान खुश होते नीचे आगाई ुआको ऐसे देख कर योगिता ठगी सी खड़ी होकर ऊए देखने लगी उसका मुंह खुला का खुला रही गया ”अरे बाप रीए….ये सच में तू ही हैईना पूजा या कोई और है” योहिता बोली
”ये मैं ही हूँ दीदी” पूजा मुस्कुराते हुए बोली
”एक बात तो माननी पड़ेगी की इस ड्रेस में तू दुनिया की सबसे सेक्सी लड़की लग रही है अब तो भैया की खैर नहीं और मुझे तो लग रहा है की आज तो तेरा उद्घाटन बेडरूम में नहीं यही इसी हॉल में होगा” योगिता बोली
”वाउ क्या आइडिया है दीदी हॉल में सोफे पर चुदाई, थॅंक्स दीदी ये आइडिया देने के लिए अब तो मैं यही हॉल में सोफे पर अपनी चुत का और फर्श पर अपनी गांड का उद्घाटन करवाऊंगी” इतना कह कर पूजा ने योगिता को किस करते हुए उसे अपने गले लगा लिया

पूजा ने योगिता को अपने से अलग किया और बड़ी सी गांड पर हाथ घूमते हुए बोली ”बहना मेरी बात मान आज तू भी अपनी गांड मरवा ही ले”
”नहीं यार अभी तो मेरी चुत का ही दर्द पूरी तरह नहीं गया है अगर मैं आज गांड भी मरवा लूँगी तो कल से घर का कम कौन करेगा क्योंकि मुझे पता है की चुदाई करने के बाद कम से कम दो दिन तक तो तू बेड पर ही पड़ी रहने वाली है” योगिता अपनी चुत सहलाते हुए बोली जो कल से आज तक दो बार चुद चुकी थी और उसमें थोड़ी सूजन भी थी
”अच्छा चल तुझे गांड नहीं मारनी है तो मत मारा पर तू भी जाकर थोड़े सेक्सी सी ड्रेस पहन कर आजा आज हम दोनों मिलकर भैया की गांड फाड़ देते है” पूजा बोली
”ऐसा करने के लिए मुझे कपड़े पहनने की नहीं उतरने की जरूरत है” कह कर योगिता ने अपनी सलवार कुरती उतार दी अब वो सिर्फ़ ब्रा और पैंटी में थी और उसका बदन इन कपड़ों में जैसे कहर ढा रहा था उसे इस हालत में देख कर पूजा से रहा नहीं गया और वो बोली ”अगर मैं लड़का होती तो कसम से तुझे अभी यही पटक कर तेरी चुत का भोसड़ा और गांड का ड्रम बना देती” और पूजा ने पैंटी के ऊपर से ही योगिता की गांड के छेद में उंगली घुसेड़ दी ”आहह…..” थोड़ी सी उंगली जाते ही योगिता चिहुकी तभी दूर्बील बाजी और बेल बजते ही योगिता अंदर भागी और पूजा ने वहाँ पड़े चादर से खुद को ढँक कर दरवाजा खोल दिया सामने योगेश खड़ा हुआ था और उसके हाथ में एक कॅरी बैग झूल रहा था ”तू ये चादर क्यों ढके हुए है” वो अंदर आते हुए बोला और उसने वो कार्रयबाग एक तरफ रखा और पलट कर पूजा की ओर देखा तब तक पूजा दरवाजा बंद कर चुकी थी वो योगेश के पास आई और एक झटके में उसने चादर उतार कर एक तरफ फेंक दी जैसे ही योगेश की नज़र पूजा के लिबास पर पड़ी उसके होश उउड़ गये वो मूर्खो की तरह बिना पालक झपकाए पूजा को देखने लगा पूजा के शर्ट से बाहर आते बूब्स जैसे उसे चिढ़ा रहे थे की अगर दम है थी छूकर देखो और उसकी मांसल जांघें जैसे उसे मसलने और चाटने के लिए आमंत्रित कर रही थी
पूजा अपने भाई की ऐसी हालत का बहुत अच्छे से मजा ले रही थी तभी योगिता वहाँ आई और वो भी योगेश की ऐसी हालत देख कर हँसने लगी योगिता की हँसी सुन कर योगेश की तंद्रा टूटी और उसने योगिता की ओर देखा उसे और एक झटका लगा भले ही उसने योगिता को पूरा नंगा देखा था और उसे चोद भी लिया था पर उसका ये रूप योगेश के लिया नया था वो अब योगिता को घूरने लगा था और बार बार उसका ध्यान योगिता की ब्रा में कैद चुचियों पर जा रहा था तभी पूजा ने योगिता को इशारा किया की वो उल्टी घूम जाए योगिता इशारा समझ कर घूम गई जिससे अब उसकी 38 साइज की बड़ी गांड योगेश के सामने आगाई थी उसका लंड अब उसके काबू में नहीं था और वो पेंट से बाहर निकालने के लिए उछाल कूद कर रहा था पूजा ने जब उसके पेंट के उभर में हलचूल होते देखी तो वो आगे बढ़ी और उसने योगेश के पेंट की जीप खोल कर उसका लंड बाहर निकल दिया योगेश का लंड किसी नाग की तरह अपना फन उठाए खड़ा था अपने आप ही उसके कदम योगिता की ओर बढ़े और वो पीछे से योगिता से चिपक कर उसकी गांड से अपना लंड रगड़ने लगा योगिता भी अपनी गांड पर लंड महसूस कर के मस्त हो गई थी योगेश ने योगिता की कमर पकड़ ली और उसकी गर्दन चूमते हुए पैंटी के ऊपर से ही धक्के लगाने लगा योगिता की चुत योगेश की इन हरकतों से पूरी तरह गीली हो चुकी थी अचानक योगेश ने अपना हाथ उसकी पैंटी के अंदर घुसेड़ कर उसकी चुत में उंगली चलना शुरू कर दिया योगिता मस्ती में आकर ‘आहह……उउम्म्म्ममममह…….’ जैसी सिसकियां भरने लगी पूजा दूर खड़े इस सब का आनंद ले रही थी योगिता ज्यादा देर योगेश की इन हरकतों को सह नहीं पाई और उसने हाथ पीछे कर के योगेश की गर्दन पकड़ ली और झड़ने लगी योगेश का पूरा हाथ योगिता के पानी से भर गया था अब योगेश ने उंगली करना बंद कर के अपना हाथ बाहर निकाला और योगिता की पैंटी नीचे कर उसे वहीं सोफे से टीका कर घोड़ी बना दिया और अपना पेंट निकल दिया योगेश को चुदाई की तैयारी करते देख पूजा चौंकी और ज़ोर से बोली ”ये क्या कर रहे ही भैया, अभी मेरी बड़ी है आप अभी योगिता को नहीं चोद सकते”
”नहीं पूजा तुम दोनों बहनों ने मुझे इतना पागल कर दिया है की मैं अभी बस कुछ मिनट में ही झाड़ जाऊंगा इसलिए मैं तेरी चुदाई अच्छे से नहीं कर पाऊँगा और अभी तो तेरी सील भी नहीं टूटी है इसलिए पहले मुझे एक बार झाड़ जाने दे फिर देख कैसे मैं तेरी चुत और गांड फड़ता हूँ” योगेश उसे समझते हद बोला. पूजा की समझ में योगेश की बात आगाई ”ठीक है अगर ऐसा है तो फिर आप इसे चोद सकते है” वो बोली
योगेश तब तक नीचे से पूरा नंगा हो चुका था और योगिता सोफे पर गर्दन रखे आंखें बंद किए घोड़ी बनी हुई थी योगेश ने बहुत सारा थूक अपने लंड पर लगाया उसे ऐसा करते देख पूजा कुछ बोलने ही जा रही थी की उसने पूजा को चुप रहने का इशारा करते हुए आँख मारी पूजा समझ गई की योगेश अपना लंड योगिता की गांड में घुसेड़ना चाहता है और वो मुस्कराने लगी उसे मुस्कुराते देख योगेश ने योगिता की कमर पकड़ी और योगिता की गांड के छेद का निशाना लेते हुए एक ज़ोर का धक्का लगाया ”आरीईए…..बाआअप्प्प्प्प…रीई…..मैं..मर…गई..रीए……” की एक भयानक चीख योगिता के मुंह से निकली और वो योगेश की पकड़ से निकालने के लिए ज़ोर लगाने लगी और छूटने में कामयाब भी हो गई दरअसल धक्का मरते ही योगेश का एक चौथाई लंड योगिता की गांड में घुस गया था चूँकि योगिता इस के लिए तैयार नहीं थी वो तो चुत में ही लंड जाने की उम्मीद कर रही थी इसीलिए उसके मुंह से ऐसी भयानक चीख निकली थी योगेश और पूजा दोनों ही योगिता के ऐसे चीखने से बहुत डर गये थे योगिता का गुस्सा सातवें आसमान पर था ”साले बहँचोड़ जब मैंने मना कर दिया है तो फिर क्यों मेरी गांड के पीछे पड़ा है, कैसे जानवरों की तरह लंड घुसेड़ दिया मेरी गांड में” वो गुस्से से बोली उसका गुस्सा देख योगेश के तो मुंह से आवाज़ ही नहीं निकली पूजा अब बात बनाने की कोशिश करती हुई बोलो ”योगिता भैया ने जानबूझकर ऐसा नहीं किया होगा अब दोनों ही छेद आस पास ही तो है धोके से लंड चुत की जगह गांड में घुस गया होगा, क्यों भैया”
”हाँ हाँ यही बात है मैंने तो नीचे देखा ही नहीं और बस धक्का लगा दिया अगर तुम्हें दर्द हुआ हो तो मुझे माफ कर दो योगिता” योगेश जल्दी से बोला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 30
Reply
07-04-2018, 01:03 PM,
#30
RE: Nangi Kahani साला है बड़ी किस्मत वाला
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 31
योगिता योगेश की बात सुनकर उसपर तो शांत हो गई लेकिन पूजा देखते हुए फिर गुस्से में बोली ”तू तो चुप ही रही छीनाल तूने ही मुझे घूम कर भैया को अपनी गांड दिखाने का इशारा किया था, बड़ी आई चुत और गांड एक ही बार में मरवाने वाली देखा कैसा दर्द होता है अब मैं भी देखती हूँ की कितनी हिम्मत है तुझमें कैसे मरवती है तू अपनी चुत और गांड एक बार में हूँ”
”तू उसकी चिंता मत कर वो मैं देख लूँगी लेकिन यदि तू अभी भैया को ठंडा नहीं करेगी तो फिर तू मुझे चीखते चिल्लाते कैसे देख पाएगी इस लिए पहले तू भैया को ठंडा तो कर दे” पूजा बोली
अब योगिता सोफे पर लेट गई और उसने अपनी टाँगे फैला ली वो अब फिर से घोड़ी बन कर रिस्क नहीं लेना चाहती टनी उधर योगेश भी खैर मानते हुए अपना लंड योगिता की चुत में घुसा कर उसे चोदने लगा वो पहले से ही काफी गरम था इस लिए ज्यादा देर तक वो टिक नहीं पाया और 5 मिनट के बाद ही झाड़ गया और उसके साथ ही योगिता भी दोबारा झाड़ गई पूजा उनकी चुदाई देख कर गरम तो बहुत हो गई थी लेकिन उसने अपनी चुत में उंगली करने की कोशिश नहीं की क्योंकि वो आज अपने भाई के लंड के धक्को से ही झड़ना चाहती थी अपनी उंगली से नहीं…….
****************
योगिता और योगेश दोनों ही अपने आप को संभाल चुके थे अब रात के 9 बज चुके थे और पूजा को भूख भी लग चुकी टनी वो उन दोनों से खाना खाने के लिए बोली पर योगेश का मूंड़ आज कुछ और था उसने पूजा को अपने पास बुलाया और उसके होंठ चूसने लगा योगिता उन दोनों को देखे जा रही थी तभी योगेश पूजा के होंठ चुद कर पूजा से बोला ”मेरी प्यारी बहन आज तू खाना नहीं खाएगी आज तू सिर्फ़ मेरा लंड खाएगी बस और वो भी अपने दो दो मुंह से” कह कर योगेश खुद भी सोफे पर बैठ गया और पूजा को भी अपनी गोद में अपने मुरझाए लंड पर बैठा लिया और योगिता को देखा जो अभी भी फर्श पर सिर्फ़ ब्रा पहने बैठी थी और उसकी पैंटी उसके घुटनों के पास अटकी थी उसकी हालत देख कर योगेश को हंसी आगाई वो उससे बोला ”तू यूँ पागलों की तरह क्यों बैठी है, एक कम कर अपने ये दोनों कपड़े उतार कर वो जो कॅरी बैग वहाँ पड़ा है ना उसे उत्ता कर इधर ला”
”वो तो मैं ला देती हूँ पर इसमें कपड़े उतरने की क्या जरूरत है” योगिता बोली
”साली रंडी ज्यादा मुंह छोड़ी मत कर जब दोपहर को तू चुद रही थी तब पूजा ने भी अपने कपड़े उतरे थे की नहीं इस लिए ज्यादा गांड मत मरवा और मैं जितना कह रहा हूँ उतना कर समझी” योगेश अब फुल मस्ती में बोला
योगिता समझ गई की अब योगेश पूजा की मस्त जवानी के नशे में आ चुका है और अब वो अपने मान की ही करेगा इस लिए उसने झट से अपनी ब्रा और पैंटी उतार दी और वो कॅरी बैग उत्थाने गई उसके बूब्स चलते हुए थिरक से रहे थे और उसके बारे बारे चूतड़ ऐसे हिल रहे थे जैसे तबाही लाना चाहते हो उसकी मटकती हुई गांड को देख कर योगेश ने मान में सोचा ‘एक ना एक दिन अगर मैंने तेरी गांड में अपना लंड नहीं पेला तो मैं भी अपने बाप की औलाद नहीं’तभी योगिता वो केरी बैग उत्ता लाई और उसे सोफे के पास रख दिया
”अरे कामिनी साली इसे खोलेगा कौन तेरा कसम” योगेश चिल्लाया
”क्यों ये छीनाल पूजा नहीं खोल सकती क्या” योगिता भी चिल्लाई
”नहीं आज तो मेरी रानी की सुहागरात है आज ये कोई कम नहीं करेगी इसलिए बहस करना चोद और इसे खोल” योगेश बोला
योगिता समझ गई की योगेसं मानने वाला नहीं है इसलिए उसने वो केरी बैग खोल दिया और समान बाहर निकालने लगी उसमें से एक बंद लिफाफा निकला जिसमें दो चिकेन तंदूरी रखे हुए थे और एक व्हिस्की की बोतल भी उस समान में निकली व्हिस्की की बोतल देख कर पूजा ने हैरानी से पूछा ”भैया ये शराब किस लिए”
”देख पूजा आज तू मुझसे चुत और गांड दोनों मरवाने वाली है और अभी तूने देखा की योगिता ज़रा से ने ही कितना चिल्लाई थी और आज तो तेरे दोनों ही छेड़ो की सील टूटने वाली है सोच तुझे कितना दर्द होगा फिर मुझे भी तो दर्द होगा ना इसलिए मैं ये उत्ता लाया हम सभी थोड़ी थोड़ी पी लेंगे तो हमें दर्द नहीं होगा” योगेश बोला उसकी बात सुनकर पूजा तो कुछ नहीं बोली पर योगिता बोल ही पड़ी ”दर्द और मजा इस रंडी को आने वाला है तो ये पिए ऐसी गंदी चीज़ मैं क्यों पियू”
”देख योगिता जब तू भी हमारी साथी है तो तुझे भी तो हमारा साथ देना ही होगा ना” योगेश बोला
”ठीक है पर मैं ज़रा सी ही पियूंगी” कहकर योगिता गिलास और प्लेट लेने अंदर चली गई
अब योगेश का लंड फिर से खड़ा होने लगा था पूजा को स्कर्ट के ऊपर से ही अपनी गांड पर इगेश की चुभन महसूस होने लगी थी उसने मस्ती में आकर योगेश के होंठ अपने मुंह में भर लिए और उन्हें चूसने लगी योगेश ने भी एक हाथ से उसका बुबू दबाते हुए दुसर्व हाथ की उंगली उसकी चुत में घुसेड़ दी एकदम से चुत में उंगली घुसते ही पूजा ज़ोर से चीखी ”आहह…..” लेकिन योगेश रुका नहीं और सतसट उंगली अंदर बाहर करने लगा उसकी बढ़ता लगातार बढ़ती ही जा रही थी तभी अचानक उसने अपनी एक और उंगली पूजा की चुत में घुसेड़ दी और दोनों उंगलियां अंदर बाहर करने लगा दो उंगलियां घुसते ही पूजा दर्द से छटपटाई और बोली ”भैया बहुत दर्द हो रहा है प्लीज़ एक ही उंगली से कारोना”
”साली छीनाल वैसे तो अभी बोल रही थी की मैं चुत और गांड दोनों में ही लंड ले लूँगी, लेकिन देखो तो दो उंगलियों में ही कराहने लगी है जब इतना मोटा लंड अंदर जाएगा तब तो मां ही चुद जाएगी इस रंडी की” योगिता वापस आकर गिलास और प्लेट्स रखते हुए बोली
”हाँ यार पूजा ये बात तो योगिता सही बोल रही है” गिलास देखते ही योगेश ने पूजा की चुत से उंगली निकली और सभी के लिए पग बनाने लगा उसने योगिता के लिए शराब कम और पानी ज्यादा रखा पर पूजा के लिए शराब ज्यादा और पानी कम रखकर अपने लिए भी एक बड़ा पग बना लिया फिर उसने उन दोनों को गिलास पकड़ाए और एक ही सांस में पूरा पग खत्म कर दिया पूजा और योगिता अपनी भी पीने से झिझक रही थी तो योगेश ने योगिता को पहले पीने को कहा योगिता ने जैसे तैसे वो पग खत्म कर दिया तो योगेश ने पूजा को उकसाया ”वैसे तो तू बहुत बड़ी बड़ी बातें करती है पर तेरे में दम कुछ भी नहीं है बेचारी योगिता ने तो अपना पग खत्म कर दिया पर तू तो अभी भी गिलास पकड़ कर बैठी हुई है” उसके इस तरह से उकसाने से पूजा ने एक ही झटके में गिलास खत्म कर दिया पर बाद में उसे उबकाई सी आने लगी तो योगेश ने उसे चिकेन का एक टुकड़ा पकड़ा दिया फिर वो सभी भाई बहन चिकेन खाने लगे आख़िर में योगेश ने पहले जीतने ही बारे पग फिर से बनाए और सभी को दिए सभी ने पहले की तरह ही अपने अपने गिलास खत्म कर दिए और अब चिकेन भी खत्म हो चुका था योगिता सब समान उत्ता कर और वहाँ की सफाई कर के अंदर जा चुकी थी अब योगेश ने पूजा की ओर देखा तो पाया की वो नशे में तुंन हो चुकी थी और मान ही मान बड़बदाए जा रही थी लेकिन वो क्या बड़बड़ा रही है ये योगेश की समझ में नहीं आ रहा था
”ऐसे क्या बड़बड़ा रही है ज़रा अच्छे से तो बोल” योगेश बोला
”मैं…न ये का..का.कह राआही थी की आप ने फिर से योगिता चोद लिया और मेरे बारे में कुछ सोचा ही नहीं भैया मुझे आप से अभी और यही चुदना है” पूजा लड़खड़ाते शब्दों में बोली और अपनी शर्ट उतरने लगी
”अरे तू पागल तो नहीं हो गई ऊपर मेरे रूम में चल फिर जो करना है वहीं करेंगे”योगेश बोला
”नहीं भैया मुझे जो भी करना है मैं यही करूँगी और आप भी मुझे मना नहीं करेंगे” पूजा बोली और शर्ट की बताऊं नहीं खुलने से परेशान होकर उसने शर्ट के दोनों साइड पकड़ के ज़ोर का झटका दिया जिससे पटा पटा की आवाज़ के साथ शर्ट के सारे बताऊं टूट गये और उसने शर्ट उतार कर फेंक दी तभी योगिता वहाँ आगाई उसे देख कर योगेश उससे बोला ”देख ना योगिता ये मान ही नहीं रही है और यही चोदने को बोल रही है” भले ही योगिता को पूजा से कम नशा था पर फिर भी उसके मान से बहुत नशा हो गया था वो योगेश की शर्ट उतरते हुए बोली ”नहीं भैया ये नहीं मानेगी आप को जो भी करना हो यहीं करना पड़ेगा” कह कर उसने योगेश की शर्ट उतार दी और उसका लंड पकड़कर मसलने लगी उधर पूजा भी अपनी स्कर्ट उतार चुकी थी तीनों भाई बहन नंगे खड़े थे ”चलो भैया अब आपका लंड भी फुल टाइट हो गया है, चोद डालो इस छीनाल को और हाँ इसकी गांड पूरी ताक़त से फाड़ना” योगिता पूजा को देखते हुए बोली
”लेकिन पहले तुझे भैया का लंड मुंह में लेकर चूसना होगा जैसे मैंने चूसा था” पूजा नशे में झूमते हुए बोली
चूँकि योगिता नशे में थी उसने भी घुटनों के बाल बैठते हुए योगेश के लंड को मुंह में भर लिया लंड मोटा होने से उसे मुंह में लेने में परेशानी तो हो रही थी पर उसने कोशिश करके जैसे तैसे पूरा लंड मुंह में घुसेड़ ही लिया अब योगेश का लंड पूरी तरह से योगिता के थूक से चिकना हो गया था और योगिता चूसते हुए उसे अंदर बाहर करने लगी थी……..
दोपहर को लंड चूसने में योगिता को जितनी घिंन आ रही थी अब उसे उतना ही मजा आ रहा था वो बारे जोश और मजे से योगेश का लंड चूस रही थी सारे हॉल में ”सपाद….सपाद” की आवाज़ गूँज रही थी पूजा लगातार नशे से भारी आंखों से योगिता को लंड चूसते देखे जा रही थी योगेश ने भी मस्ती में आंखें बंद कर रखी थी तभी पूजा नशे में लड़खड़ाते हुए योगिता के पास आई और गुस्से से बोली ”साली कुतिया कैसी बहन है तू, दिन भर में दो बार लंड ले कर भी तुझे शांति नहीं मिली जो अभी भी उसी के पीछे पड़ी है अपनी बहन की तड़प का ख्याल तक नहीं है साली भाछोड़ी तुझे”
पूजा की आवाज़ सुनकर योगिता ने लंड चूसना बंद किया और खड़े होते हुए बोली ”क्या यार तूने ही तो कहा था की भैया का लंड चूसो और अब तू ही मुझवे बुरा भला कह रही है”
ये साला है बड़ी किस्मत वाला है – 31
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star Antarvasna kahani नजर का खोट sexstories 119 251,966 Yesterday, 08:21 PM
Last Post: yoursalok
Thumbs Up Hindi Sex Kahaniya अनौखी दुनियाँ चूत लंड की sexstories 80 78,803 09-14-2019, 03:03 PM
Last Post: sexstories
Star Bollywood Sex बॉलीवुड की मस्त सेक्सी कहानियाँ sexstories 21 22,163 09-11-2019, 01:24 PM
Last Post: sexstories
Star Hindi Adult Kahani कामाग्नि sexstories 84 69,232 09-08-2019, 02:12 PM
Last Post: sexstories
  चूतो का समुंदर sexstories 660 1,149,486 09-08-2019, 03:38 AM
Last Post: Rahul0
Thumbs Up vasna story अंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवार sexstories 144 207,054 09-06-2019, 09:48 PM
Last Post: Mr.X796
Lightbulb Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग sexstories 88 45,827 09-05-2019, 02:28 PM
Last Post: sexstories
Lightbulb Ashleel Kahani रंडी खाना sexstories 66 61,253 08-30-2019, 02:43 PM
Last Post: sexstories
Lightbulb Kamvasna आजाद पंछी जम के चूस. sexstories 121 148,779 08-27-2019, 01:46 PM
Last Post: sexstories
Star Porn Kahani हलवाई की दो बीवियाँ और नौकर sexstories 137 187,695 08-26-2019, 10:35 PM
Last Post:

Forum Jump:


Users browsing this thread: 2 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


chudakkad aunty ki burrr fadiSex bijhanes xxx videoxxx babancha land sax kathamajaaayarani?.comxxx south thichar sex videobrvidoexxxxxxxkonsaChuton ka mela sexbaba hindi sex storiesSatrujit ka lund kamini ki chut ko hindi sex storiesJabrdasti gang bang sex baba.netnewsexstory com hindi sex stories E0 A4 AD E0 A4 BE E0 A4 88 E0 A4 AC E0 A4 B9 E0 A4 A8 E0 A4 95 E0damad ne apni assa ko codaxxx videobeti ka mhakta sex storiesअसल चाळे मामी जवलेTV serial actress nude pics sexybaba Choti bhol ki badi saza sex storymeri najuk umar ka pahla dardnak sex hindi sex storychuto ka samandar sexbaba.comiyer bhai ne babitaji ko gusse me kutte ki tarha chodsChoti behan ki panty bra pahnakr uski hi choda. Story baby / aur Badi sali teeno ki Jabardast chudai Sasural Meinnokara ke sataXxx sex full hd videosab behano ne chudwaya birthdaysurprisexxx sex photo kagnna ranut sexbabaSexstorychotichutMaryada ya hawas desiक्सक्सक्स हिंदी ससि जमीnude sex baba thread of pranitha subhashZawarjasti Chodne wala Xxx Videos.comjanarn antio ki cudaiSexstoryhemamaliniकनपुरसैकसीsouth.acoter.sexbabaSomya tandan nude photoxxx.comxxxcon रणबीरHoli mein Choli Khuli Hindi sex StoriesGangbang barbadi sex storiestatti khai mut piya maa bhen patni ko chudwaya sex story hindiRadhika market ki xxx photoanti ko god me bithaya x videossumona fake nude sex babaaunty ne mujhd tatti chatayaSbke saamne gaan chusiiindian Daughter in law chut me lund xbomboवो मादरचोद चोदता रहा में चुड़वाती रहीo bhabhi aah karo na hindi sex videoJavni nasha 2yum sex storieslaraj kar uncle ke lundnaraz pati ko shrarat bhari gandi baatein kr ke sex se kaise manaya stories in hindikakaji ke sath bahu soi sex story in hindiदिक्षा sexbabakachchi chut fadi sexbabanushrat bharucha nude fuck pics x archivesxxxbfdesiindianMadarchod aunti gali dene lagi hot kahaniXxx Aishwray ray ki secx phuto Kare 11 actor sex Baba netkaamini aur diyaa ki ajeeb daasta sexy story hindiporn. didi ki Sajaनीबू जैसी चुची वाली लडकी को जबरजशती चोदाchhinar schooli ladkiyo ki appbiti sex story hindiबुर मे लंड कैसे घुसेडा जाता bitch ki nahati gril s imagesex story aunty sexy full ji ne bra hook hatane ko khaSex Ke sahanci xxxsara ali khan fake sexbaba xxx Bhaiya kya kar rahe ho //15sexy video didi ki chudai hindichutad ka zamana sexbabaPriyank Priyanka Chopra Jaan gaand mein lund chudai video sexy bhejoisita raj shama XXX ngi potoचोदवाने के लिये रोज दो लंड खोजती है चाची की कहानीbadale ki aag me chudai kahani फोकि चुत झटका परिBhabhi ke kapde fadnese kya hogaGaram puchi videosexiRakul preet singh puja hegde xxx photo baba havili M kaki antarvasna