Sex Kahani चुदाई के नौकर
06-22-2017, 09:32 AM,
#1
Star  Sex Kahani चुदाई के नौकर
चुदाई के नौकर 

दोस्तो मैं यानी आपका दोस्त राज शर्मा एक ओर मस्त कहानी के साथ हाजिर हूँ . कहानी
कैसी है ये तो आप ही बताएँगे . अब आप कहानी का मज़ा लीजिए
मेरा नाम मीनाक्षी माथुर है. मेरे पति शरद माथुर ठेकेदारी का काम करते थे. उनका ठेकेदारी का काम बहुत ही लंबा चौड़ा था. उनका एक मॅनेजर था जिसका नाम राजेंद्र प्रताप था. वो उनका दोस्त भी था और उनका सारा काम देखता था. वो हमारे घर सुबह के 8 बजे आ जाता था और नाश्ता करने के बाद मेरे पति के साथ साइट पर निकल जाता था. मैं उसे राज कह कर बुलाती थी और वो मुझे मीना कह कर बुलाता था.

उस समय उसकी उमर लगभग 23 साल की थी और वो दिखने में बहुत ही हॅंडसम था. वो मुझसे कभी कभी मज़ाक भी कर लेता था. शादी के 5 साल बाद मेरे पति की एक कार एक्सिडेंट में मौत हो गयी. अब उनका सारा काम मैं ही संभालती हूँ और राज मेरी मदद करता है. मेरे पति बहुत ही सेक्सी थे और मैं भी.
उनके गुजर जाने के बाद लगभग 6 महीने तक मुझे सेक्स का बिल्कुल भी मज़ा नहीं मिला तो मैं उदास रहने लगी. एक दिन राज ने कहा,
क्या बात है मीना, आज कल तुम बहुत उदास रहती हो. मैने कहा,
बस ऐसे ही. वो बोला,
मुझे अपनी उदासी की वजह नहीं बतओगि, शायद मैं तुम्हारी उदासी दूर करने में कुच्छ मदद कर सकूँ. मैने कहा,
अगर तुम चाहो तो मेरी उदासी दूर कर सकते हो. आज पूरे दिन बहुत काम है. मैं शाम को तुम्हें अपनी उदासी की वजह ज़रूर बताउन्गि. मेरी उदासी की वजह जान लेने के बाद शायद तुम मेरी उदासी दूर कर सको. मेरी उदासी दूर करने में शायद तुम्हें बहुत ज़्यादा वक़्त लग जाए, हो सकता है पूरी रात ही गुजर जाए इस लिए आज तुम अपने घर बता देना कि कल तुम सुबह को आओगे. मैं शाम को तुम्हें सब कुच्छ बता दूँगी. वो बोला,
ठीक है. हम दोनो सारा दिन काम में लगे रहे. 1 मिनट की भी फ़ुर्सत नहीं मिली. घर वापस आते आते रात के 8 बज गये. घर पहुचने के बाद मैने राज से कहा,
मैं एक दम थक गयी हूँ. पहले मैं थोड़ा गरम पानी से नहा लूँ उसके बाद बात करेंगे. वो बोला,
नहाना तो मैं भी चाहता हूँ. पहले तुम नहा लो उसके बाद मैं नहा लूँगा. मैं नहाने चली गयी और राज बैठ कर टीवी देखने लगा. 15 मिनट बाद मैं नहा कर बाथरूम से बाहर आई तो राज नहाने चला गया. मैने केवल गाउन पहन रखा था. गाउन के बाहर से ही मेरे सारे बदन की झलक एक दम सॉफ दिख रही थी. राज मुझे देखकर मुस्कुराया और बोला,
आज तो तुम बहुत सुंदर दिख रही हो. मैं केवल मुस्कुरा कर रह गयी. उसके बाद राज नहाने चला गया. मैं सोफे पर बैठ कर टीवी देखने लगी. थोड़ी देर बाद राज ने मुझे बाथरूम से ही पुकारा तो मैं बाथरूम के पास गयी और पूचछा,
क्या बात है. वो अंदर से ही बोला,
मीना, मैं अपने कपड़े तो लाया नहीं था और नहाने लगा. अब मैं क्या पहनूंगा. मैने कहा,
तुम टवल लपेट कर बाहर आ जाओ. मैं अभी तुम्हारे लिए कपड़े का इंतेज़ाम कर दूँगी. राज एक टवल लपेट कर बाहर आ गया. मैने कहा,
तुम बैठ कर टीवी देखो, मैं चाय बना कर लाती हूँ. उसके बाद मैं तुम्हारे लिए कपड़े का इंतेज़ाम भी कर दूँगी. वो सोफे पर बैठ कर टीवी देखने लगा. मैं किचन में चाय बनाने चली गयी. थोड़ी देर बाद मैं चाय ले कर आई. मैने टेबल पर चाय रखी और चाय बनाने लगी. मैने राज को चाय दी. वो चुप चाप चाय पीने लगा. मैं भी सोफे पर बैठ कर चाय पीने लगी. चाय पी लेने के बाद राज ने मुझसे पूचछा,
अब तुम अपनी उदासी की वजह बताओ. मैं तुम्हारी उदासी दूर करने की कोशिश करूँगा. मैं उठ कर राज के बगल में बैठ गयी. फिर मैने उसके लंड पर हाथ रख दिया और कहा,
मेरी उदासी की वजह ये है. मेरे पति को गुज़रे हुए 6 महीने हो गये हैं और तब से ही मैं एक दम प्यासी हूँ. वो रोज ही जम कर मेरी चुदाई करते थे. 6 महीने से मुझे चुदाई का मज़ा बिल्कुल नहीं मिला है और ये कमी तुम पूरी कर सकते हो. वो कुच्छ नहीं बोला. मैने राज के लंड पर से टवल हटा दिया. राज का लंड एक दम ढीला था लेकिन था बहुत ही लंबा और मोटा. मैने कहा,
तुम्हारा लंड तो उनके लंड से ज़्यादा लंबा और मोटा लग रहा है. मुझे तुमसे चुदवाने में बहुत मज़ा आएगा. वो बोला,
मैं तुम्हें नहीं चोद सकता. मैने पुछा, क्यों. राज ने अपना सिर झुका लिया और बोला,
मेरा लंड खड़ा नहीं होता. उसकी बात सुन कर मैं सन्न रह गयी. मैने कहा,
तुम्हारी शादी भी तो 2 महीने पहले हुई है. वो बोला,
मेरा लंड खड़ा नहीं होता इस लिए वो अभी तक कुँवारी ही है. मेरी बीवी मुझसे इसी वजह से बहुत नाराज़ रहती है. वो कहती है कि जब तुम्हारा लंड खड़ा नहीं होता था तो तुमने मुझसे शादी क्यों की.
मैने राज से कहा,ठीक है, जब मैं अपने लिए कोई अच्च्छा सा मर्द खोज लूँगी जिसका लंड खूब लंबा और मोटा हो और जो खूब देर तक मेरी चुदाई कर सके. उसके बाद तुम एक दिन अपनी बीवी को भी यहाँ बुला लाना, मैं तुम्हारी बीवी को भी उस से चुदवा दूँगी. इस तरह तुम्हारी बीवी सुहागरात भी मना लेगी और उसे चुदवाने का पूरा मज़ा आ जाएगा. उसके बाद वो तुमसे कभी नाराज़ नहीं रहेगी. क्यों ठीक है ना. राज बोला,
क्या तुम सही कह रही हो कि वो फिर मुझसे नाराज़ नहीं रहेगी. मैने कहा,
हां मैं एक दम सच कह रही हूँ लेकिन जब तुम अपनी बीवी को यहाँ लाना तो उसे कुच्छ भी मत बताना. राज बोला,

ठीक है. दूसरे दिन मैं राज के साथ एक साइट पर गयी. वो साइट मेरे घर से लगभग 80-85 किमी. दूर था. उस साइट पर लगभग 40 मज़दूर काम करते थे. उस साइट का मॅनेजर उन सब को पैसे दे रहा था. सारे मज़दूर लाइन में खड़े थे. मैं मॅनेजर के बगल में एक चेर पर बैठ गयी. सभी ने निकर और बनियान पहन रखा था. मैं नेकर के उपर से ही उन सबके लंड का अंदाज़ लगाने लगी.
जब मॅनेजर लगभग 20-25 मज़दूर को पैसे दे चुका तो मेरी नज़र एक मज़दूर के लंड पर पड़ी. मैने नेकर के बाहर से ही अंदाज़ लगा लिया कि उसका लंड कम से कम 8-10" लंबा और खूब मोटा होगा. उसकी उमर लगभग 22-23 साल की रही होगी और बदन एक दम गातीला था. मैने उस मज़दूर से पुचछा,
क्या नाम है तुम्हारा. वो बोला,
मेरा नाम मोनू है. मैने पुचछा,
तुम्हारे कितने बच्चे हैं. वो शरमाते हुए बोला,
मालकिन, अभी तक मेरी शादी नही हुई है. मैने कहा,
मुझे अपने घर के लिए एक आदमी की ज़रूरत है. मेरे घर पर काम करोगे. वो बोला,
आप कहेंगी तो ज़रूर करूँगा. मैने राज से कहा,
इसे घर का काम करने के लिए रख लो. राज समझ गया और बोला,
ठीक है. राज ने उस मज़दूर से कहा,
मोनू तुम घर जा कर बता दो और अपना समान ले आओ. आज से तुम मेडम के घर पर काम करोगे. वो बोला,
जी साहब. वो अपने घर चला गया. लगभग 1 घंटे के बाद वो वापस आ गया. उसके बाद हम सब कार से घर वापस चल पड़े. रात के 8 बजे हम सब घर पहुचे. मैने मोनू को घर का सारा काम समझा दिया और उसे ड्रोइंग रूम में सोने के लिए कह दिया. घर में केवल एक ही बाथरूम था इस लिए मैने मोनू से कहा,
घर में केवल एक ही बाथरूम है. तुम इसी बाथरूम से काम चला लेना. वो बोला,
ठीक है मालकिन. मैने कहा,
घर पर मुझे मालकिन कहलाना पसंद नहीं है. तुम मुझे मेरे नाम से ही बुलाया करो. वो बोला,
ठीक है मालकिन. मैने उसे डांता और कहा,
मालकिन नहीं मीना कह कर बुलाओ. वो बोला,
ठीक है मीना जी. मैं कहा,
मीना जी नहीं, केवल मीना. वो शरमाते हुए बोला,
ठीक है मीना. मैने कहा,
-
Reply
06-22-2017, 09:32 AM,
#2
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
लग रहा है की तुमने बहुत दीनो से नहाया नहीं है. मैं तुम्हें एक साबुन दे देती हूँ, तुम बाथरूम में जा कर ठीक से नहा लो. मोनू बोला,
ठीक है. मैने मोनू को एक खुश्बुदार साबुन दे दिया तो वो नहाने चला गया. थोड़ी देर बाद मोनू नहा कर बाहर आया. अब उसका सारा बदन एक दम खिल उठा था और महक भी रहा था. वो पॅंट और शर्ट पहन ने लगा तो मैने कहा,
घर में पॅंट शर्ट पहन ने की कोई ज़रूरत नहीं है. तुम नेकर और बनियान में ही रह सकते हो. राज बोला,
मैं घर जा रहा हूँ. मैने कहा,
ठीक है. कल मैं कहीं नहीं जाउन्गि. अब तुम परसों सुबह आना. राज ने मुस्कुराते हुए कहा,
ठीक है. मैं कल नहीं आउन्गा. उसके बाद राज चला गया. रात के 10 बजने वाले थे. मैने बेडरूम में जा कर पॅंटी और ब्रा को छ्चोड़ कर सारे कपड़े उतार दिए और उपर से गाउन पहन लिया. उसके बाद मैने मोनू को पुकारा. वो मेरे पास आया और बोला,
क्या है. मैने कहा,
मेरा सारा बदन दुख रहा है. तुम थोड़ा सा तेल लगा कर मेरे सारे बदन की मालिश कर दो. वो बोला,
आप मुझसे मालिश करवाएँगी. मैने कहा,
शहर में ये सब आम बात है. गाओं की तरह यहाँ की औरतें शरम नहीं करती. तुम ड्रेसिंग टेबल से तेल की शीशी ले आओ और मेरे बदन की मालिश करो. वो ड्रेसिंग टेबल से तेल की शीशी ले आया तो मैने अपना गाउन उतार दिया और पेट के बल लेट गयी. वो घूर घूर कर मेरे गोरे बदन को देखने लगा. उसकी निगाहों में भी सेक्स की भूख सॉफ दिख रही थी. मैने कहा,
क्या देख रहे हो. चलो मालिश करो. वो शरमाते हुए मेरे बगल में बेड पर बैठ गया. मैने कहा,
पहले मेरी पीठ और कमर की मालिश करो. वो मेरी पीठ की मालिश करने लगा. उसका हाथ बार बार मेरी ब्रा में फँस जाता था. मैने कहा,
तुम्हारा हाथ बार बार मेरी ब्रा में फँस रहा है. तुम इसे खोल दो और ठीक से मालिश करो. उसने मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और मालिश करने लगा. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. मैने कहा,
और नीचे तक मालिश करो. वो और ज़्यादा नीचे तक मालिश करने लगा. अभी उसका हाथ मेरे चुत्तऱ पर नहीं लग रहा था. मैने कहा,
थोड़ा और नीचे तक मालिश करो. वो शरमाते हुए और नीचे तक मालिश करने लगा. जब उसका हाथ मेरी पॅंटी को टच करने लगा तो मैने कहा,
पॅंटी को भी थोड़ा नीचे कर दो फिर मालिश करो. उसने मेरी पॅंटी को भी थोडा सा नीचे कर दिया. अब मेरा आधा चुत्तऱ उसे दिखने लगा. वो बड़े प्यार से मेरी चुत्तऱ की मालिश करने लगा. थोड़ी देर बाद वो मेरे दोनो चुत्तऱ को हल्का हल्का सा दबाने लगा. मुझे बहुत मज़ा आने लगा. थोड़ी देर तक मालिश करवाने के बाद मैने कहा,
अब तुम मेरे हाथों की मालिश करो. मैने जानबूझ कर अपनी ब्रा को नहीं पकड़ा और पलट कर पीठ के बल लेट गयी. मेरी ब्रा सरक गयी और उसने मेरी दोनो चुचियों को साफ साफ देख लिया. वो मुस्कुराने लगा तो मैने तुरंत ही अपनी ब्रा से अपनी चुचियों को ढक लिया लेकिन उसका हुक बंद नहीं किया. वो मेरे हाथों की मालिश करने लगा. मेरी ब्रा बार बार सरक जा रही थी और मैं बार बार उसे अपनी चुचियों पर रख लेती थी. जब वो मेरे हाथ की मालिश कर चुका तो मैने कहा,

अब तुम मेरे पैरों की मालिश कर दो. वो घुटने के बल बैठ कर मेरे पैरों की मालिश करने लगा. मैने देखा की मोनू का लंड एक दम खड़ा हो चुका था और उसका नेकर तंबू की तरह हो गया था. वो केवल घुटने तक ही मालिश कर रहा था तो मैने कहा,
क्या कर रहे हो, मोनू. मेरी जांघों की भी मालिश करो. वो मेरी जांघों तक मालिश करने लगा. थोड़ी देर बाद वो मालिश करते करते वो अपनी उंगली मेरी चूत पर टच करने लगा तो मैं कुच्छ नहीं बोली. उसकी हिम्मत और बढ़ गयी और वो अपने एक हाथ से मेरी चूत को पॅंटी के उपर से ही सहलाते हुए पैरों की मालिश करने लगा. मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था. मैं मन ही मन खुश हो रही थी की अब बस थोड़ी ही देर में मेरा काम होने वाला है.
थोड़ी ही देर बाद मोनू जोश से एक दम बेकाबू हो गया और उसने मेरी पॅंटी नीचे सरका दी और एक हाथ से मेरी चूत को सहलाने लगा. मैं फिर भी कुच्छ नहीं बोली तो उसकी हिम्मत और बढ़ गयी. उसने मेरे पैरों की मालिश बंद कर दी और अपनी बीच की उंगली मेरी चूत में डाल दी और अंदर बाहर करने लगा. मैं मन ही मन एक दम खुश हो गयी कि अब मेरा काम बन गया. वो दूसरे हाथ से मेरी चुचियों को मसल्ने लगा. थोड़ी ही देर में मैं एक दम जोश में आ गयी और आहें भरने लगी. वो मेरी चुचियों को मसल्ते हुए अपनी उंगली बहुत तेज़ी के साथ मेरी चूत के अंदर बाहर करने लगा तो 2 मिनट में ही मैं झाड़ गयी और मेरी चूत एक दम गीली हो गयी.
मैने उसका सिर पकड़ कर अपनी चूत की तरफ खींच लिया. वो मेरा इशारा समझ गया और मेरी चूत को चाटने लगा. उसने अपने नेकर का नाडा खोल कर अपना नेकर नीचे सरका दिया और मेरा हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया. उसका लंड तो लगभग 8" ही लंबा था लेकिन मेरे पति के लंड से बहुत ज़्यादा मोटा था. मैं उसके लंड को सहलाने लगी तो थोड़ी ही देर में उसका लंड एक दम लोहे जैसा हो गया. वो मेरी चूत को बहुत तेज़ी से चाट रहा था. मैं जोश से पागल सी होने लगी तो मैने मोनू से कहा,
मोनू, अब देर मत करो. मुझसे अब बर्दास्त नहीं हो रहा है. मेरे इतना कहते ही उसने एक झट्के से मेरी पॅंटी जो कि पहले से ही नीचे थी, उतार दी और मेरी ब्रा को भी खींच कर फेंक दिया. उसके बाद उसने अपना नेकर भी उतार कर फेंक दिया. उसके बाद वो मेरी टाँगों के बीच आ गया. उसने मेरी टाँगों को पकड़ कर दूर दूर फैला दिया और अपने लंड का सूपड़ा मेरी चूत की लिप्स के बीच रख दिया. उसके बाद उसने अपना लंड धीरे धीरे मेरी चूत के अंदर दबाना शुरू कर दिया. उसका लंड बहुत ज़्यादा मोटा था इसलिए मुझे थोड़ा दर्द होने लगा. मैने दर्द के मारे अपने होठों को ज़ोर से जाकड़ लिया जिस से मेरे मूँ'ह से आवाज़ ना निकल पाए. मेरी धड़कने तेज होने लगी. लग रहा था की जैसे कोई गरम लोहा मेरी चूत को चीरता हुआ अंदर घुस रहा हो.
धीरे धीरे उसका लंड मेरी चूत के अंदर घुसने लगा. दर्द के मारे मेरी टाँगें थर थर काँपने लगी. मेरी धड़कने बहुत तेज चलने लगी. मेरा सारा बदन पसीने से नहा गया. उसका लंड स्लिप करता हुआ धीरे धीरे मेरी चूत के अंदर लगभग 5" तक घुस चुका था. दर्द के मारे मेरा बुरा हाल हो रहा था. मैने सोचा कि अगर मैने मोनू को रोका नहीं तो मेरी चूत फॅट जाएगी. मैने मोनू से रुक जाने को कहा तो वो रुक गया. उसने मेरी टाँगों को छ्चोड़ दिया. उसने मेरी दोनो चुचियों के निपल्स को पकड़ कर धीरे धीरे मसलना शुरू कर दिया और मुझे चूमने लगा. मैं भी उसके होठों को चूमने लगी.
क्रमशः...............
-
Reply
06-22-2017, 09:33 AM,
#3
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
गतान्क से आगे................
थोड़ी देर बाद उसने मेरी चुचियों को मसल्ते हुए अपना लंड धीरे धीरे मेरी चूत के अंदर बाहर करने लगा. उसका लंड इतना ज़्यादा मोटा था कि मेरी चूत ने उसके लंड को बुरी तरह से जाकड़ रखा था. 2 मिनट में जब मेरा दर्द कुच्छ कम हो गया तो मैने जोश में आकर अपना चुत्तऱ उठाना शुरू कर दिया. मुझे चुत्तऱ उठता हुआ देखकर मोनू ने अपनी स्पीड थोड़ी सी बढ़ा दी. मुझे अब ज़्यादा मज़ा आने लगा. मैं जोश के मारे पागल सी हुई जा रही थी. जोश में आ कर मैने और तेज और तेज कहना शुरू कर दिया तो मोनू ने अपनी स्पीड और तेज कर दी. 5 मिनट चुदवाने के बाद मैं झाड़ गयी तो मोनू ने बिना मेरे कुच्छ कहे ही ज़ोर ज़ोर के धक्के लगाने शुरू कर दिए.
हर धक्के के साथ ही मोनू का लंड मेरी चूत के अनादर और ज़्यादा गहराई तक घुसने लगा. मुझे बहुत दर्द हो रहा था लेकिन मैं पूरे जोश में आ चुकी थी. उस जोश के आगे मुझे दर्द का ज़्यादा एहसास नहीं हो रहा था. धीरे धीरे मोनू ने अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में घुसा दिया. पूरा लंड मेरी चूत में घुसा देने के बाद मोनू रुक गया. उसका लंड जड़ के पास बहुत ज़्यादा मोटा था. मेरी चूत ने उसके लंड को बुरी तरह से जाकड़ रखा था. थोड़ी देर बाद जब उसने धक्के लगाना शुरू किया तो वो आसानी से अपना लंड मेरी चूत के अंदर बाहर नहीं कर पा रहा था. मुझे एक दम ज़न्नत का मज़ा मिल रहा था. मैं एक दम मस्त हो चुकी थी. आज मुझे बहुत ही अच्छे लंड से चुदवाने का मौका मिल रहा था. मोनू मेरी चुचियों को मसल्ते हुए मुझे धीरे धीरे चोद रहा था. 5 मिनट की चुदाई के बाद मैं झाड़ गयी.
झाड़ जाने की वजह से मेरी चूत एक दम गीली हो गयी तो मोनू ने तेज़ी के साथ धक्के लगाने शुरू कर दिए. अब मेरी चूत ने मोनू के लंड को थोड़ा सा रास्ता दे दिया था. वो ज़ोर ज़ोर के धक्के लगाते हुए मेरी चुदाई कर रहा था. हर धक्के के साथ ही उसका लंड मेरी बच्चेदानि के मु'ह का चुंबन ले रहा था. मैं जोश से एक दम पागल सी हुई जा रही थी और खूब ज़ोर ज़ोर से चोदो मुझे, फाड़ दो मेरी चूत को, की आवाज़ें मेरे मु'ह से निकल रही थी. मोनू भी पूरे जोश और ताक़त के साथ मेरी चुदाई कर रहा था. उसकी स्पीड धीरे धीरे और ज़्यादा तेज होने लगी तो मैं पूरी तरह से मस्त हो गयी. अब तक मेरा दर्द एक दम कम हो चुका था. मैने अपना चुत्तऱ उठा उठा कर मोनू का साथ देना शुरू कर दिया तो उसने भी मेरी चुचियों को मसल्ते हुए मुझे बहुत ही अच्छि तरह से चोदना शुरू कर दिया.
मोनू का लंड अब मेरी चूत में आसानी के साथ अंदर बाहर होने लगा. मोनू ने मेरी चुचियों को छ्चोड़ कर मेरी कमर को ज़ोर से पकड़ लिया और अपनी स्पीड और ज़्यादा तेज कर दी. अब वो मुझे एक दम आँधी की तरह से चोदने लगा था. मैं ज़ोर ज़ोर के हिचकोले खा रही थी. मेरी चुचियाँ उसके हर धक्के के साथ गोल गोल घूम रही थी. लग रहा था कि जैसे मेरी चुचियाँ गोल गोल घूम कर नाच रही हो और मेरी चुदाई का जस्न मना रही हो. मुझे ये देख कर बहुत अच्छा लग रहा था. मैं भी पूरी मस्ती में थी. जब मोनू धक्का लगता तो मैं अपना चुत्तऱ उपर उठा देती थी जिस से उसका लंड एक दम जड़ तक मेरी चूत के अंदर समा जाता था.
इसी तरह मोनू ने मुझे लगभग 30 मिनट तक चोदा और उसके बाद मेरी चूत में ही झाड़ गया. उसके लंड से इतना ज़्यादा जूस निकला जैसे वो बहुत दीनो से झाड़ा ही ना हो. मेरी चूत उसके वीर्य से पूरी तरह भर गयी थी. मेरी चूत ने अभी भी उसके लंड को बुरी तरह से जाकड़ रखा था इस लिए उसके वीर्य की एक बूँद भी बाहर नहीं निकल पाई. मैं भी इस चुदाई के दौरान 3 बार झाड़ चुकी थी. वो अपना लंड मेरी चूत में डाले हुए ही मेरे उपर लेटा रहा और मुझे चूमता रहा. मैं भी उसकी पीठ को सहलाते हुए बड़े प्यार से उसे चूमने लगी. हम दोनो इसी तरह लगभग 10-15 मिनट तक लेटे रहे.
मोनू का लंड अभी तक मेरी चूत के अंदर ही था. वो अपना लंड मेरी चूत में डाले हुए ही अपनी कमर को इधर उधर करने लगा तो 2 मिनट में उसका लंड फिर से मेरी चूत के अंदर ही टाइट होने लगा. मैं अभी तक जोश में थी. मैने भी उसके साथ ही साथ अपना चुत्तऱ इधर उधर करना शुरू कर दिया. 5 मिनट में ही मोनू का लंड मेरी चूत के अंदर ही एक दम टाइट हो कर लोहे जैसा हो गया तो मोनू ने मुझे फिर से चोदना शुरू कर दिया. 5 मिनट की चुदाई के बाद मैं झाड़ गयी तो मैने मोनू से कहा,
मुझे डॉगी स्टाइल में चुदवाना ज़्यादा पसंद है. वो इंग्लीश नहीं जानता था. वो बोला,
ये कौन सी स्टाइल है. मैने कहा,
तुमने कुतिया को कुत्ते से करते हुए देखा है. वो बोला,
मैं समझ गया. तुम घोड़ी बन कर चुदवाना चाहती हो. मैने कहा,
हाँ. उसने अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाल लिया तो मैं डॉगी स्टाइल में हो गयी. मोनू मेरे पिछे आ गया और उसने अपना पूरा का पूरा लंड एक झट्के से मेरी चूत में डाल दिया. मुझे थोड़ा दर्द महसूस हुआ तो मेरे मु'ह से हल्की सी चीख निकल गयी. पूरा लंड मेरी चूत में घुसा देने के बाद मोनू ने मेरी कमर को पकड़ लिया और मुझे बहुत ही तेज़ी के साथ चोदने लगा. थोड़ी देर तक तो मैं दर्द से तड़पति रही लेकिन फिर बाद में मैं भी अपना चुत्तऱ आगे पिछे करते हुए मोनू का साथ देने लगी. मुझे साथ देते हुए देख कर मोनू ने अपनी स्पीड बहुत तेज कर दी.

10 मिनट की चुदाई के बाद ही मैं फिर से झाड़ गयी. मेरे झाड़ जाने के बाद मोनू ने मुझे बहुत ही बुरी तरह से चोदना शुरू कर दिया. वो इतनी ज़ोर ज़ोर के धक्के लगा रहा था कि मैं हर धक्के के साथ आगे की तरफ खिसक जा रही थी. मोनू ने अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाल लिया और मुझसे ज़मीन पर चलने को कहा. मैं ज़मीन पर आ गयी तो उसने मेरा सिर दीवार से सटा कर मुझे कुतिया की तरह बना दिया. उसके बाद उसने बहुत ही बुरी तरह से मेरी चुदाई शुरू कर दी. मेरा सिर दीवार से सटा हुआ था. मैं अब आगे नहीं खिसक पा रही थी इसलिए अब उसका हर धक्का मुझ पर भारी पड़ रहा था.
-
Reply
06-22-2017, 09:33 AM,
#4
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
मैं भी पूरे जोश में आ चुकी थी और अपना चुत्तऱ आगे पिछे करते हुए उस से चुदवा रही थी. वो भी पूरी ताक़त के साथ ज़ोर ज़ोर के धक्के लगाते हुए मेरी चुदाई कर रहा था. रूम में धाप धाप और छप छाप की आवाज़ हो रही थी. मैं जोश में आ कर ज़ोर ज़ोर की सिसकारियाँ भर रही थी. सारा रूम मेरी जोश भारी सिसकारियों से गूँज रहा था. मैं और तेज और तेज करते हुए एक दम मस्त हो कर मोनू से चुदवा रही थी. आज मुझे मोनू से चुदवाने में जो मज़ा आ रहा था वो मज़ा मुझे शादी के बाद कुच्छ दीनो तक ही अपने पति से चुदवाने में मिला था. आज मैं अपनी ज़िंदगी में दूसरी बार सुहागरात का मज़ा ले रही थी क्यों की मेरी चूत मोनू के लंड के लिए किसी कुँवारी चूत से कम नहीं थी.
मोनू ने मुझे इस बार लगभग 45-50 मिनट तक बहुत ही बुरी तरह से चोदा. इस बार की चुदाइ के दौरान मैं 3 बार झाड़ चुकी थी. सारा वीर्य मेरी चूत में निकाल देने के बाद जब मोनू ने अपना लंड बाहर निकाला तो मैं अपने आप को रोक ना सकी और मैने उसका लंड चाट्ना शुरू कर दिया. वो मुझसे अपना लंड चाटवा कर बहुत खुश हो रहा था. मैने मोनू से पूरी मस्ती के साथ सारी रात खूब चुदवाया. सुबह हम दोनो नहाने के लिए एक साथ बाथरूम में गये. मोनू ने बाथरूम में भी बुरी तरह से मेरी चुदाई की. उसके बाद सारा दिन उसने मुझे काई तरह के स्टाइल में खूब चोदा.
रात के 8 बजे मैं मोनू के साथ डिन्नर के लिए एक होटेल मैं गयी. होटेल से लौट कर आने के बाद मोनू ने सारी रात मुझे बहुत ही अच्छि तरह से चोदा. उसने मुझे पूरी तरह से मस्त कर दिया था. तीसरे दिन सुबह के 8 बजे कॉल बेल बजी तो मैने मोनू से कहा,
जा कर देखो. शायद राज आया है. मोनू ने एक टवल लपेट लिया और जा कर दरवाज़ा खोला तो राज ही था. मोनू राज के साथ मेरे पास आया. राज ने मोनू के सामने ही मुझसे पुचछा,
कैसी रही चुदाई तो मोनू समझ गया था कि राज को सब कुच्छ मालूम है. मैने कहा,
इतनी अच्छि कि मैं बता नहीं सकती. राज बोला,
मोनू का लंड पसंद आया तो मैने कहा,
हां, बहुत पसंद आया. राज बोला,
कितनी बार चोदा मोनू ने. मैने कहा,
मैने तो केवल पूरी मस्ती के साथ मोनू से खूब चुदवाया. मैं नहीं बता सकती कि इसने कितनी बार मेरी चुदाई की. तुम मोनू से पूच्छ लो, शायद ये बता सके. राज ने मोनू से पूचछा तो उसने कहा,
12 बार. राज ने कहा,
शाबाश मोनू, बस तुम इसी तरह मीना की चुदाई करते रहो. अभी तो तुम्हें मेरी बीवी की चुदाई भी करनी है. उसके बाद राज ने मुझसे पूचछा,
मैं अपनी बीवी को कब ले आऊँ. मैने कहा,
मुझे कल तक खूब जाम कर चुदवा लेने दो. कल शाम को तुम अपनी बीवी को ले आना. राज ने मुझसे कहा,
मैं भी तुम्हारी चुदाई देखना चाहता हूँ. एक बार तुम मोनू से मेरे सामने चुदवा लो. मैने कहा,
ठीक है. मैने मोनू को अपने पास बुलाया. जब वो मेरे पास आया तो मैने उसका टवल एक झट्के से खींच लिया. मोनू का 8" का खूब मोट लंड फंफनता हुआ बाहर आ गया. राज उसके लंड को देखता ही रह गया. वो बोला,
मेरी बीवी तो अभी कुँवारी है. इसका इतना मोट लंड उसकी चूत में कैसे घुसेगा. मैने कहा,
जैसे पहली पहली बार किसी मर्द का लंड किसी औरत की कुँवारी चूत में घुसता है. राज बोला,
उसे बहुत तकलीफ़ होगी. मैने कहा,
वो तो हर औरत को पहली पहली बार होती है. राज बोला,
उसे बहुत ज़्यादा दर्द होगा और वो खूब चिल्लाएगी. मैने कहा,
चिल्लाने दो उसे, उसके बाद उसको मज़ा भी तो खूब आएगा. राज चुप हो गया और मेरे पास बैठ गया. मोनू ने अपना लंड मेरे मु'ह के पास कर दिया तो मैं उसका लंड चूसने लगी. 10 मिनट में ही मोनू का लंड एक दम लोहे के जैसा हो गया. मैं अपना चुत्तऱ राज की तरफ कर के डॉगी स्टाइल में हो गयी. मोनू ने अपना लंड एक झट्के से मेरी चूत में घुसेड दिया तो मेरे मु'ह से ज़ोर की आह निकली. पूरा लंड मेरी चूत में घुसा देने के बाद मोनू मुझे चोदने लगा. राज बड़े ध्यान से मुझे मोनू से चुदवाता हुआ देखता रहा. मोनू ने मुझे लगभग 45 मिनट तक चोदा फिर झाड़ गया. मैं भी 2 बार झाड़ चुकी थी. मोनू ने जब अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाला तो मैं मोनू के लंड को चाट चाट कर सॉफ करने लगी. उसके बाद मैने राज से कहा,
आज तुम अकेले ही साइट पर चले जाओ और मुझे चुदाई का मज़ा लेने दो. राज बोला,
ठीक है. उसके बाद वो चला गया. मैने दूसरे दिन सुबह तक मोनू से खूब चुड़वाया. दूसरे दिन सुबह 8 बजे राज आ गया. मैने मोनू को कुच्छ पैसे दिए और कहा,
तुम बाज़ार जा कर खूब अच्छि तरह से खा लेना. आज सारी रात तुम्हें राज की कुँवारी बीवी की चुदाई करनी है. वो मुस्कुराते हुए बोला,
ठीक है. मैं राज के साथ साइट पर चली गयी. शाम को वापस आते हुए मैं राज के घर रुकी. उसकी बीवी एक दम दुबली पतली थी लेकिन वो मुझसे भी ज़्यादा खूबसूरत और गोरी थी. राज ने मुझसे कहा,
ये मेरी बीवी सीमा है. सीमा ने मुझे बिठाया और चाय बनाने चली गयी. थोड़ी देर बाद वो चाय ले कर आई तो हम सब ने चाय पी. उसके बाद मैने सीमा से कहा,
आज तुम मेरे साथ मेरे घर चलो. आज रात को हम सब एक ही साथ डिन्नर करेंगे. सीमा तैयार होने लगी. जब वो तैयार हो कर मेरे पास आई तो वो और ज़्यादा खूबसूरत लग रही थी. मैं उन सब के साथ कार से घर आ गयी. घर पहुचने पर मैने सीमा को अपने बेडरूम में ले गयी और उस से बैठ्ने को कहा. वो मेरे बेड पर बैठ गयी. राज भी सीमा के बगल में बैठ गया. मैने राज के सामने ही अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए तो सीमा कभी राज को और कभी मुझे देखने लगी. मैने ब्रा और पॅंटी को छ्चोड़ कर सारे कपड़े उतार दिए. सीमा बोली,
दीदी, आप को राज के सामने कपड़े उतारने में शरम नहीं आती. मैने कहा,
-
Reply
06-22-2017, 09:33 AM,
#5
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
मेरे पति को गुज़रे हुए 6 मंत्स से ज़्यादा हो चुके हैं. मैने इन 6 मंत्स में कभी भी सेक्स का मज़ा नहीं लिया था. एक दिन मैने राज से कहा तो मुझे मालूम हुआ कि इसका तो लंड ही नहीं खड़ा होता. मैं राज के सामने पहले भी एक दम नंगी हो चुकी हूँ. इस लिए मुझे शरम नहीं आती. मैने अपनी सेक्स की भूख मिटाने के लिए एक नौकर रख लिया. उसका नाम मोनू है. उसका लंड बहुत ही लंबा और मोटा है और वो बहुत ही अच्छि तरह से मेरी चुदाई करता है. मैं अपने कपड़े उतार कर मोनू से चुदवाने जा रही हूँ. मुझे ये भी मालूम है कि तुम अभी तक कुँवारी हो. तुम बैठ कर मेरी चुदाई का मज़ा लो. उसके बाद अगर तुम्हारा मन करे तो तुम भी उस से चुदवा लेना. आख़िर तुम चुदवाने के लिए कब तक तड़पति रहोगी. इसी लिए आज मैं तुमको यहाँ ले आई हूँ. सीमा बोली,
मुझे शरम आएगी. मैने कहा,
काहे की शरम. जब मुझे तुम्हारे सामने चुदवाने में शरम नहीं आ रही है तो तुम क्यों शर्मा रही हो. तुम बैठ कर मेरी चुदाई का मज़ा लो. शायद तुम्हारा मन भी चुदवाने का करे. आख़िर अब तुम्हें सारी ज़िंदगी राज के साथ ही गुजारनी है. राज को मैने पहले ही समझा दिया है और उसे कोई एतराज़ नहीं है. सीमा चुप हो गयी. मैने मोनू से पहले ही कह रखा था कि जब मैं उसे बुलाउ तो वो एक दम नंगा ही मेरे पास आए. मैने मोनू को पुकारा तो वो मेरे रूम में आ गया. वो एक दम नंगा था. सीमा ने जैसे ही उसका लंड देखा तो उसने अपना सर झुका लिया. मैने सीमा से कहा,
अब क्यों शर्मा रही हो. अब तो मोनू तुम्हारे सामने एक दम नंगा ही आ गया है. तुम देख तो सही की इसका लंड कैसा है. सीमा ने अपना सिर उपर उठा लिया. वो मोनू का लंड देखने लगी. मोनू सीमा के पास आया और बोला,
कैसा लगा मेरा लंड. सीमा कुच्छ नहीं बोली. मैने मोनू का लंड चूसना शुरू कर दिया. थोड़ी ही देर में मोनू का लंड एक दम टाइट हो गया तो मैं मोनू से चुदवाने लगी. सीमा चुप चाप बैठ कर देखती रही. मोनू ने मुझे लगभग 35 मिनट. तक चोदा और झाड़ गया. जोश के मारे सीमा की आँखे एक दम गुलाबी हो चुकी थी. जब मोनू ने अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाला तो मैने सीमा को अपनी चूत दिखाते हुए कहा,
देखो, मेरी चूत ने मोनू का लंबा और मोटा लंड कैसे अपने अंदर ले लिया. सीमा मेरी चूत को देखने लगी. मैने कहा,
अब तुम भी एक बार मोनू से चुदवा लो. अगर तुम्हें इस से चुदवाना पसंद नहीं आएगा तो तुम फिर मोनू से कभी मत चुदवाना. सीमा ने शरमाते हुए कहा,
इसका लंड तो बहुत मोटा है. मुझे बहुत तकलीफ़ होगी. मैने कहा,
तुम अभी कुँवारी हो इस लिए तुम चाहे जिस भी लंड से पहली बार चुदवाओ तकलीफ़ तो तुम्हें होगी ही. उसके बाद मज़ा भी खूब आएगा. वो कुच्छ नहीं बोली. मैने मोनू से कहा,
तुम अपना लंड सीमा के हाथ में दे दो जिस से ये तुम्हारा लंड ठीक से देख ले. मोनू सीमा के पास आ गया. उसने सीमा का हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया. सीमा ने शरमाते हुए उसके लंड को अपने हाथों से पकड़ लिया और देखने लगी. थोड़ी देर बाद मैने कहा,
अगर तुम्हें इसका लंड अच्छा लग रहा हो तो चुदवा लो. वो कुच्छ नहीं बोली. मैने कहा,
क्या हुआ. कुच्छ बोलती क्यों नहीं. अगर तुम्हें इसका लंड अच्च्छा नहीं लग रहा है तो छ्चोड़ दो इसका लंड. उसके बाद मैने मोनू से कहा,
मोनू तुम रहने दो और जा कर कपड़े पहन लो. सीमा को तुम्हारा लंड पसंद नहीं आ रहा है. मोनू जैसे ही अपना लंड सीमा का हाथ हटाने लगा तो सीमा ने उसके लंड को ज़ोर से पकड़ लिया. मैं समझ गयी की सीमा चुदवाने के लिए राज़ी है. मैने मोनू से कहा,
मोनू सीमा तुमसे चुदवाने के लिए राज़ी है. तुम सीमा के कपड़े उतार दो और इसकी अच्छि तरह से चुदाई कर के इसे एक दम खुश कर दो. मोनू ने सीमा के कपड़े उतारने शुरू कर दिए तो सीमा शरमाने लगी लेकिन उसने मोनू को रोका नहीं. मोनू ने धीरे धीरे सीमा के सारे कपड़े उतार दिए. सीमा का गोरा बदन देख कर मोनू खुश हो गया. मोनू ने सीमा को बेड पर लिटा दिया. मोनू ने अपने होठ सीमा के होठों पर रख दिए और उसके होठों को चूमने लगा. थोड़ी ही देर में सीमा को भी जोश आने लगा तो वो भी मोनू के होठों को चूमने लगी. मोनू सीमा के पीठ पर अपना हाथ फिराते हुए उसे चूमने लगा तो सीमा भी मोनू की पीठ पर अपना हाथ फिराने लगी.
क्रमशः...............
-
Reply
06-22-2017, 09:33 AM,
#6
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
गतान्क से आगे................
सीमा की आँखें धीरे धीरे गुलाबी सी होने लगी. मोनू ने सीमा को चूमते हुए उसके निपल्स को मसलना शुरू कर दिया. सीमा सिसकारियाँ भरने लगी. राज बड़े ध्यान से देख रहा था. फिर मोनू ने सीमा की चुचियों को उसके बाद उसके पेट को फिर उसके नाभि को चूमना शुरू कर दिया. सीमा धीरे धीरे जोश में आ रही थी और सिसकारियाँ भर रही थी. थोड़ी देर तक सीमा की नाभि और उसके आस पास चूमने के बाद मोनू ने सीमा की चूत को चूमना शुरू कर दिया तो सीमा ज़ोर ज़ोर से आहें भरने लगी. मोनू एक हाथ से सीमा के निपल्स को मसल रहा था और दूसरे हाथ से सीमा की जाँघ को सहला रहा था. सीमा ने जोश के मारे अपनी दोनो जांघों को एक दम सटा लिया.
मोनू ने सीमा की दोनो जांघों को एक दूसरे से अलग किया. सीमा की चूत पर एक भी बाल नहीं था और उसकी चूत एक दम गोरी और चिकनी थी. मोनू ने अपनी जीभ सीमा की चूत के दोनो लिप्स पर फिरानी शुरू कर दी तो सीमा जैसे पागल सी होने लगी. उसने मोनू के सिर को ज़ोर से पकड़ लिया लेकिन मोनू रुका नहीं, वो अपनी जीभ को सीमा की चूत के लिप्स पर तेज़ी से फिराने लगा. 2 मिनट में ही सीमा झाड़ गयी और उसकी चूत एक दम गीली हो गयी. मोनू ने सीमा की चूत का सारा जूस चाट लिया और फिर अपनी जीभ सीमा की क्लिट पर गोल गोल घुमाने लगा. सीमा ने जोश के मारे ज़ोर की सिसकी ली. मैने सीमा से पुचछा,
क्या हुआ. वो बोली,
दीदी, मेरे सारे बदन में आग सी लग गयी है. तुम मोनू से कह दो अब देर ना करे नहीं तो मैं पागल हो जाउन्गि. मुझसे अब बर्दास्त नहीं हो रहा है. मैने मोनू से कहा तो वो बोला,
मीना, मेरा लंड बहुत मोटा और लंबा है. अगर मैने सीमा को अभी चोद दिया तो इसे बहुत दर्द होगा. अभी सीमा को एक बार और झाड़ जाने दो. तब ये जोश से एक दम पागल हो चुकी होगी और मेरा पूरा का पूरा लंड आराम से अपनी चूत के अंदर ले लेगी. मैने कहा,
ठीक है, जैसा तुम ठीक समझो, करो. मोनू सीमा के उपर 69 की पोज़िशन में लेट गया और उसकी चूत को तेज़ी से चाटने लगा. सीमा अब तक बहुत ज़्यादा जोश में आ चुकी थी. उसने बिना कुच्छ कहे ही मोनू का लंड अपने मु'ह में ले लिया और तेज़ी के साथ चूसने लगी. सीमा का दिल बहुत तेज़ी से धड़क रहा था और उसकी साँसें बहुत तेज चल रही थी. वो ज़ोर ज़ोर की सिसकारियाँ भरते हुए मोनू का लंड चूस रही थी. थोड़ी देर बाद सीमा ने मुझसे कहा,
दीदी, मोनू से कह दो अब देर ना करे. मैं एक दम पागल सी हुई जा रही हूँ. मैने कहा,
मैं क्यों कहूँ, तुम ही मोनू से कहो कि वो तुम्हारी चुदाई करे. सीमा इतनी ज़्यादा जोश में आ चुकी थी कि वो रोने लगी. लेकिन उसने मोनू से कुच्छ भी नहीं कहा. 5 मिनट में ही सीमा फिर से झाड़ गयी तो उसने मोनू का सिर ज़ोर से पकड़ लिया और बोली,
अब तो मैं फिर से झाड़ गयी हूँ. अब तो देर ना करो. जल्दी से चोद दो मुझे. मोनू ने कहा,
मेरा लंड बहुत लंबा और मोटा है. तुम इसे अपनी चूत के अंदर ले पओगि. बहुत दर्द होगा. सीमा बोली,
मैं कुच्छ नहीं जानती. बस तुम अब देर मत करो. डाल दो अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में और खूब ज़ोर ज़ोर से चोदो मुझे. मोनू बोला,
ठीक है. मैं लेट जाता हूँ. तुम खुद ही मेरा लंड अपनी चूत के अंदर ज़्यादा से ज़्यादा घुसाने की कोशिश करो. मोनू सीमा के उपर से हट कर लेट गया तो सीमा तुरंत ही मोनू के उपर चढ़ गयी. सीमा जोश से एक दम पागल हो रही थी. उसने मोनू के लंड का सूपड़ा अपनी चूत के बीच रखा और ज़ोर से दबा दिया. मोनू के लंड का सूपड़ा सीमा की चूत को चीरता हुआ अंदर घुस गया. उसे इतनी तेज दर्द हुआ की वो तड़प्ते हुए तुरंत ही मोनू के उपर से हट गयी और लेट गयी. सीमा को बिल्कुल भी नहीं मालूम था की इतना दर्द होगा. आख़िर मोनू का लंड भी तो बहुत मोटा था. सीमा दर्द के मारे तड़प रही थी. मोनू सीमा के होठों को चूमने लगा. थोड़ी देर बाद सीमा शांत हुई तो मोनू ने कहा,
मेरे उपर आ जाओ और मेरा लंड अपनी चूत में और ज़्यादा घुसाने की कोशिश करो. सीमा बोली,
मैं तुम्हारा लंड अपनी चूत में नहीं घुसा पाउन्गा. मुझे बहुत ज़ोर से दर्द हो रहा है. अब तुम ही अपना लंड मेरी चूत में घुसाओ. मोनू बोला,
बहुत दर्द होगा. सीमा बोली,
तुम तो मर्द हो. तुम ही अपना लंड मेरी चूत में ज़बरदस्ती घुसा सकते हो. मोनू बोला,
ठीक है. मोनू सीमा के पैरों के बीच आ गया. उसने सीमा के पैरों को मोड़ कर उसके कंधे के पास सटा कर दबा दिया. सीमा एक दम दोहरी हो गयी और उसकी चूत उपर की तरफ उठ गयी. मोनू ने अपने लंड का सूपड़ा उसकी चूत के बीच रखा. सीमा की चूत पर ढेर सारा खून लगा हुआ था. मोनू ने ज़ोर लगाते हुए अपना लंड सीमा की चूत के अंदर दबाना शुरू किया. जैसे ही मोनू का लंड सीमा की चूत में 2" घुसा तो सीमा ज़ोर ज़ोर से चीखने लगी. लेकिन मोनू रुका नहीं उसने थोड़ा ज़ोर और लगा दिया. सीमा दर्द के मारे तड़पने लगी. उसकी आँखों में आँसू आ गये. उसका सारा बदन पसीने से नहा गया. उसकी टाँगें थर थर काँपने लगी. मोनू का लंड सीमा की चूत में 3" तक घुस चुका था. मैं सीमा के पास बैठ गयी और मैने उसकी चुचियों को सहलाना शुरू कर दिया. सीमा ने मुझे ज़ोर से पकड़ लिया और रोने लगी. वो बोली,
दीदी, बहुत दर्द हो रहा है. मैं मोनू का पूरा लंड अपनी चूत के अंदर कैसे ले पाउन्गि.
-
Reply
06-22-2017, 09:33 AM,
#7
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
मैने कहा, पहली पहली बार दर्द तो होता ही है. तुम घबराओ मत, मोनू जब धीरे धीरे पूरा का पूरा लंड तुम्हारी चूत में घुसा कर तुम्हें चोदेगा तब तुम्हें खूब मज़ा आएगा और तुम सारा दर्द भूल जाओगी. उसके बाद तुम्हें मोनू से चुदवाने में कभी दर्द नहीं होगा और तुम चुदाई का पूरा मज़ा ले पओगि.
मोनू अपना लंड सीमा की चूत में डाले हुए रुका रहा. थोड़ी देर बाद सीमा शांत हो गयी. मोनू ने धीरे धीरे धक्के लगाने शुरू कर दिए. मोनू का लंड अभी भी सीमा की चूत में 3" तक ही अंदर बाहर हो रहा था. थोड़ी देर बाद सीमा को मज़ा आने लगा और वो 5 मिनट की चुदाई के बाद झाड़ गयी. मोनू ने अपनी स्पीड थोड़ा बढ़ा दी. मोनू हर 15-20 धक्के के बाद एक ज़ोर का धक्का लगाते हुए सीमा की चुदाई करने लगा. जब वो ज़ोर का धक्का लगा देता तो उसका लंड सीमा की चूत के अंदर और ज़्यादा गहराई तक घुस जाता. जब मोनू ज़ोर का धक्का लगा देता तो सीमा दर्द के मारे तड़प उठती थी. सीमा बहुत ज़्यादा जोश में थी इसलिए उसे दर्द का ज़्यादा एहसास नहीं हो रहा था. मोनू इसी तरह सीमा की चुदाई करता रहा. वो अभी सीमा को ज़्यादा तेज़ी के साथ नहीं चोद रहा था. 10 मिनट की चुदाई के बाद सीमा फिर से झाड़ गयी तो मैने पुचछा,
अब कैसा लग रहा है. सीमा बोली,
मज़ा तो आ रहा है लेकिन दर्द भी बहुत हो रहा है. मैने कहा,
अभी मोनू का पूरा लंड तुम्हारी चूत में नहीं घुसा है इसलिए वो तुम्हें धीरे धीरे चोद रहा है. जब वो अपना पूरा का पूरा लंड तुम्हारी चूत में घुसा देगा तब वो तुम्हारी बहुत तेज़ी के साथ चुदाई करेगा. उसके बाद तुम्हें चुदवाने में खूब मज़ा आएगा. सीमा ने पुचछा,
अभी कितना बाकी है. मैने कहा,
अभी तक तो मोनू का लंड तुम्हारी चूत में केवल 5" ही घुसा है. सीमा बोली,
मोनू से कह दो कि वो अपना पूरा लंड मेरी चूत में जल्दी से घुसा दे. मैं जल्दी से जल्दी चुदवाने का पूरा मज़ा लेना चाहती हूँ. मैने कहा,
दर्द बहुत होगा. वो बोली,
दर्द तो धीरे धीरे घुसने में भी हो रहा है. मैने कहा,
ठीक है. फिर मैने मोनू से कहा,
अब तुम पूरी ताक़त लगा कर अपना पूरा का पूरा लंड इसकी चूत में घुसा दो. मोनू बोला,
मैं अभी घुसा देता हूँ. मोनू ने पूरे ताक़त के साथ बहुत ज़ोर ज़ोर के धक्के लगाने शुरू कर दिए. सीमा दर्द के मारे चीखने लगी. सारा रूम उसकी चीखों से गूंजने लगा. सीमा की चूत से बहुत तेज़ी के साथ खून निकलने लगा. सीमा ने दर्द के मारे अपने सिर के बाल नोचने शुरू कर दिए. 8-10 जोरदार धक्कों के बाद मोनू का लंड पूरा का पूरा सीमा की चूत में घुस गया. सीमा दर्द के मारे तड़प रही थी. मोनू ने पूरा लंड घुसा देने के बाद बहुत तेज़ी के साथ सीमा की चुदाई शुरू कर दी. सीमा दर्द के मारे चीखती रही लेकिन मोनू रुका नहीं. वो बहुत तेज़ी के साथ सीमा को चोद रहा था. उसका पूरा का पूरा लंड खून से नहा गया था.
10 मिनट तक तो सीमा बुरी तरह से चीखती रही फिर धीरे धीरे शांत होने लगी. अब तक सीमा की चूत ने अपना पूरा मु'ह खोल कर मोनू के लंड को अंदर जाने का रास्ता दे दिया था. मोनू भी पूरे जोश के साथ सीमा को चोद रहा था. 5 मिनट और चुदवाने के बाद सीमा शांत हो गयी. उसकी दर्द भरी चीखें अब जोश भरी सिसकारियों में बदल रही थी.
5 मिनट और चुदवाने के बाद वो झाड़ गयी तो उसे और ज़्यादा मज़ा आने लगा. अब मोनू का लंड सीमा की चूत में कुच्छ आराम से अंदर बाहर होने लगा था. सीमा भी अब अपना चुत्तऱ उठा उठा कर चुदवाने लगी थी. मैने सीमा से पुचछा,
अब मज़ा आ रहा है. वो बोली,
हां दीदी, अब तो बहुत मज़ा आ रहा है. मैने पुचछा,
अब दर्द नहीं हो रहा है. वो बोली,
दर्द तो हो रहा है लेकिन बहुत कम. मैने मोनू से कहा,
अब तुम पूरी ताक़त के साथ तेज़ी से सीमा की चुदाई शुरू कर दो. मोनू ने पूरी ताक़त लगते हुए बहुत तेज़ी के साथ सीमा की चुदाई शुरू कर दी. अब वो सीमा को एक दम आँधी की तरह चोद रहा था. 5 मिनट की चुदाई के बाद ही सीमा ने और तेज और तेज कहना शुरू कर दिया तो मोनू ने उसे बुरी तरह से चोदना शुरू कर दिया. सारे रूम में धाप धाप और फ़च फ़च की आवाज़ गूँज रही थी. साथ ही साथ सीमा की जोश भरी किलकरियाँ भी गूँज रही थी. वो और तेज और तेज, खूब ज़ोर ज़ोर से चोदो मेरे राजा, फाड़ दो आज अपनी रानी की चूत को, कहते हुए चुद रही थी. राज आँखें फाडे हुए सीमा को पूरे जोश के साथ चुदता हुआ देख रहा था. सीमा अपना चुत्तऱ उठा उठा कर मोनू से चुद रही थी. मोनू को अब तक सीमा की चुदाई करते हुए लगभग 45 मिनट हो चुके थे. उसने सीमा को चोदने के तुरंत पहले ही मुझे चोदा था इसलिए वो झड़ने का नाम ही नहीं ले रहा था. 10 मिनट तक चुदवाने के बाद सीमा फिर से झाड़ गयी.
-
Reply
06-22-2017, 09:33 AM,
#8
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
मोनू अभी भी सीमा को बुरी तरह से चोद रहा था और सीमा एक दम मस्त हो कर मोनू से चुदवा रही थी. 10 मिनट और चोदने के बाद मोनू रुक रुक कर बहुत ज़ोर ज़ोर के धक्के लगाने लगा तो मैं समझ गयी कि वो अब झड़ने वाला है. सीमा भी अपना चुत्तऱ बहुत तेज़ी के साथ उपर उठा रही थी. 2 मिनट बाद ही मोनू सीमा की चूत में झड़ने लगा तो सीमा भी उसके साथ ही साथ फिर से झाड़ गयी.
सारा वीर्य सीमा की चूत में निकाल देने के बाद मोनू सीमा के उपर ही लेट गया और उसे चूमने लगा. सीमा भी उसके पीठ को सहलाते हुए उसे चूमने लगी. मैने सीमा से पुचछा,
मज़ा आया. सीमा बोली,
हां दीदी, बहुत मज़ा आया. मैं इसी मज़े के लिए शादी के बाद से ही तड़प रही थी. मैने कहा,
अब तो तुम राज से नाराज़ नहीं रहोगी. वो बोली,
अगर राज मुझे मोनू से चुदवाने से मना नहीं करेगा तो मैं उस से कभी भी नाराज़ नहीं रहूंगी. वो दोनो थोड़ी देर तक एक दूसरे को चूमते हुए लेटे रहे. 10 मिनट बाद मोनू सीमा के उपर से हट गया और उसके बगल में ही लेट गया. मैने देखा कि सीमा की चूत का मु'ह एक दम चौड़ा हो चुका था. उसकी चूत एक दम गुलाबी हो गयी थी और कयि जगह से एक दम कट फॅट गयी थी. 1 घंटे तक आराम करने के बाद सीमा बाथरूम जाना चाहती थी लेकिन वो उठ नहीं पा रही थी. मोनू उसे गोद में उठा कर बाथरूम ले जाने लगा तो मैने देखा की मोनू का लंड फिर से खड़ा होने लगा था. मोनू सीमा को लेकर बाथरूम में चला गया.
जब 10-15 मिनट तक मोनू वापस नहीं आया तो मैं राज के साथ बाथरूम में गयी. मैने देखा की मोनू बाथरूम में ही सीमा की डॉगी स्टाइल में बुरी तरह से चुदाई कर रहा था. सीमा भी एक दम मस्त हो कर उस से चुदवा रही थी. मैने मोनू से कहा,
तुम इसे बेडरूम में ला कर इसकी चुदाई करते तो क्या मैं तुम्हें मना कर देती. मोनू ने कहा,
ऐसी बात नहीं है. सीमा जब पेशाब कर चुकी तो मुझसे रहा नहीं गया. मैने सीमा से कहा कि मैं फिर से चोदना चाट हूँ तो इसने कहा तो यहीं चोद दो ना और मैने इसे चोदना शुरू कर दिया. मैने कहा,
ठीक है. उसके बाद मैं राज के साथ बेडरूम में आ गयी. लगभग 45 मिनट के बाद मोनू सीमा को गोद में उठा कर ले आया और उसे बेड पर लिटा दिया. सीमा की चूत एक दम सूज चुकी थी और इस बार भी उसकी चूत पर खून लगा हुआ था. मैने सीमा से पुचछा, इस बार कैसा लगा. वो बोली,
इस बार चुदवाने में इतना मज़ा आया कि मैं बता नहीं सकती. मैने कहा,
तुम्हारी चूत से फिर से खून आ गया है. वो बोली,
इस बार मोनू ने इतनी बुरी तरह से मेरी चुदाई की है कि मैं इसका धक्का बर्दास्त नहीं कर पा रही थी. इस बार की चुदाई ने मेरे बदन का सारा जोड़ हिला कर रख दिया. मैने कहा,
अब तो खुश हो. वो बोली,
हां, अब मैं बहुत खुश हूँ. अगले 2 दीनो तक राज साइट पर नहीं गया. वो केवल सीमा को मोनू से चुदवाते हुए देखता रहा. मोनू ने 2 दीनो में 16 बार सीमा की चुदाई की. सीमा की चूत का मु'ह एक दम खुल चुका था. लेकिन उसे अब भी चलने फिरने में दिक्कत हो रही थी. उसकी चूत मोनू से चुद चुद कर एक दम सूज गयी थी और किसी डबल रोटी की तरह फूल चुकी थी. उन 2 दीनो में मैने मोनू से एक बार भी नहीं चुदवाया, केवल सीमा ही चुदवाती रही. मैं चुदवाने का खूब मज़ा लेना चाहती थी.
मेरे मन में ख़याल आया कि मुझे किसी दूसरे मर्द का इंतेज़ाम कर लेना चाहिए. तभी हम दोनो चुदाई का खूब मज़ा ले पाएँगे. तीसरे दिन मैं राज के साथ दूसरी साइट पर गयी. वो साइट एक आदिवासी इलाक़े में था. सीमा और मोनू घर पर ही थे. मैने उस साइट पर भी एक आदमी देखा. वो आदिवासी था और उसका रंग एक दम सांवला था लेकिन था बहुत ही हत्ता कटता. उसका लंड मुझे मोनू के लंड से भी मोटा और लंबा लगा. मैने राज से उसे भी घर पर काम करने के लिए रखने को कहा. राज ने उस से बात की तो वो राज़ी हो गया. उसका नाम झबरू था. वो हमारे साथ घर आ गया. जब उसे मालूम हुआ कि उसे मेरी और सीमा की चुदाई करनी है तो उसने इनकार कर दिया. मैने उस से वजह पूछि तो उसने कहा,
मेरा लंड बहुत ही लंबा और मोटा है. मैं 1 घंटे के पहले नहीं झाड़ पाता. मैं पहले भी 2 लड़कियों को चोद चुका हूँ. एक बार की चुदाई में ही उनकी चूत बुरी तरह से फॅट गयी थी और कुच्छ दीनो के बाद वो दोनो ही इस दुनिया में नहीं रही. उसके बाद मैने कसम खाई कि अब मैं किसी की चुदाई नहीं करूँगा. मैने कहा,
ठीक है, तुम मोनू का लंड देख लो. हम दोनो ने बड़े आराम से इसके लंड से खूब चुदवाया है. मैने मोनू से कहा,
तुम झबरू को अपना लंड दिखा दो. मोनू ने झबरू को अपना लंड दिखाया तो झबरू ने कहा,
इसका लंड तो मेरे लंड से बहुत पतला और छ्होटा है. मैने झबरू से कहा,
ज़रा मैं भी तो देखूं कि तुम्हारा लंड कैसा है. वो बोला,
हां, मैं अपना लंड ज़रूर दिखा सकता हूँ लेकिन मैं तुम दोनो को चोदुन्गा नहीं. झबरू ने अपना नेकर उतार दिया. उसका लंड देख कर मैं घबरा गयी. उसका लंड वाकाई बहुत लंबा और मोटा था. मैने कहा,
अभी तुम्हारा लंड ढीला है. पहले इसे खड़ा करो. उसके बाद ही तुम्हारे लंड की सही साइज़ का पता चलेगा. उसने कहा,
मैं अपने लंड को अपने हाथ से कभी नहीं खड़ा करता. इसे तुम दोनो को ही खड़ा करना पड़ेगा. झबरू के लंड को देख कर सीमा बहुत जोश में थी और वो उस के लंड को लालच भारी निगाहों से देख रही थी. मैने सीमा को इशारा किया तो उसने झबरू का लंड सहलाना शुरू कर दिया. थोड़ी ही देर में झबरू का लंड खड़ा होने लगा. उसका लंड खड़ा होने के बाद किसी मूसल की तरह दिख रहा था. झबरू का लुन्ड लगभग 9" लंबा और 3" चौड़ा था. मैने थोड़ा सोचते हुए कहा,
हम दोनो तुम्हारे लंड से चुदवाने के लिए तैयार हैं. सीमा ने तुरंत ही कहा,
दीदी, मैं झबरू से नहीं चुदवाउन्गि. केवल तुम ही चुदवा लो.
क्रमशः...............
-
Reply
06-22-2017, 09:34 AM,
#9
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
गतान्क से आगे................
मैने पुचछा, क्यों, क्या हुआ. वो बोली,
मैं इसका लंड अपनी चूत के अंदर नहीं ले पाउन्गि. मेरी चूत का पहले से ही बहुत बुरा हाल है. मेरी चूत एक दम फॅट जाएगी. मैने कहा,
मज़ा नहीं लेना है. वो बोली,
मज़ा तो मैं भी लेना चाहती हूँ. लेकिन मुझे झबरू के लंड को देख कर बहुत डर लग रहा है. मैने कहा,
जब मैं चुदवा लूँगी तब तो तुम्हारा डर ख़तम हो जाएगा. वो बोली,
पहले तुम चुदवा लो. मैं बाद में सोचूँगी. मैने झबरू से कहा,
पहले तुम मुझे चोद दो. सीमा बाद में चुदवायेगि. झबरू भी लंड खड़ा होने के बाद जोश में आ चुका था. उसने मुझसे कहा,
तुम सोच लो. मुझसे चुदवाने में अगर तुम्हारी चूत फॅट गयी तो बाद में मुझे दोष मत देना. मैने कहा,
मैं तुम्हें कुच्छ भी नहीं कहूँगी. वो बोला,
फिर ठीक है. पहले मुझे कोई क्रीम या तेल दे दो. मैं अपने लंड पर लगा लूँ. उसके बाद मैं तुम्हारी चुदाई करूँगा. मैने उसे एक क्रीम दे दी तो उसने ढेर सारा क्रीम अपने लंड पर लगा लिया. उसके बाद उसने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए. जब मैं एक दम नंगी हो गयी तो उसने मेरा चुत्तऱ बेड के किनारे पर रख कर मुझे बेड पर लिटा दिया और खुद मेरे पैरों के बीच ज़मीन पर खड़ा हो गया. उसके बाद उसने 2 तकिये मेरे चुत्तऱ के नीचे रख दिए. मेरी चूत अब उसके लंड के सीध में हो गयी. उसने मुझे कहा,
एक बार फिर से सोच लो. मैने कहा,
अब सोचना क्या है. अब तुम मेरी इस तरह से चुदाई करो की मुझे ज़्यादा तकलीफ़ ना हो. उसने कहा,
मैं कोशिश करूँगा. उसने अपने लंड का सूपड़ा मेरी चूत के बीच रहा और अपना लंड धीरे धीरे मेरी चूत के अंदर दबाने लगा. अभी उसका लंड 2" भी अंदर नहीं घुस पाया था कि मुझे दर्द होने लगा. मैने अपने होठों को ज़ोर से जाकड़ लिया. वो बहुत धीरे धीरे अपना लंड मेरी चूत के अंदर घुसाता रहा. मुझे लग रहा था की मेरी चूत फॅट जाएगी. धीरे धीरे उसका लंड मेरी चूत में 4" तक घुस गया तो मेरी हिम्मत जवाब दे गयी. मेरे मु'ह से जोरदार चीख निकली. उसने पुचछा,
क्या हुआ. मैने कहा,
बहुत दर्द हो रहा है. उसने कहा,
घबराओ मत. थोड़ा दर्द बर्दास्त करो. अभी 10-15 मिनट में मैं धीरे धीरे अपना पूरा का पूरा लंड तुम्हारी चूत में घुसा दूँगा और तुम्हें ज़्यादा तकलीफ़ भी नहीं होगी. मैं चुप हो गयी. उसने और ज़्यादा लंड घुसाने की कोशिश नही की और धीरे धीरे मुझे चोदने लगा. थोड़ी देर तक मैं चीखती रही लेकिन बाद में जब मेरा दर्द कुच्छ हल्का हुआ तो मैं शांत हो गयी. वो मुझे धीरे धीरे चोद्ता रहा.
5 मिनट बाद मैं झाड़ गयी तो उसने अपनी स्पीड थोड़ी सी बढ़ा दी. अब वो हर 8-10 धक्के के बाद एक धक्का थोड़ा सा तेज लगा कर मेरी चुदाई करने लगा. जब वो थोड़ा तेज धक्का लगा देता तो दर्द के मारे मु'ह से हल्की सी चीख निकल जाती लेकिन मैं इतने ज़्यादा जोश में थी कि मुझे उस दर्द का ज़्यादा एहसास नहीं हो रहा था. इसी तरह वो मेरी चुदाई करता रहा. लगभग 10 मिनट और चुदवाने के बाद मैं फिर से झाड़ गयी. मैने झबरू से पुचछा,
अब तक तुम्हारा लंड मेरी चूत में कितना घुस चुका है. वो बोला,
लगभग 7" घुस चुका है और अभी 3" बाकी है. तुम घबराओ मत मैं धीरे धीरे अपना बाकी का लंड भी तुम्हारी चूत में घुसा दूँगा. वो उसी स्टाइल में मेरी चुदाई करता रहा. सीमा बैठ कर आँखें फाडे उसके लंड को मेरी चूत के अंदर घुसता हुआ देखती रही. मेरी चूत से थोड़ा खून निकल आया था. झबरू अभी मुझे तेज़ी के साथ नहीं चोद रहा था. उसके हर धक्के के साथ दर्द के मारे मेरे मु'ह से आ की आवाज़ निकल रही थी. लगभग 10 मिनट की चुदाई के बाद उसने अपनी स्पीड और बढ़ा दी. मेरे मु'ह से अब बहुत ज़ोर ज़ोर की चीखें निकलने लगी. मैने झबरू से कहा,
थोड़ा धीरे धीरे चोदो, दर्द हो रहा है. वो बोला,
अब मैं अपनी स्पीड धीरे धीरे बढ़ाता रहूँगा क्यों कि अब तुम मेरा पूरा का पूरा लंड अपनी चूत के अंदर ले चुकी हो. मैने चौंक कर कहा,
क्या. वो बोला,
मैं सही कह रहा हूँ. तुम सीमा से पुच्छ लो. मैने सीमा की तरफ देखा तो सीमा ने कहा,
दीदी, ये ठीक कह रहा है. इसका पूरा का पूरा लंड तुम्हारी चूत के अंदर घुस चुका है. झबरू ने इतनी अच्छी तरह से अपना पूरा का पूरा लंड तुम्हारी चूत में घुसा दिया है कि मैं भी अब इस से चुदवाने के लिए तैयार हूँ.
झबरू की स्पीड अब धीरे धीरे बढ़ती ही जा रही थी. मुझे अभी भी दर्द हो रहा था. 10 मिनट की चुदाई के बाद मेरा दर्द एक दम कम हो गया और मुझे मज़ा आने लगा. मैने धीरे धीरे अपना चुत्तऱ उठा उठा कर झबरू का साथ देना शुरू कर दिया तो उसने अपनी स्पीड और तेज कर दी. 2 मिनट के बाद मैं फिर से झाड़ गयी तो झबरू ने अपनी स्पीड और बढ़ा दी. अब वो मुझे बहुत तेज़ी के साथ चोद रहा था. मैं भी एक दम मस्त हो चुकी थी. उसका लंड मेरी चूत के लिए अभी भी बहुत ही ज़्यादा टाइट था. जब वो अपना लंड बाहर खींचता तो मुझे लगता कि मेरी चूत उसके लंड के साथ ही बाहर निकल जाएगी. धीरे धीरे झबरू की स्पीड बहुत तेज हो गयी. अब वो मुझे एक दम पागलों की तरह से चोदने लगा था.
अब तक मुझे चुदवाते हुए लगभग 40 मिनट हो चुके थे. मेरी चूत ने झबरू के लंड को रास्ता दे दिया था और मुझे अब ज़्यादा मज़ा आने लगा था. वो मुझे चोद्ता रहा और मैं एक दम मस्त हो कर चुदवाती रही. लगभग 1 घंटे की चुदाई के बाद झबरू झाड़ गया और मैं भी उसके साथ ही साथ एक बार फिर से झाड़ गयी. मैं इस चुदाई के दौरान 4 बार झाड़ चुकी थी. झबरू ने अपना सारा वीर्य मेरी चूत में निकालने के बाद अपना लंड बाहर निकाला तो मुझे लगा कि मेरी चूत भी उसके लंड के साथ ही बाहर निकल जाएगी. उसने अपना लंड मेरे मु'ह के पास कर दिया तो सीमा बोली,
दीदी, तुम रहने दो. इसका लंड मैं चाट कर सॉफ करूँगी. सीमा ने झबरू के लंड को चाट चाट कर सॉफ करना शुरू कर दिया. उसके बाद झबरू बेड पर लेट गया और आराम करने लगा. अब वो एक दम संतुष्ट दिख रहा था. 30 मिनट के बाद सीमा ने झबरू से कहा,
मुझे भी चोद दो. वो बोला,
अभी थोड़ी देर मुझे और आराम कर लेने दो, उसके बाद मैं तुम्हें भी चोद दूँगा. जब मैं तुम्हारी चुदाई करूँगा तो तुम्हें ज़्यादा तकलीफ़ होगी. सीमा ने पुचछा,
क्यों. झबरू ने कहा,
-
Reply
06-22-2017, 09:34 AM,
#10
RE: Sex Kahani चुदाई के नौकर
तुमने अभी तक मोनू से ज़्यादा से ज़्यादा 20 बार चुदवाया होगा. अभी तुम्हारी चूत मीना की चूत से बहुत ज़्यादा टाइट होगी. सीमा बोली,
कुच्छ भी हो, मैं तो बस तुम्हारा लंड अपनी चूत के अंदर लेना चाहती हूँ. झबरू बोला,
ठीक है. 30-35 मिनट बाद झबरू ने सीमा से अपना लंड चूसने को कहा तो सीमा झबरू का लंड चूसने लगी. जब उसका लंड खड़ा हो गया तो उसने सीमा की चुदाई शुरू की. उसने मुझे जिस तरह आराम से चोदा था ठीक उसी तरह सीमा को भी चोद रहा था. लेकिन सीमा की चूत अभी भी बहुत ज़्यादा टाइट थी. वो बहुत चिल्लाई और उसे दर्द भी बहुत हुआ. उसकी चूत से ढेर सारा खून भी निकला लेकिन आख़िर में झबरू ने अपना पूरा का पूरा लंड सीमा की चूत में डाल ही दिया. सीमा की चूत में झबरू को अपना लंड आराम से घुसने में लगभग 20 मिनट लगे फिर उसके बाद उसने बहुत ही बुरी तरह से सीमा की चुदाई शुरू कर दी और उसे लगभग 1 1/4 घंटे तक चोदा. सीमा उस से चुदवाने में 3 बार झाड़ गयी थी. झबरू से चुदवाने के बाद सीमा की चूत में इतना ज़्यादा दर्द हो रहा था कि वो बिल्कुल भी हिल डुल नहीं पा रही थी. झबरू ने कहा,
मैं अभी एक बार तुम्हारी चुदाई और करूँगा उसके बाद तुम हिल डुल सकोगी और चल भी सकोगी. सीमा ने झबरू से चुदवाने से मना कर दिया लेकिन झबरू मना नहीं. लगभग 30 मिनट के बाद झबरू ने फिर से सीमा की चुदाई शुरू कर दी. इस बार उसने सीमा को एक दम पागलों की तरह बहुत ही बुरी तरह से चोदा. इस बार पूरी चुदाई के दौरान सीमा ज़ोर ज़ोर से चीखती ही रही. 25-30 मिनट चोदने के बाद झबरू ने सीमा को ज़मीन पर खड़ा कर दिया और खड़े खड़े ही उसकी चुदाई की. थोड़ी देर खड़े हो कर चोदने के बाद झबरू ने उसे डॉगी स्टाइल में चोदना शुरू कर दिया. उसके बाद झबरू ने सीमा को काई स्टाइल में बुरी तरह चोदा और उसकी चूत में ही झाड़ गया.
सीमा बहुत ताड़पी लेकिन झबरू ने उसकी एक ना सुनी. झाड़ जाने के बाद जब अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाला तो सीमा की चूत खून से नहा चुकी थी और कयि जगह से काट फॅट गयी थी और बुरी तरह से सूज भी चुकी थी. झबरू ने सीमा से कहा,
अब मैने तुम्हारी चूत को एक दम चौड़ा कर दिया है. अब तुम मुझे चल कर दिखाओ. सीमा ने चलने की कोशिश की लेकिन वो ठीक से चल नहीं पा रही थी. झबरू ने कहा,
अभी थोड़ी देर बाद मैं फिर से तुम्हारी चुदाई करूँगा. उसके बाद तुम चलने फिरने लगोगी. सीमा बोली,
अब मैं तुमसे नहीं चुदवाउन्गि. तुमने मेरी चूत की हालत खराब कर दी है लेकिन झबरू माना नहीं. 1 घंटे के बाद झबरू ने फिर से सीमा को बहुत ही बुरी तरह से चोदना शुरू कर दिया. वो मना करती रही लेकिन झबरू माना नहीं. उसने इस बार भी सीमा को बहुत ही बुरी तरह से लगभग 1 1/2 घंटे तक चोदा. उसके बाद झबरू ने सीमा से कहा,
अब मुझे फिर से चल कर दिखाओ तो सीमा डर के मारे ठीक से चलने को कोशिश करने लगी. झबरू ने कहा, शाबास, देखा 3 बार चुदवाने के बाद तुम थोड़ा ठीक से चलने लगी हो. वो बोली,वो तो मैं ही जानती हूँ कि मैं कैसे चल रही हूँ. झबरू बोला,अभी मैं फिर से तुम्हारी चुदाई करूँगा. 1 घंटे के बाद झबरू ने फिर से सीमा की बहुत ही बुरी तरह से चुदाई की. उसके बाद सीमा ठीक से चलने फिरने लगी. झबरू से चुदवाने के बाद मैं भी बिना सहारे के नहीं चल पा रही थी. मैने कहा,मैं भी तो ठीक से नहीं चल पा रही हूँ. वो बोला,पहले मुझे सीमा की चल ठीक कर लेने दो. उसके बाद मैं तुम्हारी भी बहुत बुरी तरह से चुदाई कर दूँगा उसके बाद तुम भी ठीक से चलने लगोगी.
दोस्तो कैसी लगी ये कहानी बताना मत भूलिएगा आपका दोस्त राज शर्मा
समाप्त
-
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star Hindi Kamuk Kahani वो शाम कुछ अजीब थी sexstories 93 7,675 Yesterday, 11:55 AM
Last Post: sexstories
Star Desi Porn Kahani कहीं वो सब सपना तो नही sexstories 487 159,647 07-16-2019, 11:36 AM
Last Post: sexstories
  Nangi Sex Kahani एक अनोखा बंधन sexstories 101 192,957 07-10-2019, 06:53 PM
Last Post: akp
Lightbulb Sex Hindi Kahani रेशमा - मेरी पड़ोसन sexstories 54 40,341 07-05-2019, 01:24 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna kahani वक्त का तमाशा sexstories 277 84,187 07-03-2019, 04:18 PM
Last Post: sexstories
Star vasna story इंसान या भूखे भेड़िए sexstories 232 64,959 07-01-2019, 03:19 PM
Last Post: sexstories
Thumbs Up Incest Kahani दीवानगी sexstories 40 46,912 06-28-2019, 01:36 PM
Last Post: sexstories
Lightbulb Bhabhi ki Chudai कमीना देवर sexstories 47 59,488 06-28-2019, 01:06 PM
Last Post: sexstories
Star Maa Sex Kahani हाए मम्मी मेरी लुल्ली sexstories 65 55,464 06-26-2019, 02:03 PM
Last Post: sexstories
Star Adult Kahani छोटी सी भूल की बड़ी सज़ा sexstories 45 45,667 06-25-2019, 12:17 PM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 2 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


desi sex aamne samne chusai videopriya prakash varrier nude fuked pussy nangi photos download sex pics zee tv sexbaba.netxxxvideoitnamotax-ossip sasur kameena aur bahu nagina hindi sex kahaniyanhostel sex video hindi dhaga gle me pahni huyi girlghar ki kachi kali ki chudai ki kahani sexbaba.comXxx soti huvi ladki ka sex xxx HD video niyu xxxxbf boor me se pani nikal de ab sexxMom me muta mere muh meBhabhi ne chut me bhata dalasexलड़की को सैलके छोड़नाBhabhe ke chudai kar raha tha bhai ne pakar liya kahanyaanokha badala sexbaba.netGirl hot chut bubs rangeli storynechat xBOMBOdayan ko ghapa ghap pela xxx khani .comxxx indian bahbi nage name is pohtosTelugu Amma inkokaditho ranku kathaluसेक्सी बिवी को धकापेल चोदई बिडीओमाँ बेटी कि चुत मे बेटे ने लँड घुसायBhabi nay sex ki bheekh mangiछोटी साली कि गाड मारी पहलीबार सेक्स विडीयोxxx 5 saal ki sotiy bachiya ki fardi chootxxx sexyvai behanसौतेले बाप रे बाप बेटी के बाथरूम में कैमरा लगाया सेक्स हिंदी बीएफwww sexbaba net Thread bipasha basu xxx nude fucked in assAnderi raat ko aurat ki gand bedardi se Mari sexy story Subhangi atre and somya tondon fucking and nude picsaanti se cupkes kiya sexHindhi bf xxx ardiommsBest chudai indian randini vidiyo freeपोरन पुदी मे लेंड गीरने वालेShcool sy atihe papany cuda sex sitoreBap ne kacchi beti ko bhga bhga ke sex kiya indian pornsex toupick per baate hindi meSubhangi atre and somya tondon fucking and nude picswww xvideos com video45483377 8775633 0 velamma episode 90 the seducerbhabe chudi bdeio jangal bolitehuiपिरति चटा कि नगी फोटोladki ko chudai Kare Apne Ling se ladkiyon ki BPxxxभोसी फोटुstanpan kaki.बुर मे निहुरा के जूजी से चोदल.वीडीयोxxxvediohathisex desi shadi Shuda mangalsutraxxx. hot. nmkin. dase. bhabiwww sexbaba net Thread desi porn kahani E0 A4 B0 E0 A5 87 E0 A4 B6 E0 A4 AE E0 A4 BE E0 A4 AE E0 A5papa ka adha land ghusa tab boliawara kamina ladka hindi sexy stories नई लेटेस्ट हिंदी माँ बेटा सेक्स राज शर्मा मस्तराम कॉमrukmini mitra nude xxx picturecolours tv actoars fuck ass hoal sex baba photoes Piyari bahna kahani xxxझाटदार चूत के दर्शन कहानीBahan ke sath ruka akele chudaiNude fake Nevada thomsTv acatares xxx nude sexBaba.net high quality bhabi ne loon hilaya vidiomaa ki gadrayee gaand aur chut ko. chalaki se choda kahani www.kahanibedroom comwww.देहाती चाची की चुत से निकली नमकीन "मूत" पेशाब हिंदी सेक्स स्टोरी.c om[email protected]Kriti sanon anterwasna khanixxx.doodpilatimaaरिलेटेड हिरोईन सेकसso raha tha bhabi chupke se chudne aai vedio donlodxxnx janvira कूतेsexbaba nandoibachho ne khelte khelte ek ladki ko camare me choda video.xnxx comसासू जि कि चूदायि sexbaba + baap betiचूत पर कहानीbfxxx berahamSunny Leone sex baba new thread. Comसासू मा ने चोदना शिखाया पूरी धीमी सेक्स स्टोरीजSex.baba.net.Samuhek.sexsa.kahane.hinde.Best chudai indian randini vidiyo freeAñti aur uski bahañ ki çhudai ki sexmmsमेरी परिवार चूत और गांड़ की चुदाईचुदना भी सेक्सबाबMuslim ladki school m ladki ko gr laale choda porn storiesdoctar na andar lajaka choda saxi vdieo hdKhalu.or.bhnji.ki.xxx.storiSaaS rep sexdehatiladies chudai karte hue gadiyan deti Hui chudwatitara sutaria sexbabanupama parameswaran hard fucking pics Sex baba