XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
11-07-2018, 10:51 PM,
#81
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
राज- मेरी मम्मी मुझे दुनिया की हर औरत से खूबसूरत लगती है

मम्मी मेरे सर पर हाथ फेरते हुए एक दम से टीवी मे आती न्यूज़ देखने लगी जिसमे बता रहे थे कि एक महिला

के साथ कुच्छ लोगो ने गॅंग रॅप किया, मम्मी न्यूज़ सुनने लगी और मैं उनसे बाथरूम होकर आने का कह कर

बाथरूम मे जाने लगा, मैं यह सोच सोच कर बैचन हो रहा था कि मम्मी आज इतनी खुल कर कैसे बात कर रही

है ज़रूर कुच्छ ना कुच्छ वजह है, जब मैं बाथरूम के अंदर गया तो जैसे ही मुतना चालू किया मेरी नज़र

मम्मी की गुलाबी पॅंटी पर पड़ गई जो बाथरूम मे पड़ी थी मैने झट से उनकी पॅंटी उठा कर देखा तो मैने

गौर किया की अभी मम्मी मॅक्सी के अंदर यही पॅंटी पहने थी जब वह किचन मे झुकी हुई थी,

इसका मतलब यह

था कि मम्मी ने अभी जब वह मूतने आई थी तब अपनी पॅंटी उतरी है, और अभी सोफे पर मॅक्सी के अंदर पूरी नंगी

ही बैठी है, इसका मतलब यह था कि मम्मी आज बहुत चुदासी हो रही है और खूब लंड लेने के लिए तरस रही

है, लेकिन ऐसा क्या हुआ कि मम्मी इतनी चुदासी हो गई है और मुझसे भी बड़ी रंगीन बाते कर रही है,

मैने मम्मी की पॅंटी को फैला कर देखा और तो उसकी चूत के यहाँ से पूरी पॅंटी गीली हो रही थी मैं समझ

गया कि मम्मी की चूत से पानी च्छुटा होगा और फिर मैं मम्मी की पॅंटी यह सोच कर सूंघने लगा कि

मम्मी की चूत की खुश्बू उसमे से आ रही होगी, वाकई मम्मी की पॅंटी से उसकी चूत की मस्त मादक गंध और

उसके पेशाब की गंध दोनो तरह की खुश्बू से मेरा लंड तन कर सलामी देने लगा, कुच्छ देर मे मम्मी की

पॅंटी को खूब सूंघ सूंघ कर देखता रहा फिर मैं वापस उनकी पॅंटी वही रख कर बाहर आ गया,

मैं वापस मम्मी के पास जाकर बैठ गया मम्मी सोफे पर अपनी गंद टिकाए अपने एक पेर को मोड़ कर बैठी थी

और खुद ही अपनी मॅक्सी उठा अपने घटनो तक चढ़ा कर अपनी गोरी गोरी पिंदलिया मसल रही थी, मुझे तो वह एक

भरा पूरा माल नज़र आ रही थी जिसे पूरी नंगी करके खूब कस कस कर चोदना चाहिए, मम्मी टीवी की न्यूज़ को

बड़े ध्यान से देखने के बाद कहने लगी आज कल तो जहाँ देखो बस बलात्कार की ख़बरे ही रहती है और उपर से लोग

अब अपनी गहर की औरतो को भी नही छ्चोड़ते है देख क्या दिखा रहे है बाप ने अपनी ही बेटी को रात को नंगी करके

उसके साथ रॅप किया,

राज- मम्मी यह सब तो रोज की ख़बरे है आप अपने पेर ऐसे क्यो दबा रही है लगता है आपकी पिंदलिया दर्द कर

रही है आप आराम से सोफे पर लेट कर अपने पेर मेरी जाँघो पर रख कर बैठ जाओ आज आपका बेटा आपके पेरो का

सारा दर्द दूर कर देगा, मेरी बात सुन कर मम्मी वही पसर गई और अपनी एक टांग उठा कर मेरी जाँघो पर जैसे

ही रखा मम्मी के पेर की एडी का वजन सीधे मेरे लंड पर पड़ गया और मैं सच मुच मस्त हो गया,

क्रमशः........
Reply
11-07-2018, 10:52 PM,
#82
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
गन्ने की मिठास--37

गतान्क से आगे......................

मम्मी की मॅक्सी को धीरे से मैने थोड़ा सा उपर कर दिया और अब मेरी रंडी मम्मी की गोरी गोरी गुदाज पिंदलिया और उनकेघुटने तक का हिस्सा मेरे सामने था और मैं उनकी गोरी गोरी पिंदलियो को सहलाता हुआ मज़े ले रहा था,

मम्मी बराबर टीवी देखे जा रही थी और मैने सोचा कि मम्मी तो मॅक्सी के नीचे पॅंटी पहनी नही है पूरी

नंगी है क्यो ना थोड़ा उनका पेर उठा कर उनकी फूली चूत देखने की कोशिश की जाय और मैने मम्मी के पेरो को

थोड़ा सा मोड़ कर थोड़ा फैला दिया और जैसे ही मैने मम्मी की मॅक्सी के अंदर देखा तब उनकी गुदाज मोटी

मखमल जैसी जंघे जो इतनी मोटी थी की उनका पेर चौड़ा करने के बाद भी उनकी भरी हुई जंघे एक दूसरे से

चिपकी थी,

तब मैने उनके पेरो को थोड़ा और मोड़ दिया और जब फिर से मैने मॅक्सी के अंदर देखा तो मेरे होश

उड़ गये, मम्मी की पाव रोटी की तरह फूली हुई चूत और बीच मे एक बड़ी सी गहरी लकीर देख कर मेरा लंड

झटके देने लगा, मम्मी की चूत तो सुधिया की चूत से भी ज़्यादा मासल और गुदाज लग रही थी और फूली इतनी लग

रही थी कि पूरी हथेली खोल कर अपने पंजो मे दबोचना पड़े,

मैं तो अपनी मम्मी की मस्तानी चूत देख कर मस्त हो गया और उनकी गोरी टाँगो को खूब कस कस कर मसल्ने

लगा,

जब मैं उनकी टाँगो को दबाता तब उनकी पायल ऐसे बजने लगती जैसे किसी औरत की चूत मारते हुए पायल बजती

है, जब मैने देखा की मम्मी ने अब आँखे बंद कर ली है तब मैने उनकी जाँघो को धीरे से अपने हाथो मे

भर कर दबाया तो उनकी मोटी जाँघो के स्पर्श से एक बार तो ऐसा लगा कि अभी मेरे लंड से पानी निकल आएगा,

तभी मम्मी ने आँखे खोली और कहा बेटे मुझे नींद सी आ रही है जा अब तू भी सो जा और मैं भी सोने जा

रही हू,

मैने कहा आप कहो तो और पेर दबा दू आपके

रति- नही बेटे अब रहने दे मुझे सच मुच झपकी आने लगी है,मैने मायूस होकर कहा ठीक है मम्मी और

फिर मैं वहाँ से अपने रूम मे आ गया और लेट गया, मुझे नींद नही आ रही थी और मैने सोचा चलो थोड़ी

देर अपनी सेक्स बुक ही पढ़ा जाए और मैने जैसे ही तकिये के निच्चे हाथ डाला मुझे वहाँ कुच्छ नही मिला और

मैं उठ कर बैठ गया और जल्दी से तकिया हटा कर देखने लगा लेकिन किताब वहाँ नही थी,

तभी मेरे दिमाग़ मे

यह बात आई कि कही मम्मी के हाथ तो नही लग गई और शायद मम्मी उस किताब वो पढ़ भी चुकी थी जिसमे खूब

बेटे द्वारा अपनी मा को चोदने की कहानिया लिखी हुई थी और कुच्छ कहानिया ऐसी भी थी जिसमे मा खुद अपने बेटे

को अपनी चूत दिखा दिखा कर उत्तेजित करती है और फिर उससे अपनी चूत खूब मरवाती है,

मैं चुपके से अपने रूम से बाहर आ गया और दबे पाँव मम्मी के रूम के बाहर जाकर खिड़की से अंदर

देखा तो मेरा शक बिल्कुल सही निकला मम्मी अंदर वही किताब खोल कर पढ़ रही थी और संगीता घोड़े बेच कर

उसके बगल मे लेटी हुई थी, मम्मी किताब पढ़ते हुए अपनी मॅक्सी के उपर से अपनी चूत धीरे धीरे सहला रही थी,

यह सब नज़ारा देख कर मैं एक दम से खुश हो गया और सोचने लगा कि मेरी मम्मी की चूत तो खूब पानी

छ्चोड़ रही है, इसको चोदने मे तो ज़्यादा परेशानी आनी नही चाहिए, क्या गजब का माल है मेरी मम्मी, जब

मुझसे एक बार चुद जाएगी तब फिर रंडी को दिनभर घर मे नंगी ही रखूँगा और नंगी ही घर के सारे काम

करवाउँगा,

और जब मन होगा उसकी गंद मे अपना लंड डाल कर उसे खूब कस कस कर चोदुन्गा,
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#83
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
अभी मैं यही सब खड़ा खड़ा सोच रहा था और अपने लंड को मसल रहा था तभी मम्मी ने एक बार संगीता की

ओर देखा और फिर अपनी गंद लेटे लेटे उठा कर अपनी मॅक्सी अपनी गुदाज मोटी गंद को उठा कर उसने उपर चढ़ा

लिया और जब उसने अपनी दोनो जाँघो को फैला कर अपनी फूली हुई चूत पर मेरे सामने हाथ फेरा तो मेरा लंड

इतना कड़ा हो गया कि मुझे उसे अपनी लूँगी से बाहर निकालना पड़ा और उसे खूब कस कस कर सहलाना पड़ा,

मेरी मम्मी अपनी चूत मे एक उंगली धीरे धीरे सरकाती हुई किताब पढ़ रही थी और उसका चेहरा पूरा लाल नज़र आ

रहा था, मैं मम्मी की चूत और नंगी भरी गंद को देख कर खूब ज़ोर ज़ोर से लंड हिला रहा था और अपने

ख्यालो मे अपनी मम्मी को चोद रहा था, आज तक अपनी मम्मी की नंगी चूत और गंद मैने देखा नही था

इसलिए मुझे उनका ज़्यादा ख्याल कभी आया ही नही लेकिन अब मुझे सिर्फ़ और सिर्फ़ अपनी मम्मी को ही चोदने का मन

हो रहा था और मैं बस उसे चोद्ते हुए उसके रसीले होंठ गुलाबी गालो को चूमना चाटना चाहता था,

कुच्छ देर बाद मैने देखा मम्मी की चूड़ियो की आवाज़ ज़ोर ज़ोर से आने लगी थी क्यो कि मम्मी अब अपनी चूत मे

ज़ोर ज़ोर से अपनी उंगली पेलने लगी थी, तभी वह एक दम से बिस्तेर पर मूतने की स्टाइल मे बैठ गई और जब उसका

भोसड़ा खुल कर मेरी आँखो के सामने आया तो मम्मी की बड़ी सी बिना बालो वाली चिकनी गुलाबी चूत देख कर

मेरे मूह मे पानी आ गया और ऐसा लगने लगा कि जाकर अपनी मम्मी की चूत मे मूह डाल कर खूब उसकी चूत

चूस लू,

मम्मी अब तेज़ी से अपनी उंगली चला रही थी और मैं भी उसकी चूत देख कर अपना लंड हिला रहा था, तभी

अचानक मुझे ध्यान नही रहा और मेरे पास मे एक छ्होटा सा गमला रखा हुआ था और मेरे हाथ का धक्का

उस गमले मे लग गया मैने उसे पकड़ने की पूरी कोशिश की लेकिन वह गमला धदाम से गिर कर टूट गया और मेरे

होश उड़ गये, आवाज़ सुन कर मम्मी एक दम से रुक गई और उसने आवाज़ लगाई कौन है वहाँ,
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#84
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
मेरी तो गंद फट गई

और मैं चुपके से वहाँ से भाग कर अपने रूम मे आ गया,

मैं बहुत देर तक जागता रहा कि शायद मम्मी मुझे देखने आएगी लेकिन मम्मी नही आई तब मुझे कुच्छ

राहत हुई और मैं सो गया, जब सुबह हुई तो मैने देखा संगीता चाइ लेकर खड़ी थी और मुस्कुरा रही थी, मैने

उससे धीरे से पूछा मम्मी कहाँ है,

संगीता- मम्मी बाथरूम मे पूरी नंगी होकर नहा रही है

राज- हस्ते हुए तुझे सुबह से ही मस्ती चढ़ि है क्या

संगीता- मेरे लंड को लूँगी के उपर से पकड़ कर दबाते हुए, जिसकी चूत मे इतना मोटा लंड घुसने लगेगा उसको

सुबह से मस्ती नही चढ़ेगी तो क्या होगा, और आप सुबह सुबह मम्मी को क्यो याद कर रहे हो कही यह मूसल

मम्मी को चोदने के ख्वाब देख कर तो नही तना हुआ है,

राज- हस्ते हुए क्यो तेरे भैया का लंड अगर मम्मी की चूत मे घुसेगा तो तुझे बुरा लगेगा क्या

संगीता- हस्ते हुए मुझे क्यो बुरा लगेगा, अच्छा है बेचारी मम्मी भी जब से पापा हमे छ्चोड़ कर गये

है तब से खूब चुदने के लिए तड़पति होगी, सच भैया एक बार जो तुम अपने इस मूसल से मम्मी को पूरी नंगी

करके चोद दो तो सचमुच मम्मी तो तुम्हारे लंड की दीवानी हो जाएगी और दिन रात तुम्हारे लंड के लिए अपनी

चूत उठाए घूमेगी,

मैने संगीता की बात सुन कर उसके मोटे मोटे दूध को पकड़ उसे अपनी गोद मे बैठा कर पकड़ लिया और उसके दूध

दबाते हुए कहा मेरी रंडी बहना मैं अगर तुझे और मम्मी को दोनो को दिन भर घर मे नंगी रख कर

दोनो को एक साथ चोदु तो,

संगीता- फिर तो मज़ा आ जाएगा भैया, मैं भी देखना चाहती हू कि तुम मम्मी को कैसे पूरी नंगी करके

चोद्ते हो, मम्मी पूरी नंगी बड़ा मस्त माल लगती है उसकी चूत चूस कर ही तुम तो मस्त हो जाओगे, मैने संगीता

की चूत को च्छू कर देखा तो उसमे से पानी बह रहा था मैने उसे चूमते हुए कहा गुड़िया रानी आज दोपहर मे

ही मैं आ जाउन्गा फिर तेरी चूत का पानी चाटूँगा अभी मुझे जल्दी से चाइ बना कर दे दे तब तक मैं तैयार हो

जाता हू उसके बाद मैं तैयार हो गया और जब मम्मी मेरा खाना लेकर आई तो उनका चेहरा काफ़ी तनाव मे लग

रहा था और शायद वह कुच्छ कहना चाहती थी,

रति- संगीता जा मैने कपड़े जो धोकर रखे है उन्हे ज़रा छत पर डाल कर आ जा,

संगीता वहाँ से चली गई और मैं चाइ पीने लगा,

राज- क्या बात है मम्मी आप कुच्छ परेशान लग रही है,

रति- बेटे मुझे तुझसे कुच्छ पुच्छना था,

राज- बोलो ना मम्मी

रति- बेटे कल रात मेरे रूम के बाहर तू ही था ना

मम्मी की बात सुन कर मैं एक दम से सकपका गया और मेरी चोरी पकड़ी जा चुकी थी मैं अपनी नज़रे नीचे करके

केवल इतना ही कह सका सॉरी मम्मी,

रति- बेटे तुझे अपनी मम्मी को नंगी नही देखना चाहिए था, तूने यह ग़लत किया है,

तुझे अपनी मम्मी पर

ऐसी नज़रे नही रखना चाहिए, तू एक समझदार लड़का है और तुझे सोचना चाहिए कि मैं तेरी मम्मी हू फिर

भले ही मैं तुझे कितनी ही सेक्सी और जवान लगू लेकिन किसी बेटे को अपनी मम्मी पर ऐसी नज़रे नही डालना चाहिए,

अगर मैं तेरे जैसे सोचने लागू तो ना जाने कितने ग़लत कदम उठा चुकी होती
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#85
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
राज- मम्मी अब आगे से ऐसा नही होगा, आइ आम रेआली सॉरी,

रति- मुस्कुराते हुए बेटा माइंड मत करना यह सामानया बात है इसलिए मैने तुझसे खुल कर डिसकस कर लिया चल

अब अपना खाना ले, और फिर मम्मी अपनी मोटी गंद मतकाते हुए जाने लगी और मैं उसके भारी चूतादो का

मटकना देख कर उनकी गंद मे खोने लगा तभी मम्मी ने पलट कर मेरी ओर देखा और फिर मुस्कुरा कर

चली गई, मेरा पूरा मूड सुबह से खराब हो चुका था और मैं यह सोचने लगा कि यह मुझे इतनी आसानी से

चूत देने वाली नही है और कोई भरोसा भी नही कि यह मुझे कोशिश करने पर भी चोदने को दे देगी,

यह खुद भी तडपेगी और मुझे भी अपनी जवानी दिखा दिखा कर तडपाएगी, मैने गुस्से मे मोटेर्बयके स्टार्ट की

और गाँव की ओर चल दिया और रास्ते भर यही सोचता रहा कि जो भी हुआ वह ग़लत नही था मम्मी खुद तो अपनी

चूत खूब उंगली से सहला लेगी और मैं अपना लंड पकड़े उसकी जवानी को दूर से देखता हुआ जलता रहूँगा, मैं रास्ते

भर यही सोचता रहा कि अब क्या करू, मैने जब से मम्मी का मस्त भोसड़ा और मोटी चोदने लायक गंद देखी

थी तब से बस मैं उसे चोदने केलिए मरा जा रहा था, जब मेरी बाइक थोड़े सुनसान इलाक़े से निकली तब मुझे

पेशाब लगी और मैं बाइक रोक कर मूतने लगा और लगातार मेरे दिमाग़ मे बस मम्मी रति की चूत कैसे मारू

यही चल रहा था,

लेकिन कोई भी रास्ता नज़र नही आ रहा था, मैं जैसे ही पलट कर बाइक के पास जाने लगा तभी

पेड़ के उपर से धम्म से दो आदमी मेरे सामने कूद पड़े और मैं कुच्छ समझ पाता उससे पहले ही एक ने मेरे

गले पर चाकू आड़ा दिया और दूसरे ने मेरी गर्दन पिछे से कस कर पकड़ ली,

राज- अरे भाई कौन हो तुम लोग छ्चोड़ो मुझे,

तब चाकू जिसने अड़ा रखा था वह बोला ऐ बाबू चल जल्दी से माल निकाल नही तो अभी चाकू अंदर पेल देंगे

मैने कहा भाई मेरे पास तो कोई माल नही है, तभी दूसरे ने मेरी जेब मे रखा पार्स निकाल लिया और उसमे

लगभग 1000 रुपये रखे थे वह उसने निकाले और खुस होते हुए मुझे एक दम से धक्का देकर जंगल की ओर

भाग गये,

मैं दूसरी चिंता मे ज़्यादा था इसलिए मुझे उनके द्वारा रुपये छिनने का कोई गम नही हुआ और मैं

वापस बाइक पर आकर बैठा, तभी मेरे दिमाग़ मे एक आइडिया आया और मैं उन दोनो बदमाशो को दुआ देते हुए

वाह मेरे भाइयो क्या सही मोके पर मुझे लूटा है यह सोचते हुए मैं सीधे साइट पर पहुच गया और वहाँ

काम लगाने के बाद सीधे हरिया के खेतो की ओर चल दिया,

हरिया के खेत मे आज रुक्मणी, चंदा और सुधिया तीनो बैठी थी लेकिन हरिया कही नज़र नही आ रहा था, मैने

जैसे ही दूर से रुक्मणी और सुधिया को एक साथ देखा मेरी गंद फट गई, मैने सोचा कही इन दोनो ने मुझे

पहचान लिया तो बहुत मारेंगी की बाबा जी की दाढ़ी मुछ सब गायब हो गई और चिकना लंडा बन गया यह तो,

क्रमशः........
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#86
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
गन्ने की मिठास--38

गतान्क से आगे......................

मैने सोचा अब क्या करू, तभी चंदा की नज़र मुझ पर पड़ गई और मैने उसे चुप रहने का इशारा करते हुए

उसे चुपके से अपने पास बुला लिया और फिर उससे मैने पुछा तेरे बाबा कहाँ है,

चंदा- वह तो रामू भैया के साथ तालाब की ओर गये है और कह रहे थे कि आपसे मिलने जा रहे है, मैने

पुछा क्या रामू की तबीयत ठीक हो गई है तब चंदा ने कहा हाँ रामू भैया अब बिल्कुल ठीक है, मैं उल्टे पाँव

तालाब की ओर चल दिया तब मुझे दोनो एक पेड़ के नीचे बैठे नज़र आ गये और मैं उनके पास पहुच गया,

हरिया- आइए बाबूजी, कल तो आप बिना मिले ही चले गये मैं कितनी देर तक आपकी राह देखता रहा,

राज- अरे हरिया दोस्त कल बगीचे मे ही बहुत देर हो गई थी और मैने सोचा अब तुम्हे क्यो परेशान करू इसलिए

मैं सीधे घर चला गया था,

हरिया- मुस्कुराते हुए फिर बाबू जी कल तो आपको मज़ा आ गया होगा

राज- हाँ हरिया कल जैसा मज़ा तो भूल नही सकता हू वाकई बहुत मज़ा आया मुझे संगीता को चोद कर,

रामू- बाबूजी हमे भी अपनी बहन निम्मो को चोदने मे बड़ा मज़ा आता था,

हरिया- हमे भी बाबूजी तरह तरह की औरतो को चोदने मे बड़ा मज़ा आता है,

राज- हरिया और रामू तुम दोनो को मेरे लिए एक काम करना होगा,

हरिया- आप बोलिए तो सही बाबूजी हम दोनो आपके लिए हमेशा तैयार है, क्यो रामू

रामू- बिल्कुल काका, बोलिए बाबूजी क्या बात है,

राज- तो फिर मेरी बात बड़े ध्यान से सुनना और जो मैं कह रहा हू उसमे ज़रा भी चूक नही होनी चाहिए एक बार

यह प्लान सक्सेस हो गया फिर तो मज़ा आ जाएगा और फिर मैने उन दोनो को बड़े बारीकी से अपने प्लान के बारे मे

सभी बाते समझा कर मैं वहाँ से वापस घर आ गया घर आने के बाद मैने कुच्छ ज़रूरी काम निपटाने के

बाद अगले दिन मैं सुबह सुबह साइट पर जाने से पहले सीधे अपने नौटंकी वाले दोस्त राजन के पास पहुच गया,

राजन- क्या बात है राज बहुत दिनो बाद दोस्त की याद आई है ज़रूर साले कुच्छ काम होगा मुझसे,

राज- अबे बिना काम के भला मैं तुझे क्यो परेशान करने लगा,

राजन- चल अब ज़्यादा होशियारी मत दिखा और मुद्दे की बात कर जिसके लिए तू यहाँ आया है,

राज- यार राजन मुझे एक दिन के लिए दो जोड़े वह ड्रेस चाहिए जिन्हे पहन कर तू डाकू बनता है और साथ मे तेरी

वह नकली बंदूक भी चाहिए,

राजन-अबे तू कोई फिल्म तो नही बना रहा है पहले साधु के कपड़े ले गया अब डाकू के कपड़े लेने आया है लगता

है तू साधु और डाकू नाम की फिल्म बना रहा है,

राज- हस्ते हुए अरे नही यार बस यह समझ ले थोड़ी सी आक्टिंग हमे भी करने का मन कर रहा है बस तू जल्दी

से सारा समान निकाल दे, उसके बाद राजन ने मुझे जो जो समान की ज़रूरत थी वह निकाल कर दे दिया,

वहाँ से मैं साइट पर पहुच गया और फिर सीधे हरिया और रामू के खेतो मे जा पहुचा उसके बाद मैने सभी

समान हरिया और रामू को देते हुए उन्हे सारी बाते समझाने लगा,

हरिया- एक बात समझ मे नही आ रही बाबूजी, इतना सब करने के बजाय आप अपने घर मे ही अपनी मम्मी को

फसा कर चोदने की कोशिश क्यो नही कर रहे है, क्यो कि जो आइडिया आप बता रहे है वह थोड़ा कठिन है,

राज- देखो हरिया मैं अच्छी तरह जानता हू मेरी मम्मी सीधी तरह अपनी चूत नही मरवाने वाली है इसलिए

हमे यह करना ही पड़ेगा, तुम लोग ठीक समय पर पहुच जाना और अच्छी आक्टिंग करना, प्लानिन्नग मेरी

ख़तरनाक ज़रूर थी लेकिन थी सटीक, जैसे तैसे मैने दिन काटा और फिर अपने घर पहुच गया,
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#87
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
रात को मैं और संगीता छत पर खड़े होकर बाते कर रहे थे और संगीता को मस्ती सूझ रही थी और उसने लूँगी

मे हाथ डाल कर मेरे लंड को मसल्ते हुए कहा

संगीता- भैया कितने दिनो से तुमने मुझे पूरी नंगी करके चोदा नही है, और फिर बच्चो जैसा मूह बना कर

कहने लगी आपको ज़रा भी ख्याल नही है अपनी बहन का, मैने उसके गालो को खिचते हुए उसके मोटे मोटे दूध

को मसल्ते हुए कहा,

राज- मेरी रानी कल से तुझे मैं घर मे ही चोदुन्गा, कल से तू चाहे जब अपने भैया का लंड ले सकती है

संगीता- उच्छल कर मुझे चूमती हुई वाह भैया पर ऐसा क्या करने वाले हो कि हमे मम्मी का भी डर नही

रहेगा,

राज- मेरी रानी कल से हम चुदाई करेगे लेकिन बिना डर के और फिर मैने संगीता के रसीले होंठो को अपने मूह

मे भर कर चूस्ते हुए उसके मोटे मोटे दूध को खूब कस कस कर दबाना शुरू कर दिया, संगीता ने मुझसे

जानने की कोशिश की लेकिन मैने उसे बाद मे बताने का कह कर टाल दिया और फिर मैं मम्मी के रूम मे जाने

लगा,

मेरी तो हालत ऐसी थी कि मेरा लंड सिर्फ़ मम्मी का सुंदर चेहरा देख कर ही खड़ा होने लगा था फिर अभी

तो मम्मी मेरे सामने ही खड़ी थी,

रति- आ राज वहाँ क्यो खड़ा है बेटे,

मैं मोम के पास गया और उनके सामने बिस्तेर पर बैठ गया वह आराम से तकिये पर सर रख कर लेटी हुई थी,

मैने मम्मी के एक पेरो की गोरी पिंडलियो को पकड़ कर कहा, मम्मी कल सुबह आप रेडी हो जाना मैं आपको

भी अपनी साइट दिखाना चाहता हू, बहुत अच्छी जगह है आप बहुत खुश होगी वहाँ जाकर,

और फिर मैने उनकी

पिंदलियो को दबाते हुए कहा, क्या कहती है बोलिए,

रति- मुश्कूराते हुए, क्या बात है तुझे आज कल अपनी मम्मी का बड़ा ख्याल रहता है, मुझे भी ऐसी जगहो पर

घूमना खूब अच्छा लगता है जहा खेत, छ्होटे मोटे जंगल और बाग बगीचे हो, कल हम वहाँ ज़रूर जाएगे

बेटा, लेकिन राज यह बता कल मैं कपड़े कौन से पहनु,

मम्मी की यह बात सुन कर मैने मन मे सोचा मेरी रानी चाहे जो कपड़े पहन लेना उतारना तो है ही और फिर

मैने मम्मी को कहा आप जो भी पहन लो मम्मी चलेगा क्योकि गाँव मे इतने लोग आपको नही दिखाई देंगे,
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#88
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
रति- फिर भी राज तुझे क्या अच्छा लगता है तू बता दे मैं वही पहन लेती हू,

राज- ओके मम्मी आप साडी और ब्लौज पहन कर चलो

रति- ओके यह ठीक रहेगा,

चूँकि संगीता रात को मम्मी के साथ ही सोती थी इसलिए उसे रात मे भी चोदना मुश्किल रहता था रात जैसे तैसे

कटी और सुबह मैं जल्दी से तैयार हो गया और उधर मम्मी तो बिल्कुल लाल साडी और ब्लौज मे दुल्हन की तरह नज़र

आ रही थी, मम्मी ने संगीता को घर मे ही रहने की हिदायत देते हुए मेरी बाइक पर बैठ कर मेरे साथ चल

दी,

सीट पर बिल्कुल जगह नही थी मम्मी के भारी चूतादो ने पूरी गाड़ी की सीट को कवर कर लिया था, मम्मी जब

बैठी थी तो आधी मेरे उपर ही टिकी हुई थी और उनके जिस्म से एक बड़ी चुदास वाली गंध आ रही थी और उनके

मुलायम बदन के स्पर्श से मैं काफ़ी अच्छा महसूस कर रहा था,

हम मज़े मे चलते हुए आ रहे थे जब मैं रोड से नीचे गाँव का कच्चा रास्ता चालू हुआ तो वह आम के

बड़े से बगीचे जहाँ संगीता चुदी थी उसी बगीचे मे काफ़ी सन्नाटा था और मैं अपनी बाइक बड़े धीरे चलाते

हुए चला जा रहा था मा भी सामने देख रही थी इतने मे सामने के पेड़ से दो आदमी हमारे सामने कूदे और

मैने बाइक रोक दी और मम्मी एक दम से नीचे उतर गई, सामने हरिया और रामू डाकू वाला भेष बना कर

बंदूक लिए खड़े थे हरिया तो शकल से ही डकैत नज़र आ रहा था,

हरिया ने मेरे गले पर बंदूक की नली अड़ा दी और कहने लगा,

हरिया- क्यो बे लोंडे इस मस्त लोंड़िया को ले कर कहाँ जंगल मे चला जा रहा है,

राज- इज़्ज़त से बोलो वह मेरी मा है

हरिया- बहुत खराब मूह बना कर, अबे साले हमे चोदना सिखाता है ज़रा सी उंगली दबा दी तो दो मिनिट मे

तोहरी गर्दनिया मे होल बन जाएगा, और फिर हरिया ने रामू की ओर देख कर, क्यो करिया मोड़ दे अपनी उंगली,

रामू- ज़्यादा टे टे करे सरदार तो मोड़ दो, साले यही ढेर हो जाएगे,

रति- कौन हो तुम लोग और क्या चाहते हो,

मम्मी काफ़ी डर रही थी और मुझसे बिल्कुल सॅट कर मुझे पकड़ कर खड़ी थी,

हरिया- ठहाका लगा कर हस्ते हुए रामू की ओर देख कर उसकी पीठ मे मारते हुए, अरे करिया देख ये मस्तानी

लोंड़िया कैसे हमसे मज़ाक कर रही है, साली के सामने डाकू खड़ा है और यह पुच्छ रही है कौन हो तुम हा हा

हा हा हा .........हा ....

राज- देखो सरदार हमने तुम्हारा क्या बिगाड़ा है हमारे पास तो धन दोलत भी नही है हमे जाने दो,

हरिया- देख लोंडे हम डाकू ज़रा अलग किसम के है, हमे तुझे लूटना होता तो अब तक धाय से गोली दाग कर लूट

कर चले जाते बट का है ना हम आदमी ज़रा दूजे किसम के है, हमे तुम यह बता दो कि इस गदराए माल को लेकर

कहाँ जा रहे हो,
Reply
11-07-2018, 10:53 PM,
#89
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
राज- कमिने मूह संभाल कर बोल हम कही नही जा रहे थे बस गाँव तक जाना था,

हरिया- बंदूक की नोक राज के गले मे गाढ़ता हुआ, धीमी आवाज़ मे बोलो बाबू नही तो अभी सुनसान जगह मे

धाय की आवाज़ गूँज जाएगी,

हमे तो लगता हौ तुम इसे इसी बगीचे मे चोदने के चक्कर मे लाए हो माल तो बड़ा जोरदार लेकर आए हो यही

बात है ना सच सच बता दो,

रति- अरे कमिने शरम कर कुच्छ तो सोच समझ कर बोल,

हरिया- अच्छा तो तुम ऐसे नही मनोगे, अब तुम जो करने आए थे वह यही करोगे नही तो आज यही तुम दोनो का

खेल ख़तम कर के चला जाउन्गा और फिर क्या था हरिया ने बंदूक मम्मी के गले मे रखी और मेरी ओर देख

कर बोलने लगा

हरिया- चल बे लोंडे उतार अपनी पेंट,

राज- देखो यह तुम ठीक नही कर रहे हो,

हरिया- उतारता है या उड़ा दू इसे,

रति- नही बेटे मार देने दे इसे गोली पर तू ऐसा मत करना,

हरिया- आख़िरी बार पूछता हू उतारता है कि मार दू गोली,

मैने जल्दी से अपनी पेंट उतार दी

हरिया- वेरी गुड चल अब जल्दी से चदढ़ि भी उतार दे,

राज- यह तुम क्या कह रहे हो

हरिया- अबे चढ्ढि पहने पहने कैसे चोदेगा इस मस्तानी को और फिर हरिया ने मम्मी के गोरे गोरे गालो को

पकड़ कर खींच दिया,

मम्मी के चेहरे पर अब शर्म के भाव उभर आए थे और वह खामोश खड़ी मुझे देख रही थी,

हरिया- अबे उतारता है कि मार दू गोली और फिर मैने अपनी पेंट भी उतार दी, मेरा लंड लटका हुआ था और मम्मी

दूसरी तरफ मूह करके खड़ी थी,

क्रमशः........................
Reply
11-07-2018, 10:54 PM,
#90
RE: XXX Chudai Kahani गन्ने की मिठास
गन्ने की मिठास--39

गतान्क से आगे......................

हरिया ने बंदूक की नोक से मम्मी का मूह अपनी ओर करते हुए कहा, चलो रानी अब तुम अपना ब्लौज उतारो,

रति- नही उतारुँगी चाहे तू मेरी जान ले ले,

हरिया- देखो रानी हमे खून ख़राबा कतई पसंद नही है पर अगर तुम हमारी बात जल्दी से नही मनोगी तो

देखो अभी मेरे 8-10 आदमी उधर दूसरी तरफ है उन्हे बुला लूँगा तो वह खुद ही तुम्हारे सारे कपड़े फाड़ कर

अलग कर देंगे,

अब तुम ही बताओ खुद उतारोगी या उतरवाना पड़ेगा,

रति- देखो ऐसा मत करो वह मेरा बेटा है उसके सामने तुम और फिर मम्मी ने अपना मूह नीचे कर लिया,

हरिया- मेरी ओर देख कर चल भाई इधर आ

मैं उसकी ओर गया और उसने मुझे मम्मी को अपनी बाँहो मे भरने को कहा, और बंदूक मम्मी के गले पर

लगा दी मैने मम्मी को अपनी बाँहो मे भर लिया और उनके गले से आती भीगी गंध ने मुझे एक दम से पागल

कर दिया मैने मम्मी को थोड़ा कस कर पकड़ लिया इन दो पलो मे ही मुझे पता नही चला कब मेरा लंड एक

दम फुल अवस्था मे तन कर सीधे मम्मी की चूत से टकराने लगा, मम्मी ने एक दम से नीचे देखा तो मेरा

मस्त खड़ा हुआ मोटा और लंबा लंड देख कर उसकी आँखे खुली की खुली रह गई, उसने एक बार फिर मेरी तरफ

देखा और फिर एक दम से ऐसी शर्मा गई कि उसके चेहरे का रंग लाल हो गया और उसके चेहरे पर एक हल्की सी

मुस्कान दौड़ गई,

मम्मी की यह हालत देख कर मैं खुस हो गया और हरिया की ओर देख कर आँख मार दी

हरिया- अबे पकड़ कर खड़ा क्या है चल इसके ब्लौज को खोल कर इसके दूध दबा और फिर हरिया ने मम्मी के

हाथ को पकड़ कर मेरे लंड पर रख दिया और मम्मी की मुट्ठी मे जब मेरा लंड आ गया तो हरिया ने उनके

हाथ को मेरे लंड पर कस कर दबा दिया, मैं मम्मी के गले और गोरे गालो को चूमता हुआ उसके दूध को ब्लौज

के उपर से हल्के हल्के दबाने लगा और मेरा लंड अपनी मम्मी के हाथ मे तन कर खड़ा हुआ था,

तभी हरिया

ने मम्मी की साडी पकड़ कर खिच दी और मम्मी की साडी जैसे ही अलग हुई उसका गुदाज उठा हुआ पेट गहरी नाभि

और उसके पेटिकोट के नाडे के नीचे से खुला हुआ वह भाग जहाँ से मम्मी की लाल रंग की पॅंटी उसकी चूत मे कसी

हुई साफ नज़र आने लगी थी, हरिया और रामू की आँखो मे चमक आ चुकी थी और उनके लंड भी उनकी धोती मे

तन चुके थे,
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Thumbs Up Desi Sex Kahani रंगीला लाला और ठरकी सेवक sexstories 179 19,438 Yesterday, 07:27 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna Sex kahani मायाजाल sexstories 19 3,124 Yesterday, 01:37 PM
Last Post: sexstories
Star Incest Kahani दीदी और बीबी की टक्कर sexstories 47 39,416 10-15-2019, 12:20 PM
Last Post: sexstories
Star Desi Sex Story रिश्तो पर कालिख sexstories 142 127,613 10-12-2019, 01:13 PM
Last Post: sexstories
  Kamvasna दोहरी ज़िंदगी sexstories 28 23,492 10-11-2019, 01:18 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna kahani नजर का खोट sexstories 120 324,349 10-10-2019, 10:27 PM
Last Post: lovelylover
  Sex Hindi Kahani बलात्कार sexstories 16 179,284 10-09-2019, 11:01 AM
Last Post: Sulekha
Thumbs Up Desi Porn Kahani ज़िंदगी भी अजीब होती है sexstories 437 184,669 10-07-2019, 01:28 PM
Last Post: sexstories
  XXX Kahani एक भाई ऐसा भी sexstories 64 417,632 10-06-2019, 05:11 PM
Last Post: Yogeshsisfucker
Exclamation Randi ki Kahani एक वेश्या की कहानी sexstories 35 31,178 10-04-2019, 01:01 PM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 3 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


www Xxx hindi tiekkahl khana videosumona fake nude sex babafree sex hindi desi katha des sal ki umar me laga chudai ka chsskageela hokar bhabhi ka blouse khul gaya sex storyहैवान की तरह चोदा रात भरआह ओह आऊच फोटो Nxxxxxxbur me kela dalkar rahne ki sazaTrisha krishnan nude fucking sex fantasy stories of www.sexbaba.netporn videos of chachanaya pairhot aunty ko Jamin pe letaker chodaसहेली ने मेरी टाँगो को पकड चूत मे डलवाया लण्ड कहानीSex baba.Gul panang.xxx.photosindian sasur bhu pron xbomboSanaya Irani fake fucking sexbabaNude Kaynat Aroda sex baba picsघर पर कोई नहीं है आ जाओ एमएमएसपोर्नrajsharma kamuk pariwarik adla badle porn sex kahaneonline read velamma full episode 88 playing the gameMA ki chut ka mardan bate NE gaun K khat ME kiyaVollage muhchod xxx vidioPatvarta se randi banne ki storyDadaji Ne ladki ko Khada kar Pyar Se Puch kar kar sexy chudai HD video जिंस पर पिशाब करते Girl xxx photoxxx गाँव की लडकीयो का पहला xxx खुन टपकताCollege me paas hone ke liye xxx video banwayi hindi adeoदिन में तारे दिखये xnxDidisechudaimom rum jbrn sexnayanthara comics episodAbby ne anjane me chod diya sex storywww antarvasnasexstories com incest yarana teesra daur part 1sexbaba tv angurima ko nahate dekha sex pic sexbaba picप्रीति बिग बूब्स न्यूड नेट नंगीapara Mehta ki nangi imageankita shore ki nangi photo on sex babachoda chodi aaaa ooorhea chakraborty nangi pic chut and boob Zaira wasim fake nude photo sex babamoushi ko naga karkai chuda prin videoKachi xxxivideo khunMarathi sex storiyaSUBSCRIBEANDGETVELAMMAFREE XX site:mupsaharovo.ruxxxvidos sunakshi chudte huy.arab ass sexbabaSexy parivar chudai stories maa bahn bua sexbabaladdhan ssx mote figar chudi लङकी ने चुत घोङा से मरवाई हिदी विङियोxxx video coipal suhagratXnx.सलवार सूट वाली लडकी लाली लगा के2019 Sonakshi fake xxx babaदादाजी सेक्सबाबा स्टोरीसUrvashi rautela tits fucked hard sexbaba videoschamkta chut porn imegeआआआआहह।pikar dhodh sex rep xxxmaa ki chudai ki khaniya sexbaba.netघरेलु ब्रा पंतय मंगलसूत्र पहने हिंदी सेक्सी बफ वीडियोBehna o behna teri gand me maro ga Porn storybachpan mae 42salki bhabhi kichoot chatne ki ahani freeSexbabanetcomVarsad me nhati mhila ki photoSexbaba.nokaruncle ne sexplain kiya .indian sex story sax baba net .com / pranitha subhash naked saxe foto बिना पेटीकोट और पैंटी की साड़ी पहनती हूँbarbadi sex stories18sal.nawajawan.ldki.xxxSexbaba समीरा रेड्डी.netBf video downloading desh bidesh Ka boor chatne walaमैं घर पर अकेली थी और मेरी मज़बूरी का फायदा उठाकर की मेरी गैंगबैंग चुदाईrandi ladaki ka phati chuat ka phato bhajana madharchodsexbabanet papa beto cudai kAkshara Singh nude photo sex Babapyari Didi ki gre samjhakar chudaiRadhika market ki xxx photokothe main aana majboori thi sex storyApni nand ki gand marwai bde land sedin mein teen baar chudwati hu mote mote chutadmummy chusuchuso ah bur chachixxxnx.sax.hindi.kahani.mrij.maa.Dudh se bhari chuchi blauj me jhalak rahi hindi videoxxxvillage husband "wibi" sex image.comchutes हीरोइन की लड़की पानी फेका के चोदायी xxxx .comjism xxx hindi mooves fullkalyoug de baba ne fudi xopiss storyरांड झवलो जीजाजी आप पीछे से सासूमाँ की गाण्ड में अपना लण्ड घुसायें हम तीन औरतें हैं और लौड़ा सिर्फ दोमम्मी का भोसड़ाchodbae ka nude picturemajboori me ek dusare ka sahara bane sexbaba storyNargis baji k sath sexRabha sex kathlu xxxcomxxx. hot. nmkin. dase. bhabibote bnke sister xxx braमा से गरमी rajsharmastoriesकोवळी चुत फाडून टाकीनVelamma sexybaba.net